JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

JAC Board Class 10th English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

JAC Class 10th English The Book that Saved the Earth Textbook Questions and Answers

Read and Find Out (Pages 63 & 65)

Question 1.
Why was the twentieth century called the ‘Era of the Book’?
(बीसवीं शताब्दी को ‘किताओं का युग’ क्यों कहा गया है ?)
Answer:
The twentieth century was called the ‘Era of the Book’ because at that time there were books about everything. One could find a book on any subject from anteaters to Zulus.
(बीसवीं शताब्दी को ‘किताबों का युग’ इसलिए कहा गया है क्योंकि उस समय प्रत्येक चीज के बारे में पुस्तकें थीं। उस समय प्राचीनतम जानवरों से लेकर जुलू लोगों तक सभी पर पुस्तकें मिल जाती थीं।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

Question 2.
Who tried to invade the earth in the twenty-first century?
(इक्कीसवीं शताब्दी में किसने पृथ्वी पर आक्रमण करने का प्रयास किया?)
Answer:
In the year 2040, the Martians (people from the Mars) tried to invade the earth.
(2040 के वर्ष में मंगल ग्रहवासियों ने पृथ्वी पर आक्रमण करने का प्रयास किया।)

Question 3.
What guesses are made by Think-Tankabout the books found on earth?
(थिंक-टैंक के द्वारा क्या पृथ्वी पर पाई गई किताब के बारे में अनुमान लगाए गए ?)
Answer:
Think Tank makes a number of guesses about the books found on earth. First he thinks that these are ‘sandwiches’. Then he thinks that these are ear communication devices. A little later he thinks that these are eye communication devices. Finally, he thinks that these are ‘high explosives’.

(थिंक-टैंक पृथ्वी पर पाई गई किताब के बारे में अनेकों अनुमान लगाता है। पहले तो वह सोचता है कि ये सैंडविच हैं। तब वह सोचता है कि ये श्रवण संप्रेषण यंत्र हैं। थोड़ी देर बाद वह सोचता है कि ये दृश्य संप्रेषण यंत्र हैं। अंततः वह सोचता है कि ये ‘अति विस्फोटक’ हैं।)

Think about it (Page 74) 

Question 1.
Noodle avoids offending Think-Tank but at the same time he corrects his mistakes. How does he manage to do that?
(नूडल विंक क को नाराज करने से परहेज करता है लेकिन साथ-ही-साथ वह उसकी गलती में भी सुधार करता है ? वह इस काम को कैसे करता है ?)
Answer:
Noodle is the deputy of Think Tank. Noodle gives him information about books which he finds in a library, Think-Tank says that these are ‘sandwiches’. But Noodle corrects him and says that they are ‘ear communication devices’. Think-Tank agrees with him. Then Noodle calls them ‘eye communication devices’ and Think-Tank again agrees.
(नूडल थिंक-टैंक का उप-मुखिया है। नूडल उसको पुस्तकों के बारे में जानकारी देता है जो उसको एक पुस्तकालय में मिलती हैं। थिंक-टैंक कहता है कि ये ‘सैंडविच’ हैं। लेकिन नूडल उसकी बात को ठीक करता हुआ कहता है कि ये ‘श्रवण सम्प्रेषण यंत्र’ हैं। थिंक-टैंक उससे सहमत हो जाता है। तब नूडल उन्हें ‘दृश्य सम्प्रेषण यंत्र’ कहता है और थिंक-टैंक पुनः सहमत हो जाता है।)

Question 2.
If you were in Noodle’s place, how would you handle Think-Tank’s mistakes?
(यदि आप नूडल के स्थान पर होते तो आप थिंक-टैंक की गलतियों को कैसे सुधारते ?)
Answer:
If I were in Noodle’s place, I would handle Think-Tank’s mistakes as politely as Noodle himself does. Noodle points out Think-Tank’s errors and corrects them without offending him. I would also do the same.
(यदि मैं नूडल के स्थान पर होता तो मैं थिंक-टैंक की गलतियों को उतनी ही विनम्रता के साथ सुधारता जैसे कि नूडल करता है। नूडल थिंक-टैंक की गलतियों को बताता है और उसे नाराज किए बिना उन्हें ठीक करता है। मैं भी ऐसा ही करता।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

Question 3.
Do you think books are being replaced by the electronic media? Can we do away with books altogether?
(आपके विचार में क्या पुस्तकों का स्थान इलैक्ट्रोनिक मीडिया ने ले लिया है? क्या हम पुस्तकों से काम चला सकते हैं?)
Answer:
The modern world is the world of science. It is true that books are being replaced by the electronic devices like Compact Discs (CDs), laptops, ipods, etc. But books cannot completely be replaced. If it is done, there would be chaos. Books are permanent sort of things and can never disappear. On the other hand, computers can have viruses and CDs can become defective.
(आधुनिक संसार विज्ञान का संसार है। यह सही है कि पुस्तकों का स्थान इलैक्ट्रोनिक्स यंत्रों; जैसे सी०डी०, लैपटॉप, आईपैड आदि के द्वारा लिया जा रहा है। लेकिन पुस्तकों को पूरी तरह प्रतिस्थापित नहीं किया जा सकता है। यदि ऐसा कर दिया गया तो चारों ओर अव्यवस्था हो जाएगी। पुस्तकें स्थाई किस्म की चीजें हैं जो कभी भी लुप्त नहीं हो सकती हैं। दूसरी ओर, कम्प्यूटर में वायरस आ जाते हैं और सी०डी० में दोष आ जाते हैं।)

Question 4.
Why are books referred to as a man’s best companion? Which is your favourite book and why? Write a paragraph about that book.
(पुस्तकों को मनुष्य का सबसे अच्छा मित्र क्यों कहा जाता है? आपकी सर्वप्रिय पुस्तक कौन-सी है और क्यों? पुस्तक के बारे में एक पैरा लिखिए।)
Answer:
Books are called man’s best companion. They are our true friends. They never betray us. A good book is just like a good friend. Like a true friend, a good book cheers us as well as comforts us. My favourite book is The Gita. It is part of the Mahabharta. It is the discourse given by Lord Krishna to Arjuna on the battlefield of Mahabharta. It is full of wisdom. It tells us we should not be afraid of anything. This body is only a garment worn by the soul. When this garment is worn out, the soul wears another one. Soul is immortal and indestructible. Then why should we worry. Secondly, it gives the theory of karma. It tells us that our duty is to do our work. We should not worry about the results of our actions. God rewards us according to our actions.

(पुस्तकों को मनुष्य की सबसे अच्छी मित्र कहा जाता है। वे हमारी सच्ची मित्र हैं। वे हमें कभी भी धोखा नहीं देती हैं। एक अच्छी पुस्तक बिल्कुल एक सच्चे मित्र की तरह होती है। एक सच्चे मित्र की भाँति एक अच्छी पुस्तक हमें प्रसन्नता और राहत प्रदान करती है। मेरी प्रिय पुस्तक गीता है। यह महाभारत का अंग है। यह महाभारत के युद्धक्षेत्र में भगवान कृष्ण द्वारा अर्जुन को दिया गया उपदेश है। यह ज्ञान से भरपूर है। यह हमें बताती है कि हमें किसी भी चीज से डरना नहीं चाहिए। यह शरीर तो केवल मात्र आत्मा का एक वस्त्र है। जब यह वस्त्र फट जाता है, आत्मा दूसरा वस्त्र धारण कर लेती है। आत्मा अमर और कभी भी नष्ट न होने वाली है। तब हमें क्यों भयभीत होना चाहिए। दूसरे, यह कर्म का सिद्धान्त सिखाती है। यह हमें बताती है कि काम करना हमारा कर्तव्य है। हमें अपने कर्मों के फलों के बारे में चिन्तित नहीं होना चाहिए। भगवान् हमारे कर्मों के अनुसार हमें फल देता है।)

Talk about it (Page 74)

Question 1.
In what ways does Think Tank misinterpret innocent nursery rhymes as threats to the Martians? Can you think of any incidents where you misinterpreted a word or an action? How did you resolve the misunderstanding?
Answer:
Think-Tank asks Noodle to read out from the book in his hand. It is only a nursery rhymes book. Noodle reads out ‘Mistress Mary … row’. He hears the words ‘garden’ and ‘cockle shells’ and silver bells… He reaches the conclusion that the people of the earth have discovered how to combine agriculture and mining. They can also grow high explosives. Secondly, he hears ‘Humpty Dumpty …’ and sees the picture of an egg. It is similar to him. From this he concludes that the earthlings know him and are after his life and Mars.

Once, I praised one of my friends for his patient and tolerant behaviour. I said, “You are quite cool.” But he misheard me and thought that I called him ‘quite a fool’. He became angry and went away from my house. I was surprised. But later I guessed that he had confused ‘cool’ with ‘fool’. So I went to his house and explained the whole thing to him. He understood what I wanted to explain. We became friends again.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

Question 2.
The Aliens in this play speak English, Do you think this is their language? What could be the language of the Aliens?
Answer:
It is not possible that the Aliens’ language is English. They are a race of another planet. Their language could not be any language spoken on the earth. Their language could be strange and jarring.

JAC Class 10th English The Book that Saved the Earth Important Questions and Answers

Very Short Answer Type Questions

Question 1.
What type of a story is ‘The Book That Saved the Earth’?
Answer:
This is a science fantasy.

Question 2.
When is the story “The Book That Saved the Earth’ is set?
Answer:
This imaginary story is set in the twenty fifth century.

Question 3.
Who was Think Tank?
Answer:
Think Tank was the commander-in-chief of the Mars Space Control Room.

Question 4.
Who was the deputy of Think Tank?
Answer:
Noodle was the deputy of Think-Tank.

Question 5.
With what name was the twentieth century called?
Answer:
The twentieth century was called the “Era of the Book”.

Question 6.
What was Think Tank’s first guess about book?
Answer:
He guessed that they were sandwiches.

Question 7.
When did the Martians try to invade the earth?
Answer:
The Martians tried to invade the earth in the year 2040.

Question 8.
Which book saved the earth from Martian invasion in 2040?
Answer:
A book of nursery rhyms saved the earth from Martian invasion in 2040.

Question 9.
Who was the captain of the space craft crew?
Answer:
Omega was the captain of the space craft crew.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

Question 10.
Who tried to invade the earth in the twenty-first century?
Answer:
The Martians tried to invade the earth in the twenty-first century.

Question 11.
Who was the ruler of Mars?
Answer:
Think Tank was the ruler of Mars?

Question 12.
What was Noodle’s opinion about books?
Answer:
Noodle thought that they were ear communication devices.

Question 13.
What does the historian tell the audience?
Answer:
The historian tells the audience that once a book saved the earth.

Question 14.
Where did captain Omega and his deputies land on the earth?
Answer:
They land in a library.

Question 15.
How many moons does mars have?
Answer:
Mars has two moons.

Short Answer Type Questions

Question 1.
What is the time and place of the story at the beginning?
(कहानी के आरंभ होने का समय और स्थान क्या है?)
Or
What sort of fantasy is “The Book That Saved the Earth” and in which century on was it set?
(“The Book That Saved the Earth”किस प्रकार की कहानी है और यह किस प्रकार की कहानी है और यह किस शताब्दी में लिखी गई?))
Answer:
This is a science fantasy. This imaginary story is set in the twenty-fifth century. The place is the Museum of Ancient History, Department of the Twentieth Century. There is a historian sitting at a table. There is a movie projector on the table.
(यह विज्ञान से सम्बन्धित एक कहानी है। यह काल्पनिक कहानी पच्चीसवीं शताब्दी में लिखी गई है। इस कहानी का स्थान बीसवीं शताब्दी के प्राचीन इतिहास विभाग का संग्रहालय है। एक मेज पर एक इतिहासकार बैठी है। मेज पर एक फिल्म प्रोजैक्टर रखा हुआ है।)

Question 2.
What strange thing about a book does the historian tell the audience?
(इतिहासकार श्रोताओं को पुस्तक के बारे में कौन-सी अजीब बात बताती है ?)
Answer:
The historian tells her audience that once a book saved the earth. She narrates a real story from the twenty-first century. She tells how the Martians (people from the planet Mars) invaded the earth in 2040 and a book of nursery rhymes saved the Earth from their attack.

(इतिहासकार अपने श्रोताओं को बताती है कि एक बार एक पुस्तक ने पृथ्वी को बचा लिया था। वह इक्कीसवीं शताब्दी की एक सच्ची घटना का वर्णन करती है। वह बताती है कि मंगल ग्रहवासियों (मंगल ग्रह के लोग) ने किस प्रकार से पृथ्वी पर आक्रमण किया था और नर्सरी की कविताओं की एक किताब ने किस प्रकार पृथ्वी की उनकी आक्रमण से रक्षा की थी।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

Question 3.
The story takes place in the twenty-fifth century. How does the historian take her audience back to twenty-first century?
(कहानी का वर्णन पच्चीसवीं शताब्दी में किया जाता है। इतिहासकार अपने श्रोताओं को इक्कीसवीं शताब्दी में वापस कैसे लेकर जाती है ?)
Answer:
The historian shows the audience the happenings that actually took place. These have been recorded in a film. She turns on the projector. On the projector the audience sees what actually happened in the twenty-first century.
(इतिहासकार श्रोताओं को वास्तव में घटित हुई चीजें दिखाती है। ये सभी एक फिल्म में रिकॉर्ड की गई हैं। वह प्रोजैक्टर को चालू करती है। प्रोजैक्टर पर श्रोतागण वास्तव में घटित हुई घटनाओं को देखते हैं।)

Question 4.
Who are shown when the projector starts?
(जब प्रोजेक्टर चालू होता है तो कौन दिखाई पड़ता है ?)
Answer:
The projector shows the Mars Space Control room. We see Think Tank who is the commander-in-chief. He has a huge, egg-shaped head. He wears a long robe decorated with stars and circles. His deputy, Noodle stands beside him at a switchboard.
(प्रोजैक्टर मंगल अंतरिक्ष नियंत्रण कक्ष को दिखाता है। हम थिंक-टैंक को देखते हैं जो कि कमाण्डर-इन-चीफ है। उसका एक विशालकाय अंडे की आकृति वाला सिर है। उसने सितारों और वृत्तों से सुसज्जित एक लम्बा परिधान पहना हुआ था। उसका उप-प्रमुख नूडल उसके पास एक स्विचबोर्ड के निकट खड़ा था।)

Question 5.
What is the purpose of the manned spacecraft sent to the earth by Think-Tank?
(विंकटैंक के द्वारा पृथ्वी पर भेजे गए मानवयुक्त अंतरिक्षयान का क्या उद्देश्य है ?)
Answer:
Think Tank has already sent a manned spacecraft to the earth. Their purpose is to collect information about the earth’s defence system and send it back to the other spacecraft from Mars who are ready to attack the earth before lunch.
(थिंक-टैंक ने पहले से ही पृथ्वी पर एक मानवयुक्त अंतरिक्षयान भेज रखा है। उनका उद्देश्य पृथ्वी की रक्षा-प्रणाली के बारे में अध्ययन करना और उसे मंगल ग्रह पर दूसरे अंतरिक्षयान के पास भेजना था जोकि दोपहर भोज से पूर्व पृथ्वी पर आक्रमण करने को तैयार है।)

Question 6.
Who are in a library on the earth ? What are they doing there?
(पृथ्वी पर स्थित पुस्तकालय में कौन है? वे वहाँ क्या कर रहे हैं?)
Answer:
Captain Omega and his deputies are in a library. They came here in order to gather secrets of the earth defence. They have landed in a library. They have seen the books and the library for the first time.
(कैप्टन ओमेगा और उसके उप-मुखिया पुस्तकालय में हैं। वे यहाँ पर पृथ्वी की रक्षा-प्रणाली के विषय में जानकारी एकत्र करने आए थे। उन्होंने पुस्तकों तथा पुस्तकालय को पहली बार देखा था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

Question 7.
What is Think-Tank’s first guess about the books?
(पुस्तकों के बारे में थिंक-टंक का पहला अनुमान क्या है ?)
Answer:
With the help of his remote camera, Think-Tank looks at the ‘books’. He calls them ‘eatables’ and they are in a refreshment stand. He says that they are ‘sandwiches’. They are the main food of Earth diet.
(अपने दूर-संवेदी कैमरे से थिंक-टैंक पुस्तकों को देखता है। वह उन्हें खाद्य पदार्थ कहता है और वे जलपान गृह में रखी हुई हैं। वह कहता है कि वे सैंडविच’ हैं। वे पृथ्वी के लोगों का मुख्य आहार है।)

