JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

JAC Board Class 10th English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

JAC Class 10th English The Proposal Textbook Questions and Answers

Activity

Question 1.
The word ‘proposal’ has several meanings. Can you guess what sort of proposal the play is about ?
(i) a suggestion, plan or scheme for doing something
(ii) an offer for a possible plan or action
(iii) the act of asking someone’s hand in marriage
Answer:
(iii) the act of asking someone’s hand in marriage

A Russian Wedding

Do you know anything about a Russian marriage ceremony ? Read this article about a Russian wedding.
For students: Read the article about Russian Wedding on pages 142 – 143 of the. text book.
Question 2.
Do you think Indian and Russian weddings have any customs in common ? With the help of a partner, fill in the table below. Wedding Ceremonies in Russia and India

Customs similar to Indian ones Customs different from Indian ones

Answer:
Indian and Russian weddings have many customs in common. The information showing it is given as

Customs similar to Indian ones Customs different from Indian ones
1. wedding procession 1. making posters, writing speeches, organising contests
2. groom coming to bride’s house 2. fight involving this
3. honeymoon 3. climbing stairs and answering questions, etc.
4. reception 4. city tour
5. ‘stealing’ of the shoe 5. ceremonial toasting
6. grooms’ paying 6. kissing the bride
7. ‘stealing’ of the bride


Thinking about the Play (Page 157)

Question 1.
What does Chubukov at first suspect that Lomov has come for? Is he sincere when he later
says “And I’ve always loved you, my angel, as if you were my own son”? Find reasons for your answer from the play.
(शुबुकोव की सबसे पहले क्या संदेह होता है कि लोमोव क्यों आया है? क्या वह गंभीर है जब वह बाद में कहता है, “मेरे फरिश्ते, मैंने हमेशा ही तुमसे प्यार किया है, जैसे कि तुम मेरे खुद के बेटे हो” अपने उत्तर के समर्थन में
नाटक में से कारण दूढ़िएँ।)
Answer:
When Lomov tells Chubukov that he has come to make a special request, Chubukov at first suspects that Lomov has come to borrow money. Chubukov is not sincere in using terms of endearment for Lomov. After some time, Chubukov starts quarrelling with Lomov over petty matters. In fact, he sides with his daughter in quarrelling with Lomov. He even abuses Lomov. This shows his insincerity in saying this flattering sentence.
(जब लोमोव शुबुकोव को बताता है कि वह एक खास प्रार्थना लेकर आया है तो शुबुकोव को शक हो जाता है कि लोमोव पैसे उधार लेने के लिए आया है। शबकोव लोमोव के प्रति प्रेम के शब्द प्रयोग करते हुए गंभीर नहीं है। थोड़ी देर बाद, शुबुकोव छोटी-छोटी बातों पर लोमोव के साथ झगड़ने लग जाता है। वास्तव में, लोमोव के साथ झगड़ते समय वह अपनी बेटी का पक्ष लेता है। वह लोमोव को गालियाँ भी देता है। यह चापलूसीपूर्ण कथन करने में उसके छलावेपन का हमें
अहसास होता है।)

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 2.
Chubukov says of Natalya: “… as if she won’t consent! She’s in love, egad, she’s like a lovesick cat…” Would you agree ? Find reasons for your answer.
(शुबुकोब नाताल्या से कहता है, “जैसे कि वह सहमति नहीं देगी। वह प्यार में है, वह तो प्यार की भारी एक बिल्ली है…” क्या आप इस कवन से सहमत हैं? अपने उत्तर के समर्थन में कारण दें।)
Answer:
Yes, Natalya is in love. This becomes clear when she starts weeping on knowing that Lomov came to propose to her. She asks her father to bring him back at once. She becomes hysteric.
(हाँ, नाताल्या प्यार में है। यह बात तब स्पष्ट होती है जब उसे यह पता चलता है कि लोमोव उससे शादी का प्रस्ताव करने आया था तो वह रोने लग जाती है। वह अपने पिता से कहती है कि उसे तुंरत वापस लाया जाए। वह बेहोश हो जाती है।)

Question 3.
1. Find all the words and expressions in the play that the characters use to speak about each other, and the accusations and insults they hurl at each other. (For example, Lomov in the end calls Chubukov an intriguer ; but earlier, Chubukov has himself called Lomov a “malicious, doublefaced intriguer.” Again, Lomov begins by describing Natalya as an excellent housekeeper, not bad-looking, well-educated.)
2. Then think of five adjectives or adjectival expressions of your own to describe each character in the play.
3. Can you now imagine what these characters will quarrel about next?
1. इस नाटक में सभी शब्दों अथवा भावों को ढूंढ़ो जो पात्र एक-दूसरे के प्रति बोल रहे हैं और एक-दूसरे पर दोष अथवा अपमान के शब्द कह रहे हैं। (उदाहरण के लिए अंत में लोमोव व शुबकोव को ‘झगड़ालू परन्तु पहले शुबुकोव ने लोमोव को ‘एक नीच, दोहरे मुखौटे वाला झगड़ालू’ कहा है। पुनः लोमोव भी नाताल्या को एक उत्कृष्ट गृहिणी, देखने में सुन्दर और पढ़ी-लिखी’ कहकर आरंभ करता है।)
2. अब पाँच विशेषणों या विशेषण संबंधी भावों को छाँटिए जो प्रत्येक पात्र की अभिव्यक्ति करते हो?
3. क्या आप अनुमान लगा सकते हो कि उसके बाद ये पात्र किस बात को लेकर लड़े होंगे?)
Answer:
1. Natalya calls Lomov ‘rascal’, ‘The monster’. Chub ukov calls him ‘The villain! The scarecrow!’ that blind hen’, ‘turmip-ghost’, ‘The stuffed sausage’, The wizen-faced frump’, ‘malicious, double. faced intriguer’ etc. Chubukov calls Lomov’s father as ‘a guzzling gambler’. Lomov calls Chubukov ‘Intriguer’, Natalya’s mother as ‘hump – backed’, ‘backbiters’, etc. Chubukov calls Lomov as ‘my precious’. Lomov calls Natalya as an excellent housekeeper, not bad-looking, well-educated.

2. Lomov : showy, weak-hearted, diffident, stupid, idiotic, quarrelsome, etc.
Natalya : quarrelsome, nagging, foolish, unwise, immature etc.
Chubukov : mean, low-minded, abusive, quarrelsome, insensible

3. Next they will fight about the arrangements to be made for marriage.

(i) नाताल्या लोमोव को ‘बदमाश’, ‘राक्षस’ कहती है।
शुबुकोव उसको ‘खलनायक’ कहता है। एक डरेवा कहता है। ‘एक अंधी मुर्गी’, ‘शलगम का भूत’, ‘भरा हुआ समोसा’, ‘पिचके हुए चेहरे वाला आदमी’, ‘एक दुर्भावनाग्रस्त’, ‘दोहरे चेहरे वाला’ ‘षड़यंत्रकारी’ इत्यादि कह कर सम्बोधित करता है। शुबुकोव लोमोव के पिता को ‘एक शराबी जुआरी’ कहता है। लोमोव शुबुकोव को ‘षड़यंत्रकारी’, नाताल्या की माँ को ‘कुबड़ी पीठ वाली’, ‘चुगलखोर’ इत्यादि कहता है। शुबुकोव लोमोव को ‘मेरे अति प्रिया कहकर सम्बोधित करता है। लोमोव नाताल्या को एक अति शानदार गृहिणी, बुरी न दिखने वाली, अच्छे पढ़ी-लिखी कहकर संबोधित करता है।

(ii) लोमोव : ढोंगी, कमज़ोर ह्रदय वाला, मूर्ख, मूर्खतापूर्ण और झगड़ालू इत्यादि।
शुबुकोव : कमीना, नीच-विचारों वाला, गाली-गलौच करने वाला झगड़ालू और संवेदनहीन।

(iii) इसके बाद वे शादी की व्यवस्थाओं के बारे में झगड़ रहे होंगे।

I .Thinking about Language

Question 1.
This play has been translated into English from the Russian original. Are there any expressions or
ways of speaking that strike you as more Russian than English? For example, would an adult man be addressed by an older man as my darling or my treasure in an English play? Read through the play carefully, and find expressions that you think are not used in contemporary English, and contrast these with idiomatic modern English expressions that also occur in the play.
Answer:
The following expressions or ways of speaking strike as more Russian than English : Like a lovesick cat, honoured Natalya Stepanovna, pettifogger, malicious, doublefaced intriguer, rascal, The villain! The scarecrow! The stuffed sausage ! The wizen-faced frump! Pup ! And you’re under the slipper of your house-keeper ! She’s willing, kiss and be damned to you. These insulting words and phrases used in the play are not used in contemporary English. These expressions are contrasted with the ones like : ‘villain’, ‘buffoon’, ‘ostrich’, ‘pig’, ‘swine’, ‘fool’, ‘dog, ‘devil’, ‘scoundrel’, ‘bitch’, etc.

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 2.
Look up the following words in a dictionary and find out how to pronounce them. Pay attention to how many syllables there are in each word, and find out which syllable is stressed
palpitations, interfere, implore, thoroughbred, pedigree, principle, evidence, misfortune, malicious, embezzlement, architect, neighbours, accustomed, temporary, behaviour, documents,

palpitations = / ‘[email protected]’teOonz/ (4 syllables) (‘t is stressed and said more forcefully.)
pedigree = / ‘pedigri: / (2 syllables) (2 syllable) (‘p-do-)
malicious = /m{‘liO{s/ (2 syllables) (2 syllables) (1-do-)
accustomed = / {‘kAst{md / (4 syllables) (’k is stressed and said more forcefully.)
interfere = / Int{‘fi{ (r) / (3 syllables) (‘f-do)
principle = /’prins{pl/ (2 syllables) (‘p o-do)
embezzlement = / m’bezlm nt / (3 syllables) (’b-do-)
temporary = / ‘tempr{ri / (3 syllables) (‘t-do-)
implore = / im’plO:(r) / (2 syllables) (‘p-do-)
evidence = /’evid{ns/ (2 syllables) (‘e-do-)
architect = / ‘a:kitekt / (2 syllables) (‘a-do-)
behaviour = / bi’heivj {(r) (2 syllables) (‘h-do-)
thoroughbred = / ‘TAr{bred / (2 syllables) (‘- -do)
misfortune = / mis’fO: tOu:n / (3 syllables) (‘ -do)
neighbours = / ‘neib{(r)% / (2 syllables) (‘n-do-)
documents = /’df kjum{nt/ (2 syllables) (’d-do-)

Question 3.
Look up the following phrases in a dictionary to find out their meaning, and then use each in a sentence of your own.
1. You may take it that
2. He seems to be coming round
3. My foot’s gone to sleep.
Answer:

  1. You may take it that = You may understand that. You may take it that I cannot tolerate your impudent behaviour.
  2. He seems to be coming round = He seems to be understanding. Previously he always opposed me. But now he seems to be coming round what I said.
  3. My foot’s gone to sleep = My foot has become numb. I have been squatting for long time. My foot has gone to sleep.

II. Reported Speech

A sentence in reported speech consists of two parts: a reporting clause, which contains the reporting verb, and the reported clause. Look at the following sentences.
(a) “I went to visit my grandma last week,” said Mamta.
(b) Mamta said that she had gone to visit her grandma the previous week.
In sentence (a), we have Mamta’s exact words. This is an example of direct speech. In sentence (b) someone is reporting what Mamta said. This is called indirect speech or reported speech. A sentence in reported speech is made up of two partsa reporting clause and a reported clause. In sentence (b), Mamta said is the reporting clause containing the reporting verb said. The other clause that she had gone to visit her grandma last week is the reported clause. Notice that in sentence (b) we put the reporting clause first. This is done to show that we are not speaking directly, but reporting someone else’s words. The tense of the verb also changes; past tense (went) becomes past perfect (had gone).

Here are some pairs of sentences in direct and reported speech. Read them carefully, and do the task that follows:
1. (i) LOMOV: Honoured Stepan Stepanovitch, do you think I may count on her consent ? (Direct Speech)
(ii) Lomov asked Stepan Stepanovitch respectfully if he thought he might count on her consent. (Reported Speech)

2. (i) LOMOV: I’m getting a noise in my ears from excitement. (Direct Speech)
(ii) LOMOV said that he was getting a noise in his ears from excitement. (Reported Speech)

3. (i) NATALYA: Why haven’t you been here for such a long time? (Direct Speech)
(ii) Natalya Stepanovna asked why he hadn’t been there for such a long time. (Reported Speech)

4. (i) CHUBUKOV: What’s the matter? (Direct Speech)
(ii) Chubukov asked him what the matter was. (Reported Speech)

5. (i) NATALYA : My mowers will be there this very day ! (Direct Speech)
(ii) Natalya Stepanovna declared that her mowers would be there that very day. (Reported Speech)

You must have noticed that when we report someone’s exact words, we have to make some changes in the sentence structure. In the following sentences fill in the blanks to list the changes that have occurred in the above pairs of sentences. One has been done for you.
1. To report a question, we use the reporting verb asked (as in Sentence Set I).
2. To report a statement, we use the reporting verb ………………
3. The adverb of place here changes to …………….
4. When the verb in direct speech is in the present tense, the verb in reported speech is in the tense ………… (as in Sentence Set 3).
5. If the verb in direct speech is in the present continuous tense, the verb in reported speech
changes to ……………….. tense. For example, ……………… changes to was getting.
6. When the sentence in direct speech contains a word denoting respect, we add the adverb ………………. in the reporting clause (as in Sentence Set 1).
7. The pronouns I, me, our and mine, which are used in the first person in direct speech, change according to the subject or object of the reporting verb such as………, …………, …………, or ………… in reported speech.
Answer:
2. declared
3. there
4. past
5. past continuous is getting
6. respectfully
7. he, him, their or his

III. Here is an excerpt from an article from the Times of India dated 27 August 2006. Rewrite it, changing the sentences in direct speech into reported speech. Leave the other sentences unchanged.

“Why do you want to know my age ? If people know I am so old, I won’t get work!” laughs 90-year- old A.K. Hangal, one of Hindi cinema’s most famous character actors. For his age, he is rather energetic. “What’s the secret ?” we ask. “My intake of everything is in small quantities. And I walk a lot”, he replies. “I joined the industry when people retire. I was in my 40s. So I don’t miss being called a star. I am still respected and given work, when actors of my age are living in poverty and without work. I don’t have any complaints,” he says, adding, “but yes, I have always been underpaid.” Recipient of the Padma Bhushan Hangal never hankered after money or materialistic gains. “No doubt I am content today, but money is important. I was a fool not to understand the value of money earlier,” he regrets.
Answer:
90 – year – old A.K. Hangal, one of Hindi cinema’s most famous character actors laughs asking the interviewer why he wants to know his age, adding that if people know he is so old, he won’t get work. For his age, he is rather energetic. They ask him what the secret is. He replies that his intake of everything is in small quantities and he walks a lot. He further states that he joined the industry when people retire. He was in his 40s. So he doesn’t miss being called a star. He is still respected and given work when actors of his age are living in poverty and without work. He doesn’t have any complaints, he says, adding that he has always been underpaid. Recipient of The Padma Bhushan, Hangal never hankered after money or materialistic gains. He regrets that no doubt he is content today but money is important. He was a fool not to understand the value of money earlier.

Speaking and Writing

Question 1.
Anger Management: As adults, one important thing to learn is how to manage our temper :
Some of us tend to get angry quickly, while others remain calm. Can you think of three ill effects that result from anger ? Note them down. Suggest ways to avoid losing your temper in such situations. Are there any benefits from.anger ?
Answer:
There are many ill effects of anger. Some of them are as follows :
(a) Anger increases blood pressure.
(b) It accelerates the heart beat.
(c) It causes harm to the body.
(d) Sometimes, out of anger one may commit a deed for which he repents later.
In order to control our anger, we must speak as little as possible in a conversation. We must listen to the other fellow and let him speak. You must say to yourself, “most of what he says is nonsense.” You should think that the other fellow wants to harm you by making you angry. You should not allow him to make you a victim. Moreover, anger leads to anger. If you remain calm, the other fellow will also become calm after some time.

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 2.
In pairs, prepare a script based on the given excerpt from The Home and the World by Rabindranath Tagore. You may write five exchanges between the characters with other directions such as movements on stage and way of speaking, etc.
One afternoon, when I happened to be specially busy, word came to my office room that Bimala had sent for me. I was startled.
“Who did you say had sent for me ?” I asked the messenger.
“The Rani Mother”.
“The Bara Rani ?”
“No, sir, the Chota Rani Mother.”
The Chota Rani! It seemed a century since I had been sent for by her. I kept them all waiting there, and went off into the inner apartments. When I stepped into our room I had another shock of surprise to find Bimala there with a distinct suggestion of being dressed up. The room, which from persistent neglect, had latterly acquired an air of having grown absent-minded, had regained something of its old order this afternoon. I stood there silently, looking enquiringly at Bimala.

She flushed a little and the fingers of her right hand toyed for a time with the bangles on her left arm. Then she abruptly broke the silence. “Look here! Is it right that ours should be the only market in all Bengal which allows foreign goods ?”
“What, then, would be the right thing to do ?” I asked.
“Order them to be cleared out!”
“But the goods are not mine.”
“Is not the market yours ?”
“It is much more theirs who use it for trade.”
“Let them trade in Indian goods, then.”
“Nothing would please me better. But suppose they do not ?”
“Nonsense ! How dare they be so insolent ? Are you not….”
“I am very busy this afternoon and cannot stop to argue it out. But I must refuse to tyrannise.”
“It would not be tyranny for selfish gain, but for the sake of the country.”
“To tyrannise for the country is to tyrannise over the country. But that I am afraid you will never understand.” With this I came away.
Answer:
For attempt at group and class level.

Question 3.
In groups, discuss the qualities one should look for in a marriage partner. You might consider the following points.
(a) Personal qualities
1.Appearance or looks
2. Attitudes and beliefs
3. Sense of humour
(b) Value system
1. Compassion and kindness
2. Tolerance, ambition
3. Attitude to money and wealth
(c) Education and professional background
Answer:
(a) Personal qualities:

  1. The marriage partner should be good looking. But inner qualities are more important than outer looks.
  2. His or her attitudes and beliefs should be healthy and constructive.
  3. He or she must have a healthy sense of humour.

(b) Value System:

  1. The partner must be kind towards all. There should be no streak of cruelty in him or her.
  2. The marriage partner must have tolerance and an ambition to rise high in life.
  3. The marriage partner should have a balanced attitude towards money. He or She should neither be stingy or a spendthrift.

(c) Education and professional background :
The marriage partner must have good educational or professional qualifications.

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 4.
Are there parts of the play that remind you of film scenes from romantic comedies? Discuss this in groups, and recount to the rest of the class episodes similar to those in the play.
Answer:
For discussion in groups and at class level. The student may consider romantic comic films like ‘Chalti KaNaam Gaadi,’ ‘Padosan’, ‘Shriman 420’ ‘Hera Pheri’, ‘Hangama’, etc.

JAC Class 10th English The Proposal Important Questions and Answers

Very Short Answer Type Questions

Question 1.
Who is Lomov ?
Answer:
Lomov is a young landowner.

Question 2.
Why did Lomov come to Chubukov’s house?
Answer:
Lomov came to Chubukov’s house with a marriage proposal for Natalya.

Question 3.
How old were Lomov and Natalya?
Answer:
Lomov was thirty-five years old and Natalya was twenty five years old.

Question 4.
Why is Lomov so eager to marry?
Answer:
Lomov is so eager to marry because he is already over thirty-five.

Question 5.
What disease does Lomov suffer from?
Answer:
Lomov suffers from palpitations.

Question 6.
What does Lomov quarrel over with Natalya for the first time?
Answer:
Lomov quarrels over ownership the right of Oxen Meadows.

Question 7.
What documents does Lomov offer to show Natalya?
Answer:
He wants to show her the documents relating to the Oxen Meadows.

Question 8.
Who has been using Oxen Meadows?
Answer:
Peasants have been using Oxen Meadows.

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 9.
What do they quarrel over for the second time?
Answer:
For the second time they quarrel over the quality of their dogs.

Question 10.
Who was Guess?
Answer:
Guess was Lomov’s pet dog.

Question 11.
Who appears to be dead to Chubukov?
Answer:
To Chubukov, Lomov appears to be dead.

Question 12.
Did Lomov and Natalya get married ultimately?
Answer:
Yes, they got married ultimately.

Question 13.
How does Natalya react when she learns that Lomov had come to propose her?
Answer:
She weeps and yells and asks her father to fetch him back.

Short Answer Type Questions

Question 1.
Describe Lomov’s first meeting with Natalya. (लोमोव की नाताल्या के साथ पहली मुलाकात का वर्णन करो।)
Answer:
Lomov goes to his neighbour Chubukov’s house to ask for the hand of his daughter Natalya. He is in a fix how to make the marriage proposal. He talks in a round about manner. He makes a mention of his meadows which touch their birchwoods. At this a quarrel ensues between them over the ownership rights of the meadows..
(लोमोव अपने पड़ोसी शुबुकोव के घर उसकी बेटी नाताल्या का हाथ माँगने जाता है। यह इस दुविधा में है कि शादी का प्रस्ताव कैसे रखा जाए। वह घुमा-फिरा कर बात करता है। वह अपने चरागाहों के बारे में बात करता है जो उनके भोज-पत्र के वृक्षों के साथ लगते हैं। इस पर उनके बीच में चारागाहों के मालिकाना हक को लेकर लड़ाई हो जाती है।)

Question 2.
What kind of a man is Lomov?
(लोमोव किस प्रकार का आदमी है?)
Or
Write a few sentences on Lomov.
(लोमोव के बारे में कुछ पंक्तियाँ लिखिए।
Answer:
Lomov is a man of thirty-five years old. He is really a very funny and comical character. He comes to make a proposal to Natalya. But he is so nervous and excitable that he continues quarrelling with the girl over trifles, and fails to make the proposal. He has no confidence and no self-control. He suffers from the fits of epilepsy.
(लोमोव पैंतीस वर्ष की आयु का युवक है। वह वास्तव में एक बहुत ही मजाकिया और विनोदप्रिय पात्र है। वह नाताल्या के साथ शादी का प्रस्ताव करने आता है। लेकिन वह इतना अधिक घबराया हुआ और उत्तेजित है कि वह उस लड़की के साथ छोटी-छोटी बात पर झगड़ा करने लग जाता है और शादी का प्रस्ताव रखने में असफल रहता है। उसमें आत्मविश्वास और आत्मनियंत्रण नही है।)

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 3.
Who is the heroine of the play?
(नाटक की नायिका कौन है?)
Answer:
Natalya is the heroine of the play ‘The Proposal’. She is twenty-five years old. She is still unmarried. It causes a great worry to her father. Natalya wishes that somebody should love her and propose to her. Her father calls her a love-sick cat’.
(नाटक ‘The Proposal’ की नायिका नाताल्या है। उसकी आयु पच्चीस वर्ष है। वह अभी भी अविवाहित है। इसके कारण उसके पिता को बहुत अधिक चिंता होती है। नाताल्या चाहती है कि कोई उससे प्यार करे और शादी का प्रस्ताव रखे। उसका पिता उसे प्यार में ‘पागल बिल्ली’ कहता है।)

Question 4.
Relate briefly the first quarrel between Lomov and Natalya.
(लोमोव और नाताल्या के पहले झगड़े का वर्णन करें।)
Answer:
Lomov is very much nervous and excitable. He beats about the bush. When Natalya comes Lomov begins to quarrel with her about a piece of land. He gets very much excited and leaves the room, cursing and threatening the old man and his daughter, Natalya.
(लोमोव बहुत अधिक घबराया हुआ और उत्तेजित है। वह इधर-उधर की बातें करता है। जब नाताल्या आती है तो वह भूमि के एक टुकड़े को लेकर उसके साथ लड़ने लग जाता है। वह बहुत अधिक उत्तेजित हो जाता है और वृद्ध आदमी और उसकी बेटी नाताल्या को कोसते हुए तथा धमकाते हुए कमरे से चला जाता है।)

Question 5.
Why is Natalya is so anxious to marry Lomov?
(नाताल्या लोमोव से शादी करने के लिए इतनी उत्सुक क्यों है?)
Answer:
Natalya is an ugly, middle-aged woman. She knows that only a fool like Lomov can marry her. So, the moment she comes to know that Lomov had come to propose for her hand, she cries and shouts and forces her father to bring Lomov back.
(नाताल्या एक बदसूरत, अधेड़ आयु की महिला है। वह जानती है कि केवल लोमोव जैसा एक मूर्ख ही उससे शादी कर सकता है। इसलिए जैसे ही उसे पता चलता है कि लोमोब उसका हाथ माँगने आया था तो वह चीखती-चिल्लाती है और अपने पिता को बाध्य करती है कि वह लोमोव को वापस लेकर आए।)

Question 6.
How does Chubukov join the quarrel between Natalya and Lomov?
(शुबुकोव नाताल्या और लोमोव के बीच लड़ाई में कैसे शामिल होता है?)
Answer:
Chubukov comes in and finds Natalya and Lomov quarrelling. When he finds that they are quarrelling about the ownership of the Oxen Meadows, he also becomes angry. Instead of calming them down, he also starts quarrelling. He claims to be the owner of the Meadows. He insults not only Lomov but also his ancestors.
(शुबुकोव अंदर आता है और नाताल्या और लोमोव को झगड़ते हुए पाता है। जब उसे ज्ञात होता है कि वे Oxen Meadows पर मालिकाना हक को लेकर लड़ रहे हैं तो वह भी क्रोधित हो जाता है। उनको शांत करने के स्थान पर वह भी झगड़ने लग जाता है। वह चारागाहों का मालिक होने का दावा करता है। वह न केवल लोमोव की बेइज्जती करता है, बल्कि उसके पूर्वजों का भी अपमान करता है।)

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 7.
What is the cause of the second quarrel between Natalya and Lomov? Or What is the point of dispute between Lomov and Natalya second time?
(नाताल्या और लोमोव के बीच दूसरी लड़ाई का संबंध किस बात से है?)
Answer:
Lomov starts praising the qualities of the dog Guess. But Natalya says that her dog Squeezer which she purchased for 85 roubles is much better than Lomov’s dog Guess. Both of them praise the qualities of their dogs. Now they start quarrelling on this topic. They again start shouting at each other.
(लोमोव अपने कुत्ते गेस के गुणों का बखान करना शुरु कर देता है। लेकिन नाताल्या कहती है कि उसका कुत्ता स्कूईज़र जोकि उसने 85 रूबल का खरीदा था वह लोमोव के कुत्ते गेस से कहीं बेहतर था। दोनों अपने-अपने कुत्तों के गुणों का वर्णन करते हैं। अब वे इस विषय पर लड़ना शुरु कर देते हैं। वे पुनः एक-दूसरे पर चिल्लाना शुरु कर देते हैं।)

Question 8.
What is Chubukov guess about the purpose of Lomov’s visit?
(लोमोव की यात्रा के उद्देश्य के बारे में शुबुकोव का क्या अनुमान था?)
Answer:
Lomov calms himself down and begins to tell him the purpose of his visit. He tells him that he came to him many times in the past also for his help but he did not help him. Chubukov thinks that perhaps he has come to ask for a loan. He makes up his mind not to help him in any way.
(लोमोव स्वयं को शांत करता है और उसे अपने आगमन का उद्देश्य स्पष्ट करता है। वह उसे बताता है कि भूतकाल में वह उसके पास कई बार सहायता के लिए आया था लेकिन उसने इसकी मदद नहीं की थी। शुबुकोव ने सोचा कि शायद वह उससे कुछ उधार लेने आया है। उसने किसी भी प्रकार से उसकी सहायता न करने का मन बना रखा है।)

Question 9.
Why is Lomov anxious to marry Natalya?
(लोमोव नाताल्या के साथ शादी करने को क्यों उत्सुक है?)
Answer:
Lomov wants to settle the question of his marriage at once. He thinks that now he should not delay He thinks about Natalya. She is a skilled housekeeper. She is educated and is not bad to look at. At this age he should not expect a better girl than her. He is suffering from some serious diseases. Because of these reasons, he is anxious to marry Natalya.
(लोमोव अपनी शादी के प्रश्न को तुरंत हल करना चाहता है। वह सोचता है कि अब उसे देरी नहीं करनी चाहिए। वह नाताल्या के बारे में सोचता है। वह एक कुशल गृहिणी है। वह शिक्षित है और देखने में भी बुरी नहीं है। इस उम्र में वह उससे बढ़िया लड़की के साथ शादी नहीं कर सकता था। वह कई गंभीर बीमारियों से भरा हुआ है। इन कारणों से, वह नाताल्या के साथ शादी करने को इतना उत्सुक है।)

Question 10.
Why was Lomov brought back by Chubukov?
(शुबुकोव के द्वारा लोमोव को क्यों वापस लाया गया?)
Or
Why Does Chubukov call Lomov back home? Why does Natalya accuse her father?
(शुबुकोव लोमोव को क्यों वापिस बुलाना चाहता है? नाताल्या ने अपने पिता जी को क्यों आरोपित किया?)
Answer:
Chubukov wondered how Lomov dared to make a proposal of marriage. Natalya was startled to hear it. She forced her father to bring Lomov back. Chubukov rushed out most unwillingly to request Lomov to come back. Lomov agreed to come back.
(शुबुकोव हैरान था कि लोमोव ने नाताल्या के साथ शादी का प्रस्ताव करने का दुःसाहस कैसे दिखाया। नाताल्या यह सुनकर स्तब्ध रह गई। उसने अपने पिता को मजबूर किया कि वह लोमोव को वापस लेकर आए। शुबुकोव अति अनिच्छापूर्वक लोमोव से वापस लौट आने की प्रार्थना करता है। लोमोव वापस आने के लिए सहमत हो जाता है।)

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 11.
How does Lomov behave when he is excited?
(जब लोमोव उत्तेजित हो जाता है तो कैसे व्यवहार करता है?)
Answer:
When Lomov is excited his heart starts palpitating. His right eye-brow starts twitching. His foot goes to sleep. In the play, he becomes so excited that he falls unconscious.
(जब लोमोव उत्तेजित होता है तो उसका दिल ज़ोर-ज़ोर से धड़कना शुरु कर देता है। उसकी बाई पलक ऐंठना शुरु कर देती है। उसका पाँव सो जाता है। नाटक में, वह इतना अधिक उत्तेजित हो जाता है कि वह बेहोश होकर गिर जाता है।)

Question 12.
How did Natalya justify that the Oxen Meadows were theirs?
(नाताल्या ने यह कैसे सही ठहराया कि Oxen Meadows उनके थे?)
Answer:
Natalya says that the land belonged to her family for the last three hundred years. Now suddenly Lomov lays his claim to that land. She says that the land is not worth much principle, she won’t let Lomov claim it.
(नाताल्या कहती है कि उस जमीन पर उसके परिवार का संबंध पिछले तीन सौ साल से रहा है। अब अचानक लोमोव उस जमीन पर अपने अधिकार का दावा कर रहा है। वह कहती है कि पैसे के संदर्भ में जमीन का कोई अधिक महत्त्व नहीं है। लेकिन सैद्धांतिक रूप से वह लोमोव को उस जमीन पर अपना दावा नहीं करने देगी।)

Question 13.
Justify in brief, the title of the play, “The Proposal”.
(संक्षेप में, नाटक का शीर्षक, “The Proposal)
Answer:
The title of the play “The Proposal’ is very apt because the whole play is about Lomov proposing Natalya. In the end the proposal is successful when Lomov get married with Natalya in a very dramatic manner.
(नाटक का शीर्षक ‘द प्रपोजल’ बहुत उपयुक्त है क्योंकि पूरा नाटक लोमोव नाताल्या के प्रस्ताव के बारे में है। अंत में यह प्रस्ताव सफल होता है जब लोमोव बहुत नाटकीय तरीके से नाताल्या के साथ शादी कर लेता है।)

Essay Type Questions

Question 1.
Bring out the humorous element in the one act play ‘The Proposal’.
(नाटक ‘The Proposal’ में हास्य के तत्त्वों का वर्णन कीजिए।)
Answer:
The one act play ‘The Proposal” is full of humorous element. The characters in the play behave ridiculously. Lomov comes to propose to Natalya. But he cannot talk in a straight forward manner. He beats about the bush. He starts quarrelling with her over a piece of land. When he comes back, he quarrels about the superiority of his dog. Chubukov is also a humorous character. He knows that Lomov has come to ask for his daughter’s hand in marriage. Even then he quarrels with him. We laugh at the words used by them and their behaviour. The sudden marriage of Lomov and Natalya creates laughter. Chubukov puts his daughter’s hand in Lomov’s in a foolish manner. Lomov is a comic character. His complaints about his poor health provoke laughter. Thus the play gives us a lot of laughter.