Question 8.
What is Think-Tank’s second guess about books?
(पुस्तकों के बारे में थिंक-टैंक का दूसरा अनुमान क्या है ?)
Answer:
Think Tank’s second guess about books is that they are communication devices. He orders Omega to listen to them (books). He puts a book to his ears and tries hard to listen. Think-Tankasks Omega if he can listen something from them, Omega replies that they may not be on the correct frequency.
(थिंक-टैंक का पुस्तकों के बारे में दूसरा अनुमान यह है कि वे सम्प्रेषण यंत्र हैं। वह ओमेगा को आदेश देता है कि वह उनकी आवाज सुने। वह एक पुस्तक को अपने कान के पास रखता है और उसकी आवाज सुनने का प्रयास करता है। थिंक-टैक ओमेगा से पूछता है कि क्या उसको पुस्तकों की आवाजें सुनाई दे रही हैं। ओमेगा उत्तर देता है कि टीक आवाज नहीं आ रही है।)

Question 9.
What order does Think-Tank give Noodle for escaping from Mars?
(मंगल ग्रह से बच निकलने के लिए थिंक-टैंक नूडल को क्या आदेश देता है ?)
Answer:
Think Tank orders Noodle to prepare a space capsule for him. He must escape without delay. The Earthlings are coming to capture Martians. Noodle asks Think Tank where they shall go. Think Tank replies they will go to the planet Alpha-Centuri, a hundred million miles away.
(थिंक-टैंक नूडल को उसके लिए एक अंतरिक्ष कैप्सूल तैयार करने का आदेश देता है। उसे बिना देरी किए बच निकलना चाहिए। पृथ्वीवासी मंगलवासियों को पकड़ने के लिए आ रहे हैं। नूडल थिंक-टैंक से पूछता है कि उन्हें कहाँ जाना चाहिए। थिंक-टैंक कहता है कि वे एक सौ मिलियन मील दूर स्थित अल्फा सेन्चुरी ग्रह पर जाएँगे।)

Question 10.
When was the contact resumed with Mars? What did the Earthlings teach the Martians?
(मंगल ग्रह के साथ पुनः सम्पर्क कब स्थापित हुआ ? पृथ्वीवासियों ने मंगलवासियों को क्या सिखाया ?)
Answer:
In the twenty-fifth century they resumed contact with Mars. They became friends. Think-Tank was replaced by Noodle. They taught the Martians the difference between books and sandwiches. They established a model library on Mars.
(पच्चीसवीं सदी में उनका मंगल ग्रह के साथ पुनः सम्पर्क स्थापित हुआ। वे मित्र बन गए। थिंक-टैंक का स्थान नूडल ने ले लिया। उन्होंने मंगलवासियों को पुस्तकों और सैंडविचों में भेद बताया। उन्होंने मंगल ग्रह पर एक आदर्श पुस्तकालय की स्थापना की।)

Essay Type Questions

Question 1.
What does the historian tell the audience about the twentieth century and Mars?
(इतिहासकार श्रोताओं को बीसवीं शताब्दी और मंगल ग्रह के बारे में क्या बताती है ?)
Answer:
This imaginary story is set in the twenty-fifth century. The place is the Museum of Ancient History, Department of the Twentieth Century. A historian sitting at a table. There is a movie projector on the table. She is giving a talk to the audience about the twentieth century. She tells the audience that the twentieth century was often called the Era of the Book. In those days there were books about everything. They taught the people everything. But the strangest thing was that a book saved the Earth. She narrates a real story from the Martians (people from the planet Mars) invaded the Earth in 2040 and a book of nursery rhymes saved the Earth from their attack.

(यह काल्पनिक कहानी पच्चीसवीं शताब्दी में लिखी गई है। इस कहानी का स्थान प्राचीन इतिहास का संग्रहालय, बीसवीं शताब्दी का विभाग है। एक इतिहासकार मेज पर बैठी है। मेज पर एक मूवी प्रोजैक्टर रखा हुआ है। वह बीसवीं शताब्दी के बारे में श्रोताओं से बात करती है। वह श्रोताओं को बताती है कि बीसवीं शताब्दी को पुस्तकों के युग के नाम से जाना जाता था। उन दिनों में प्रत्येक विषय के बारे में पुस्तकें थीं। वे मनुष्य को सब कुछ सिखाती थीं। लेकिन सबसे विचित्र बात यह थी कि एक पुस्तक ने पृथ्वी को बचा लिया था। वह इक्कीसवीं सदी की एक सच्ची कहानी का वर्णन करती है। वह बताती है कि किस प्रकार से मंगलवासियों ने (मंगल ग्रह के लोग) 2040 में पृथ्वी पर आक्रमण कर दिया था और कैसे नर्सरी की कविताओं की एक पुस्तक ने पृथ्वी की रक्षा की थी।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

Question 2.
Who is Think-Tank? Why has he sent a manned spacecraft to Earth?
(थिंक-टैंक कौन है ? उसने पृथ्वी पर एक मानवयुक्त अंतरिक्षयान क्यों भेजा है ?)
Answer:
Think Tank is the commander-in-Chief of the Mars Space Control Room. He has a huge, egg-shaped head. He wears a long robe decorated with stars and circles. His deputy, Noodle stands beside him at a switchboard. Think Tank has already sent a manned spacecraft to the Earth. Their purpose is to collect information about the earth’s defence system and send it back to the other spacecraft from Mars who are ready to attack the earth before lunch. The incident described in the story is about the Martian invasion of 2040. In fact, the invasion never took place. A single book stopped it. It was a book of nursery rhymes. Then the historian shows the audience the happenings that actually took place. These have been recorded in a film. She turns on the projector. It shows the Mars Space Control room. We see Think-Tank who is the commander-in-chief.

(थिंक-टैंक मंगल अंतरिक्ष नियंत्रण कक्ष का कमाण्डर-इन-चीफ है। उसका एक विशालकाय, अंडे की आकृति वाला सिर है। उसने सितारों और वृत्तों से सुसज्जित एक लंबा परिधान पहना हुआ है। उसका उप-प्रमुख नूडल उसके पास एक स्विचबोर्ड के नजदीक,खड़ा है। थिंक-टैंक ने पृथ्वी पर पहले से ही मानवयुक्त अंतरिक्षयान भेज रखा है। उनका उद्देश्य पृथ्वी की रक्षा प्रणाली के बारे में सूचना एकत्र करना है और उसे मंगल ग्रह पर दूसरे अंतरिक्षयान के पास भेजना है जोकि दोपहर भोज से पूर्व पृथ्वी पर आक्रमण करना चाहते हैं। कहानी में वर्णित घटना 2040 में मंगल ग्रहवासियों के पृथ्वी पर आक्रमण के बारे में है। वास्तव में यह आक्रमण कभी हुआ नहीं केवल मात्र एक किताब ने इसे रोक दिया। यह नर्सरी की कविताओं की एक पुस्तक थी। तब इतिहासकार उनको वास्तव में घटित हुई घटनाओं के बारे में जानकारी देती है। उनको एक फिल्म के रूप में रिकॉर्ड किया गया है। वह प्रोजैक्टर को चालू करती है। वह मंगल ग्रह के नियंत्रित कक्ष को दिखाता है। हम थिक-टैंक को देखते हैं जो कि कमांडर-इन-चीफ है।)

Question 3.
What happens when the Martians land in a library on the earth? What guess does Think Tank make about books? .
(जब मंगल ग्रहवासी पृथ्वी पर एक पुस्तकालय में उतरते हैं तो क्या होता है? थिंक-टैंक पुस्तकों के बारे में क्या अनुमान लगाता है।)
Answer:
The Martians land in a library. They have seen the books and the library for the first time. Think-Tank talks to Captain Omega who tells him that they have arrived on Earth without incident. As they have never seenalibrary before, they are not sure where they are. However. Lt. lota tells Think-Tank that there are about two thousand peculiar items (books). She thinks that the place must be some storage barn. Sergeant Oop calls them ‘hats’.Omega asks for Think-Tank’sadvice. Through his remote camera, Think-Tank looks at the books’. He says that what they have in their hands are ‘sandwiches’. They are the main food of Earth diet. Think Tank orders Omega to eat it (book) to confirm. Omega asks Lt. lota to eat it. Iota orders Sergeant Oop to eat it. Oop bites a corner of the book. He pretends to chew and swallow and tells Think Tank that it is delicious.

(मंगल ग्रहवासी एक पुस्तकालय में उतरते हैं। उन्होंने पुस्तकें और पुस्तकालय को पहली बार देखा है। थिंक-टैंक कैप्टन ओमेगा से बात करता है जो थिंक-टैंक को बताता है कि वे बिना किसी घटना के पृथ्वी पर पहुँच गए हैं। क्योंकि उन्होंने पहले कभी पुस्तकालय नहीं देखा है तो उन्हें पक्का नहीं पता है कि वे किस स्थान पर हैं। लेफ्टिनेंट आयोटा कहती है कि यहाँ पर लगभग 2000 की संख्या में विचित्र वस्तुएँ रखी हैं। वह सोचती है कि यह स्थान अवश्य ही कोई खाधान्न भण्डार है। सार्जेन्ट ऊप उन्हें टोप कहता है। ओमेगा थिंक-टैंक से सलाह लेती है। अपने दूर-संवेदी कैमरा से थिंक-टैंक पुस्तकों की ओर देखता है। वह कहता है कि जो चीज उनके हाथ में है वह तो सैंडविच जैसी लगती है। वे पृथ्वीवासियों का मुख्य आहार हैं। थिंक-टैंक ओमेगा को आदेश देता है कि इसको यकीनी बनाने के लिए वह इसे (पुस्तक) खाकर दिखाए। ओमेगा लेफ्टिनेंट आयोटा से उसे खाने को कहता है। ऊप पुस्तक के कोने को दाँत से काटता है। वह पुस्तक को चबाने और उसे निगलने का ढोंग करता है और थिंक-टैंक को बताता है कि यह स्वादिष्ट है।)

Question 4.
Why does Think-Tank decide not to invade the earth?
(थिंक-टैंक पृथ्वी पर आक्रमण न करने का निर्णय क्यों लेता है ?)
Answer:
Omega looks at the books and tells Think Tank that they have pictures of Earthlings. They have some sort of code, lines and dots with pictures. He asks him to study the pictures and decipher the code in them. The book that Omega is looking at is a nursery rhyme book and reads it. Think Tank wonders how the Earthlings have combined agriculture and mining. They also grow explosives. He feels that the people of the earth are very intelligent and brave. Noodle says that the invasion spacecraft are ready to attack the earth. But Think Tank asks Noodle to tell the invasion fleet to hold. New information has come to him. Think Tank asks lota to transcribe the information. He thinks that the Earthlings have reached a higher level of civilisation. They have taught their domesticated animals music and space techniques. So he decides not to invade the earth.

(ओमेगा पुस्तकों को देखती है और थिंक-टैंक को बताती है कि उनके पास पृथ्वीवासियों की तस्वीरें हैं। तस्वीरों के साथ उनके कुछ गुप्त कोड, लाइनें और बिन्दु हैं। वह उससे कहता है कि तस्वीरों का अध्ययन करे और कोडों का रहस्य खोले। पुस्तक जो ओमेगा ने खोल रखी है वह नर्सरी की कविताओं की एक पुस्तक है और उसे पढ़ती है। थिंक-टैंक हैरान होता है कि पृथ्वीवासियों ने कैसे खेती और खनन को इकट्ठा कर दिया है। वे विस्फोटक भी उगाते हैं। वह मानता है कि पृथ्वीवासी बहुत ही प्रतिभाशाली और बहादुर हैं। नूडल कहता है कि आक्रमणकारी यान पृथ्वी पर आक्रमण करने के लिए तैयार है। लेकिन थिंक-टैंक नूडल से कहता है कि वह आक्रमणकारी यानों को रुकने को कहे। उसके पास नई सूचना आ गई है। थिंक-टैंक आयोटा से सूचना का अनुवाद करने को कहता है। वह मानता है कि पृथ्वीवासी सभ्यता के उच्चतम स्तर पर पहुँच गए हैं। उन्होंने अपने पालतू जानवरों को संगीत और अंतरिक्ष तकनीकों की जानकारी दे दी है। इसलिए वह पृथ्वी पर आक्रमण नहीं करने का निर्णय लेता है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

Question 5.
Why does Think-Tank decide to run away from the Mars? What does the historian say after she has narrated the incident ?
(थिंक-टैंक मंगल ग्रह से भाग जाने का निर्णय क्यों लेता है ? घटना का वर्णन करने के पश्चात् इतिहासकार क्या कहती है?)
Answer:
Oop reads the nursery rhyme ‘Humpty Dumpty … again’. He shows the picture of Humpty Dumpty also. The picture resembles Think-Tank. He is scared. He says that the Earthlings have seen him. They are planning to capture Mars Central Control and him. He decides to run away from Mars. He orders Noodle to prepare a space capsule for him. He must escape without delay. Noodle asks Think Tank where they shall go. Think Tank replies they will go to the planet Alpha-Centuri, a hundred million miles away. After narrating the incident to his audience, the historian says that one old book of nursery rhymes saved the earth from a Martian invasion. Then in the twenty-fifth century they resumed contact with Mars. They became friends. They taught the Martians the difference between books and sandwiches. They established a model library on Mars.

(ऊप नर्सरी की कविता “हम्प्टी इम्प्टी ……..” को पढ़ता है। वह हम्प्टी डम्प्टी की तस्वीर भी दिखाता है। तस्वीर की शक्ल थिंक-टैंक से मिलती है। वह डर जाता है। वह कहता है कि पृथ्वीवासियों ने उसे देख लिया है। वे मंगल केंद्रीय नियंत्रण और उसे पकड़ने की योजना बना रहे हैं। वह मंगल ग्रह से भाग जाने का निर्णय लेता है। वह नूडल से कहता है कि उसके लिए एक अंतरिक्ष कैप्सूल तैयार किया जाए। उसे बिना देरी के बचकर भाग जाना चाहिए। नूडल थिंक-टैंक से पूछता है कि वे कहाँ जाएँगे। थिंक-टैंक उत्तर देता है कि वे सौ मिलियन मील दूर स्थित अल्फा सेंचुरी ग्रह पर जाएँगे। श्रोताओं को घटना का वर्णन करने के पश्चात्, इतिहासकार कहती है कि नर्सरी की कविताओं की एक किताब ने पृथ्वी को मंगल ग्रह के आक्रमण से बचा लिया। पच्चीसवीं शताब्दी में उन्होंने मंगल ग्रह के साथ पुनः सम्बन्ध स्थापित किए। वे मित्र बन गए। उन्होंने मंगल ग्रहवासियों को पुस्तकों और सैंडविचों के बीच में अंतर बताया। उन्होंने मंगल ग्रह पर एक पुस्तकालय की स्थापना की।)

Multiple Choice Questions

Question 1.
In which year was the Martian invasion on the earth planned?
(A) 2030
(B) 2040
(C) 2050
(D) 2060
Answer:
(B)2040

Question 2.
With what name is the twentieth century called?
(A) Era of the Book
(B) Era of the Science
(C) Era of the Mars
(D) Era of the Invasion
Answer:
(A) Era of the Book

Question 3.
The story ‘The Book That Saved the Earth’ is set in:
(A) twentieth century
(B) twenty-first century
(C) twenty-fourth century
(D) twenty-fifth century
Answer:
(D) twenty-fifth century

Question 4.
Who tried to invade the earth in the twenty-first century?
(A) Martians
(B) Earthlings
(C) Anteaters
(D) Zulus
Answer:
(A) Martians

Question 5.
Who was the “Commander-in-Chief of the Mars Space Control?
(A) Omega
(B) lota
(C) Think-Tank
(D) Noodle
Answer:
(C) Think-Tank

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

Question 6.
Who was the deputy of Think-Tank?
(A) Omega
(B) lota
(C) Noodle
(D) Oop
Answer:
(C) Noodle

Question 7.
How many moons does Mars have?
(A) one
(B) two
(C) three
(D) four
Answer:
(B) two

Question 8.
Which book saved the earth from invasion?
(A) a book of science
(B) a world encyclopedia
(C) a book of military techniques
(D) a book of nursery rhymes
Answer:
(D) a book of nursery rhymes

Question 9.
Who included the crew of the Martian Space Craft?
(A) Omega
(B) Tota
(C) Oop
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

Question 10.
Who was the captain of the space craft crew?
(A) Think Tank
(B) Omega
(C) Iota
(D) Oop
Answer:
(B) Omega

Question 11.
Who was the lieutenant of the space craft crew?
(A) Think Tank
(B) Omega
(C) Iota
(D) Oop
Answer:
(C) Iota

Question 12.
What was the name of the sergeant space craft crew?
(A) Think Tank
(B) lota
(C) Oop
(D) Noodle
Answer:
(C) Oop

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

Question 13.
What do the crew members find on the earth?
(A) books
(B) stones
(C) sandwiches
(D) all of the above
Answer:
(A) books

Question 14.
Who was Great and Mighty?
(A) Think Tank
(B) Noodle
(C) Oop
(D) Omega
Answer:
(A) Think-Tank

Question 15.
In the end who is replaced for Think Tank?
(A) Omega
(B) Noodle
(C) Oop
(D) Iota
Answer:
(B) Noodle

Question 16.
What does Think Tank consider the books?
(A) sandwitches
(B) ear communication devices
(C) eye communication devices
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

Question 17.
According to the historian in the play, which century is named the ‘Era of the Book”?
(A) twentieth century
(B) twenty first century
(C) twenty third century
(D) twenty fifth century
Answer:
(A) twentieth century

Question 18.
Who was the ruler of Mars?
(A) Omega
(B) Iota
(C) Think Tank
(D) Oop
Answer:
(C) Think Tank

Question 19.
Finally who decides not to invade the earth?
(A) Omega
(B) Think Tank
(C) Noodle
(D) all of the above
Answer:
(B) Think Tank

Question 20.
Who is the writer of the lesson ‘The Book That Saved the Earth’?
(A) Victor Canning
(B) Claire Boiko
(C) K.A. Abbas
(D) H.G Wells
Answer:
(B) Claire Boiko

The Book that Saved the Earth Summary in English

The Book that Saved the Earth Introduction in English

This is a science fantasy. This imaginary story is set in the twenty-fifth century. A Historian is giving a talk to the audience about the twentieth century and telling the audience that the twentieth century was often called the Era of the Books. Then she talks of the Martian invasion of the earth that took place in the year 2040, but, in fact, the invasion never took place. She says that one old book of nursery rhymes saved the world from a Martian invasion. Then in twenty-fifth century they resumed contact with Mars and they became friends.

The Book that Saved the Earth Summary in English

This is a science fantasy. This imaginary story is set in the twenty-fifth century. The place is the Museum of Ancient History, Department of the Twentieth Century. There is a Historian sitting at a table. There is a movie projector on the table. She is giving a talk to the audience about the twentieth century. She tells the audience that the twentieth century was often called the Era of the Book. In those days, there were books about everything. They taught the people everything. But the strangest thing was that a book saved the Earth. She narrates a real story from the twenty-first century. She tells how the Martians (people from the planet Mars) invaded the earth and a book of nursery rhymes saved us from their attack.

The incident relates to the Martian invasion of 2040. Infact, the invasion never took place. A single book stopped it. It was not a noble encyclopedia or a book about rockets and missiles. It was a book of nursery rhymes. Then the Historian shows the audience the happenings that actually took place. These have been recorded in a film. She turns on the projector. It shows the Mars Space Control room. We see Think Tank who is the commander-in-chief. He has a huge, egg-shaped head. He wears a long robe decorated with stars and circles. His deputy, Noodle stands beside him at a switchboard.

Think-Tank has already sent a manned spacecraft to the Earth. Their purpose is to collect information about the earth’s defence system and send it back to the other spacecraft from Mars who are ready to attack the earth before lunch. Think Tank asks Noodle to place him in communication with their manned space probe to the Planet Earth. Think Tank says they are soon going to take it over. Noodle establishes his contact with the Mars Space Control. Captain Omega and his deputies are in a library. They came on the earth in order to gather secrets of the earth defiance. They have landed in a library. They have seen the books and the library for the first time. Think Tank talks to Captain Omega who tells him that they have arrived on Earth without incident.

As they have never seen a library before, they are not sure where they are. However, Lt. lota tells Think Tank that there are about two thousand peculiar items (books). She thinks that the place must be some storage barn. Sergeant Oop also says that he has never before seen anything like those things. He calls them Whats’. Omega asks for Think Tank’s advice. Through his remote camera, Think Tank looks at the books’. He calls them ‘eatables and they are in a refreshment stand. He says that what they have in their hands are *sandwiches’. They are the main food of Earth diet. Think Tank orders Omega to eat it (book) to confirm. Omega asks Lt. Iota to eat it. Iota orders Sergeant Oop to eat it. Oop bites a corner of the book. He pretends to chew and swallow and tells Think Tank that it is delicious.

After sometime Noodle informs Think-Tank that a bit of data floated into his mind. Now he has found that the people of the earth do not eat them. But they use them as communication devices. Think Tank also believes what he tells him. He orders Omega to listen to them (books). He puts a book to his ears and tries hard to listen. Think Tank asks Omega if he can listen something from them. Omega replies that they may not be on the correct frequency. Think Tank says that the Earthlings have sharper ears. Noodle says that he has a piece of information in his mind. The people of the Earth opened them and watched them. Now Think Tank says that those ‘sandwiches’ are for eye communication. He asks Captain Omega to take three ‘sandwiches and tell him what he sees in them.

Omega looks at the books and tells Think-Tank that they have pictures of Earthlings. They have some sort of code, lines and dots with pictures. He asks him to study the pictures and decipher the code in them. The book that Omega is looking at is a nursery rhyme book. He reads the nursery rhyme “Mistress Mary …’ Think Tank wonders how the Earthlings have combined agriculture and mining. They also grow explosives. He feels that the people of the earth are very intelligent and brave. Noodle says that the invasion spacecraft are ready to attack the earth. But Think-Tank asks Noodle to tell the invasion fleet to hold. New information has come to him. Think Tank asks lota to transcribe the information. She reads the nursery rhyme “Hey diddle…. spoon’. Think Tank feels alarmed. He thinks that the Earthlings have reached a higher level of civilisation. They have taught their domesticated animals music and space techniques. They may be launching an interplanetary attack of millions of cows. He asks him to notify the invasion fleet that there will be no invasion that day.

Then Oop reads the nursery rhyme ‘Humpty Dumpty … again’. He shows the picture of Humpty Dumpty also. The picture resembles Think-Tank. He is scared. He says that the Earthlings have seen him. They are planning to capture Mars Central Control and him. He decides to run away from Mars. He orders Noodle to prepare a space capsule for him. He must escape without delay. The Earthlings are coming to capture Mars. Noodle asks Think Tank where they shall go. Think Tank replies they will go to the planet Alpha-Centauri, a hundred million miles away. After showing this film, the Historian says that one old book of nursery rhymes saved the world from a Martian invasion. Then in the twenty-fifth century they resumed contact with Mars. They became friends. Think Tank was replaced by Noodle. They taught the Martians the difference between books and sandwiches. They established a model library on Mars. But they can never read one book. It is Mother Goose.

The Book that Saved the Earth Summary in Hindi

The Book that Saved the Earth Introduction in Hindi

(यह एक वैज्ञानिक कहानी है। यह काल्पनिक कहानी पच्चीसवीं शताब्दी में घटित घटना के आधार पर है। एक इतिहासकार श्रोताओं को बीसवीं सदी के बारे में एक भाषण दे रही है और उन्हें बता रही है कि बीसवीं सदी को प्रायः पुस्तकों के युग के नाम से जाना जाता था। तब वह पृथ्वी पर सन् 2040 में मंगल ग्रह के लोगों द्वारा किए गए आक्रमण के बारे में बात करती है, लेकिन, वास्तव में यह आक्रमण कभी हुआ नहीं था। वह कहती है कि नर्सरी कक्षा की कविताओं की एक पुरानी किताब ने दुनिया को मंगल ग्रहवासियों के आक्रमण से बचा लिया था। तब पच्चीसवीं शताब्दी में उनका मंगल ग्रह के साथ फिर से सम्पर्क बना और वे मित्र

The Book that Saved the Earth Summary in Hindi

यह एक वैज्ञानिक कहानी है। यह काल्पनिक कहानी पच्चीसवीं शताब्दी में आधारित की गई है। इसका स्थान है प्राचीन इतिहास का संग्रहालय, बीसवीं शताब्दी का विभाग। एक मेज पर एक इतिहासकार बैठी है। मेज पर एक मूवी प्रोजेक्टर है। वह श्रोताओं को बीसवीं शताब्दी के बारे में एक भाषण देने जा रही है। वह श्रोताओं को बताती है कि बीसवीं शताब्दी को अक्सर किताबों का युग कहा जाता था। उन दिनों में हर चीज़ के बारे में किताबें होती थीं। ये किताबें लोगों को हर बात सिखाती थीं। मगर सबसे अजीब बात यह थी कि एक किताब ने धरती को बचाया। वह इक्कीसवीं शताब्दी की एक कहानी बताती है। वह बताती है कि किस प्रकार मंगल ग्रह के लोगों ने पृथ्वी पर आक्रमण किया और नर्सरी की कविताओं की एक पुस्तक ने उन्हें आक्रमण से बचा लिया।

यह घटना 2040 ई० में मंगल ग्रह द्वारा आक्रमण के बारे में है। वास्तव में, वह आक्रमण कभी नहीं हुआ। एक किताब ने उसे रोक दिया। यह कोई विश्वकोश नहीं था या रॉकेटों और प्रक्षेपास्त्रों के बारे में किताब नहीं थी। यह तो नर्सरी की कविताओं की किताब थी। तब इतिहासकार श्रोताओं को वे घटनाएँ दिखाती है जो वास्तव में हुई। इन्हें एक फिल्म में रिकॉर्ड किया गया है। वह प्रोजैक्टर को शुरु करती है। यह मंगल ग्रह के अंतरिक्ष नियंत्रण कक्ष को दिखाती है। हम थिंक-टैंक को देखते हैं जोकि कमांडर-इन-चीफ है। उसका सिर बहुत बड़ा और अंडे के आकार का है। उसने एक लंबा चोगा पहना हुआ है जो सितारों और दायरों से सुसज्जित है। उसका प्रशिक्षु नूडल उसके पास एक स्विचबोर्ड के पास खड़ा है।

थिंक-टैंक ने पहले से ही धरती पर एक मानव-नियंत्रित अंतरिक्षयान भेज दिया है। उनका उद्देश्य धरती की बचाव-प्रणाली का अध्ययन करना है और उसे मंगल से आने वाले अन्य अंतरिक्षयानों तक भेजना है जो दोपहर के भोजन से पहले धरती पर आक्रमण करने के लिए तैयार है। थिंक-टैंक नूडल से कहता है कि वह उसका संपर्क धरती पर भेजे गए मानव-नियंत्रित स्पेस प्रोब से करवाए। थिंक-टैंक कहता है कि शीघ्र ही वे धरती को काबू करने वाले हैं। नूडल उसका संपर्क मंगल के अन्तरिक्ष नियंत्रण से करवाता है। कैप्टन ओमेगा और उसके सहायक एक पुस्तकालय में हैं। वे धरती पर धरती के बचाव के रहस्य जानने आए हैं। वे एक पुस्तकालय में पहुंच गए हैं। उन्होंने पुस्तकालय और किताबें पहली बार देखी हैं। थिंक-टैंक कैप्टन ओमेगा से बात करता है जो उसे बताता है कि वे धरती पर बिना किसी दुर्घटना के पहुँच गए हैं।

क्योंकि उन्होंने पहले कभी पुस्तकालय नहीं देखा है, इसलिए उन्हें यह पता नहीं है कि वे कहाँ पर हैं। लेकिन लेफ्टिनेंट आयोटा थिंक-टैंक को बताती है कि इन अजीब वस्तुओं (किताबों) की संख्या लगभग दो हजार है। उसका विचार है कि वह स्थान अवश्य ही कोई स्टोर होगा। सार्जेन्ट ऊप भी कहता है कि उसने पहले कभी ऐसी चीजें नहीं देखीं। वह उन्हें ‘हैट’ कहता है। ओमेगा थिंक-टैंक की सलाह माँगता है। अपने रिमोट कन्ट्रोल कैमरे से थिंक-टैंक किताबों को देखता है। वह उन्हें खाने की वस्तुएँ कहता है और कहता है कि वे किसी रेस्तरां में हैं। वह कहता है कि जो चीजें उनके हाथों में हैं वे सैंडविच हैं। वे धरती के लोगों की खुराक का मुख्य भोजन है। यह निश्चित करने के लिए थिंक-टैंक ओमेगा को आदेश देता है कि वह इसे (किताब) खाए। ओमेगा लेफ्टिनेंट आयोटा को इसे खाने को कहता है। आयोटा सार्जेन्ट ऊप को इसे खाने का आदेश देती है। ऊप किताब का कोना खा जाता है। वह इसे चबाने और निगलने का नाटक करता है और थिंक-टैंक को बताता है कि यह स्वादिष्ट है।

कुछ देर के बाद नूडल थिंक-टैंक को बताता है कि कुछ आंकड़े उसके दिमाग में तैर कर आए हैं। अब उसे पता लगा है कि धरती के निवासी इन्हें खाते नहीं हैं। मगर वे इन्हें संचार के तरीकों के लिए प्रयोग करते हैं। थिंक-टैंक इस बात पर विश्वास कर लेता है। वह ओमेगा को आदेश देता है कि वह इन्हें (किताबों को) सुने। वह एक किताब को कानों से लगाता है और सुनने की पूरी कोशिश करता है। थिंक-टैंक ओमेगा से पूछता है कि क्या वह उनमें से कुछ सुन सकता है। ओमेगा उत्तर देता है कि वे शायद उचित फ्रीक्वेंसी पर नहीं हैं। थिंक-टैंक कहता है कि धरती के निवासियों के कान अधिक तेज हैं। नूडल कहता है कि उसके दिमाग में सूचना का कुछ अंश है। धरती के लोग इन्हें खोलते और देखते हैं। अब थिंक-टैंक कहता है कि वे ‘सैंडविच’ आँखों के संचार के लिए हैं। वह कैप्टन ओमेगा से कहता है कि वह तीन ‘सैंडविच’ ले और उनमें देखे।

ओमेगा उन पुस्तकों को देखता है और थिंक-टैंक से कहता है कि इनमें धरती के लोगों की तस्वीरें हैं। उनमें कुछ प्रकार के संकेत, लाइनें, बिन्दु और तस्वीरें हैं। वह उससे कहता है कि वह तस्वीरों का अध्ययन करे और उनकी सांकेतिक भाषा को समझे। जो किताब ओमेगा देख रहा है वह नर्सरी की कविताओं की एक किताब है। वह एक कविता पढ़ता है, “मिस्ट्रेस मैरी….” थिंक-टैंक को हैरानी होती है कि धरती के लोगों ने कृषि और खनन को किस प्रकार मिला दिया है। वे तो विस्फोटक पदार्थ भी उगाते हैं। वह महसूस करता है कि धरती के लोग बहुत बुद्धिमान और बहादुर हैं। नूडल कहता है कि आक्रमणकारी अंतरिक्षयान धरती पर आक्रमण करने को तैयार हैं। मगर थिंक-टैंक नूडल से कहता है कि वह आक्रमणकारी दल को रुकने के लिए कहे। उसके पास नई जानकारी आई है। थिंक-टैंक आयोटा से कहता है कि वह इस जानकारी का अनुवाद करे। वह नर्सरी की कविता “हे डिडल…. स्पून” पढ़ती है। थिंक-टैंक भयभीत हो जाता है। वह सोचता है कि धरती के लोग बहुत उच्च सभ्यता तक पहुँच गए हैं। उन्होंने अपने घरेलू जानवरों को भी संगीत और अंतरिक्ष के तरीके सिखा दिए हैं। शायद वे लाखों गायों से ग्रहों पर आक्रमण करने वाले हैं। वह उसे कहता है कि वह आक्रमण दल से कह दे कि आज आक्रमण नहीं किया जाएगा।

फिर ऊप नर्सरी कविता ‘हम्प्टी इम्प्टी.. अगेन’ पढ़ता है। वह हम्प्टी डम्प्टी की तस्वीर भी दिखाता है। वह तस्वीर थिंक-टैंक से मिलती है। वह डर जाता है। वह कहता है कि धरती के लोगों ने उसे देख लिया है। वे केंद्रीय नियंत्रण और उसे जीतना चाहते हैं। वह मंगल ग्रह से भाग जाने का फैसला करता है। वह नूडल को आदेश देता है कि वह उसके लिए एक अंतरिक्षयान तैयार करवाए। उसे बिना देरी किए वहाँ से भागना है। धरती के लोग मंगल ग्रह पर कब्जा करने आ रहे हैं। नूडल थिंक-टैंक से पूछता है कि वे कहाँ जाएँगे। थिंक-टैंक उत्तर देता है कि वे एल्फा-सेन्चुरी नाम के ग्रह पर जाएँगे जो एक सौ मिलियन मील दूर है। यह फिल्म दिखाने के बाद इतिहासकार कहती है कि नर्सरी कविताओं की एक पुरानी किताब ने धरती को मंगल ग्रह के आक्रमण से बचा लिया। इसके बाद पच्चीसवीं शताब्दी में उन्होंने मंगल ग्रह से फिर सम्पर्क बना लिया। वे मित्र बन गए। थिंक-टैंक का स्थान नूडल ने ले लिया। उन्होंने मंगल ग्रह के निवासियों को किताबों और सैंडविच में अन्तर समझाया। उन्होंने मंगल ग्रह पर एक आदर्श पुस्तकालय भी स्थापित कर दिया। मगर उन्होंने एक पुस्तक कभी नहीं पढ़ी। यह पुस्तक है मदर गूज।।