(नाटक ‘The Proposal’ हास्य के तत्वों से भरपूर है। नाटक के पात्र मजाकिया ढंग से व्यवहार करते हैं। लोमोव नाताल्या के साथ शादी का प्रस्ताव लेकर आता है। लेकिन वह सीधे रूप से बात नहीं कर सकता है। वह इधर-उधर की बातें करता है। वह भूमि के एक टुकड़े को लेकर उसके साथ झगड़ने लग जाता है। जब वह वापस आता है तो वह अपने कुत्ते की श्रेष्ठता के कारण झगड़ता है। शुबुकोव भी एक हास्य पात्र है। वह जानता है कि लोमोव उसकी बेटी का हाथ माँगने आया है। फिर भी वह उसके साथ झगड़ा करता है। हम उनके द्वारा प्रयुक्त शब्दों और उनके व्यवहार पर हँसते हैं। लोमोव और नाताल्या की अचानक हुई शादी हँसी पैदा करती है। शुबुकोव मूर्खतापूर्ण ढंग से अपनी बेटी का हाथ लोमोव के हाथ में पकड़ाता है। लोमोव एक मजाकिया पात्र है। खराब स्वास्थ्य के बारे में उसकी शिकायतें हास्य पैदा करती हैं। इस प्रकार से यह नाटक हमें ढेर सारा हास्य उपलब्ध कराता है।)

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 2.
Draw a brief character sketch of Natalya.
(नाताल्या का चरित्र-चित्रण कीजिए।)
Or
What do you learn about Natalya after reading the chapter “The Proposal”.
(पाठ को पढ़ने के बाद नाताल्या के बारे में आप ने क्या जाना।)
Answer:
Natalya is the heroine of the play ‘The Proposal’. She is twenty-five years old. She is still unmarried. It causes a great worry to her father. Natalya wishes that somebody should love her and propose to her. Her father calls her ‘a love-sick cat.’ She is very quarrelsome. She quarrels with others over trifles. Lomov comes to propose to her, but she starts quarreling with him over the ownership of a piece of land. Lomov leaves her house in a fit of anger. When she comes to know that he had come to propose to her, she starts weeping. She asks her father to bring him back. When Lomov comes back, she tries to please him. But after some time, she starts quarrelling with him on the question of dogs. Lomov faints and she again begins to wail lest she should lose the opportunity for marriage. After some time, Lomov regains consciousness. Her father does not want to lose this opportunity. He at once puts Natalya’s hand in the hands of Lomov. He announces that they are engaged to each other. Natalya, become very happy. But she again starts quarrelling with him. Thus Natalya is an interesting character.

(नाताल्या नाटक ‘The Proposal’ की नायिका है। वह पच्चीस साल की है। उसकी अभी भी शादी नहीं हुई है। इसके कारण उसका पिता बहुत अधिक चिंतित रहता है। नाताल्या चाहती है कि कोई उससे प्यार करे या शादी का प्रस्ताव लेकर आए। उसका पिता उसे प्रेम की पागल बिल्ली कहता है। वह बहुत झगड़ालू है। वह छोटी-छोटी बातों पर झगड़ा कर लेती है। लोमोव उसके साथ शादी करने का प्रस्ताव लेकर आता है, लेकिन वह भूमि के एक टुकड़े पर मालिकाना हक को लेकर झगड़ा करती है। लोमोव क्रोध में आकर उसका घर छोड़ जाता है। जब उसे पता चलता है कि वह उसके साथ शादी का प्रस्ताव लेकर आया था तो वह रोना शुरु कर देती है। वह अपने पिता से कहती है कि वह लोमोव को वापस लेकर आए। जब लोमोव वापस आ जाता है तो वह उसे प्रसन्न करने की कोशिश करती है। लेकिन कुछ समय के पश्चात् वह कुत्तों के प्रश्न पर फिर से झगड़ने लग जाती है। लोमोव बेहोश हो जाता है और वह फिर से विलाप करना शुरु कर देती है कि कहीं शादी करने का अवसर उसके हाथ से न निकल जाए। कुछ समय बाद, लोमोव को होश आ जाता है। उसका पिता इस मौके को खोना नहीं चाहता। वह एकदम नाताल्या का हाथ पकड़कर लोमोव के हाथ में दे देता है। वह घोषणा करता है कि वे दोनों एक-दूसरे से बँध गए हैं। नाताल्या बहुत खुश हो जाती है। लेकिन वह दोबारा उससे झगड़ा आरम्भ कर देती है। अतः नाताल्या एक हास्यप्रद पात्र है।)

Question 3.
Describe the first meeting of Lomov and Natalya.
(लोमोव और नाताल्या की पहली मुलाकात का वर्णन करो।)
Answer:
Lomov goes to his neighbour Chubukov’s house to ask for the hand of his daughter Natalya. When he talks to Natalya, he becomes nervous. He is in a fix how to make the marriage proposal. He talks in a round-about manner. He beats about the bush. He makes a mention of his meadows which touch their birchwoods. At this a quarrel ensues between them over the ownership of the meadows. Both of them claim the ownership and start rebuking each other. In the mean time, Chubukov comes there. Instead of pacifying them, he also joins the quarrel. He abuses Lomov which worsens the situation. Lomov is deeply upset. He leaves Chubukov’s house and forgets about the marriage proposal.

(लोमोव अपने पडोसी शबकोव के घर उसकी बेटी नाताल्या का हाथ माँगने जाता है। वह जब नाताल्या से बात करता है तो वह घबरा जाता है। वह इस दुविधा में है कि शादी का प्रस्ताव कैसे रखा जाए। वह घुमा-फिरा कर बात करता है। वह अपने चरागाहों के बारे में बात करता है जो उनके भोज-पत्र के वृक्षों के साथ लगते हैं। इस पर उनके बीच में चरागाहों के मालिकाना हक को लेकर लड़ाई हो जाती है। दोनों ही मालिक होने का दावा करते हैं और एक-दूसरे को गालियाँ देना शुरु कर देते हैं। इसी दौरान शुबुकोव भी वहाँ आ जाता है। उन्हें शांत करने के स्थान पर वह भी झगड़े में शामिल हो जाता है। वह लोमोव को गालियाँ देता है जिससे स्थिति और अधिक बिगड़ जाती है। लोमोव बहुत अधिक परेशान है। वह शुबुकोव का घर छोड़ देता है और शादी के प्रस्ताव के बारे में भूल जाता है।)

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 4.
Give a short character sketch of Lomov.
(लोमोव का संक्षिप्त चरित्र-चित्रण लिखिए।)
Answer:
Lomov is the hero of the One Act Play ‘The Proposal’. He is a land-owner. He is a funny character. He is a young man of thirty-five years. He becomes nervous very soon. He loses his temper whenever he is upset. He looks very funny when he complains about his ill-health. He is short-tempered. He quarrels with Natalya over the ownership of a piece of land. He also quarrels with her over the superiority of his dog. He loses temper and starts abusing Chubukov. He loses control over himself and faints in a fit of anger. Lomov is a funny and foolish character. We laugh at his dress, manners and behaviour. Lomov is a bachelor even at the age of thirty-five. He wants to marry Natalya not out of love but because he is already a grown up man. He has no sense of beauty. He wants to marry Natalya only because she is a good house – keeper.

(लोमोव नाटक ‘The Proposal’ का नायक है। वह एक जमींदार है। वह एक हास्य पैदा करने वाला पात्र है। वह 35 वर्ष की आयु का एक नौजवान है। वह बहुत जल्दी घबरा जाता है। जब भी वह परेशान होता है तो वह क्रोधित हो जाता है। जब वह अपने खराब स्वास्थ्य के बारे में शिकायत करता है तो बहुत हास्यप्रद लगता है। वह भूमि के एक टुकड़े के मालिकाना हक को लेकर नाताल्या के साथ झगड़ता है। वह अपने कुत्ते की श्रेष्ठता को लेकर भी नाताल्या के साथ झगड़ता है। वह क्रोधित हो जाता है और शुबुकोव को गालियाँ देना शुरु कर देता है। वह स्वयं पर नियंत्रण खो बैठता है और क्रोध के दौरे के कारण बेहोश हो जाता है। हम उसकी पोशाक, संस्कारों और व्यवहार के कारण हँसते हैं। वह 35 वर्ष की आयु में भी कुंवारा है। वह नाताल्या के साथ केवल प्यार के कारण ही शादी नहीं करता, बल्कि इसलिए करता है क्योंकि पहले ही उसकी उम्र बहुत अधिक हो चुकी है। उसे सुन्दरता की कोई अनुभूति नहीं होती है। वह नाताल्या के साथ इसीलिए शादी करना चाहता है क्योंकि वह एक सुन्दर गृहिणी है।)

Question 5.
What is the theme of the play ‘The Proposal’?
(नाटक ‘The Proposal’ का विषय क्या है?) ।
Answer:
The One Act play ‘The Proposal’ throws light on the life-style of the landlords of Russia in 19th century. The farm labourers worked on their farms. So these landlords led a life of ease and comfort. Infact, they led an idle life. They were full of vanity and pride. They quarrelled over petty things. In the play we see that Lomov and Natalya have a dispute over a piece of land. They quarrel again over the qualities of their dogs. Chubukov, Natalya’s father, instead of pacifying them, joins them. He and Lomov abuse each other. All of them behave in a very funny way. The play also brings to light the social life of the land owners of 19th century. An unmarried grown-up daughter was considered a great burden by the parents. Chubukov curses himself for being the father of Natalya. An aged bachelor was also looked down upon in the society. This theme has been presented nicely through the characters of Lomov and Natalya.

(नाटक ‘The Proposal’ 19वीं सदी में रूस के सामाजिक जीवन में जमींदारों के जीवन ढंगों को प्रदर्शित करता है। उनके खेतों पर मज़दूर काम करते थे। इसलिए ये जमींदार आरामदायक जीवन व्यतीत किया करते थे। वास्तव में वे एक निकम्मा जीवन जीते थे। उनमें झूठी शान और घमंड भरा हुआ था। वे छोटी-छोटी बातों पर झगड़ने लग जाते थे। इस नाटक में हम देखते है कि जमीन के एक टुकड़े को लेकर नाताल्या और लोमोव के बीच एक झगड़ा पैदा हो जाता है। वे अपने कुत्तों की नस्लों (गुणों) के कारण फिर से झगड़ते हैं। नाताल्या का पिता, शुबुकोव, उन्हें शांत करने के स्थान पर, स्वयं झगड़े में शामिल हो जाता है। वह और लोमोव एक-दूसरे को गालियाँ देते हैं। वे सभी एक अति हास्यजनक ढंग से व्यवहार करते हैं। यह नाटक 19वीं सदी में जमींदारों के सामाजिक जीवन पर भी प्रकाश डालता है। एक अविवाहित व्यस्क लड़की माँ-बाप के लिए एक भारी वजन मानी जाती थी। शुबुकोव नाताल्या का पिता होने के कारण स्वयं को कोसता है। एक अधिक उम्र के कुँवारे को भी समाज में अच्छी नज़रों से नहीं देखा जाता था। इस विषय को लोमोव और नाताल्या के चरित्रों के माध्यम से सुंदर ढंग से प्रस्तुत किया गया है।)

Multiple Choice Questions

Question 1.
Who was Lomov?
(A) a landowner
(B) a shepherd
(C) a business man
(D) a grocer
Answer:
(A) a landowner

Question 2.
How old was Lomov?
(A) Thirty years
(B) Thirty-five years
(C) Forty years
(D) Forty-five years
Answer:
(B) Thirty-five years

Question 3.
Why did Lomov come to Chubukov’s house?
(A) to quarrel over the piece of land
(B) to settle the ownership question of meadows
(C) to make the superiority of his dog
(D) to propose to Natalya
Answer:
(D) to propose to Natalya

Question 4.
How old was Natalya?
(A) twenty years
(B) twenty-five years
(C) thirty years
(D) thirty-five years
Answer:
(B) twenty-five years

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 5.
Which feature is correct with Natalya?
(A) a love-sick cat
(B) an ugly girl
(C) a grown-up lady
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

Question 6.
Chubukov was Natalya’s
(A) father
(B) mother
(C) a grand father
(D) grandmother
Answer:
(A) father

Question 7.
What did Lomov and Natalya quarrel over for the second time?
(A) the meadows ownership
(B) the superiority of dog
(C) their beauty
(D) their money
Answer:
(B) the superiority of dog

Question 8.
Who gave Oxen Meadows to the fore-grandfather of Chubukov?
(A) Lomov’s father
(B) Lomov himself
(C) Lomov’s aunt
(D) Lomov’s aunt’s grandfather
Answer:
(D) Lomov’s aunt’s grandfather

Question 9.
When Lomov left Chubukov’s house, how did he feel?
(A) happy
(B) normal
(C) upset
(D) please
Answer:
(C) upset

Question 10.
Chubuko’v called Natalya
(A) a love-sick cat
(B) a corrupt minded
(C) an ugly lady
(D) a foolish fellow
Answer:
(A) a love – sick cat

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

Question 11.
Was Natalya willing to marry Lomov?
(A) yes
(B) no
(C) may be
(D) may not be
Answer:
(B) no

Question 12.
Natalya was highly in love with
(A) Oxen Meadows
(B) Lomov
(C) her dog
(D) all of the above
Answer:
(B) Lomov

Question 13.
Who run out of home of fetch Lomov back?
(A) Chubukov
(B) Natalya
(C) a servant
(D) none of the above
Answer:
(A) Chubukov

Question 14.
Who was suffering from heart trouble?
(A) Lomov
(B) Chubukov
(C) both (A) and (B)
(D) none of the above
Answer:
(C) both (A) and (B)

Question 15.
Did Natalya and Lomov get married in the end?
(A) Yes
(B) No
(C) Maybe
(D) May not be
Answer:
(A) Yes

The Proposal Important Passages for Comprehension

Read the following passages and answer the questions that follow:

PASSAGE 1

CHUBUKOV: We just get along somehow, my angel, thanks to your prayers, and so on. Sit down, please do… Now, you know, you shouldn’t forget all about your neighbours, my darling. My dear fellow, why are you so formal in your get-up! Evening dress, gloves, and so on. Can you be going anywhere, my treasure?

LOMOV: No. I’ve come only to see you, honoured Stepan Stepanovitch.

CHUBUKOV: Then why are you in evening dress, my precious? As if you’re paying a New Year’s Eve visit!

LOMOV: Well, you see, it’s like this [Takes his arm] I’ve come to you, honoured Stepan Stepanovitch, to trouble you with a request. Not once or twice have I already had the privilege of applying to you for help, and you have always, so to speak… I must ask your pardon. I am getting excited. I shall drink some water, honoured Stepan Stepanovitch.

Word-meanings: Get-up = dress (पोशाफ); gloves = gloves (दास्ताने); privilege = special right (विसेविशेषाधिकार) ।

Questions:
(а) What kind of dress is Lomov wearing?
(б) Why is Lomov in a formal dress?
(c) What does Lomov say about the purpose of his visit?
(d) Why does he drink some water?
(e) Find a word from the passage which means ‘special right’.
Answer:
(a) Lomov is wearing evening dress.
(b) He is in a formal dress as he has come for the hand of Chubukov’s daughter.
(c) He says that he has come to make a special request to Chubukov.
(d) He drinks some water because he gets excited.
(e) ‘privilege’.

PASSAGE 2

Brr… It’s cold! Natalya Stepanovna is an excellent housekeeper, not bad-looking, well-educated. What more do I want? But I’m getting a noise in my ears from excitement. [Drinks] And It’s impossible for me not to marry. In the first place, I’m already 35 a critical age, so to speak. In the second place, I ought to lead a quiet and regular life. I suffer from palpitations, I’m excitable and always getting awfully upset; at this very moment my lips are trembling, and there’s a twitch in my right eyebrow. But the very worst of all is the way I sleep. I no sooner get into bed and begin to go off, when suddenly something in my left side gives a pull, and I can feel it in my shoulder and head… I jump up like a lunatic, walk about a bit and lie down again, but as soon as I begin to get off to sleep there’s another pull! And this may happen twenty times…

Word-meanings: Excellent = very good (शानदार); palpitations = beating of the heart (दिल का घड़कना); twitch = pull with a jerk (फड़कना) ।

Questions:
(a) Who is the speaker of these lines?
(b) Why is he eager to marry?
(c) What does the speaker think of Natalya?
(d) What disease does he suffer from?
(e) Find a word from the passage which means ‘mad’.
Answer:
(a) Lomov is the speaker of these lines.
(b) He is eager to marry because he is already 35.
(c) He thinks that she is a good housekeeper.
(d) He suffers from palpitations.
(e) ‘lunatic’.

PASSAGE 3

I shall try to be brief. You must know, honoured Natalya Stepanovna, that I have long, since my childhood in fact, had the privilege of knowing your family. My late aunt and her husband from whom, as you know, I inherited my land, always had the greatest respect for your father and your late mother. The Lomovs and the Chubukovs have always had the most friendly, I might almost say the most affectionate, regard for each other. And, as you know, my land is a near neighbour of yours. You will remember that my Oxen Meadows touch your Birchwoods.

Word-meanings: Inherited = received as heir (विरासत में मिलना); affectionate = loving (प्रिय)।

Questions:
(a) Who is the speaker here and to whom he speaks these lines?
(A) What does the speaker think to be a privilege?
(c) How did the speaker come to have his land?
(d) What type of relations the Lomovs and the Chubukovs had?
(e) What does the speaker say about Oxen Meadows?
Answer:
(a) Lomov is the speaker here and he speaks these lines to Natalya.
(A) The speaker thinks it a privilege to know Natalya’s family.
(c) The speaker inherited his land from his late aunt and uncle.
(d) Lomovs and Chubukovs had very friendly relations.
(e) The speaker says that his Oxen Meadows touch Natalya’s Birchwoods.

PASSAGE 4

But you can see from the documents honoured Natalya Stepanovna. Oxen Meadows, it’s true, were once the subject of dispute, but now everybody knows that they are mine. There’s nothing to argue about. You see my aunt’s grandmother gave the free use of these Meadows in perpetuity to the peasants of your father’s grandfather, in return for which they were to make bricks for her. The peasants belonging to your father’s grandfather had the free use. of the Meadows for forty years, and had got into the habit of regarding them as their own, when it happened that

Word-meanings : Dispute = quarrel (झगड़ा); in perpetuity = in continuation (लगातार); peasant = farmer (किसान)।

Questions :
(a) What documents does Lomov offer to show Natalya?
(b) For how many years did the peasants have the free use of the Meadows?
(c) What for did Lomov’s aunt’s grandmother give the Oxen Meadows to Natalya’s father’ grandfather?
(d) Name the chapter.
(e) Which word in the passage means ‘in continuation’?
Answer:
(a) He wants to show her the documents relating to the Oxen Meadows.
(b) The peasants had the free use of the Meadows for forty years.
(c) He gave the Meadows in lieu of their making bricks for Lomov’s aunt’s grandmother.
(d) The name of the chapter is ‘The Proposal’.
(e) Perpetuity.

PASSAGES 5

LOMOV: I’ll show you the documents, Natalya Stepanovna!

NATALYA: No, you’re simply joking, or making fun of me. What a surprise! We’ve had the land for nearly three hundred years, and then we’re suddenly told that it isn’t ours! Ivan Vassilevitch, I can hardly believe my own ears. These Meadows aren’t worth much to mie. They only come to five dessiatins, and are worth perhaps 300 roubles, but I can’t stand unfairness. Say what you will, I can’t stand unfairness.

LOMOV: Hear me out, I implore you! The peasants of your father’s grandfather, as I have already had the honour of explaining to you, used to bake bricks for my aunt’s grandmother. Now my aunt’s grandmother, wishing to make them pleasant…

NATALYA: I can’t make head or tail of all this about aunts and grandfathers and grandmothers. The Meadows are ours, that’s all.

Word-meanings: Dessiatins = a currency (एक मुद्रा); unfairness = injustice (अनयाय); implore = request (प्रार्थना करना); bake = heat (पकाना); make head or tail = understand (समझना) ।

Questions:
(a) What documents does Lomov refer to?
(b) According to Natalya, for how many years did her family own the land in question?
(c) What ‘unfairness’ is Natalya talking of here?
(d) What is the meaning of: “I can’t make head or tail of all this”?
(e) Find a phrase from the passage which means ‘request.’
Answer:
(a) He refers to the documents showing his ownership of Oxen Meadows.
(b) Her family had the land for three hundred years.
(c) The ‘unfairness’ is that the Meadows belong to Natalya while Lomov lays his claim to them.
(d) “I cannot understand anything of this.”
(e) ‘Implore.’

PASSAGE 6

NATALYA: I can make you a present of them myself, because they’re mine! Your behaviour, Ivan Vassilevitch, is strange, to say the least! Up to this we have always thought of you as a good neighbour, a friend last year we lent you our threshing machine, although on that account we had to put off our own threshing till November, but you behave to us as if we were gipsies. Give me my own land, indeed! No, really, that’s not at all neighbourly! In my opinion, it’s even impudent, if you want to know.

LOMOV: Then you make out that I’m a landgrabber? Madam, never in my life have I grabbed anybody else’s land and I shan’t allow anybody to accuse me of having done so. [Quickly steps to the carafe and drinks more water] Oxen Meadows are mine!

Word-meanings : Threshing = separating grain and chaff (अनाज और भूसा अलग करना); gypsies = nomadic, (खानाबदोश); impudent = rude (अभट); landgrabber = one who grabs others’ land (दूसरे की जमीन हड़पने वाला)।

Questions:
(a) What did Natalya lend to Lomov the previous year?
(b) How did she suffer on account of this?
(c) What had she always thought of Lomov?
(d) According to Natalya, what not ‘at all neighbourly’?
(e) Find a word from the passage which means ‘disrespectful’.
Answer:
(a) Natalya lent her threshing machine to Lomov.
(b) As a result she had to put off her own threshing till November.
(c) She had always thought of Lomov as a good neighbour.
(d) According to Natalya, laying claim over her land is not ‘at all neighbourly’.
(e) ‘impudent’.

PASSAGE 7

CHUBUKOV: Dear one, why yell like that? You won’t prove anything just by yelling. I don’t want anything of yours, and don’t intend to give up what I have. Why should 1? And you know, my beloved, that if you propose to go on arguing about it, I’d much sooner give up the Meadows to the peasants than to you. There!

LOMOV: I don’t understand! How have you the right to give away somebody else’s property?

CHUBUKOV: You may take it that I know whether I have the right or not. Because, young man, I’m not used to being spoken to in that tone of voice, and so on. I, young man, am twice your age, and ask you to speak to me without agitating yourself, and all that.

LOMOV: No, you just think I’m a fool and want to have me on! You call my land yours, and then you want me to talk to you calmly and politely! Good neighbours don’t behave like that, Stepan Stepanovitch! You’re not a neighbour, you’re a grabber!

Word-meanings : Yelling = shouting (चिल्लाना); give up = renounce (त्याग देना); right = claim (दावा); agitating = becoming exciting (उत्तेजित होना);calmly = peacefully (शांति से)।

Questions:
(a) What is Lomov yelling for?
(A) What does Chubukov threaten to do?
(c) According to Chubukov, how should Lomov speak to him?
(d) What does Lomov call Chubukov?
(e) Find a word from the passage which means ‘shouting’.
Answer:
(a) Lomov is yelling to make it clear that Oxen Meadows are his.
(b) He threatens to give the Meadows to the peasants.
(c) Lomov should speak to him respectfully because he is twice his age.
(d) He calls Chubukov a landgrabber.
(e) ‘Yelling.’

PASSAGE 8

LOMOV: Squeezer better than Guess? What an idea! [laughs] Squeezer better than Guess!
NATALYA: Of course, he’s better! Of course, Squeezer is young, he may develop a bit, but on points and pedigree, he’s better than anything that even Volchanetsky has got.
LOMOV: Excuse me. Natalya Stepanovna, but you forget that he is overshot, and an overshot always means the dog is a bad hunter!
NATALYA: Overshot, is he? The first time I hear it!
LOMOV: I assure you that his lower jaw is shorter than the upper.
NATALYA: Have you measured?
LOMOV: Yes. He’s all right at following, of course, but if you want to get hold of anything…

Word-meanings: Pedigree = race (जाति); overshot = when the lower jaw is shorter than the upper (जब निचला जबड़ा ऊपर वाले से छोटा हो)।

Questions:
(a) Who are ‘Squeezer’ and ‘Guess’ here?
(b) How, according to Natalya, is Squeezer ‘better’ than Guess?
(c) What is the major handicap with ‘Squeezer’?
(d) What is the effect of a dog being overshot?
(e) Find a word from the passage which means ‘breed’.
Answer:
(a) ‘Squeezer’is Natalya’s dog and‘Guess’Lomov’s.
(b) ‘Squeezer’ is ‘better’ because he is young and has a good pedigree.
(c) The major handicap with ‘Squeezer’ is that he is overshot.
(d) A dog is overshot when his lower jaw is shorter than the upper.
(e) ‘pedigree’.

PASSAGE 9

LOMOV: He is old, but I wouldn’t take five Squeezers for him. Why, how can you? Guess is a dog; as for Squeezer, well, it’s too funny to argue. Anybody you like has a dog as good as Squeezer… you may find them under every bush almost. Twenty-five roubles would be a handsome price to pay for him.
NATALYA: There’s some demon of contradiction in you today, Ivan Vasilevich. First, you pretend that the Meadows are yours now, that Guess is better than Squeezer. I don’t like people who don’t say what they mean, because you know perfectly well that Squeezer is a hundred times better than your silly Guess. Why do you want to say he isn’t?
LOMOV: I see, Natalya Stepanovna, that you consider me either blind or a fool. You must realise that Squeezer is overshot!

Word-meaning : Contradiction = disagreement (असहमति) ।

Questions:
(а) What is funny, according to Lomov?
(б) What does Natalya say about her own dog?
(c) Where can you find dogs like Squeezer, according to Lomov?
(d) How does Lomov interpret Natalya’s accusation of him?
(e) Which Russian currency has been mentioned in these lines?
Answer: ‘
(a) According to Lomov it is funny to say that Squeezer is better than Guess.
(b) She says that her dog is hundred times better than Lomov’s dog.
(c) According to him you can find dogs like Squeezer under every bush.
(d) He thinks that she considers him either blind or a fool.
(e) Roubles.

PASSAGE 10

CHUBUKOV: Don’t excite yourself, my precious one. Allow me. Your Guess certainly has his good points. He’s purebred, firm on his feet, has well-sprung ribs, and all that. But, my dear man, if you want to know the truth, that dog has two defects he’s old and he’s short in the muzzle.

LOMOV: Excuse me, my heart… Let’s take the facts. You will remember that on the Marusinsky hunt my Guess ran neck – and – neck with the Count’s dog, while your Squeezer was left a whole verst behind.

CHUBUKOV: He got left behind because the Count’s whipper-in hit him with his whip.

LOMOV: And with good reason. The dogs are running after a fox, when Squeezer goes and starts worrying a sheep!

Word-meanings: Muzzle = nose and mouth of an animal (यूथन); a whole verst = much behind (बहुत पीछे); whip = cane with a string चाबुक।

Questions:
(a) What are the two good points of Guess, according to Chubukov?
(b) What are the two defects of Guess?
(c) What happened to Squeezer on the Marusinsky hunt?
(d) How was Squeezer different from other dogs?
(e) Find a word from the passage which means ‘nose and mouth part of an animal’.
Answer:
(a) According to Chubukov, Guess is purebred and is firm on his feet.
(b) He is old and is short in the muzzle. ‘
(c) He was ‘left a much behind’.
(d) Squeezer ran after a sheep while other dogs ran after a fox.
(e) ‘muzzle’.

The Proposal summary in English

The Proposal Introduction in English

Anton Chekov (1860 – 1904) was a famous writer. He is chiefly know for his short stories. This story ‘The Proposal’ is a romantic story of a neighbour named Ivan Lomov. He is a landowner and often gets money from Chubukov’s another landowner. Chubukov has a daughter named Natalya. Lomov comes to Chubukov with a marriage proposal for his daughter Natalya.

The Proposal summary in English

When the play begins we see that Lomov comes to meet Chubukov at his house. Chubukov who is a farmer, welcomes Lomov. He” asks him why he is wearing formal clothes and whether he is going to attend a function. Lomov replies that he is not going anywhere; he has come only to meet him. Lomov appears excited and perturbed. He calms himself down and begins to tell him the purpose of his visit. He tells him that he came to him many times in the past also for his help but he did not help him. Before telling the purpose of his visit, Lomov is excited once again. Chubukov thinks that perhaps he has come to ask for a loan. He makes up his mind not to help him in any way.

Lomov once again begins to tell Chubukov about the purpose of his visit. But he once again becomes excited. He talks about himself in exaggerated terms. Chubukov asks him not to beat about the hush and to talk about his purpose of coming. Lomov gathers courage and tells him that he has come to ask for his daughter Natalya’s hand in marriage. On hearing this Chubukov becomes very happy, he goes in to call Natalya. But before this Lomov asks him whether Natalya would give her permission for this. Chubukov replies that she will readily accept a match like him.

Lomov is left alone in the room. His body is trembling with excitement. He thinks about his present life. He wants to settle the question of his marriage at once. He thinks that now he should not delay. He thinks about Natalya. She is a skilled house-keeper. She is educated and is not bad to look at. At this age he should not expect a better girl than her. Now he is thirty-five years old. Now he should lead a regulated life. He is suffering from serious diseases like palpitation, excitement and insomnia. Because of these reasons, he should marry.