The Book that Saved the Earth Translation in Hindi

[PAGE63]: (Mother Goose) अंग्रेज़ी में नर्सरी की कविताओं की एक प्रसिद्ध पुस्तक है। क्या आपके विचार में एक ऐसी किताब पृथ्वी ग्रह को मंगल ग्रह के एक आक्रमण से बचा सकती है ? इस नाटक को पढ़िए जो भविष्य की चार शताब्दियों में लिखा गया है और पता लगाइए।
पात्र :
1. इतिहासकार
2. लेफ्टीनेन्ट आयोटा
3. महान् और शक्तिशाली थिंक-टैंक
4. सार्जेन्ट ऊप
5. प्रशिक्षु नूडल
6. मंच के बाहर से आई आवाज़
7. कैप्टन ओमेगा

PART 1

समय : पच्चीसवीं शताब्दी
स्थान : प्राचीन इतिहास का संग्रहालय : पृथ्वी ग्रह पर बीसवीं शताब्दी का विभाग
सूर्योदय से पूर्व : प्रकाश इतिहासकार पर चमकता है, जोकि ठीक नीचे उस मेज पर बैठी है जिस पर मूवी प्रोजैक्टर रखा है। उसके पास रखे प्रोजैक्टर स्टैंड पर एक संकेत है जिसे वह पढ़ती है : प्राचीन इतिहास का संग्रहालय : बीसवीं शताब्दी का विभाग। वह खड़ी होती है और श्रोताओं का अभिवादन करती है।

[PAGE 63-64]: इतिहासकार : नमस्कार । हमारे प्राचीन इतिहास के संग्रहालय और मेरे विभाग में आपका स्वागत है हमारा विभाग बीसवीं शताब्दी की अजीब वस्तुओं का संग्रह है। बीसवीं सदी को प्रायः पुस्तकों के युग के नाम से जाना जाता था। उन दिनों में प्रत्येक चीज के बारे में पुस्तकें थीं, ऐन्टईटर्ज (एक जानवर) से लेकर जुलू लोगों तक । पुस्तकें लोगों को कैसे, कब, कहाँ और क्यों की शिक्षा देती थीं। वे लोगों को अच्छे से समझातीं, उन्हें ज्ञान देतीं, समय का पाबंद करतीं और उन्हें सजाती-संवारतीं। लेकिन पुस्तक द्वारा किया गया सबसे विचित्र काम पृथ्वी की रक्षा करना था। आपने 2040 में मंगल ग्रह के आक्रमण के बारे में नहीं सुना होगा। Tsk, tsk. आजकल वे पुस्तकें बच्चों को क्या सिखा रही हैं। ठीक है, आप जानते हो कि वह आक्रमण कभी किया नहीं गया था, क्योंकि केवल मात्र एक पुस्तक ने उसे रोक दिया था। आप पूछोगे, वह किताब कौन-सी थी। एक श्रेष्ठ विश्वकोश ? रॉकेटों और मिसाइलों के बारे में एक ग्रंथ? बाहरी अंतरिक्ष से संबंधित एक फाइल? नहीं, वह उनमें से कोई भी नहीं थी। वह थी लेकिन यहाँ मुझे हिस्टोरीस्कोप को चालू करने दीजिए और आपको दिखाने दीजिए कि कई शताब्दियों पहले 2040 में क्या हुआ था (वह प्रोजैक्टर को चालू करती है और उसे बाईं ओर इशारा करती है। इतिहासकार पर प्रकाश चमकता है, और फिर बाईं ओर नीचे थिंक-टैंक पर आता है जहाँ वह हाथ बाँधे हुए एक ऊपर । उठे हुए बक्से पर बैठा था। उसका अंडे की आकृति जैसा बड़ा सिर है और उसने सितारों और वृत्तों से सुसज्जित एक लंबा चोगा पहना हुआ है। प्रशिक्षु नूडल उसके पास एक स्विचबोर्ड के नजदीक खड़ा हो जाता है। चित्र बनाने के स्टैंड पर एक-एक संकेत लिखा है :

मंगल अंतरिक्ष नियंत्रण
महान् और शक्तिशाली थिंक-टैंक, कमांडर-इन-चीफ
(प्रवेश से पहले अको)

नूडल : (झुकते हुए) हे महान और शक्तिशाली थिंक-टैंक, पूरी सृष्टि के सबसे अधिक शक्तिशाली और बुद्धिमान प्राणी आपके क्या आदेश हैं ?

थिंक-टैंक : (चिढ़ते हुए) प्रशिक्षु नूडल, आपने मेरे अभिवादन का कुछ अंश छोड़ दिया है। पूरी प्रक्रिया को दुबारा से करो।

नूडल : श्रीमान जी, इसे कर दिया जाएगा (एक ही स्वर में रट लगाते हुए) हे, महान् और शक्तिशाली थिंक-टैंक, मंगल और उसके दो चंद्रमाओं के शासक, पूरी सृष्टि के सबसे अधिक शक्तिशाली और बुद्धिमान प्राणी-(साँस फूले हुए) आपके क्या आदेश हैं ?

थिंक-टैंक : नूडल, यह बेहतर है। मैं चाहता हूँ कि मानव युक्त अंतरिक्ष परीक्षण की संचार व्यवस्था से मुझे जोड़ दिया जाए जिससे मैं उस छोटे-से हास्यप्रद ग्रह (पृथ्वी) के बारे में जान सकूँ जिस पर मैं शासन करने जा रहा हूँ। वे उसे किस नाम से जानते हैं, पुनः बताइए?
नूडल : श्रीमान जी, पृथ्वी ?
थिंक-टैंक : निःसंदेह, पृथ्वी। देखो यह कितनी महत्त्वहीन जगह है लेकिन पहले कुछ महत्त्वपूर्ण । मेरा दर्पण मैं अपना दर्पण देखना चाहता हूँ।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

[PAGE 65]: नूडल : श्रीमान जी, ऐसा ही होगा (वह थिंक-टैंक को एक दर्पण देता है।) थिंकटैंक : दर्पण, दर्पण, मेरे हाथों में। इस स्थान पर सबसे अधिक प्रभावशाली प्राणी कौन है ? मंच के बाहर से एक आवाज : श्रीमान जी आप।

थिंक-टैंक : (दर्पण को चूमते हुए) जल्दी से। अगली बार और जल्दी से उत्तर देना। मैं धीमा उत्तर देने वाले दर्पण से नफरत करता हूँ। (दर्पण में वह स्वयं की प्रशंसा करता है) आह, मैं हूँ। क्या हम मंगलवासी सुन्दर नस्ल के नहीं होते हैं ? हम मंगलवासी, छोटे सिर वाले उन कुरूप पृथ्वीवासियों से बहुत ज्यादा सुंदर होते हैं। नूडल, तुम अपने दिमाग को क्रियाशील बनाए रखो और एक दिन तुम्हारा दिमाग भी मेरे दिमाग की तरह गुब्बारे जितना बड़ा हो जाएगा।

नूडल : ओह, मैं भी ऐसी आशा करता हूँ, शक्तिशाली थिंक-टैंक । मैं भी ऐसी आशा करता हूँ।
थिंक-टैंक : अब अंतरिक्ष के अन्वेषण से संपर्क करो। मैं अति प्राचीन उस कीचड़ के गोले, जिसे पृथ्वी कहते हैं, पर दोपहर भोज से पहले आक्रमण करना चाहता हूँ।
नूडल : श्रीमान जी, ऐसा ही किया जाएगा। (वह स्विचबोर्ड पर लीवरों को व्यवस्थित करता है। जैसे ही परदे खुलते हैं इलैक्ट्रोनिक गूंजें और सीटी की आवाजें सुनाई पड़ती हैं।)

PART 2

समय : कुछ सेकेन्ड के पश्चात्
स्थान : मंगल अंतरिक्ष नियंत्रण कक्ष तथा सेंटरविले पब्लिक पुस्तकालय
कैप्टन ओमेगा, एक परेशानी की मुद्रा में नाम पट्टिका लगे हुए दराजों को कक्ष के बीच में खड़ा होकर खोलता है। लेफ्टिनेंट आयोटा बाईं ओर खड़ा पुस्तकों की अलमारी में पुस्तकें गिन रहा है। सार्जेन्ट ऊप दाईं ओर खड़ा एक पुस्तक को कभी खोल तो कभी बंद कर रहा था, उसे उलट-पुलट कर रहा था, उसे हिला रहा था और तब बिना पढ़े उसके पन्ने पलट रहा था और अपना सिर हिला रहा था।

नूडल : (बटन को ठीक करते हुए) श्रीमान जी, मैं अंतरिक्ष दल के यात्रियों को बहुत निकट से देख रहा हूँ।
(थिंक-टैंक बहुत बड़े चश्में पहनता है और देखने के लिए मंच की ओर मुड़ता है। ऐसा लगता है कि वे पृथ्वी जैसे किसी ढाँचे में प्रवेश कर गए हैं।
थिंक-टैंक : बहुत बढ़िया, उनसे बात करो।

[PAGE 66]: नूडल : (एक माइक्रोफोन में बोलते हुए) मंगल अंतरिक्ष नियंत्रण कक्ष अन्वेषण एक के सदस्यों से बात कर रहा है। कैप्टन ओमेगा अंदर आओ, और हमें अपनी स्थिति के बारे में बताओ।
ओमेगा : (एक डिस्क में बोलते हुए जोकि उसके गले में एक चेन से बँधी थी) कैप्टन ओमेगा, मंगल अंतरिक्ष नियंत्रण से बोलते हुए, लेफ्टिनेंट आयोटा, सार्जेन्ट ऊप, और मैं बिना किसी घटना के पृथ्वी पर पहुँच गए हैं। हमने इसमें आश्रय ले लिया है। (कमरे की ओर संकेत करते हुए) यह चौकोर स्थल, लेफ्टिनेंट आयोटा क्या आपको कुछ पता है कि हम कहाँ पर हैं ?

आयोटा : कैप्टन, मैं इसका पता नहीं लगा सकती हूँ (एक पुस्तक को पकड़ते हुए) मैंने ऐसी विचित्र दो हजार चीजों की गणना कर ली है। यह स्थान किसी प्रकार का स्टोर रहा होगा। सार्जेन्ट ऊप, आपका क्या विचार है?

ऊप : मेरे पास कोई सुराग नहीं है। मैंने सात आकाशगंगाओं का भ्रमण किया है लेकिन इस प्रकार की कभी कोई चीज नहीं देखी। हो सकता है वे चीजें टोप हों (वह एक पुस्तक को खोलता है और अपने सिर के ऊपर रखता है।) कहता है कि शायद वह कोई कपड़े की दुकान हो।

ओमेगा : (नीचे झुकते हुए) शायद महान् और शक्तिशाली थिंक-टैंक इस विषय पर अपने विचार से हमें लाभान्वित करें।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

[PAGE 67]:
थिंक-टैंक : प्रारंभिक रूप से, मेरी प्रिय ओमेगा। इनमें से एक चीज को ऊपर उठाओ ताकि मैं इसे निकट से देख सकूँ। (ओमेगा अपने हाथ की हथेली पर एक पुस्तक को ऊपर उठाती है) हाँ, हाँ अब मेरी समझ में आ गया है। क्योंकि पृथ्वी के जीव हमेशा खाते रहते हैं, जिस स्थान पर आप हैं वह निश्चित रूप से अशिष्ट जलपान की दुकान है।

ओमेगा : (आयोटा और ऊप से) वह कहता है कि हम एक जलपान गृह में हैं।
ऊप : अच्छा, पृथ्वीवासी निश्चित रूप से एक अजीव खुराक लेते हैं।
थिंक-टैंक : यह वस्तु जो तुम्हारे हाथ में है एक सैंडविच है।
ओमेगा : (हाँ में सिर हिलाते हुए) एक सैंडविच
आयोटा : (हाँ में सिर हिलाते हुए) एक सैंडविच
ऊप : (अपने सिर से पुस्तक उठाते हुए) एक सैंडविच?
थिंक-टैंक : पृथ्वीवासियों का मुख्य भोजन सैंडविच ही है। इसे ध्यान से देखो। (ओमेगा तिरछी नजर से पुस्तक को देखती है) ब्रैड के दो टुकड़े हैं और उनके बीच में कुछ भरा हुआ है।
ओमेगा : श्रीमान जी, यह सही है।
थिंक-टैंक : मेरे विचार की पुष्टि के लिए, मैं तुम्हें इसे खाने का आदेश देता हूँ।
ओमेगा : (कुछ निगलते हुए) इसे खाऊँ?
थिंक-टैंक : क्या आपको शक्तिशाली थिंक-टैंक पर संदेह है?

[PAGE 68]: ओमेगा : अरे, नहीं-नहीं। लेकिन बेचारे लेफ्टिनेंट आयोटा ने अपना नाश्ता भी नहीं किया है। लेफ्टिनेंट आयोटा मैं तुम्हें इस सैंडविच को खाने का आदेश देता हूँ।
आयोटा : (संदेहात्मक ढंग से) इसे खाऊँ ? हे कैप्टन! यह मेरे लिए बहुत ही सम्मान की बात होगी कि मैं इसे खाकर प्रथम मंगलग्रहवासी होने का सम्मान हासिल कर लूँगी। परन्तु मैं इतनी अशिष्ट नहीं हूँ कि अपने सार्जेन्ट के सामने उनसे पहले ही मैं इसे खाऊँ (ऊप को पुस्तक पकड़ाते हुए और सार्जेन्ट ऊप, मैं तुम्हें तुरन्त सैंडविच खाने का आदेश देती हूँ।

ऊप : (मुँह बनाते हुए) कौन, लेफ्टिनेंट? मैं, लेफ्टिनेंट?
आयोटा और ओमेगा : (अभिवादन करते हुए) मंगल ग्रह की शान की खातिर, ऊप!
ऊप : ठीक है, निःसंदेह! (दुखी मन से) तुरन्त (वह अपना मुँह चौड़ा खोलता है। ओमेगा और आयोटा उसे अपनी साँसें थामकर उसे देखते हैं। वह उस पुस्तक के एक कोने को दाँत से काटता है और चबाने तथा निगलने का मूक अभिनय करता है तथा वह अपना चेहरा भयंकर बनाता है।

ओमेगा : अच्छा, ऊप?
आयोटा : अच्छा, ऊप? (ऊप खाँसता है। ओमेगा और आयोटा उसकी पीठ को जोर से थपथपाते हैं।)
थिंक-टैंक : सार्जेन्ट ऊप, क्या यह स्वादिष्ट नहीं था ?
ऊप : (स्लूट मारते हुए) श्रीमान जी यह सही है। यह स्वादिष्ट नहीं था। मैं नहीं जानता कि पृथ्वीवासी बिना पानी के उन सैंडविचों को कैसे नीचे उतारते (खाते) हैं। वे मंगल ग्रह की मिट्टी के समान शुष्क हैं।
नूडल : श्रीमान जी, श्रीमान जी, महान् और शक्तिशाली थिंक-टैंक । मैं आपसे क्षमा माँगता हूँ, लेकिन उन सैंडविचों के बारे में एक गैर-महत्त्वपूर्ण बात मेरे दिमाग में उमड़ रही है।
थिंक-टैंक : यह बहुत ज्यादा महत्त्वपूर्ण नहीं हो सकता, लेकिन जारी रहो। तुम अपनी उस गैर-महत्त्वपूर्ण बात के बारे में बताओ।
नूडल : अच्छा श्रीमान जी। मैंने उन सैंडविचों की पर्यालोकन फिल्म देखी है। मैंने देखा कि पृथ्वीवासी उन्हें नहीं खाते थे। वे उन्हें संप्रेषण उपकरण के रूप में प्रयोग करते थे।
थिंक-टैंक : (गर्व से) स्वाभाविक रूप से। यह मेरा अगला बिन्दु था। वास्तव में ये संप्रेषण सैंडविच है। थिंक-टैंक कभी भी गलत नहीं हो सकता है। कौन कभी भी गलत नहीं हो सकता है?
सभी : (स्लूट मारते हुए) महान् और शक्तिशाली थिंक-टैंक कभी भी गलत नहीं हो सकता है।
थिंक-टैंक : इसलिए मैं तुम्हें उनकी (सैंडविचों) बात ध्यान से सुनने का आदेश देता हूँ।