Just then Natalya comes in. Her father has not told her that Lomov has come to meet her. He only told her that a customer had come. Even then she welcomes Lomov. Before Lomov can speak, she starts speaking. When she mentions his beautiful dress, he is again excited. Before he can talk about his marriage to her, he starts trembling. Natalya encourages him and he recovers. He says that he will tell her everything in brief. Even then he cannot talk in a straight-forward manner. He beats about the bush. He tells her that for the last many decades their families have had good relations. Their estates are also adjoining. His Oxen Meadows touch their birchwoods. Natalya protests against this. She says that the Oxen Meadows belong to her. Both of them lay their claims to it. They start quarrelling about the ownership of the Oxen Meadows. They shout loudly at each other. They do not calm down in any way.

Chubukov comes in and finds them both quarrelling. He is greatly surprised. But when he finds that they are quarrelling about the ownership of the Oxen Meadows, he also becomes angry. Instead of calming them down, he also starts quarrelling. He claims to be the owner of the Meadows. He insults not only Lomov butalso his family members. Lomov becomes more excited. He uses insulting words for Chubukov, Natalya and their family members. Lomov’s palpitation increases and he becomes very perturbed. He goes out of the room. Chubukov says how the foolish Lomov dared to bring a proposal for Natalya’s marriage. When Natalya hears this, she is deeply shocked. She is almost unconscious. She starts weeping and asks her father to bring Lomov back. Chubukov feels sad. He says that it is the biggest misfortune to be the father of a girl. He goes out to call Lomov.

Lomov again enters the room. Natalya thinks that she will not annoy him this time. She tries to please him. She says that the Meadows belong to him. She tries to change the topic so that he could propose to her. But he is still not all right. He is feeling disturbed. He does not come to the point. Lomov starts praising the qualities of his dog Guess, which he has purchased for 125 roubles. But Natalya says that her dog Squeezer which she purchased for 85 roubles is much better than Lomov’s dog Guess. Both of them praise the qualities of their dogs. Now they start quarrelling on this topic. They again start shouting at each other. In the mean time Chubukov comes. Instead of putting an end to their quarrel, he also starts quarrelling. In this dispute, Lomov’s condition deteriorates and he falls on the chair, unconscious. Both the father and the daughter think that he has died. Natalya starts lamenting that her chance of getting married has gone.

After sometime, Lomov comes to his senses. Chubukov tells Lomov that Natalya is willing for marriage, so he should marry her. Natalya expresses her willingness. Chubukov does not want to lose even a moment and joins their hands. He asks them to kiss each other. But soon, they start quarrelling again. They start debating the qualities of their respective dogs. Chubukov tries to calm them down. With this the play comes to an end.

The Proposal summary in Hindi

The Proposal Introduction in Hindi

(ऐन्टन चेखव (1860-1904) एक प्रसिद्ध लेखक था। वह अपनी लघु कहानियों के लिए बहुत प्रसिद्ध है। यह कहानी ‘The – Proposal’ एक रोमांस से भरपूर (एक पड़ोसी इवान लोमोव की) कहानी है। वह एक ज़मींदार है और शुबुकोव नाम के दूसरे ज़मींदार से रुपया उधार ले लेता है। शुबुकोव की एक बेटी है नाताल्या। लोमोव शुबुकोव के पास उसकी बेटी के साथ शादी करने का प्रस्ताव लेकर आता है।)

The Proposal summary in Hindi

जब नाटक शुरु होता है तो हम देखते हैं कि लोमोव शुबुकोव के घर उससे मिलने के लिए आता है। शुबुकोव, जोकि एक किसान है, लोमोव का स्वागत करता है। वह उससे पूछता है कि वह औपचारिक पोशाक क्यों पहने हुए है, और क्या वह किसी विशेष कार्य के लिए जा रहा है। लोमोव उत्तर देता है कि वह कहीं और नहीं जा रहा है, वह तो उससे ही मिलने आया है। लोमोव उत्तेजित और व्याकुल नज़र आता है। वह अपने-आपको शांत करता है और अपने आने का उद्देश्य बताना आरंभ करता है। वह उसे बताता है कि वह पहले भी कई बार सहायता के लिए उसके पास आया है और उसने उसकी सहायता नहीं की है। अपना उद्देश्य बताने से पहले ही लोमोव फिर से उत्तेजित हो जाता है। शुबुकोव मन में सोचता है कि शायद वह कर्ज़ लेने आया है। वह निश्चय कर लेता है कि वह उसे किसी प्रकार की सहायता नहीं देगा।

लोमोव एक बार फिर शुबुकोव को अपने आने के उद्देश्य के बारे में बताना चाहता है। लेकिन वह दोबारा उत्तेजित हो जाता है। वह सहायता के बारे में बोलने की अपेक्षा अपने बारे में कुछ बढ़-चढ़कर बात करता है। शुबुकोव उसे इधर-उधर की बात न करके उसके आने के उद्देश्य की बात करने के लिए कहता है। लोमोव शक्ति बटोर लेता है और उसे बताता है कि वह उसकी बेटी नाताल्या का हाथ विवाह के लिए माँगने आया है। यह सुनकर शुबुकोव बहुत प्रसन्न होता है। वह नाताल्या को बुलाने के लिए अंदर जाने लगता है। परंतु उससे पहले ही लोमोव उससे पूछता है कि क्या नाताल्या इसकी स्वीकृति देगी। शुबुकोव उसे उत्तर देता है कि वह उस जैसे अच्छे लड़के को तुरंत स्वीकार कर लेगी। लोमोव कमरे में अकेला रह जाता है। उसका शरीर उत्तेजना से काँप रहा है। वह अपने वर्तमान जीवन के बारे में सोचना शुरु कर देता है। वह अपनी शादी का मामला तुरंत तय कर देना चाहता है। वह सोचता है कि उसे अब ज्यादा देर नहीं करनी चाहिए। वह नाताल्या के बारे में सोचता है। वह एक कुशल गृहिणी है। वह पढ़ी-लिखी है और देखने में भी बुरी नहीं है। इस आयु में उसे इससे अच्छी लड़की की आशा भी नहीं करनी चाहिए। वह पैंतीस वर्ष का हो चुका है। उसे अब एक नियमित जीवन बिताना चाहिए। वह दिल की धड़कन, बौखलाहट और अनिद्रा जैसी भयंकर बीमारियों से भी पीड़ित है। इन कारणों से उसे अब विवाह कर लेना चाहिए।

इतने में नाताल्या अंदर आती है। उसके पिता ने उसे नहीं बताया कि लोमोव उससे मिलने आया है। उसने तो उसे यही बताया था कि कोई ग्राहक आया है। फिर भी वह लोमोव का स्वागत करती है। इससे पहले कि लोमोव कुछ बात करे, वह बात करना आरंभ कर देती है। जब वह उसकी सुंदर पोशाक की ओर संकेत करती है, वह फिर उत्तेजित हो उठता है। इससे पहले कि वह उससे शादी के बारे में पूछे, वह काँपने लगता है। नाताल्या उसे प्रोत्साहित करती है और वह ठीक हो जाता है। वह कहता है कि वह उसे संक्षेप में सब कुछ बता देगा। फिर भी वह स्पष्ट रूप से बात नहीं कर पाता। वह इधर-उधर की बातें करने लगता है। वह उसे कहता है कि पिछले कई दशकों से उनके परिवारों के संबंध बहुत अच्छे हैं। उनकी संपत्तियाँ भी साथ-साथ हैं। उनकी चरागाहें उनके भोज-पत्र के वनों को छूती हैं। नाताल्या इस बात का विरोध करती है। वह कहती है कि चरागाहें उनकी हैं। दोनों ही उन पर अपना-अपना अधिकार जमाते हैं। इन चरागाहों की मलकियत के प्रश्न पर दोनों में झगड़ा आरंभ हो जाता है। दोनों बहुत जोर से एक-दूसरे पर चिल्लाते हैं। वे किसी भी प्रकार से शांत नहीं होते।

शुबुकोव अन्दर आता है और उन्हें झगड़ते हुए देखता है। वह बड़ा हैरान होता है। परंतु जब उसे पता चलता है कि वे दोनों चरागाहों के स्वामित्व पर झगड़ रहे हैं तो वह भी क्रोधित हो उठता है। उन्हें शांत करने की अपेक्षा वह भी लड़ने लग जाता है। वह चरागाहों के स्वामित्व का दावा करता है। वह न केवल लोमोव बल्कि उसके परिवार के सदस्यों का भी अपमान करता है। लोमोव और अधिक उत्तेजित हो उठता है। वह शुबुकोव, नाताल्या और उनके परिवार के सदस्यों के लिए अपमानजनक शब्दों का प्रयोग करता है। लोमोव के दिल की धड़कन बढ़ जाती है और वह अत्यधिक अशांत हो उठता है। वह कमरे से बाहर चला जाता है। . शुबुकोव कहता है कि इस मूर्ख लोमोव को उसकी बेटी के सामने शादी का प्रस्ताव रखने का साहस कैसे हुआ? जैसे ही नाताल्या यह बात सुनती है, उसे बड़ा गहरा सदमा पहुँचता है। वह मूर्छित-सी हो जाती है। वह रोने लगती है और अपने पिता से कहती है कि वह लोमोव को वापस लाए। शुबुकोव बहुत दुःख अनुभव करता है। वह कहता है कि एक लड़की का बाप होना सबसे बड़ा दुर्भाग्य है। वह लोमोव को बुलाने बाहर चला जाता है।

लोमोव दोबारा कमरे में प्रवेश करता है। नाताल्या सोचती है कि इस बार वह उसे फिर से नाराज़ नहीं करेगी। वह उसे प्रसन्न करने का प्रयत्न करती है। वह कहती है कि ये चरागाहें उसकी हैं। वह इस विषय को बदलना चाहती है ताकि वह (लोमोव) उसके सामने शादी का प्रस्ताव रखे। परंतु वह अब भी स्वस्थ नहीं है। उसे अब भी घबराहट अनुभव हो रही है। वह मतलब की बात नहीं करता। लोमोव अपने कुत्ते गेस, जिसे उसने 125 रूबल में खरीदा है, की तारीफ करना आरंभ करता है। परंतु नाताल्या कहती है कि उसका कुत्ता स्कूईज़र, जिसे उसने 85 रूबल में खरीदा है, लोमोव के कुत्ते गेस से अच्छा है। दोनों ही अपने-अपने कुत्तों के गुणों का वर्णन करने लगते हैं। अब वे इस विषय पर झगड़ना शुरू कर देते हैं। वे फिर एक-दूसरे पर चीखना-चिल्लाना शुरु कर देते हैं। इस बीच में शुबुकोव आ जाता है। उनके झगड़े को समाप्त करने की अपेक्षा वह भी झगड़ने लगता है। इस मतभेद में लोमोव की तबीयत खराब हो जाती है और वह बेहोश होकर कुर्सी पर गिर जाता है। दोनों पिता-पुत्री समझते हैं कि वह मर गया है। नाताल्या विलाप करने लग जाती है क्योंकि उसके विवाह का अवसर जाता रहा है।

कुछ देर के पश्चात् लोमोव होश में आता है। शुबुकोव लोमोव से कहता है कि वह (नाताल्या) विवाह के लिए तैयार है, इसलिए वह उससे शादी कर ले। नाताल्या भी अपनी सहमति प्रकट करती हैं। शुबुकोव एक पल भी नहीं गँवाता और उन दोनों के हाथ मिला देता है। वह उन दोनों को एक-दूसरे का चुम्बन लेने के लिए कहता है। परंतु शीघ्र ही वे दोनों फिर झगड़ने लग जाते हैं। वे अपने-अपने कुत्तों की विशेषताओं पर वाद-विवाद करने लग जाते हैं। शुबुकोव उन्हें फिर शांत करने का प्रयत्न करता है और इसके साथ ही नाटक समाप्त हो जाता है।

The Proposal Translation in Hindi

[PAGE 144] : पात्र :
1. स्टीपन स्टेपनोविच शुबुकोव : ज़मींदार
2. नाताल्या स्टीपनोवन : उसकी (ज़मींदार की) लड़की, आयु 25 वर्ष
3. इवान वेसीलविच लोमोव : शुबुकोव का पड़ोसी, एक हृष्ट-पुष्ट एवं खुशमिजाज, लेकिन शक्की किस्म का जमींदार।

शुबुकोव के घर में मेहमान कक्ष
लोमोव प्रवेश करता है, जाकेट और सफेद दस्ताने पहने हुए हैं। शुबुकोव उसे मिलने के लिए उठता है।
शुबुकोव : मेरे प्यार साथी मैं किससे मिल रहा हूँ! इवान वेसीलविच! मैं अत्यन्त प्रसन्न हूँ! (अपने हाथों को मरोड़ते हुए) अरे यह तो एक अचम्भा है, मेरे प्रिय….. आप कैसे हो ?
लोमोव : आपका धन्यवाद! आजकल आप कैसे चल रहे हो ?
शुबुकोव : हम ठीक प्रकार से आगे बढ़ रहे हैं, मेरे दिव्य, आपकी प्रार्थनाओं के लिए धन्यवाद, और इत्यादि। नीचे बैठिए, कृपया बैठो ना…. अब आप जानते हैं, मेरे प्रिय आपको अपने पड़ोसियों के बारे में नहीं भूलना चाहिए। मेरे प्रिय मित्र – आप अपने पहनावे में आज इतने क्यों औपचारिक दिखाई दे रहे हैं। सांय के कपड़े, दस्ताने और इत्यादि-इत्यादि। मेरे प्रिय अमूल्य निधि क्या आप कहीं जा रहे हैं?

लोमोव : नहीं। सम्मानित स्टीपन स्टेपनोविच, मैं तो केवल आपसे मिलने आया हूँ।
शुबुकोव : तो आप सांय की ड्रैस में क्यों हैं, मेरे अमूल्य खजाने ? आप तो ऐसे लग रहे हैं मानो आप तो आज नव वर्ष हेतु मिलने आये हैं!

लोमोव : ठीक आप जानते हैं, ऐसा ही है (अपनी भुजा बाहर लाते हुए) आदरणीय स्टीपन स्टेपनोविच, मैं आपको एक प्रार्थनापूर्वक कष्ट देने आया हूँ। मैंने एक अथवा दो बार ही नहीं आपसे सहायता माँगी है और आपने सदैव जैसाकि मैं कह सकता हूँ….. आपसे नम्र निवेदन की अपेक्षा करते हुए कहता हूँ कि मैं उत्तेजित होता जा रहा हूँ। सम्मानित स्टीपन स्टेपनोविच मैं कुछ पानी पीना चाहूँगा। (पानी पीता है)

शुबुकोव : (एक ओर हटकर) यह जरूर कुछ रुपया उधार लेने आया है। मैं उसे कुछ नहीं दूंगा। (जोर से) अरे मेरे प्रिययह क्या है ?

लोमोव : देखिए, सम्मान-योग्य स्टेपनोविच….. क्षमा करना, स्टेपन आनरिच…. मेरे कहने का भाव है, मैं भयानक रूप से उत्तेजित हो रहा हूँ, जैसेकि आप कृपया देख ही सकते हैं…. संक्षेप में, केवल आप ही मेरी मदद कर सकते हैं, यद्यपि मैं इसका पात्र नहीं हूँ, सचमुच….. और मुझे कोई अधिकार नहीं है कि आपकी सहायता पर निर्भर करूँ।

शुबुकोव : अरे, बात को इधर-उधर घुमाते मत जाओ, प्यारे! जल्दी उगल दो। कहो ?
लोमोव : एक पल रुकिए….. अभी बताता हूँ। वास्तव में बात यह है, मैं आपकी बेटी नाताल्या स्टेपनोविच का विवाह के लिए हाथ माँगने आया हूँ।

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

[PAGE 145]: शुबुकोव : (प्रसन्नतापूर्वक) भगवान कसम! इवान वेसीलविच! दोबारा से कहो मैंने बिल्कुल सुना नहीं है।
लोमोव : मुझे आपसे यह कहने में सम्मान महसूस हो रहा है …..

शुबुकोव : (दखल देते हुए) मेरे प्रिय हजूर….. मुझे कितनी खुशी हो रही है, और क्या-क्या….. । हाँ, सचमुच और इस तरह का वह सब कुछ। (लोमोव को गले लगाता है और उसे चूमता है) मैं बहुत देर से इसकी आशा कर रहा हूँ। यह मेरी निरन्तर इच्छा रही है। (एक आँसू बहा देता है) और मैं तुमसे सदा प्यार करता रहा हूँ, मेरे फरिश्ते, मानो तुम मेरे ही पुत्र हो। ईश्वर तुम दोनों को अपनी सहायता और अपना प्यार प्रदान करे, और क्या-क्या, तथा मैं कितनी ज्यादा आशा रखता था….. । मैं इस मूर्खतापूर्ण ढंग से किसलिए व्यवहार करने लगा हूँ ? खुशी से मैं हिल गया हूँ, बिल्कुल अपना संतुलन खो बैठा हूँ। अरे, अपनी पूरा आत्मा सहित. ….. मैं अभी जाता हूँ और नाताल्या को बुलाकर लाता हूँ, और वगैरह-वगैरह।

लोमोव : (अत्यन्त प्रभावित होते हुए) सम्मान-योग्य स्टीपन स्टेपनोविच, क्या आप समझते हैं कि मैं उसकी सहमति का भरोसा कर सकता हूँ?

शुबुकोव : क्यों, बिल्कुल, मेरे लाड़ले, और ….. तुम समझते हो वह सहमत नहीं होगी। उसे प्यार हो गया है….. ईश्वर कसम, वह तो प्रेम में पागल हुई एक बिल्ली के जैसी है, और क्या-क्या। मैं ज्यादा देर नहीं लगाऊँगा।
(बाहर चला जाता है।)

[PAGES 145-146]: लोमोव : अरे बहुत ठंड है….. मैं तो काँप रहा हूँ, ऐसा लगता है कि मुझे अपना परीक्षण कराना होगा। बहुत बड़ी बात तो यह है कि मुझे अपना फैसला करना होगा। अगर मैं सोचने में समय लेता हूँ, हिचकता हूँ, बहुत बातें करनी हैं, एक आदर्श की तलाश है अथवा सच्चे प्यार के लिए, तो मैं कभी भी शादी नहीं कर पाऊँगा…. परंतु अब ठंड है। नाताल्या स्टीपनोवन एक उत्कृष्ट गृहिणी है, देखने में भी अच्छी है, अच्छी पढ़ी-लिखी है और मुझे क्या चाहिए ? परन्तु मेरे तो उत्तेजना से कान भी गूंज रहे हैं। (पीता है) और यह मेरे लिए असम्भव है कि मैं शादी न करूँ। प्रथम स्थान पर तो मेरी आयु 35 वर्ष है-कहने का तात्पर्य है कि यह एक नाजुक स्थिति है। दूसरी बात यह है कि मुझे शांत और नियमित जीवन व्यतीत करना चाहिए, मुझे हृदय की धड़कन की बीमारी है, मैं उत्तेजित हो जाता हूँ और सदैव शीघ्र ही अधिक परेशान हो उठता हूँ। इस समय मेरे होंठ काँप रहे हैं। और मेरी दाहिनी भौंहें फड़फड़ा रही हैं, परन्तु दुर्भाग्यपूर्ण बात तो यह है कि मैं जिस प्रकार सोता हूँ। ज्यों ही मैं बिस्तर में जाता हूँ, शीघ्र सो जाता हूँ फिर अचानक मेरी बाँईं ओर मुझे कोई खींचता है। और मैं इसे अपने कंधे और सिर से भी महसूस कर सकता हूँ। मैं एक पागल की भाँति उछलता हूँ, थोड़ा-सा चलता हूँ और पुनः लेट जाता हूँ। परन्तु जब मैं शीघ्र ही नींद से उठता हूँ फिर मुझे कोई खींचता है। और यह लगभग बीस बार हो सकता है। . (नाताल्या स्टीपनोवन अन्दर आती है।)

[PAGE 148]: नाताल्या : अरे, आप यहाँ हैं और पापा ने कहा-“जाओ, देखो कोई व्यापारी अपने सामान के साथ आया है।” आप कैसे हैं इवान वेसीलविच ?
लोमोव : सम्मानित नाताल्या स्टीपनोवन-आप कैसे हो ?
नाताल्या : आप मेरे वस्त्र और उपेक्षा के लिए माफ करेंगे। हम यहाँ पर बहुत देर से हैं। बैठिये ना….. (वे दोनों बैठते हैं) आप क्या कुछ भोजन लेंगे?
लोमोव : नहीं! आपका धन्यवाद, मैंने पहले ही कुछ ले रखा है।

नाताल्या : फिर सिगरेट पी लीजिए। यहाँ पर माचिस है। मौसम अब बहुत शानदार है। परन्तु कल बहुत गीला था और मजदूर ने सारे दिन कुछ कार्य ही नहीं किया। आपने कितनी घास कटवा ली है? जरा सोचें, मुझे अच्छा है कि मैं सारा खेत कटवा दूं। परन्तु अब मुझे खुशी बिल्कुल नहीं है क्योंकि मुझे डर है कि कहीं घास सड़ न जाए। मुझे कुछ प्रतीक्षा करनी चाहिए। परन्तु यह क्या है ? क्यों -अरे ठीक आप तो सायंकाल की ड्रैस पहने हैं, मैं तो कभी भी नहीं होती-क्या आप किसी डांस पार्टी में जा रहे हैं और क्या बात है ? यद्यपि मुझे कहना चाहिए कि आप सुन्दर लग रहे हैं, मुझे बताएँ। आप इस प्रकार क्यों अच्छे कपड़े पहने हुए हैं ?

लोमोव : (उत्तेजित होते हुए) आप जानते हैं माननीय नाताल्या स्टीपनोवन … बात यह है कि मैंने अपना विचार बना लिया है कि मैं आपसे अपने बारे में कुछ कहूँ… शायद, आपको हैरानी होगी और शायद गुस्सा भी… परंतु… (एक ओर हटकर) बहुत ही अधिक ठंड है!
नाताल्या : क्या बात है ? (रुककर) अच्छा ?

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

[PAGES 146 -147]: लोमोव : मैं संक्षिप्त में कहने का प्रयत्न करूँगा। आपको जानना चाहिए, माननीय नाताल्या स्टीपनोवन कि मैं बहुत लंबे समय से अर्थात् अपने बचपन से ही वास्तव में आपके परिवार को जानता हूँ। मेरी स्वर्गीय चाची और उनके पति, जिन्हें आप जानती हैं, उनसे मैंने भूमि प्राप्त की और वे आपके पिताजी और आपकी स्वर्गीय माताजी को बहुत अधिक सम्मान करते थे। लोमोव और शुबुकोव अत्यंत ही प्रिय मित्र रहे हैं और मैं यह कह सकता हूँ दोनों का एक-दूसरे के प्रति अत्यधिक सम्मान और स्नेह भी है। और जैसाकि आप जानती हैं कि मेरी जमीन आपके एक नज़दीकी पड़ोसी के साथ है। आप याद करें कि मेरी Oxen Meadows आपके Birchwoods (भोज-पत्र के जंगलों) के साथ लगती है।

नाताल्या : मैं आपको बीच में टोकने के लिए माफी चाहूँगी। आप कहते हैं कि मेरी ‘Oxen Meadows’ परंतु क्या वे आपकी हैं ?
लोमोव : हाँ, मेरी।
नाताल्या : आप क्या बातें करते हैं ? Oxen Meadows तो हमारी हैं, आपकी नहीं।
लोमोव : नहीं, मेरी माननीय नाताल्या स्टीपनोवन।
नाताल्या : अच्छा, मुझे तो पहले कभी इसका पता नहीं था ? आपने इसका कैसे पता लगाया ?

लोमोव : कैसे ? मैं उन Oxen Meadows की बात कर रहा हूँ जो आपके भोज-पत्र के जंगलों और बट मार्श वाली ज़मीन के मध्य में पड़ती है।

नाताल्या : हाँ, हाँ वह हमारी है।
लोमोव : नहीं, आपको गलती लगी है, प्रिय नाताल्या स्टीपनोवन वे मेरी हैं।
नाताल्या : जरा सोचो, इवान वेसीलेविच ! वे तुम्हारे कब से हैं?
लोमोव : कब से ? जब से मुझे याद है।
नाताल्या : सचमुच, तुम मुझे ऐसा विश्वास करने को मनवा नहीं सकते हो।

लोमोव : माननीय नाताल्या स्टीपनोवन, लेकिन आप लिखित कागज देख सकती हो। Oxen Meadows, यह सच है कि एक बार वे विवाद का केंद्र थे, लेकिन हर कोई जानता है कि वे मेरे हैं। इसके बारे में बहस करने की कोई बात नहीं है। लेकिन आप जानती हो, मेरी मौसी की नानी ने तुम्हारे पिता के दादा के मजदूरों को इस चरागाह को सदा के लिए मुफ्त प्रयोग करने की इजाज़त दे दी थी, जिसके बदले में उन्हें इसके लिए ईंटें बनानी होती थीं। आपके पिता के दादा के मजदूरों ने चालीस वर्षों तक चरागाह का मुफ्त इस्तेमाल किया, और इसे अपनी ही समझने की उनकी आदत हो गई थी, जब ऐसा हुआ तो …..

नाताल्या : नहीं, ऐसा बिल्कुल भी नहीं है! दोनों दादा और परदादा ऐसा मानते थे कि उनकी जमीन बर्ट मार्श तक फैली हुई है। जिसका अर्थ यह बनता है कि Oxen Meadows वाली जमीन हमारी है। मुझे समझ में नहीं आता कि इसके विषय में विवाद की क्या बात है। ऐसा करना बिल्कुल मूर्खता है!

[PAGE 148]: लोमोव : नाताल्या स्टीपनोवन. मैं आपको दस्तावेज दिखा सकता हैं।
नाताल्या : नहीं, आप तो मात्र मजाक कर रहे हो, या मेरा उपहास उड़ा रहे हो। कितनी हैरानी की बात है। यह जमीन हमारे पास तीन सौ साल से है, और तब अचानक ही हमें बताया जाता है कि यह जमीन हमारी नहीं है। इवान वेसीलेविच, मुझे तो अपने कानों पर ही विश्वास नहीं होता है। इन चरागाहों का मेरे लिए अधिक महत्त्व नहीं है। ये तो मैंने केवल पाँच डैस्सीटींस में ली हैं और शायद 300 रूबल कीमत की ली हैं लेकिन मैं गलत बातों को सहन नहीं कर सकती हूँ।

लोमोव : मेरी बात सुनो, मैं आपसे प्रार्थना करता हूँ। आपके परदादा के मजदूर, जैसाकि मैंने पहले ही इसकी व्याख्या कर दी है, मेरी मौसी की नानी के लिए ईंटें पकाने का काम किया करते थे। अब मेरी मौसी की नानी उन्हें प्रसन्न करने की इच्छा कर रही है…।

नाताल्या : मैं इन मौसियों और दादाओं के बारे में अधिक कुछ नहीं समझ सकती हूँ। चरागाहें हमारी हैं, यही सच है।
लोमोव : ये मेरी हैं।

नाताल्या : हमारी! तुम दो दिन लगातार इसे सिद्ध करने की कोशिश करते रहो। तुम जाकर पंद्रह सूट-जैकेट पहन सकते हो। लेकिन मैं तुम्हें बता दूं कि वह जमीन हमारी है। मुझे तुम्हारी कोई चीज नहीं चाहिए और मैं अपनी कोई चीज तुम्हें नहीं देना चाहता हूँ, सुन लिया।

लोमोव : नाताल्या स्टीपनोवन, मुझे चरागाहें नहीं चाहिएँ लेकिन मैं सिद्धान्तों की बात कर रहा हूँ। यदि तुम चाहो, तो मैं उन्हें तुम्हें भेंट कर सकता हूँ।

नाताल्या : मैं स्वयं इन्हें तुम्हें उपहार में दे सकती हूँ, क्योंकि वे मेरी हैं! इवान वेसीलेविच, तुम्हारा व्यवहार तो विचित्र है! अब तक तो हम आपको एक अच्छे पड़ोसी, एक मित्र के रूप में जानते थे। पिछले वर्ष हमने अपनी भूसा निकालने की मशीन तुम्हें दे दी थी। इसकी वजह से हमें अपनी कटाई का काम नवंबर तक स्थगित करना पड़ा था, लेकिन तुम हमारे साथ ऐसा व्यवहार करते हो जैसेकि हम जिप्सी हो। मुझे मेरी ही जमीन दोगे, सचमुच! नहीं, वास्तव में यह पड़ोसियों वाली बात बिल्कुल नहीं है। मेरे विचार से यह एक गुस्ताखी वाली बात है, यदि तुम जानना ही चाहते हो।

लोमोव : तब तो तुम यह कह रही हो कि मैं एक जमीन को हड़पने वाला हूँ, मैडम अपने जीवन में मैंने कभी किसी दूसरे की जमीन नहीं हड़पी है और मैं कभी भी किसी को ऐसा करने की इजाजत नहीं दूंगा (जल्दी से सुराही के पास जाता है और वहाँ से और पानी पीता है) Oxen Meadows मेरी हैं!
नाताल्या : यह सच नहीं है, वे हमारी हैं!
लोमोव : मेरी हैं!

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

[PAGE 149] : नाताल्या : यह सच नहीं है! मैं इसे सिद्ध कर सकती हूँ। मैं अपने कटाई करने वालों को आज ही चरागाह में भेज दूंगी।
लोमोव : क्या ?
नाताल्या : मेरे कटाई करने वाले आज ही वहाँ होंगे!
लोमोव : मैं उनकी गर्दन में यह जड़ दूंगा।
नाताल्या : तुम्हारी यह हिम्मत।
लोमोव : (अपने दिल को पकड़ते हुए) Oxen Meadows मेरी हैं। तुम्हारी समझ में आया? मेरी हैं!
नाताल्या : कृपया चिल्लाओ मत! तुम अपने खुद के घर में इतनी भारी आवाज में चिल्ला सकते हो लेकिन यहाँ मैं तुम्हें ऐसा करने से मना कर सकती हूँ।
लोमोव : मैडम, अगर ऐसा नहीं था-क्योंकि यह तो अजीब कष्टदायक दिल की धड़कन है, अगर मेरा सारा शरीर अंदरूनी रूप से परेशान न होता तो मैं तुमसे दूसरी तरह से बातें करता। (हाँफते हुए) Oxen Meadows मेरी हैं।
नाताल्या : हमारी!
लोमोव : मेरी!
नाताल्या : हमारी!
लोमोव : मेरी!

(शुबुकोव प्रवेश करता है)
शुबुकोव : क्या बात है ? तुम क्यों चिल्ला रहे हो ?
नाताल्या : पापा, कृपया इस सज्जन पुरुष को बताइए कि Oxen Meadows किसकी हैं, हमारी या इसकी ?
शुबुकोव : (लोमोव से) प्रिय, चरागाहें हमारी हैं।

[PAGES 150-151] : लोमोव : लेकिन कृपया, स्टीपन स्टेपनोविच, वे आपके कैसे हो सकते हैं। एक तर्कसंगत आदमी बनो। मेरी मौसी की नानी ने ये चरागाहें अस्थाई और मुफ्त प्रयोग के लिए ये तुम्हारे दादा के मजदूरों को दी थी। मजदूरों ने चालीस साल तक इस जमीन का प्रयोग किया और वे उसका ऐसे प्रयोग करने लग गए थे जैसेकि वह जमीन उनकी अपनी हो अब ऐसा हुआ कि …..