[PAGE 69]: ओमेगा : उनकी बात सुनें?
आयोटा और ऊप : (परेशानी के साथ, एक-दूसरे से) उनकी बात सुनें?
थिंक-टैंक : क्या तुम्हारे कानों में पत्थर के टुकड़े भरे हुए हैं ? मैंने कहा, उनकी बात सुनो। (मंगलवासी अपना सिर नीचे झुका लेते हैं।)
ओमेगा : श्रीमान जी, ऐसा ही होगा। (वे प्रत्येक अलमारी में से दो किताबें ले लेते हैं और उन्हें अपने कानों के पास रख रहें है और उत्सुकता के साथ सुन रहे हैं।)
आयोटा : (ओमेगा के कान में बतियाते हुए) क्या तुम्हें कुछ सुनाई देता है?
ओमेगा : (पुनः कान में बतियाते हुए) कुछ भी नहीं। ऊप, क्या तुम्हें कुछ सुनाई देता है?
ऊप : (ऊँचे स्वर में) कुछ भी नहीं। (ओमेगा और आयोटा भय से उछल पड़ते हैं।)
ओमेगा और आयोटा : श ………! (वे पुनः ध्यान से सुनते हैं।)
थिंक-टैंक : अच्छा? अच्छा? मुझे बताओ। तुम क्या सुन रहे हो ?
ओमेगा :श्रीमान जी, कुछ भी नहीं। शायद हम लोग सही आकृति पर नहीं हैं।
आयोटा : श्रीमान जी, कुछ भी नहीं। शायद पृथ्वीवासियों के कान हमारी अपेक्षा अधिक श्रवण शक्ति वाले हैं।
ऊप : मुझे कुछ भी सुनाई नहीं दे रहा है। हो सकता है ये सैंडविच आवाज बोलते ही न हों।
थिंक-टैंक : क्या? क्या कोई सझाव देता है कि शक्तिशाली थिंक-टैंक ने कोई ग
ओमेगा : ओह, नहीं श्रीमान जी, नहीं श्रीमान जी। हम लोग सुनना जारी रखेंगे।
नूडल : श्रीमान जी, मेहरबानी करके मुझे क्षमा करें, लेकिन मेरे दिमाग में एक अस्पष्ट सूचना चक्कर काट रही है।
थिंक-टैंक : ठीक है, उसे बाहर निकाल दो। नूडल और मैं इसे आपको स्पष्ट करेंगे।
नूडल : मुझे याद आ रहा है कि पृथ्वीवासी सैंडविचों को ध्यान से नहीं सुनते थे। वे उन्हें खोलते थे और देखते थे।
थिंक-टैंक : हाँ, यह बिल्कुल ठीक बात है। कैप्टन ओमेगा, मैं आपके लिए इसकी व्याख्या करूँगा। वे सैंडविच श्रवण संचार के लिए नहीं हैं, वे तो दृश्य संचार के लिए हैं। अब कैप्टन ओमेगा, उस बड़े, रंगीन सैंडविच को वहाँ ले जाओ। मुझे यह महत्त्वपूर्ण लगता है। मुझे बताइए आपने क्या देखा।
(ओमेगा Mother Goose पुस्तक की एक भारी प्रति को उठाती है, उसे ऐसे उठाती है ताकि श्रोतागण उसका शीर्षक देख सके। आयोटा इसके बाएँ कंधे के ऊपर से देखता है और ऊप उसके दाएँ कंधे के ऊपर से देखता है।)

[PAGE 70]: ओमेगा! ऐसा लगता है कि इसमें पृथ्वीवासियों के कुछ चित्र हैं।
आयोटा : ऐसा लगता है कि इसके कुछ कोड हों।
थिंक-टैंक : (अत्यन्त रुचि से) कोड? मैंने तुम्हें बताया था कि यह महत्त्वपूर्ण था। कोड का वर्णन करो।
ऊप : इसमें छोटी-छोटी तथा टेढ़ी-मेढ़ी रेखाएँ हैं-तस्वीरों के साथ-साथ हज़ारों ऐसी लाइनें हैं।
थिंक-टैंक : शायद पृथ्वीवासी इतने प्राचीन नहीं हैं जितने हम उन्हें सोचते हैं। हमें कोड का भेद खोलना होगा।
नूडल : श्रीमान जी, मुझे क्षमा कीजिए, लेकिन क्या रसायन विभाग ने हमारे अंतरिक्ष के लोगों को अपनी बुद्धि का विकास करने के लिए विटामिन नहीं दिए हैं।

थिंक-टैंक : रुको। शानदार बुद्धि से भरा एक विचार मेरे दिमाग में आया है। अंतरिक्ष लोगो, आप लोगों को अपनी बुद्धि को बढ़ाने के लिए हमारे रसायन विभाग ने विटामिन दिए हैं। उन्हें तुरन्त ले लो और फिर सैंडविचों को देखो। आप लोगों को कोड का रहस्य धीरे-धीरे समझ आ आएगा।

ओमेगा : श्रीमान जी, ऐसा ही किया जाएगा। विटामिनों को निकाल लो (कर्मी-दल अपनी बेल्टों पर लगे डिव्यों में से विटामिन बाहर निकालते हैं) विटामिन प्रस्तुत करते हैं। (वे लोग दृढ़तापूर्वक विटामिनों को उन लोगों के सामने पकड़े हुए हैं।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

[PAGE 71]: विटामिनों को निगल लो (वे विटामिनों को अपने मुँह में रखते हैं और उसके साथ ही निगल जाते हैं। वे अपनी आँखों को काफी अधिक खोलते हैं, उनके सिर हिलते हैं, और वे अपने हाथों को अपने माथे पर रखते हैं।)
थिंक-टैंक : शानदार। अब उस गुप्त कोड का अर्थ बताओ।
सभी : श्रीमान जी, ऐसा ही किया जाएगा (वे पुस्तक को ध्यान से देखते हुए उसके पन्ने पलटने लगे)
ओमेगा : (उत्साहित होकर) अहा!
आयोटा : (उत्साहित होकर), ओहो!
ऊप : (जोर से हँसते हुए) हा, हा, हा!
थिंक-टैंक : यह क्या कहता है? मुझे तुरन्त बताइए। ओमेगा, इसका अनुवाद करो।
ओमेगा : अच्छा, श्रीमान जी (वह अति गंभीरता के साथ पढ़ती है।)
श्रीमती मैरी, बिल्कुल विपरीत, आपका बगीचा कैसे बढ़ता है ? शंख के खोल और चाँदी की घंटियों
और सुन्दर नौकरानियों के साथ, जो सभी एक कतार में हैं।
ऊप : हा, हा, हा। जरा इसकी कल्पना करो, सुन्दर परियाँ एक बगीचे में उग रही हैं।

थिंक-टैंक : (सचेत होते हुए) रुको! यह समय चपलता का नहीं है। क्या आप इस खोज की गम्भीरता को नहीं समझते हो? पृथ्वीवासियों ने इस बात की खोज कर ली है कि कृषि और खनन को कैसे सम्मिलित किया जा सकता है। वे चाँदी जैसी दुर्लभ धातुओं की फसलें भी उगा सकते हैं और शंख खोल उगा सकते हैं। वे लोग अति विस्फोटक पदार्थ भी उगा सकते हैं नूडल हमारे युद्धपोत से संपर्क करो।

नूडल : श्रीमान जी, वे पृथ्वी पर जाने और उसे अपने अधिकार में कर लेने के लिए तैयार हैं।
थिंक-टैंक : उनसे रुकने के लिए कह दो। उन्हें बता दो कि हमारे पास पृथ्वी के बारे में नई सूचना आ गई है। आयोटा, इसका अनुवाद करो।
आयोटा : अच्छा श्रीमान जी (वह अति गंभीरता के साथ पढ़ती है।) हे डिडल डिडल! बिल्ली और फिडल (वायलिन) गाय उछलकर चन्द्रमा पर चढ़ गई कुत्ते ऐसा खेल देखकर हँस पड़े
और थाली चम्मच के साथ भाग गई।
ऊप : (हँसते हुए) थाली चम्मच के साथ भाग गई।

[PAGE 72]: थिंक-टैंक : हँसना बंद करो। बंद करो। यह और अधिक सचेत करने वाली सूचना है। पृथ्वीवासी सभ्यता के उच्च बिन्दु पर पहुँच गए हैं। क्या आपने नहीं सुना ? उन्होंने अपने पालतू जानवरों को संगीत संस्कृति का ज्ञान और अंतरिक्ष तकनीकों का ज्ञान दे दिया है। यहाँ तक कि उनके कुत्ते भी मजाक (हास्य) करना जाते हैं। क्यों इस समय वे लोग, हो सकता है कि अपनी लाखों गायों के साथ दूसरे ग्रहों पर आक्रमण कर रहे हों। आक्रमणकारी यान को सूचित कर दो। आज कोई भी आक्रमण नहीं होगा, ऊप अगले गुप्त संदेश का भेद खोलो।

ऊप : ठीक है, श्रीमान जी (पढ़ते हुए) हम्प्टी डम्पटी दीवार पर बैठे थे हम्प्टी डम्पटी बहुत ऊँचाई से नीचे गिए गए राजा के सारे घोड़े और राजा के सारे आदमी दोबारा से हम्प्टी डम्प्टी को इक्ट्ठा नहीं कर सकते हैं। ओह, श्रीमानजी देखिए! यहाँ पर हम्प्टी इम्प्टी का चित्र है। क्यों श्रीमान जी, वह दिखाई देता है-(वह और बड़े आकार के हम्प्टी डम्प्टी के चित्र को थिंक-टैंक और दर्शकों की तरफ मोड़ता है।)

थिंक-टैंक : (चीखते हुए और अपना सिर पकड़ते हुए) यह मैं हूँ। यह मेरा महान् और शक्तिशाली गुब्बारे जैसे मस्तिष्क है। पृथ्वीवासियों ने मुझे देख लिया है और वे मेरा पीछा कर रहे हैं, “एक जोर का धमाका” इसका अर्थ है कि वे मंगल केंद्रीय नियंत्रण कक्ष (और मुझ पर) कब्जा करना चाहते हैं। यह मंगल ग्रह पर आक्रमण है। नूडल, मेरे लिए एक अंतरिक्ष कैप्सूल तैयार करो। मैं बिना देरी किए भाग निकलने की कोशिश करता हूँ। अंतरिक्ष के लोगो, तुम्हें तुरन्त पृथ्वी को छोड़ देना चाहिए, लेकिन अपनी यात्रा के सारे निशानों को मिटाना यकीनी कर दो। पृथ्वीवासियों को कभी भी पता नहीं चलना चाहिए कि मैं उन्हें जानता हूँ (ओमेगा, आयोटा और ऊप पुस्तकों को अलमारियों में वापिस रखते हुए इधर-उधर भागते हैं।)

नूडल : श्रीमान जी, हम लोग कहाँ जाएँगे?
थिंक-टैंक : मंगल ग्रह से सौ मिलियन (दस करोड़) मील दूर। आक्रमणकारी युद्धपोत को आदेश दो कि पूरे मंगल ग्रह को खाली कर दिया जाए। हम लोग सौ मिलियन दूर एल्फा-सेन्बूरी में जा रहे हैं। (ओमेगा, आयोटा और ऊप दाई ओर तेजी से भागते हैं। जैसे ही नूडल बाहर जाने में थिंक-टैंक की मदद करता है परदा गिर जाता है और प्रकाश ठीक नीचे इतिहासकार के ऊपर पड़ता है।)

[PAGE 73] : इतिहासकार (हँसते (मुस्कुराते) हुए) और किस प्रकार से नर्सरी कविताओं की एक पुरानी धूलभरी किताब ने संसार को मंगल ग्रह के आक्रमण से बचाया। जैसा कि आप सभी जानते हो, पच्चीसवीं शताब्दी में, जब यह सब कुछ घटित हुआ उसके पाँच सौ साल बाद, हम पृथ्वीवासियों का मंगलवासियों से पुनः सम्पर्क हो गया, और हम मंगलवासियों के मित्र भी बन गए। उस समय तक महान् और शक्तिशाली थिंक-टैंक का स्थान एक अति चतुर मंगलवासी ने ले लिया था वह था बुद्धिमान और अद्भुत नूडल। ओह, हौं हमने मंगलवासियों को सैंडविचों और पुस्तकों में अंतर करना सिखाया हमने उन्हें पढ़ना भी सिखाया और उनके राजधानी शहर मोर्मोपोलिस में एक आदर्श पुस्तकालय ही स्थापित किया। लेकिन अब आशा की जा सकती है कि एक ऐसी भी पुस्तक है जिसे मंगलवासी कभी नहीं मंगवा सकते हैं। आपने इसका अनुमान लगा लिया है मदर गूज! (वह झुकती है और दाईं ओर से बाहर चली जाती है।) पर्दा गिर जाता है।

The Book that Saved the Earth Word – Misndgs in Hindi

[PAGE 63]: Century = a period of 100 years (शताब्दी); museum = a place where ancient things are kept (संग्रहालय); planet = an astronomical body (ग्रह); projector = a device that projects (प्रोजैक्टर); easel = wooden stands to supports a picture (तस्वीर आदि बनाने का स्टैंड); bows = kneels (झुकना); curiosities = things of curiosity (अजीब वस्तुएँ); era = period (युग); anteaters = an animal (एक जानवर); zulus = An African Tribe (एक अफ्रीकी कबीला); illustrated = explained with pictures (तस्वीरों से समझाना); decorated = made beautiful (सजाना)।

[PAGE 64]: Martian = belonging to Mars (मंगल ग्रह के लोग); invasion = attack (आक्रमण); encyclopedia = a book of knowledge (विश्वकोश); tome = a book of knowledge (ग्रंथ); missiles = a weapon (प्रक्षेपास्त्र); historiscope = a device showing history (इतिहास दिखाने का यंत्र); folded= joined hands (हाथ जोड़ना); elaborate=detailed (विस्तृत); mighty = powerful (शक्तिशाली); salutation = greeting (अभिवादन); communication = talking contact (संचार सम्पक); manned = controlled by man (व्यक्ति द्वारा नियंत्रित); probe = search (खोजना); ridiculous = ludicrous (हास्यास्पद); generous = kind-hearted (दयालु); insignificant = not important (तुच्छ)।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

[PAGE 65]: Fantastically = in a strange way (अजीब ढंग से); intellectually = with intellect (बुद्धिमत्ता से); pause = stop (रुकना); smacking = slapping (थप्पड़ मारना); ugly = unattractive (भद्दा); earthling = people of the earth (धरती के लोग); primitive = ancient (प्राचीन); riffling = turning over a book’s pages (पुस्तक के पन्ने पलटना); crew = operating squad (कर्मी दल); enormous = very big (बहुत बड़ा); goggles = sun glasses (घूप का चश्मा); structure = construction (ढाँचा)।

[PAGE 66]: Microphone = sound amplifying device (माइक्रोफोन); location = situation (अवस्था/स्थान); shelter = protection (आश्रय) indicates = shows (दिखाना); figure it out = calculate (हिसाब लगाना); storage barn = store (स्टोर); clue = hint (निर्देश); galaxies = milky way (आकाशगंगा); haberdashery = a cloth shop (कपड़े की दुकान)।

[PAGE 67]: Elementary = basic (आधारभूत); undoubtedly = without doubt (निस्सन्देह); crude = rough (अधिक अच्छा नहीं); refreshment stand = restaurant/eatery (चाय-पानी आदि का स्टैंड/दुकान); staple = standard (मुख्य); squints = look obliquely (भैंगापन); gulping = swallowing (निगल जाना)।
[PAGE 68] : Dubiously = doubtfully (संदेहात्मक ढंग से); glory = grandeur (शान); pantomimes = silent acting (मूक अभिनय); chewing= grinding with teeth (चबाना); terrible = horrible (भयानक); pound = pat forcefully (जोर से थपथपाना); delicious = tasty (स्वादिष्ट); trifling bit = a little (बहुत कम); surveyor = observer (पर्यावलोकन); haughtily = proudly (गर्व से)।

[PAGE 69]: Marbles = bits of stone (पत्थर के टुकड़े); intently = keenly (तीव्रता से); whispering = speaking low (कानाफूसी करना); fright = fear (भय); frequency = radio wave (रेडियो तरंग); twirling = moving (हिलना); clarify = make clear (स्पष्ट करना); peers = looks (देखना)।
[PAGE 70]: Squiggles = writes illegibly (अस्पष्ट लिखना); magnificent = beautiful (सुन्दर); brilliance = brightness (चमक); unfold = open (खुला); stiffly = tightly (जोर से/कसकर)।.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 10 The Book that Saved the Earth