शुबुकोव : मेरे प्रिय, माफ करना। तुम यह भूल गए कि मजदूरों ने तुम्हारी नानी को कोई भुगतान नहीं किया था, क्योंकि चरागाहों पर विवाद था और वह अभी भी है। और अब सभी जानते हैं कि वे हमारी हैं। तुमने शायद नक्शा नहीं देखा है।
लोमोव : मैं आपको सिद्ध कर सकता हूँ कि वे हमारी हैं।
शुबुकोव : मेरे प्रिय, आप ऐसा नहीं कर सकोगे।
लोमोव : मैं कर दूंगा।

शुबुकोव : प्रिय, इस तरह क्यों चिल्ला रहे हो ? तुम चिल्लाने से कुछ भी सिद्ध नहीं कर सकते हो। मुझे तुम्हारे कोई भी चीज नहीं चाहिए, और मैं अपनी कोई चीज छोड़ना भी नहीं चाहता हूँ। मैं छोई भी क्यों ? और मेरे प्रिय तुम जानते हो कि यदि तुम इसके बारे में इसी तरह से वाद-विवाद करते रहे। मैं इन चरागाहों को तुम्हें देने की बजाय मजदूरों को सौंपना अधिक पसंद करूंगा। समझे।

लोमोव : मैं नहीं समझता! आपको किसी की सम्पत्ति को किसी अन्य को देने का क्या अधिकार है ?

शुबुकोव : तुम यह जान लो कि मुझे यह पता है कि इसका मुझे अधिकार है या नहीं। क्योंकि, नवयुवक, मुझे इस बात की आदत नहीं है कि कोई मेरे साथ ऐसे लहजे में बात करे। हे नौजवान! मैं आयु में तुम्हारे से दोगुना हूँ और मैं तुमसे कहता हूँ कि तुम अपने को क्रोध में लाए बिना मुझसे बात करो।

लोमोव : नहीं, तुम तो मुझे सिर्फ एक मूर्ख मानते हो और मुझे दबाना चाहते हो। तुम मेरी जमीन को अपनी बना रहे हो और तब तुम चाहते हो कि मैं तुम्हारे साथ नम्रता और शांत भाव के साथ बात करूँ। अच्छे पड़ोसी इस तरह से व्यवहार नहीं करते हैं, स्टीपन स्टेपनोविच, तुम एक पड़ोसी नहीं हो, तुम तो एक हड़पने वाले हो!

शुबुकोव : क्या कहा ? तुमने क्या कहा ?
नाताल्या : कटाई करने वालों को तुरन्त चरागाहों में भेज दो।
शुबुकोव : महाशय, आपने क्या कहा ?

नाताल्या : Oxen Meadows हमारे हैं और मैं उन्हें नहीं छोड़ेगी, नहीं छोड़ेंगी, नहीं छोड़ेंगी।
लोमोव : हम भी देखेंगे! मैं इस मामले को अदालत में लेकर जाऊँगा, और तब तुम्हें दिखाऊँगा।

शुबुकोव : अदालत में ? तुम इसे अदालत में ले जा सकते हो, यही सब कुछ है। मैं तुम्हें जानता हूँ, तुम्हें तो अदालत में जाने के लिए मौके की तलाश ही रहती है। तुम तो एक चालाक आदमी हो। तुम्हारे सभी लोग ऐसे थे! सारे के सारे!

[PAGE 151]: लोमोव : मेरे लोगों की चिंता मत करो! सभी लोमोव सम्मानित लोग रहे हैं, और उनमें से कभी एक पर भी गबन का मुकद्दमा नहीं चला है। तुम्हारे दादा की तरह!
शुबुकोव : तुम सभी लोमोव लोग तो पागलपन का शिकार रहे हो, सारे के सारे।
नाताल्या : सारे, सारे, सारे!
शुबुकोव : तुम्हारा दादा एक शराबी था और तुम्हारे छोटी मौसी नस्तस्या मिहेलोवना एक भवन-निर्माता के साथ भाय गई थी।
लोमोव : और तुम्हारी माँ तो एक कुबड़ी थी (अपने दिल को पकड़ता है) मेरे अंदर कुछ हो रहा है….. मेरा सिर….. मदद करो! पानी!
शुबुकोव : तुम्हारा पिता तो एक मोटा जुआरी था!
नाताल्या : और चुगली करने में तो तुम्हारी मौसी की कोई बराबरी नहीं कर सकता था।
शुबुकोव : मेरा बाँया पैर सो गया है ….. तुम एक षड्यंत्रकारी हो… अरे…. मेरा दिल! और यह एक खुला रहस्य है कि पिछले चुनावों से पहले तुमने मुझे रिश्वत… । मुझे तारे दिखने लगे हैं… मेरा टोप कहाँ है ?
नाताल्या : यह नीचता है! बेईमानी है! कमीनापन है!
शुबुकोव : और तुम तो एक दुर्भाग्यपूर्ण, दोहरे चेहरे वाले एक षड्यंत्रकारी हो।
लोमोव : मेरा टोप यहाँ है। मेरा दिल ? किधर जाऊँ ? दरवाजा कहाँ है ? अरे, मुझे लगता है मैं मर रहा हूँ। मेरा पाँव बिल्कुल ही सुन्न हो गया है।

(दरवाजे की ओर जाता है।)
शुबुकोव : (उसके पीछे जाते हुए) और मेरे घर में दोबारा कभी कदम मत रखना!
नाताल्या : इसे अदालत ले जाओ, हम भी देखेंगे! (लोमोव लड़खड़ाता हुआ बाहर चला जाता है)
शुबुकोव : उसे शैतान ले जाए! (उत्तेजना में इधर-उधर जाता है)
नाताल्या : क्या बदमाश है! इसके बाद कोई अपने पड़ोसियों पर क्या विश्वास कर सकता है!
शुबुकोव : बदमाश! डरेवा! नाताल्या : राक्षस! पहले तो हमारी जमीन ले ली और ऊपर से हमें गालियाँ दे रहा है।

शुबुकोव : और वह अन्धी मुर्गी जैसी शक्ल वाला, हाँ वह शलजम की शक्ल वाला भूत, शादी का प्रस्ताव करने की बदतमीजी भी करता है। क्या ? शादी का प्रस्ताव!

नाताल्या : कैसा प्रस्ताव ?
शुबुकोव : क्यों, वह यहाँ तुम्हारे साथ शादी करने का प्रस्ताव लेकर आया था।
नाताल्या : शादी का प्रस्ताव करने ? मुझसे ? आपने मुझे पहले क्यों नहीं बताया ? ।
शुबुकोव : इसीलिए तो वह सांयकाल वाली पोशाक पहनकर आया था। मरा हुआ समोसा । झुर्रियों वाले चेहरे वाला भद्दा आदमी!

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

[PAGE 152]: नाताल्या : मुझसे शादी का प्रस्ताव करने ? आह! (एक आराम कुर्सी पर गिर जाती है और रोने लग जाती है) उसे वापस लाओ। वापस लाओ। आह! उसे यहाँ लाओ।
शुबुकोव : यहाँ किसे लाएँ ?
नाताल्या : जल्दी करो, जल्दी करो! मैं बीमार हूँ। उसे पकड़कर लाओ! (बेहोश हो जाती है)

शुबुकोव : क्या हुआ ? तुम्हें क्या हो गया है ? (उसका सिर पकड़ता है) मैं कितना अभागा आदमी हूँ। मैं स्वयं को गोली मार लूंगा। मैं स्वयं को फाँसी पर लटका लूँगा। हमने उसके लिए किया है!

नाताल्या : मैं मरने जा रही हूँ! उसे पकड़कर लाओ!
शुबुकोव : मैं अभी जा रहा हूँ। चिल्लाओ मत। (बाहर भागता है। थोड़ी खामोशी।)
नाताल्या : (वह विलाप करती है) उन्होंने मेरे साथ क्या किया है। उसे वापस लेकर आओ। उसे वापस लाओ। (थोड़ी खामोशी! शुबुकोव भागकर अंदर आता है)

शुबुकोव : वह आ रहा है, शैतान उसे ले जाए। तुम उससे खुद बात करो। मैं उससे बात नहीं करना चाहता।
नाताल्या : (विलाप करती है) उसे पकड़कर लाओ।

शुबुकोव : (चिल्लाता है) वह आ रहा है, मैंने तुम्हें बता दिया। अरे क्या मुसीबत है, हे भगवान, एक व्यस्क लड़की का पिता होना। मैं सचमुच में अपना गला काट लूँगा। हमने उसे कोसा, गालियाँ दी और बाहर निकाल दिया और यह सब तुम्हारी वजह से हुआ।

नाताल्या : नहीं, आपकी वजह से।
शुबुकोव : मैंने तुम्हें बता दिया, यह मेरी गलती नहीं थी। (लोमोव दरवाजे पर प्रकट होता है) अब तुम उससे खुद बात कर लो। (चला जाता है)

लोमोव : (थकी हुई अवस्था में प्रवेश करता है) मेरा दिल भयंकर रूप से धड़क रहा है। मेरा पाँव सो गया है। मेरे अंदर कुछ हो रहा है।

नाताल्या : हमें क्षमा कर दो, इवान वेसीलविच, हम थोड़ा गर्म हो गए थे। अब मुझे याद आया कि Oxen Meadows तो सचमुच आपकी हैं।

लोमोव : मेरा दिल भयंकर रूप से धड़क रहा है। मेरी चरागाहें-मेरी दोनों भौहें ऐंठ रही हैं।
नाताल्या : चरागाह आपके हैं, हाँ, आपके हैं। बैठ जाइए (वे बैठ जाते हैं) हमारी गलती थी।
लोमोव : मैंने सैद्धान्तिक बात की थी। मेरी जमीन का मेरे लिए कोई महत्त्व नहीं है लेकिन मेरे सिद्धांत….
नाताल्या : हाँ, सिद्धान्त तो, ऐसा ही। आओ अब कोई और बातचीत करें।
लोमोव : और इसलिए भी क्योंकि मेरे पास सबूत हैं। मेरी मौसी की नानी ने यह जमीन तुम्हारे परदादा के मजदूरों को दी थी..

नाताल्या : हाँ, हाँ, अब इसे जाने दो (एक तरफ होकर) काश मुझे पता होता कि उससे बात कैसे शुरु करवाऊँ (ऊँचे स्वर में) क्या आप शीघ्र ही शिकार पर जाना चाहते हो ?

[PAGE 153] : लोमोय : प्रिय नाताल्या स्टीपनोवन, मैं सोच रहा हूँ कि कटाई का काम समाप्त होने के बाद तीतर का शिकार करने जाया करूँ। अरे! क्या तुमने सुना है ? जरा सोचो, कितना दुर्भाग्य है, गेस मेरा कुत्ता जिसे तुम जानती हो, लंगड़ा हो गया है।
नाताल्या : कितने दुःख की बात है! क्यों?

लोमोव : मैं नहीं जानता हूँ। हो सकता है या तो उसकी टाँग में बल पड़ गया होगा या फिर किसी दूसरे कुत्ते के द्वारा काट ली होगी (लंबी सांस लेता है) मेरा सबसे बढ़िया कुत्ता। उस पर हुए खर्च की तो बात ही मत करो। मैंने मिरोनोव को उसके 125 रूबल दिये थे।

नातात्या : इवान वेसीलविच, यह तो बहुत ज्यादा है।
लोमोव : मेरा मानना है कि वह तो बहुत सस्ता मिल गया। वह प्रथम दर्जे का कुत्ता है।
नाताल्या : पापा ने स्कूईज़र के लिए 85 रूबल दिये थे और स्कूईज़र गेस से कहीं अधिक अच्छा है।
लोमोव : स्कूईज़र गेस से अच्छा है? क्या बात है। (हँसता है) स्कूईज़र गेस से अच्छा है।

नाताल्या : निःसंदेह, वह बढ़िया है। निःसंदेह। स्कूईज़र अभी छोटा है, वह थोड़ा और बड़ा हो जाएगा लेकिन जहाँ तक गुणों और नस्ल का संबंध है वह किसी भी कुत्ते से अच्छा है, उस कुत्ते से भी जो वोलचनिस्की के पास है।

लोमोव : क्षमा करना, नाताल्या स्टीपनोवन, लेकिन तुम भूल गई वह कि वह ऊँचे जबड़े वाला है और ऊँचे जबड़े वाले कुत्ते का अर्थ है कि वह शिकार करने में अच्छा नहीं है।

नाताल्या : क्या वह ऊँचे जबड़े वाला है ? मैंने तो यह पहली बार सुना है।
लोमोव : मैं तुम्हें यकीन दिलाता हूँ कि उसका निचला जबड़ा ऊपर वाले जबड़े से छोटा है।
नाताल्या : क्या तुमने नाप लिया है ?
लोमोव : हाँ। निःसंदेह पीछा करने में तो वह बिल्कुल ठीक है, लेकिन यदि तुम किसी चीज को पकड़ना चाहते हो…..

नाताल्या : पहली बात तो यह है कि हमारा स्कूईज़र असली नस्ल वाला जानवर है। यह हारनेस और चिज्लज का बेटा है जबकि तुम्हारे कुत्ते की नस्ल का कोई हिसाब नहीं है। वह बूढ़ा है और देखने में उतना ही भद्दा लगता है जितना कि तांगे को खींचने वाला कोई घिसा-पीटा सा घोड़ा।

लोमोव : वह बूढ़ा है, लेकिन उसके बदले में मैं पाँच स्कूईज़र को भी नहीं लूँगा। क्यों, आप कैसे कह सकती हो? गेस एक कुत्ता है और जहाँ तक रही स्कूईज़र की बात, उसके कुत्ता होने पर तर्क-वितर्क करना भी हास्यप्रद है। जिसके पास भी तुम कहोगी उसके पास स्कूईज़र कुत्ता मिलेगा। तुम ऐसे कुत्तों को प्रत्येक झाड़ी के नीचे देख सकते हो। उसके लिए 25 रूबल की कीमत का भुगतान करना पर्याप्त रहेगा।

नाताल्या : आज तो तुम्हारे अंदर झगड़ा करने वाला कोई भूत घुस गया है, इवान वेसीलविच । पहले तो तुम ढोंग करते हो कि चरागाहें तुम्हारी हैं, अब तुम कह रहे हो कि गेस स्कूईज़र से बेहतर है। मुझे ऐसे लोग पसंद नहीं हैं जो दो अर्थी बात करते हैं, क्योंकि तुम इस बात को बहुत अच्छी तरह से जानते हो कि स्कूईज़र तुम्हारे मूर्ख गेस से सैंकड़ों गुना बेहतर है। तुम ऐसा क्यों कहना चाहते हो कि वह ऐसा नहीं है।

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

[PAGE 154] : लोमोव : नाताल्या स्टीपनोवन, मेरे विचार में तुम मुझे या तो अंधा या फिर मूर्ख समझ रही हो। तुम्हें महसूस करना चाहिए कि स्कूईज़र ऊँचे जबड़े वाला है।
नाताल्या : यह सच नहीं है।
लोमोव : यह सच है।
नाताल्या : यह सच नहीं है!
लोमोव : मैडम, क्यों चिल्ला रही हो ?