[PAGE 71]: Pop = put into (डालना); gulp = swallow something fast (तेज़ी से निगलना); excellent = very fine (उत्तम); decipher = decode (मतलब समझना); frown = show anger (क्रोध करना); brightly = cheerfully (प्रसन्न होना); transcribe = translate (अनुवाद करना); contrary = on the other hand (इसके विपरीत); cockle = shell (घोंधा); row = line (पंक्ति); alarmed = fearful (भयभीत); levity = non-seriousness (चपलता); rare = very uncommon (दुर्लभ); explosives = things that explode (विस्फोटक); gravely = seriously (गंभीरता से); fiddle = violin (वायलिन)।

[PAGE 72]: Domesticated = belonging to family life (परिवार/घर सम्बन्धी); launching = starting (आरम्भ करना); interplanetary = between the planets (ग्रहों के बीच); notify = announce (घोषणा करना); screaming = crying (चिल्लाना); capsule = spaceship (अंतरिक्षयान); traces = signs (चिह्न); evacuate = clear off (खाली करना)।

[PAGE 73]: Chuckling = laughing lightly (हल्के-से हँसना); resumed = started again (फिर-से आरंभ करना)।

JAC Class 10 English Solutions

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

JAC Board Class 10th English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

JAC Class 10th English Bholi Textbook Questions and Answers

Read and Find Out (Pages 54, 55 & 58)

Question 1.
Why is Bholi’s father worried about her?
(भोली का पिता उसके बारे में चिंतित क्यों है ?)
Answer:
Bholi is not like other children. Her face is full of deep pock-marks. Moreover, she is not intelligent like others. That is why, her father is worried about her.
(भोली दूसरे बच्चों की तरह नहीं है। उसके चेहरे पर काले धब्बों के गहरे निशान बने हुए हैं। साथ ही, वह दूसरे बच्चों की तरह बुद्धिमान भी नहीं है। यही कारण है, कि उसका पिता उसके बारे में चिंतित है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 2.
For what unusual reason is Bholi sent to school?
(भोली को किस विशेष कारण से स्कूल भेजा गया ?)
Answer:
Bholi is not sent to school because her father wants to get her educated. She is sent to school because her father cannot say ‘no’ to the Tehsildar. So, to get rid of her, the parents decide to send her to school.
(भोली को इसलिए स्कूल नहीं भेजा जाता है कि उसका पिता चाहता है कि वह शिक्षित हो जाए। उसे इसलिए स्कूल भेजा जाता है क्योंकि उसका पिता तहसीलदार साहब को ‘न’ नहीं कह सकता था। इसलिए उससे छुटकारा पाने के लिए माता-पिता उसे स्कूल भेजने का निर्णय लेते हैं।)

Question 3.
Does Bholi enjoy her first day at school?
(क्या भोली स्कूल में अपने पहले दिन का आनंद उठाती है?)
Answer:
At first she is frightened, but after sometime she seems to be enjoying the pictures on the wall. She is happy to see so many girls of her age in the class. The real thing that makes her happy on this very day is the loving and soothing treatment of the teacher. Thus she enjoys her first day at school.

(पहले तो वह भयभीत हो जाती है, लेकिन कुछ समय के पश्चात् वह दीवार पर लगे चित्रों का आनंद उठाती प्रतीत होती है। वह कक्षा में अपनी आयु की इतनी सारी लड़कियों को देखकर प्रसन्न हो जाती है। उस दिन जिस चीज ने उसे सचमुच प्रसन्न किया वह अध्यापिका का स्नेहमयी और सहलाने वाला व्यवहार है। इस प्रकार वह स्कूल में अपने पहले दिन का आनंद उठाती है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 4.
Does she find her teacher different from the people at home?
(क्या वह अपनी अध्यापिका को घर के लोगों से भिन्न पाती है ?)
Answer:
Yes, she finds her teacher different from her family members. She finds that the teacher is kind. Her voice is soft and soothing. The teacher called her by her name softly and encouraged her.
(हाँ, वह अपनी अध्यापिका को अपने घर के लोगों से भिन्न पाती है। वह पाती है कि उसकी अध्यापिका दयालु है। उसकी आवाज मधुर और सहलाने वाली है। उसकी अध्यापिका उसे (प्यार के साथ) नाम से पुकारती है और उसका हौसला बढ़ाती है।)

Question 5.
Why do Bholi’s parents accept Bishamber’s marriage proposal?
(भोली के माता-पिता विशम्बर के शादी के प्रस्ताव को क्यों स्वीकार कर लेते हैं ?)
Answer:
Bholi is not beautiful. She has pock-marks on her face. Her father fears that no one will marry her. But when he receives a marriage proposal from Bishamber, he becomes happy. He accepts the proposal.
(भोली सुन्दर नहीं है। उसके चेहरे पर चेचक के दाग हैं। उसके पिता को भय है कि कोई भी उसके साथ शादी नहीं करेगा। लेकिन जब उसे बिशम्बर से शादी का प्रस्ताव मिलता है, तो वह प्रसन्न हो जाता है। वह प्रस्ताव को स्वीकार कर लेता है।)

Question 6.
Why does the marriage not take place?
(शादी क्यों नहीं हो पाती है?)
Answer:
At the time of Bholi’s marriage the bridegroom demands a dowry of five thousand rupees. The bride’s father is prepared to give him the money. But Bholi refuses to marry a person who demands dowry. So the marriage does not take place.
(भोली की शादी के अवसर पर दूल्हा पाँच हजार रुपए दहेज की माँग करता है। उसका पिता दूल्हे को यह रकम देने के लिए तैयार है। लेकिन भोली एक ऐसे आदमी से शादी करने से मना कर देती है जो दहेज की माँग करता है। इसलिए शादी नहीं हो पाती है।)

Think about it (Page 62)

Question 1.
Bholi had many apprehensions about going to school. What made her feel that she was going to a better place than her home?
(स्कूल जाने के बारे में भोली की कई आशंकाएँ थीं ? उसे ऐसा क्यों महसूस हुआ कि वह घर से अधिक अच्छे स्थान पर जा रही थी ?)
Answer:
Bholi was a neglected child. But that day she was given a clean dress. She was bathed. Even oil was rubbed into her dry and matted hair. This made her feel that she was going to a better place than her home.
(भोली एक उपेक्षित बच्ची थी। लेकिन उस दिन उसे एक स्वच्छ पोशाक दी गई। उसे स्नान करवाया गया। यहां तक कि उसके सूखे और उलझे हुए बालों में तेल भी लगाया गया। इससे उसे लगा कि उसे घर से बेहतर किसी अन्य स्थान पर ले जाया जा रहा है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 2.
How did Bholi’s teacher play an important role in changing the course of her life?
(भोली की जिंदगी को बदलने में उसकी अध्यापिका ने कैसे महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई ?)
Answer:
Bholi’s teacher showed great love and affection to Bholi. She told her not to be afraid. She said that if she came to school daily, no one would laugh at her. She should study hard. Then other students would listen to her with respect. This created a confidence in her. Thus the loving care and encourage given to her by her teacher changed the course of her life. It made her a complete woman. She stood on her own legs. At the time of her marriage she showed rare courage and refused to marry the bridegroom who wanted dowry.
(भोली की अध्यापिका ने भोली के प्रति अत्यधिक प्यार और स्नेह दिखाया। उसने उससे कहा कि वह डरे नहीं। उसने कहा कि यदि वह हर रोज स्कूल आई तो कोई भी उस पर नहीं हँसेगा। उसे अधिक पढ़ना चाहिए। तब दूसरे विद्यार्थी उसकी बात को सम्मानपूर्वक सुनेंगे। इससे उसमें विश्वास पैदा हुआ। इस प्रकार से उसकी अध्यापिका द्वारा प्यार भरी देखभाल और हौंसले ने उसकी जिंदगी को बदल दिया। उसने उसे एक सम्पूर्ण महिला बना दिया। वह अपने पाँवों पर खड़ी हो गई। अपनी शादी के अवसर पर उसने दुर्लभ साहस दिखाया और दहेज की माँग करने वाले दूल्हे से शादी करने से मना कर दिया।)

Question 3.
Why did Bholi at first agree to an unequal match? Why did she later reject the marriage? What does this tell us about her?
(पहले भोली एक अनमेल शादी के लिए क्यों मान गई ? बाद में उसने शादी से इंकार क्यों कर दिया ? इससे हमें उसके बारे में क्या पता चलता है ?)
Answer:
Bholi knew that she was a burden on her parents. They were worried about her as no one was ready to marry an ugly-looking girl. Moreover, the match was fixed without her consent. But when the bridegroom came to her home with the marriage procession, she refused to marry him. It was because she found him greedy. He demanded a dowry of five thousand rupees. Although her father was prepared to give the money, yet she refused to marry him. She said that she would not marry a greedy man.

(भोली जानती थी कि वह अपने माता-पिता के ऊपर एक बोझ है। वे उसके बारे में चिंतित रहते थे क्योंकि बदसूरत दिखने वाली लड़की से कोई भी शादी करने को तैयार नहीं था। साथ ही, यह रिश्ता उसकी अनुमति के बिना ही तय कर दिया गया था। लेकिन जब दूल्हा बारात लेकर उसके घर आ गया, तो उसने उससे शादी करने से इंकार कर दिया। ऐसा इसलिए था क्योंकि उसने उसे लालची पाया था। उसने पाँच हजार रुपए का दहेज माँगा था। यद्यपि उसका पिता दहेज देने के लिए तैयार था, परन्तु फिर भी उसने उससे शादी करने से मना कर दिया। उसने कहा कि वह एक लालची आदमी से शादी नहीं करेगी।)

Question 4.
Bholi’s real name is Sulekha. We are told this right at the beginning. But only in the last but one paragraph of the story is Bholi called Sulekha again. Why do you think she is called Sulekha at that point in the story?
(भोली का असली नाम सुलेखा है। इसके बारे में हमें पाठ के शुरू में बताया गया है। परन्तु कहानी के आखिर में भोली को फिर से सुलेखा कहा गया है। आपके विचार में कहानी के उस मोड़ पर उसे फिर से सुलेखा क्यों कहा गया है ?)
Answer:
‘Bholi’ means a simple minded and witless girl. Sulekha was not intelligent. Thats why she was called Bholi. But she is called Sulekha towards the end of the story because she is no more witless. But she is a confident and a bold girl. That is why she is called by her real name.
(‘भोली’ का अर्थ है एक सीधी-सादी और तर्कहीन लड़की। सुलेखा बुद्धिमान नहीं थी। इसलिए उसे भोली कहा गया। लेकिन कहानी के अंत में उसे एक बार फिर से सुलेखा कहा गया है, क्योंकि अब वह मूर्ख नहीं है। बल्कि वह एक विश्वास वाली और बहादुर लड़की है। यही कारण है कि उसे उसके असली नाम से पुकारा गया है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 5.
Bholi’s story must have moved you. Do you think girl children are not treated at par with boys? You are aware that the government has introduced a scheme to save the girl child as the sex ratio is declining. The scheme is called Beti Bachao Beti Padhao, Save the Girl Child. Read about the scheme and design a poster in groups of four and display on the school notice board.
(भोली की कहानी ने आपको हिला दिया होगा। क्या आपको लगता है कि लड़कियों का लड़कों के साथ बराबरी का व्यवहार नहीं है? आप जानते हैं कि सरकार ने लड़कियों को बचाने के लिए एक योजना शुरू की है क्योंकि लिंगानुपात घट रहा है। इस योजना को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, सेव द गर्ल चाइल्ड कहा जाता है। योजना के बारे में पढ़े और चार के समूहों में एक पोस्टर डिज़ाइन करें और स्कूल नोटिस बोर्ड पर प्रदर्शित करें।)
Answer:
‘Yes, I think that girl children are not treated at par with boys. In some places, there is lots of discrimination between girls and boys. To overcome this problem, the government has introduced many schemes to save the girl child. There is one scheme which is most popular known ‘BETI BACHAO BETI PADHAO”.
(हाँ, मुझे लगता है कि लड़कियों का लड़कों के साथ बराबरी का व्यवहार नहीं है। कुछ स्थानों पर, लड़कियों और लड़कों के बीच बहुत भेदभाव होता है। इस समस्या को दूर करने के लिए, सरकार ने लड़कियों को बचाने के लिए कई योजनाएँ शुरू की हैं। एक योजना है जो सबसे लोकप्रिय है ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ ।)
Hint: Poster of ‘Beti Bachao Beti Padhao’
JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi 1

Talk about it (Page 62)

Question 1.
Bholi’s teacher helped her overcome social barriers by encouraging and motivating her. How do you think you can contribute towards changing the social attitudes illustrated in this story?
Answer:
Some of the social attitudes illustrated in the story have already been changed. For example, Bholi’s mother says, “If girls go to school, who will marry them?” This does not happen in these days. Now it is difficult to find matches for illiterate girls. Education is compulsory for changing the social attitudes. can be eradicated only through education. Other bad social attitudes can also be changed by educating people about them.

Question 2.
Should girls be aware of their rights, and assert them? Should girls and boys have the same rights, duties and privileges? What are some of the ways in which soc When we speak of human rights’, do we differentiate between girls’ rights and boys’ rights?
Answer:
Yes, girls should be aware of their rights and should assert them. The girls and boys should have the same rights. There should be no discrimination between sons and daughters, Girls should be provided the same education and given the same opportunities in life as the boys. When we speak of human rights, we should not differentiate between the right of boys and the rights of girls.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 3.
Do you think the characters in the story were speaking to each other in English? If not, in aking? (You can get clues from the names of the persons and the nonEnglish words used in the story.)
Answer:
Characters in the story were not speaking to each other in English. The story is set in a village. English is not spoken in villages. Even in cities, English is not the language of daily conversation. It is spoken only in offices, etc. The characters in this story speak in Hindi. This is clear from the names of people and other Hindi words, for example, Numberdar, sahib, Tehsildar, pitaji, etc.

JAC Class 10th English Bholi Important Questions and Answers

Very Short Answer Type Questions

Question 1.
What was the real name of Bholi?
Answer:
The real name of Bholi was Sulekha.

Question 2.
How many Children did Ramlal have?
Answer:
Ramlal had seven children-four daughters and three sons.

Question 3.
Why was Ramlal worried about Bholi?
Answer:
Ramlal was worried about Bholi because she was neither intelligent nor beautiful.

Question 4.
Why did the Tehsildar come to Ramlal’s village?
Answer:
The Tehsildar came to Ramlal’s village to perform the opening ceremony of the Primary School for girls.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 5.
Who came to marry Bholi?
Answer:
Bishamber, a rich grocer from the neighbouring village, came to marry Bholi.

Question 6.
Who is the author of the lesson ‘Bholi’?
Answer:
K.A. Abbas.

Question 7.
What was the name of Ramlal’s eldest daughter?
Answer:
Her name was Radha.

Question 8.
What post did Ramlal have in the village?
Answer:
He was the village Numberdar.

Question 9.
What did the Tehsildar ask Ramlal?
Answer:
The Tehsildar asked Ramlal to send his daughters to school.

Question 10.
Who was Lakshmi?
Answer:
Lakshmi was the name of Bholi’s cow.

Question 11.
What did Bishamber demand as dowry?
Answer:
Bishamber demanded five thousand rupees as dowry.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 12.
Who came to perform the opening ceremony of the primary school for girls in Ramlal’s village?
Answer:
The Tehsildar came to perform this opening ceremony.

Question 13.
Who is the real artist in the story “Bholi’?
Answer:
Bholi’s teacher is the real artist in the story “Bholi’.

Question 14.
Of all his children who was Ramlal worried about?
Answer:
Of all his children Ramlal was worried about only Bholi

Question 15.
What is the meaning of Bholi?
Answer:
The meaning of Bholi is the simpleton or foolish.

Short Answer Type Questions

Question 1.
Why was Sulekha nicknamed Bholl?
(सुलेखा का उपनाम भोली क्यों पड़ गया?)
Answer:W
hen Sulekha was ten months old, she fell down from the cot on her head. Some part of her brain was damaged. That was why she remained a backward child and came to be called as Bholi, the simpleton.
(जब सुलेखा दस मास की थी, वह सिर के भार चारपाई के ऊपर से नीचे गिर गई थी। उसके दिमाग का कोई भाग क्षतिग्रस्त हो गया था। इसी कारण से वह पिछड़ी हुई रही और सभी उसे भोली, सादी कहकर पुकारने लगे।)

Question 2.
Why did Sulekha start stammering?
(सुलेखा ने हकलाना क्यों आरंभ कर दिया?)
Answer:
Sulekha could not speak till she was five. When at last she learnt to speak she started stammering because other children often made fun of her and mimicked her.
(सुलेखा पाँच वर्ष की आयु तक बोल नहीं सकती थी। आखिर जब उसने बोलना सीखा तो उसने हकलाना शुरू कर दिया क्योंकि अन्य सभी बच्चे उसका मजाक उड़ाते थे और उसकी नकल उतारते थे।) ।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 3.
Why did the Tehsildar come to Ramlal’s village? What did he ask Ramlal to do?
(तहसीलदार रामलाल के गांव में क्यों आया था ? उसने रामलाल को क्या करने के लिए कहा?)
Answer:
The Tehsildar came to Ramlal’s village to perform the opening ceremony of a primary school for girls. Ramlal was the Numberdar of the village. So, the Tehsildar asked him to set an example before the village by sending his daughters to school.
(तहसीलदार रामलाल के गांव में लड़कियों के लिए प्राथमिक विद्यालय के उद्घाटन के अवसर पर आया था। रामलाल गांव का नंबरदार था। इसलिए, तहसीलदार ने उससे कहा कि वह अपनी लड़कियों को स्कूल भेजकर गांव के सामने एक उदाहरण प्रस्तुत करे।)

Question 4.
Why was Bholi reluctant to go to school with her father?
(भोली अपने पिता के साथ स्कूल जाने के लिए इच्छुक क्यों थी?)
Answer:
Bholi did not know what a school was like. She thought that her father was turning her out of his house like their old cow Lakshmi. She shouted in terror and pulled her hand away from her father’s grip.
(भोली नहीं जानती थी कि स्कूल कैसा होता है। उसने सोचा कि उसका पिता उसे उनकी बूढ़ी गाय लक्ष्मी की तरह से बाहर निकाल रहा है। वह डर के मारे चिल्लाई और उसने अपने पिता की पकड़ से अपने हाथ को छुड़ा लिया।)

Question 5.
What made her feel that she was going to a better place than her home?
(उसे ऐसा क्यों लगा कि वह घर से बेहतर किसी स्थान पर जा रही है?)
Answer:
Bholi was a neglected child. But that day she was given a clean dress. She was bathed. Even oil was rubbed into her dry and matted hair. This made her feel that she was going to a better place than her home.
(भोली एक उपेक्षित बच्ची थी। लेकिन उस दिन उसे एक स्वच्छ पोशाक दी गई। उसे स्नान करवाया गया। यहां तक कि उसके सूखे और उलझे हुए बालों में तेल भी लगाया गया। इससे उसे लगा कि उसे घर से बेहतर किसी अन्य स्थान पर ले जाया जा रहा है।)

Question 6.
Why do Bholi’s parents accept Bishamber’s marriage proposal? Give three reasons.
(विशंबर के शादी के प्रस्ताव को भोली के माता-पिता ने क्यों स्वीकार कर लेते हैं? तीन कारण दीजिए।)
Answer:
Bholi’s parents agreed to marry their daughter Bholi to Bishamber because:
(i) Bishamber was a rich grocer and he did not demand any dowry.
(ii) He was from another village and did not know about her pock-marks and lack of sense.
(iii) If they did not accept the proposal Bholi was likely to remain unmarried all her life.

(भोली के माता-पिता अपनी बेटी भोली की शादी बिशंबर से करने को तैयार हो गए क्योंकि
(i) विशंबर एक अमीर आदमी था और उसने दहेज की मांग नहीं की थी।
(ii) वह दूसरे गांव का था और वह भोली के चेहरे पर चेचक के दागों और कम बुद्धि के बारे में नहीं जानता था।
(iii) यदि वे इस प्रस्ताव को स्वीकार नहीं करते तो भोली सारी जिंदगी कुंवारी रह सकती थी।)

Question 7.
How does she become a masterpiece?
(वह कलाकृति कैसे बनती है ?)
Answer:
Bholi was a witless fool. She stammered. She was totally neglected. But her teacher couraged and inspired her. She became a confident and vocal woman. She refused to marry a greedy man. She resolved to serve her parents in old age. Thus, she becomes a masterpiece.
(भोली एक पागल मूर्ख थी। वह हकलाकर बोलती थी। वह पूर्णतया उपेक्षित थी। लेकिन उसकी अध्यापिका ने उसकी हिम्मत बढ़ाई और उसे प्रोत्साहित किया। वह विश्वास से भरपूर और साफ बोलने वाली महिला बन गई। उसने एक लालची आदमी के साथ शादी करने से मना कर दिया। उसने बुढ़ापे में अपने माता-पिता की सेवा करने का निश्चय किया। इस प्रकार, वह एक कलाकृति बन गई।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 8.
Give detail about Ramlal’s children.
(रामलाल के बच्चों का वर्णन कीजिए।)
Answer:
Ramlal had seven children-four daughters and three sons. All of his children except Bholi were healthy. His sons studied in schools and colleges. Bholi was his youngest daughter. She was a backward child.
(रामलाल के सात बच्चे थे-चार लड़कियां और तीन लड़के। भोली के अलावा उसके सभी बच्चे स्वस्थ थे। उसके बेटों ने स्कूलों और कॉलेजों में अध्ययन किया था। भोली उसकी सबसे छोटी बेटी थी। वह एक पिछड़ी हुई बच्ची थी।)

Essay Type Questions

Question 1.
On the basis of your understanding of the story, sketch the character of Bholi and describe the role of the teacher played in her life.
(कहानी को समझने के आधार पर, भोली का चरित्र-चित्रण कीजिए और बताइए कि उसकी अध्यापिका ने उसके जीवन में क्या योगदान दिया?)
Or
What changes do we find in the behaviour of Bholi in the end of the story ? Explain.
(कहानी के अंत में हम भोली के व्यवहार में क्या बदलाव देख सकते हैं? वर्णन करें।)
Answer:
Bholi was Ramlal’s youngest daughter. When she was ten months old she fell down from the cot and a part of her brain was damaged. So she remained a backward child. Her face was permanently disfigured by pock-marks when she was two years old. She began to speak at the age of five years but she stammered. She was a neglected child. None cared for her. They called her a witless fool. Other children mimicked and laughed at her. But when she was sent to school her life totally changed. Her teacher was kind and sympathetic. She encouraged and inspired her to rise higher in life. The teacher gave her confidence. She made her speak without a stammer. She was learned. She refused to marry a mean and greedy man. She decided to serve her old parents and her village by teaching other girls.

(भोली रामलाल की सबसे छोटी बेटी थी। जब वह दस महीने की थी तो वह चारपाई से नीचे गिर गई थी और उसके दिमाग का एक भाग क्षतिग्रस्त हो गया था। इसलिए वह एक पिछड़ी हुई बच्ची रही। जब वह दो वर्ष की थी तो उसका चेहरा चेचक के दागों के निशानों के कारण स्थायी रूप से कुरूप हो गया था। उसने पांच वर्ष की आयु में बोलना शुरू कर किया लेकिन वह हकलाकर बोलती थी। वह एक उपेक्षित बच्ची थी। कोई उसकी फिक्र नहीं करता था। वे उसे पागल मूर्ख कहते थे। दूसरे बच्चे उसकी नकल उतारते थे और उस पर हंसते थे। लेकिन जब उसे स्कूल भेजा गया तो उसका जीवन पूर्णरूप से बदल गया। उसकी अध्यापिका दयालु और करुणाजनक थी। उसने उसकी हिम्मत बढ़ाई और जीवन में ऊंचा उठने की प्रेरणा दी। अध्यापिका ने उसे विश्वास दिया। उसने उसे बिना हकलाहट के बोलना सिखाया। वह शिक्षित हो गई थी। उसने एक कमीने और लालची आदमी के साथ शादी करने से मना कर दिया। उसने अपने माता-पिता की सेवा और गांव की लड़कियों को पढ़ाकर गांव की सेवा का निर्णय किया।)

Question 2.
What idea do you form of Ramlal’s personality?
(रामलाल के व्यक्तित्व के बारे में आप क्या सोचते हैं ?)
Or
Give a brief sketch of Ramlal’s character.
(रामलाल के चरित्र का संक्षिप्त वर्णन कीजिए।)
Answer:
Ramlal was the Numberdar of his village. He had a respectable position in the village. He had four daughters and three sons. He was a loving father. He sent his sons to the city for education. He searched good bridegrooms for his three daughters. He was worried about his youngest daughter Bholi. He took her to school. He asked his wife to bathe Bholi and give her clean clothes. He did not want to marry Bholi with Bishamber who was almost of his age. He wanted to consult Bholi in this matter. But it seems that he was in wife’s influence. Even in the end he parted with five thousand rupees for the sake of Bholi’s happiness. Thus he was a good father.

(रामलाल अपने गांव का नंबरदार था। गांव में उसकी स्थिति बहुत अच्छी थी। उसकी चार बेटियां और तीन बेटे थे। वह प्यार करने वाला पिता था। उसने अपने लड़कों को पढ़ने के लिए शहर भेजा। उसने अपनी तीन बेटियों के लिए अच्छे दूल्हों की तलाश की। वह अपनी सबसे छोटी बेटी भोली के बारे में चिंतित था। वह उसे स्कूल ले गया। उसने अपनी पत्नी से उसे नहलाने तथा उसे साफ पोशाक देने के लिए कहा। वह अपनी बेटी भोली की शादी बिशंबर से नहीं करना चाहता था जो कि लगभग उसकी आयु का था। वह इस मामले में भोली से परामर्श करना चाहता था। लेकिन ऐसा लगता है कि वह अपनी पत्नी के प्रभाव में था। यहां तक कि उसने भोली की प्रसन्नता के लिए पांच हजार रुपए भी दे दिए। अतः वह एक अच्छा पिता था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 3.
Give a brief account of Ramlal’s children.
(रामलाल के बच्चों के बारे में संक्षेप में बताइए।)
Answer:
Ramlal had seven children-three sons and four daughters. The names of his daughters were Radha, Mangla, Champa and Sulekha. Sulekha, who was known as Bholi, was the youngest of the seven of Ramlal’s children. Ramlal was a prosperous farmer. All his children except Bholi were quite healthy and intelligent. His sons were sent to city for education. Later they were sent to college. His three daughters Radha, Mangla and Champa were very beautiful. Ramlal had no problem regarding their marriages but he was much worried about Bholi. Bholi was a backward child. She had pock-marks on her face. She spoke with a stammer. She was a neglected child. None cared for her.

(रामलाल के सात बच्चे थे तीन लड़के और चार लड़कियां। उसकी बेटियों के नाम थे-राधा, मंगला, चंपा और सुलेखा। सुलेखा जिसे भोली के नाम से जाना जाता था, रामलाल की सबसे छोटी बच्ची थी। रामलाल एक संपन्न किसान था। भोली के सिवाए उसके सभी बच्चे बिल्कुल स्वस्थ और बुद्धिमान थे। उसने लड़कों को पढ़ने के लिए शहर भेजा गया। बाद में उन्हें कॉलेज में भी भेजा गया। उसकी तीन बेटियां राधा, मंगला और चंपा बहुत सुंदर थीं। रामलाल को उनकी शादियों में कोई कठिनाई महसूस नहीं हुई, लेकिन वह भोली के बारे में बहुत चिंतित रहता था। भोली एक मंदबुद्धि बच्ची थी। उसके चेहरे पर चेचक के निशान थे। वह हकलाकर बोलती थी। वह एक उपेक्षित बच्ची थी। किसी को भी उसकी चिंता नहीं थी।)

Question 4.
What kind of treatment is given to Bholi by her parents? Is it justified?
(भोली के माता-पिता के द्वारा उसके साथ कैसा व्यवहार किया जाता है? क्या यह न्यायोचित है?)
Answer:
Bholi was the youngest of the seven of Ramlal’s children. Her real name was Sulekha. When she was ten months old, she fell down from the cot on her head. Some part of her brain was damaged. So she remained a backward child. She had pock-marks on her face. She spoke with a stammer. The treatment of her parents towards her was very discouraging. They called her a witless fool. They did little care of her. They didn’t give her new clothes. None washed her clothes and cared for her bath their shoulders. They sent her to school only to take off this burden from their shoulders to that of the teacher’s.

(भोली रामलाल के सात बच्चों में सबसे छोटी थी। उसका असली नाम सुलेखा था। जब वह दस मास की थी तो वह सिर के बल चारपाई से नीचे गिर गई थी। उसके दिमाग का कोई भाग क्षतिग्रस्त हो गया था। इसलिए वह एक मंदबुद्धि बच्ची रही। उसके चेहरे पर चेचक के निशान थे। वह हकलाकर बोलती थी। उसके माता-पिता का उसके प्रति व्यवहार बहुत अधिक निरुत्साहित करने वाला था। वे उसे मूर्ख कहकर पुकारते थे। वे उसकी बिल्कुल भी परवाह नहीं करते थे। वे उसे नए वस्त्र नहीं देते थे। कोई
भी उसके कपड़े नहीं धोता था और न ही उसे स्नान करवाता था। वे उसे अपने कंधों पर एक भार समझते थे। उन्होंने उसको इसलिए स्कूल भेजा ताकि इस भार को अपने कंधों से उतारकर अध्यापिका के कंधों पर लाद दिया जाए।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 5.
What was new hope and new life for Bholi?
(भोली के लिए नई आशा और नया जीवन क्या था?)
Or
Describe Bholi’s experience on her first day at school.
(स्कूल में भोली के पहले दिन के अनुभव का वर्णन कीजिए।)
Answer:
One day Ramlal held Bholi’s hand and asked her to go to school. Bholi did not know what a school was like. She thought that her father was turning her out of his house like their old cow Lakshmi. She shouted in terror and pulled her hand away from her father’s grip. On the first day of school, she was frightened. But after some time she seemed to be enjoying the pictures on the wall. She was happy to see so many girls of her age in the class. The real thing that made her happy on this very day was the loving and soothing treatment of the teacher. The teacher spoke to her in a soft and soothing voice. No one had ever spoken to her gently. This touched her heart. The teacher told Bholi that if she came to school regularly she would be more learned than anyone else in the village. She would speak without a stammer and everyone would listen to her with respect. This was a new hope and new life for Bholi.

(एक दिन रामलाल ने भोली का हाथ पकड़कर उसे स्कूल चलने के लिए कहा। भोली को पता नहीं था कि स्कूल कैसा होता है। उसने सोचा कि उसका पिता उसे उनकी बूढ़ी गाय लक्ष्मी की भांति घर से बाहर निकाल रहा है। वह भय से चिल्लाई और अपने पिता की पकड़ से झटका मारकर अपना हाथ छुड़वा लिया। स्कूल में पहले दिन वह भयभीत थी। लेकिन थोड़ी देर पश्चात वह दीवार पर लगे चित्रों का आनंद ले रही थी। वह कक्षा में अपनी आयु की इतनी सारी लड़कियों को देखकर बहुत प्रसन्न हुई। असली चीज जिसने उसे उस दिन वास्तविक खुशी प्रदान की, वह उसकी अध्यापिका का प्यार भरा और सहलाने वाला व्यवहार था। अध्यापिका ने उसके साथ मधुर और सहलाने वाली आवाज़ में बात की। आज तक किसी ने भी उसके साथ प्यार से बात नहीं की थी। इस बात ने उसके हृदय को छू लिया। अध्यापिका ने भोली को बता दिया कि यदि वह प्रतिदिन स्कूल आई तो वह गांव में सबसे अधिक पढ़ी-लिखी लड़की होगी। वह बिना हकलाहट के बोलना सीख जाएगी और प्रत्येक व्यक्ति सम्मान के साथ उसकी बात को सुना करेगा। यह भोली के लिए एक नई आशा और नया जीवन था।)

Multiple Choice Questions

Question 1.
What was Bholi’s real name?
(A) Champa
(B) Radha
(C) Mangla
(D) Sulekha
Answer:
(D) Sulekha

Question 2.
What was the name of Bholi’s father?
(A) Ramlal
(B) Krishanlall
(C) Hiralal
(D) Murarilal
Answer:
(A) Ramlal

Question 3.
How many daughters did Ramlal have?
(A) one
(B) two
(C) three
(D) four
Answer:
(D) four

Question 4.
Which post did Ramlal hold in the village?
(A) Sarpanch
(B) Numberdar
(C) Tehsildar
(D) Headmaster
Answer:
(B) Numberdar

Question 5.
How many children did Ramlal have?
(A) four
(B) five
(C) six
(D) seven
Answer:
(D) seven

Question 6.
What was wrong with Sulekha?
(A) she had black pock-marks on
(B) she was a backward child her face
(C) she spoke with halts
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 7.
At what age did Bholi began to speak?
(A) three
(B) four
(C) five
(D) six
Answer:
(C) five

Question 8.
Who was Ramlal’s eldest daughter?
(A) Radha
(B) Mangla
(C) Champa
(D) Sulekha
Answer:
(A) Radha

Question 9.
Why did Tehsildar come to Ramlal’s village?
(A) to perform the opening ceremony of the girl’s school
(B) to attend Radha’s wedding
(C) to meet the village people
(D) all of the above
Answer:
(A) to perform the opening ceremony of the girl’s school

Question 10.
Ramlal was the ……………. official of the village.
(A) administrative
(B) revenue
(C) police
(D) education
Answer:
(B) revenue

Question 11.
What did the Tehsildar urge Ramlal about his daughters?
(A) send them to school
(B) marry them soon
(C) send them to city
(D) all of the above
Answer:
(A) send them to school

Question 12.
Of the four daughters of Ramlal, who was sent to school?
(A) Radha
(B) Mangla
(C) Champa
(D) Bholi
Answer:
(D) Bholi

Question 13.
How was Bholi treated in the family?
(A) she was not given new clothes
(B) none cared to wash her clothes
(C) none cared to comb her hair
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

Question 14.
What was Bholl’s reaction when Ramlal ask her to go to school for the first time?
(A) she was not given new clothes
(B) she was excited
(C) she cried with fear
(D) none of the above
Answer:
(C) she cried with fear
Question 15.
Who was Lakshmi?
(A) Bholi’s mother
(B) Bholi’s cow
(C) Bholi’s teacher
(D) Bholi’s classmate
Answer:
(B) Bholi’s cow

Question 16.
Which picture did Bholi see on the school wall?
(A) parrot
(B) Cow
(C) goat
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

Question 17.
How did Bholi find the teacher on her very first day in the school?
(A) cruel
(B) hard
(C) kind and loving
(D) all of the above
Answer:
(C) kind and loving

Bholi Summary in English

Bholi Introduction in English

This is the story of a little girl named Bholi who was a slow-learner and stammered. She fell down from the cot in her childhood and a part of her brain was damaged. She had lost her beauty to smallpox. She was neglected as a witless fool even by his parents and her brothers and sisters. But the opening of a primary school for girls in her village changed her life. Her teacher was very kind and encourageous to her. She gave her confidence. She made her speak without halts. The girl achieved what appeared to be impossible. She proved herself a real heroine when she refused to marry Bishamber Nath who demanded five thousand rupees cash from her father in dowry.