नाताल्या : तुम बकवास क्यों कर रहे हो ? यह भयानक बात है। अब समय है कि तुम्हारे कुत्ते गेस को अब गोली मार दी जाए और तुम उसकी तुलना गेस से कर रहे हो।

लोमोव : क्षमा कीजिए, मैं इस बहस को जारी नहीं रख सकता, मेरा दिल तेजी से धड़कने लग गया है। नाताल्या : मैंने देखा है कि वे शिकारी जिन्हें कुछ भी नहीं पता होता है ज्यादा बहस करते हैं।

लोमोव : मैडम, कृपया शांत हो जाइए। मेरा दिल टुकड़े-टुकड़े हो रहा है (चिल्लाता है) चुप करो।
नाताल्या : मैं तब तक चुप नहीं करूँगी जब तक कि तुम इस बात को स्वीकार नहीं कर लेते कि स्कूईज़र गेस से 100 गुना अधिक बेहतर है।

लोमोव : सौ गुना खराब है। जाओ अपने स्कूईज़र के साथ लटक जाओ, उसका सिर… आँखें… कँघे… ।
नाताल्या : तुम्हारे मूर्ख गेस को तो फाँसी देने की भी जरूरत नहीं है। वह तो पहले से ही अधमरा है।
लोमोव : (रोता है) चुप करो। मेरा दिल फटा जा रहा है।
नाताल्या : मैं चुप नहीं करूँगी। (शुबुकोव प्रवेश करता है)
शुबुकोव : अब क्या हुआ ?
नाताल्या : पापा, हमें सच-सच बताइए कि बेहतर कुत्ता कौन-सा है, हमारा स्कूईज़र या उसका गेस।
लोमोव : स्टीपन स्टेपनोविच मैं आपसे प्रार्थना करता हूँ कि आप मुझे बताइए कि क्या तुम्हारा स्कूईज़र ऊँचे जबड़े वाला है या नहीं? हाँ या न ?
शुबुकोव : मान लो वह है ? इससे क्या फर्क पड़ता है। वह पूरे जिले में सबसे बढ़िया कुत्ता है।
लोमोव : लेकिन क्या मेरा गेस बढ़िया नहीं है ? सचमुच अब बताइए ?

शुबुकोव : अपने-आपको उत्तेजित मत करो, मेरे प्यारे। मुझे बताने दीजिए। तुम्हारे गेस में भी निश्चित रूप से कुछ अच्छी बातें हैं। वह असली नस्ल का है। उसके पाँव मजबूत हैं उसकी पसलियाँ अच्छी तरह से फूली हुई हैं और ये सभी गुण हैं। लेकिन मेरे प्यारे, यदि तुम सच्चाई जानना चाहते हो, उस कुत्ते में दो दोष हैं। वह बूढ़ा है और उसकी थूथन छोटी है।

लोमोव : माफ करना, मेरा दिल… आओ तथ्यों पर बात करें। आपको याद होगा कि मिरुसिसेकी वाले शिकार के समय मेरा गेस काऊंट के कुत्ते के साथ बिल्कुल बराबर में भागा था जबकि आपका स्कूईज़र पूरे दो किलोमीटर पीछे रह गया था।

शुबुकोव : वह इसलिए पीछे रह गया था क्योंकि काऊंट के शिकारी कुत्ता अधिकारी ने चाबुक से उसे मार दिया था।

[PAGE 155] : लोमोव : और ऐसा करने का एक अच्छा कारण था। कुत्ते एक लोमड़ के पीछे भाग रहे थे, जब स्कूईज़र ने जाकर एक भेड़ को परेशान करना शुरु कर दिया।
शुबुकोव : यह सत्य नहीं है! मेरे प्रिय दोस्त, मुझे बहुत जल्दी क्रोध आ जाता है, और इसलिए, इसी वजह से, हम बहस करना बंद कर दें। बहस तुमने शुरु की थी क्योंकि प्रत्येक व्यक्ति हर दूसरे आदमी के कुत्तों से हमेशा ईर्ष्या करता है। हाँ, हम सब इसी तरह के हैं। तुम भी, श्रीमान्, बिना दोष के नहीं हो! ज्यों ही तुम ऐसी बात शुरु करोगे, तो दूसरा आदमी, और वगैरह-वगैरह… मुझे हर बात याद है!

लोमोव : मुझे भी याद है!
शुबुकोव : (उसे चिढ़ाते हुए) मुझे भी याद है। क्या याद है तुम्हें ?
लोमोव : मेरा दिल, मेरा पैर सो गया है। मैं ….

नाताल्या : (चिढ़ाते हुए) मेरा दिल! तुम किस तरह के शिकारी हो ? तुम्हें जाकर रसोईघर के चूल्हे पर बैठ जाना चाहिए और वहाँ काले (तिलचट्टों) को पकड़ना चाहिए, और लोमड़ों के पीछे नहीं भागना चाहिए! मेरा दिल!

शुबुकोव : हाँ सचमुच, तुम किस तरह के शिकारी हो, किसी भी तरह से ? तुम्हें अपनी तेज धक-धक लेकर घर पर बैठना चाहिए, और शिकार के लिए जानवरों को ढूँढ़ते नहीं फिरना चाहिए। तुम शिकार करने जा सकते हो, लेकिन तुम केवल लोगों के साथ बहस करने के लिए जाते हो और उनके कुत्तों में दखल-अन्दाजी करने के लिए और वगैरह-वगैरह। आओ हम इस विषय को बदल दें, कहीं ऐसा न हो कि मुझे क्रोध आ जाए। तुम एक शिकारी बिल्कुल नहीं हो, किसी भी तरह से!

लोमोव : और क्या आप एक शिकारी हैं ? आप शिकार पर केवल काऊंट के साथ नजदीकी स्थापित करने के लिए और षड्यन्त्र रचने के लिए जाते हैं। ओह, मेरा दिल आप एक षड्यन्त्रकारी हैं!

शुबुकोव : क्या ? मैं एक षड्यन्त्रकारी हूँ ? (चिल्लाता है) बकवास बंद करो।
लोमोव : एक षड्यंत्रकारी!
शुबुकोव : एक लड़का, कुत्ते का पिल्ला!
लोमोव : बूढ़ा चूहा, एक ढोंगी साधु!
शुबुकोव : बकवास बंद करो वरना मैं तुम्हें काले तीतर की तरह गोली मार दूंगा! अरे. मूर्ख!
लोमोव : हर कोई जानता है कि ….. अरे, मेरा दिल…. तुम्हारी स्वर्गीय पत्नी तुम्हें पटा करती थी… मेरे पैर…. मंदिर…. चिंगारियाँ… मैं गिरा… मैं गिरा।
शुबुकोव : और तुम तो अपनी नौकरानी के जूतों के नीचे रहते हो!

लोमोव : यह लो, मेरा दिल फट गया है। मेरे कंधे टूटकर अलग हो गए हैं। मेरा कंधा कहाँ है? मैं मर रहा हूँ (एक आराम कुर्सी पर गिर जाता है) डॉक्टर को बुलाओ।
शुबुकोव : लड़का! फूहड़! मूर्ख! मैं बीमार हूँ (पानी पीता है), बीमार!

नाताल्या : तुम किस किस्म के शिकारी हो। तुम तो एक घोड़े के ऊपर भी नहीं बैठ सकते हो (अपने पिता से) पापा, इसे क्या हुआ? पापा! देखे, पापा! (चिल्लाती है) इवान वेसीलविच, वह मर गया है।
शुबुकोव : मैं बीमार हूँ! मैं साँस नहीं ले सकता हूँ! हवा!

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

[IPAGE 156] : नाताल्या : वह मर गया है। (लोमोव को आस्तीन से खींचती है) इवान वेसीलविच! तुमने मुझे क्या कर दिया है? वह मर गया है। (एक आराम कुर्सी में गिर जाती है) कोई डॉक्टर बुलाओ, डॉक्टर बुलाओ! (पागलों की तरह रोने लगती है।)
शुबुकोव : ओह! क्या हो गया है? क्या बात है?
नाताल्या : (रोती है) वह मर गया है …… मर गया है!

शुबुकोव : कौन मर गया है? (लोमोव की तरफ देखता है) मर ही गया है! पक्की बात है! पानी! डॉक्टर! (एक गिलास उठाकर लोमोव के मुँह के पास लाता है) इसे पी लो! नहीं, वह पी नहीं रहा है। इसका मतलब है वह मर गया है, और वगैरह-वगैरह। मैं सभी आदमियों से ज्यादा दुःखी हूँ। मैं अपने दिमाग में एक गोली क्यों नहीं डाल लेता हूँ? मैंने अभी तक अपना गला क्यों नहीं काटा है? मैं किस बात की प्रतीक्षा कर रहा हूँ? मुझे एक चाकू दे दो! मुझे एक पिस्तौल दे दो! (लोमोव हिलता है) वह होश में आ रहा प्रतीत हो रहा है। कुछ पानी पी लो! अब ठीक है।

लोमोव : मुझे तारे दिखाई दे रहे हैं ….. धुंध ….. मैं कहाँ हूँ?

शुबुकोव : जल्दी करो और विवाह कर लो और – हाँ, तुम्हें शैतान ले जाए। वह तैयार है। (वह लोमोव का हाथ पकड़कर अपनी बेटी के हाथ में दे देता है।) वह तैयार है, और वगैरह-वगैरह। मैं तुम्हें अपना आशीर्वाद देता हूँ और वगैरह-वगैरह। केवल मुझे चैन में छोड़ दो!

लोमोव : (ऊपर को उठते हुए) आह? क्या? किसे? शुबुकोव : वह तैयार है! ठीक है? अब चूम लो और तुम्हारा बुरा हो। नाताल्या : (रोते हुए) वह जीवित है …. हाँ, हाँ, मैं तैयार हूँ। . शुबुकोव : एक-दूसरे को चूमो!

लोमोव : आह! किसे चूमूं? (वे चूमते हैं) बहुत बढ़िया। क्षमा करना, यह सब किसलिए हो रहा है? ओह, अब मुझे समझ आने लगा है ….. मेरा दिल …… तारे …… मैं प्रसन्न हूँ। नाताल्या स्टीपनोवन …… (उसका हाथ चूमता है) मेरा पाँव सो गया है।

नाताल्या : मैं …. मैं भी खुश हूँ ….
शुबुकोव : उफ्! मेरे कंधों से कितना बड़ा भार उतर गया है।
नाताल्या : किंतु अभी आप यह मानेंगे कि गेस स्कूईज़र से घटिया है।
लोमोव : बढ़िया है!
नाताल्या : घटिया है!
शुबुकोव : ठीक है, तुम्हारे जीवन के आनन्द को शुरु करने का यह भी एक तरीका है। कुछ शैम्पेन (फ्रांस में बनी शराब) ले लो।
लोमोव : वह बढ़िया है।
नाताल्या : घटिया है! घटिया है! घटिया है!
शुबुकोव : (उसे खामोश करने के लिए चिल्लाते हुए) शैम्पेन! शैम्पेन!
परदा गिर जाता है।

The Proposal Word – Meanings in Hindi

[PAGE 144]: Hearty = large hearted (बड़े दिल वाला); suspicious = doubtful(शक्की ); gloves = gloves (दस्ताने); squeezes = wrings (निचोड़ना/दबाना); get-up = dress (पोशाक); my treasure = term of endearment (प्यार का संबोधन); my precious = term of endearment (प्यार का संबोधन); privilege = special right (विशेषाधिकार); awfully = greatly (बहुत अधिक); deserve = able (काबिल होना)।

[PACE 145]: Interrupting = interfering (दखल देना); embraces = hugs (आलिंगन करना); sheds = drops (गिराना); off my balance = excited (उत्तेजित); consent = agreement (सहमति); lovesick = in search of love (प्यार की खोज में)।

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

[PAGE 146]: Excellent = very good (शानदार); palpitations = beating of the heart (दिल का धड़कना ); twitch = pull with a jerk (फड़कना); lunatic = mad (पागल); apron = apron (एफ्रन); neglige = gown (गाऊन); shelling = removing shells (छिलके उतारना) splendid = beautiful (सुन्दर); stacked = stored (TTJ1F f4RT); hay = straw (भूसा); ball = a kind of dance (नाच); pause = stop (रुकना)

[PAGE 147]: Inherited = received as heir (विरासत में मिलना); affectionate = loving (प्रिय); wedged = lying in between (के बीच में); dispute = quarrel (झगड़ा); in perpetuity = in continuation (लगतार); reckoned = understood (समझा)

[PAGE 148]: Dessiatins = a currency (एक मृदा); unfairness = injustice (अन्याय); implore = request (प्रर्थना करना); bake = heat (पकना); make head and tail = understand (समझना); threshing = separating grain and chaff (अनाज और भूसा अलग करना); gypsies = nomadic (खानाबदोश); impudent = rude (अभद्र); landgrabber = one who grabs others’ land (दूसरे की जमीन हड़पने वाला); carafe = a water container (पानी का पात्र)

[PAGE 149] : Mowers = crop cutters (फसल काटने वाला); meadows = grasslands (दस के मौदान); clutches= holds (पकड़ना); restrain = control (नियंत्रित करना); excruciating = strong (मज़बूत)

[PAGE 150] : Accustomed = habitual (आदी); yelling = shouting (चिल्लाना); give up = renounce (त्याग देना); right = claim (दावा); agitating = becoming exciting (उत्तेजित होना); calmly = peacefully (शांति से)

[PAGE 151]: Pettifogger = a clever person (चालाक आदमी); tried = sued (मूकहमा चलाया); embezzlement = financial misappropriation (गबन); lunacy = madness (पागलपन); drunkard = one who drinks too much wine (बहुत शराब पीने वाला ); hump-backed = with curved back (कुबड़ा); guzzling = drinking (पीना); gambler = one who gambles (जुआरी); backbiters = criticizing others behind their backs (चुगलखोरी); intriguer = planner (पड़यान्त्रकरी); malicious = full of ill-will (दुर्भावना पूर्ण); numb = senseless (सुन्न); staggers = falls (गिरना); rascal = rogue villain = scoundrel (धूर्त); scarecrow = figure in the field to scare birds (बदमाश); monster = devil (डरेवा); impudence = arrogance (शौतान); blind hen = an abuse (घमणड); turnip-ghost = an abuse (गाली); confounded = confused (घबराया); stuffed sausage = an abuse (गाली); wizen-faced frump = an abuse (गाली)

JAC Class 10 English Solutions First Flight Chapter 11 The Proposal

[PAGE 152] : Wails = weeps (रोना); hysterics = mad cries (पागलों जैसी चिकों); exhausted = tired (थका हुआ); heated = angiy (नाराज); evidence = proof (सबूत /प्रमाण)

[PAGE 153]: Twisted = bent (मुड़ा हुआ); heaps better = much better (अधिक बेहतर); pedigree = race (जाति); overshot = when the lower jaw is shorter than the upper (जब निचला जबड़ा ऊपर वाले से छोटा हो); thoroughbred = pure bred (शुद्ध जाती); cab = carriage (बग्गी); contradiction = disagreement (असहमति)

[PAGE 154] : Acknowledge = admit (प्रवेश करने देना); implore = request (प्रार्थना करना); muzzle = nose and mouth of an animal (थूथन); a whole verst = much behind (बहुत पीछे); whip = cane with a string (चाबुक)।

[PAGE 155] : Beetles = insects (कीड़े); tracking = following (पीछा करना); pup = small dog (छोटा कुत्ता); partridge =a bird (तीतर); sparks =tiny glowing bits of fire (चिंगारियाँ); milksop = an abuse (गाली); screams = cries (चीखें)।

[PAGE 156] : Tumbler = glass (गिलास); mist = fog (धुन्ध); be damned = an abuse (गाली); champagne = a kind of liquor (एक प्रकार का मादक पेय)।

JAC Class 10 English Solutions

Leave a Comment