Bholi Summary in English

Ramlal was the Numberdar of the village. He had four daughters and three sons. All his children were very healthy but his youngest daughter Sulekha was a backward child. When she was ten months old she fell down from the cot and a part of her brain was damaged. When she was two years old she had an attack of smallpox. Her face was permanently disfigured by deep black pock-marks. She started speaking at the age of five years but she stammered. So everyone called her Bholi. She was considered as a witless fool even by her parents, her sisters and her brothers. None cared for her. Ramlal’s eldest daughter Radha had already been married. The second daughter Mangla’s marriage had also been settled. Ramlal was worried only about Bholi. A primary school for girls was opened in the village. The Tehsildar sahib came to perform its opening ceremony. He asked Ramlal to set an example before the village by sending his daughters to school.

Both Ramlal and his wife were not in favour of girl education but Ramlal had not courage to disobey the Tehsildar. So, they decided to send Bholi to school. The next day Ramlal asked Bholi to go to school with him. Bholi did not know anything about school. She was frightened. She refused to go anywhere. Ramlal asked his wife to give some decent clothes to Bholi. New clothes had never been made for Bholi but that day she was lucky to receive a clean dress. She was even bathed and oil was rubbed into her dry and matted hair. She thought that she was being taken to a place better than her house.

When they reached the school, Bholi saw many girls of her age sitting in the rooms. The headmistress asked Bholi to sit down in a corner in one of the classrooms. The lady teacher in the class was very good. The teacher asked her about her name but she could not speak her full name. She began to weep. When the school was off for the day the teacher asked Bholi to come also the next day and Bholi nodded. Bholi became familiar to the teacher. The teacher drove out her sense of fear. Now she began to speak without stammering a little.

Now, Bholi was grown up. She had passed many classes. Her father got a marriage proposal for her from Bishamber who was a rich grocer from the neighbouring village. He was about fifty years old. He walked with limbs. He had children also from his earlier wife. Ramlal accepted the proposal and asked Bishamber to come with baraat. Bishamber came with great pomp and show for wedding. Everybody was joyful. All the friends and relatives of Ramlal and Bishamber were present there. Bholi dressed in red was brought there. When Bishamber was about to put the garland around Bholi’s neck, a lady pulled back Bholi’s veil.

Bishamber saw Bholi’s face covered with pock-marks. He refused to marry her. After many requests but he agreed put a condition that he would marry Bholi only when Ramlal would give him five thousand rupees. Ramlal put the bundle of five thousand rupees on Bishamber’s feet. Bishamber was feeling victorious. He raised the garland to place it around the bride’s neck but Bholi struck the garland away. Bholi said that she would not marry such a mean, greedy and coward person. The baraat was returned empty handed without bride. Ramlal was full of grief and shame. Bholi consoled her father that she would serve them in their old age and she said that she would teach in the same school where she got the education,

Bholi Summary in Hindi

Bholi Introduction in Hindi

(यह भोली नाम की एक छोटी लड़की की कहानी है जो मंद गति से सीखने और हकलाकर बोलने वाली थी। बचपन में वह चारपाई से गिर गई थी और उसके दिमाग का एक भाग विकृत हो गया था। उसकी सुंदरता चेचक की बीमारी ने छीन ली थी। उसे एक मंदबुद्धि समझकर उसके माता-पिता, उसके भाइयों और बहनों के द्वारा भी उसकी अवहेलना की जाती थी। लेकिन उसके गांव में लड़कियों के लिए प्राथमिक विद्यालय खुलने से उसका जीवन बदल गया। उसकी अध्यापिका उसके प्रति बहुत दयालु और उत्साहवर्धक थी। उसने उसे विश्वास दिलाया। उसने उसे हकलाए बिना बोलना सिखाया। लड़की ने असंभव को संभव कर दिखाया। उसने बिशंबर नाथ से शादी से इंकार करके नायिका का काम कर दिखाया जिसने उसके पिताजी से दहेज में पाँच हजार रुपए नकद माँगे थे।

Bholi Summary in Hindi

रामलाल गांव का नंबरदार था। उसकी चार बेटियां और तीन बेटे थे। उसके सभी बच्चे बहुत स्वस्थ थे लेकिन उसकी सबसे छोटी बेटी सुलेखा पिछड़ी हुई बच्ची थी। जब वह दस महीने की थी वह चारपाई से नीचे गिर गई थी और उसके दिमाग का एक हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया था। जब वह दो वर्ष की थी तो उसे चेचक की बीमारी का प्रकोप हो गया। उसका चेहरा चेचक के गहरे काले दागों के कारण स्थायी रूप से कुरूप हो गया। उसने पाँच वर्ष की आयु में बोलना शुरू किया लेकिन वह हकलाकर बोलती थी। इसलिए सभी उसे भोली कहने लगे। यहां तक कि उसके माता-पिता, उसकी बहनें और उसके भाई भी उसे मंदबुद्धि मानते थे। कोई भी उसकी देखभाल नहीं करता था। रामलाल की सबसे बड़ी बेटी राधा की पहले ही शादी हो चुकी थी। दूसरी बेटी मंगला की शादी तय हो चुकी थी। रामलाल केवल भोली के बारे में चिंतित था।

गांव में लड़कियों के लिए एक प्राथमिक विद्यालय खुला। इसके उद्घाटन समारोह पर तहसीलदार साहब आए थे। उसने रामलाल से कहा कि वह अपनी बेटियों को स्कूल भेजकर गांव के सामने एक उदाहरण प्रस्तुत करें। रामलाल और उसकी पत्नी दोनों लड़कियों को पढ़ाने के पक्ष में नहीं थे लेकिन रामलाल में तहसीलदार की बात को न मानने का साहस नहीं था। इसलिए उसने भोली को स्कूल भेजने का निर्णय लिया। अगले दिन रामलाल ने भोली को अपने साथ स्कूल जाने के लिए कहा। भोली स्कूल के बारे में कुछ भी नहीं जानती थी। वह डरी हुई थी। उसने कहीं भी जाने से मना कर दिया। रामलाल ने अपनी पत्नी को भोली को कुछ सुंदर वस्त्र देने के लिए कहा। कभी भी भोली के लिए नए वस्त्र नहीं बनवाए गए थे लेकिन उस दिन वह एक साफ-सुथरी पोशाक पहनकर भाग्यशाली लग रही थी। यहां तक कि उसे स्नान करवाया गया और उसके सूखे बालों में तेल भी लगाया गया। उसने सोचा कि उसे अपने घर से अच्छे किसी स्थान पर ले जाया जा रहा था। जब वे स्कूल पहुंचे, भोली ने कमरों में अपनी आयु की लड़कियों को बैठे हुए देखा। मुख्याध्यापिका ने भोली को कक्षा के एक कमरे में एक कोने में बैठ जाने के लिए कहा। कक्षा में जो महिला अध्यापक थी वह बहुत अच्छी थी। अध्यापिका ने उससे उसका नाम पूछा लेकिन वह अपना पूरा नाम नहीं बोल सकी। उसने रोना शुरु कर दिया।

जब दिन के लिए स्कूल की छुट्टी हो गई, अध्यापिका ने भोली को अगले दिन भी स्कूल आने के लिए कहा और भोली ने हाँ में सिर हिला दिया। भोली को अध्यापिका से लगाव हो गया। अध्यापिका ने उसके अंदर से डर की भावना को बाहर निकाल दिया। अब उसने ज़रा भी हकलाए बिना बोलना शुरू कर दिया था। अब भोली बड़ी हो गई थी। उसने कई कक्षाएं पास कर ली थीं। उसके पिता को बिशंबर, जो कि पास के गांव का एक समृद्ध पंसारी था, की ओर से भोली के साथ शादी का प्रस्ताव मिला। वह लगभग पचास वर्ष का था। वह लंगड़ाकर चलता था। उसकी पहली पत्नी से बच्चे भी थे। रामलाल ने शादी के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया और बिशंबर से बारात लेकर आने को कहा। विशंबर शादी के लिए खूब शानो-शौकत के साथ आया। सभी प्रसन्न थे। रामलाल और बिशंबर के सभी मित्र और रिश्तेदार वहां उपस्थित थे। लाल रंग के वस्त्र पहने भोली वहां लाई गई। जब बिशंबर भोली के गले में हार डालने वाला था, एक महिला ने भोली के बूंघट को पीछे सरका दिया।

विशंबर ने चेचक के दागों से भरे भोली के चेहरे को देखा। उसने उसके साथ शादी करने से मना कर दिया। अनेक प्रार्थनाओं के पश्चात् उसने यह शर्त रख दी कि वह भोली के साथ तभी शादी करेगा यदि उसका पिता उसे पांच हज़ार रुपए नकद देगा। रामलाल ने पांच हज़ार रुपये का बंडल बिशंबर के कदमों में रख दिया। बिशंबर विजयी अनुभव कर रहा था। उसने दुल्हन के गले में डालने के लिए माला उठाई लेकिन भोली ने माला को टकराकर दूर गिरा दिया। भोली ने कहा कि वह ऐसे कमीने, लालची और कायर के साथ शादी नहीं करेगी। बारात दुल्हन के बिना खाली हाथ लौट गई। रामलाल दुःख और शर्म से पीड़ित था। भोली ने अपने पिता को सांत्वना दी कि वह वृद्धावस्था में उनकी सेवा करेगी और उसने कहा कि वह उसी स्कूल में पढ़ाया करेगी जिसमें उसने शिक्षा प्राप्त की थी।

Bholi Translation in Hindi

[PAGE54]: (बचपन से ही भोली की उसके घर में अवहेलना की जाती थी। उसकी अध्यापिका उसमें विशेष रुचि क्यों लेती थी ? क्या भोली अपनी अध्यापिका की आशाओं पर पूरी उतरी ?)
उसका नाम सुलेखा था, लेकिन बचपन से सभी उसे भोली, अर्थात् बुद्धू कहा करते थे। वह नंबरदार रामलाल की चौथी बेटी थी। जब वह दस महीने की थी, वह अपनी चारपाई से सिर के बल नीचे गिर गई थी और शायद इससे उसके दिमाग का कोई भाग क्षतिग्रस्त हो गया हो। यही कारण था कि वह एक पिछड़ी हुई बच्ची रही और उसका नाम भोली पड़ गया, जिसका अर्थ है सादी। जन्म के समय, बच्ची बहुत अधिक सुंदर थी। लेकिन जब वह दो वर्ष की थी, तो उसे चेचक की बीमारी हो गई। केवल उसकी आंखें बच पाईं, लेकिन सारा शरीर स्थायी रूप से चेचक के गहरे काले दागों के कारण कुरूप हो गया। पांच वर्ष की आयु तक, छोटी सुलेखा ने बोलना नहीं सीखा और जब उसने बोलना सीखा तो वह हकलाकर बोलती थी। अन्य बच्चे प्रायः उसका मजाक उड़ाते थे और उसकी नकल उतारते थे।

इसके फलस्वरूप, वह बहुत कम बोलती थी। रामलाल के सात बच्चे थे-तीन बेटे और चार बेटियां, और उन सबमें भोली सबसे छोटी थी। यह एक समृद्ध किसान का घर था और खाने-पीने के लिए काफी था। भोली के अतिरिक्त सभी बच्चे स्वस्थ और शक्तिशाली थे। बेटों को पढ़ने के लिए शहर के स्कूल में भेजा गया और बाद में कॉलेज भेजा गया। बेटियों में राधा, जो सबसे बड़ी थी, की शादी हो गई थी। दूसरी बेटी मंगला की शादी भी तय हो चुकी थी, और उसके संपन्न हो जाने के पश्चात्, रामलाल अपनी तीसरी बेटी चंपा के बारे में सोचेगा। वे सुंदर दिखाई देने वाली स्वस्थ लड़कियां थीं और उनके लिए दूल्हे ढूंढना कोई कठिन काम नहीं था। परंतु रामलाल भोली के बारे में चिंतित था। न तो वह सुंदर थी और न ही बुद्धिमान।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

[PAGE 55]: जब मंगला की शादी हुई उस समय भोली सात वर्ष की थी। उसी वर्ष उनके गांव में लड़कियों के लिए एक प्राथमिक विद्यालय खुला। तहसीलदार साहब उसके उद्घाटन समारोह को संपन्न करने आए थे। उन्होंने रामलाल से कहा, “राजस्व अधिकारी होने के नाते आप गांव में सरकार के प्रतिनिधि हो इसलिए आपको गांव वालों के सामने एक उदाहरण रखना चाहिए आपको अपनी बेटियों को स्कूल भेजना चाहिए।’ उस रात जब रामलाल ने अपनी पत्नी से परामर्श किया, वह चिल्ला उठी, “क्या तुम पागल हो गए हो? यदि लड़कियां स्कूल जाएंगी तो उनसे शादी कौन करेगा?” लेकिन रामलाल में तहसीलदार की बात न मानने की हिम्मत नहीं थी। आखिर में उसकी पत्नी ने कहा, “मैं आपको बताऊंगी क्या करना है। भोली को स्कूल भेज दो। इस हालत में, उसकी शादी होने के कम अवसर हैं, क्योंकि उसका चेहरा भद्दा है और बुद्धि की कमी है। स्कूल में अध्यापकों को उसकी चिंता करने दो।”

[PAGE 55 -58]: अगले दिन रामलाल ने भोली का हाथ पकड़ा और कहा, “मेरे साथ आओ। मैं तुम्हें स्कूल ले जाऊंगा।” भोली डर गई। वह नहीं जानती थी कि स्कूल किस तरह का होता है। उसे याद था कि कैसे कुछ दिन पहले उनकी बूढ़ी गाय, लक्ष्मी, को घर से बाहर निकाल दिया गया था और बेच दिया गया था।

[PAGE 58]: “न-न-न-न नहीं, नहीं-नहीं-नहीं,” वह डर के मारे चिल्लाई और उसने पिता की पकड़ से अपना हाथ खींच लिया। “तुम्हें क्या हुआ, अरे मूर्ख ?” रामलाल चिल्लाया। “मैं तुम्हें केवल स्कूल ले जा रहा हूँ। तब उसने अपनी पत्नी से कहा, “इसे आज कुछ अच्छे कपड़े पहनने दो, नहीं तो अध्यापिका और स्कूल की अन्य लड़कियां इसे देखकर क्या सोचेंगी ?.
भोली के लिए कभी भी नए वस्त्र नहीं बनवाए गए थे। उसकी बहनों के पुराने वस्त्र उसे पहना दिए जाते थे। कोई भी उसके वस्त्रों की मुरम्मत करने और उन्हें धोने की चिंता नहीं करता था। लेकिन आज वह साफ वस्त्र प्राप्त करके बहुत भाग्यशाली लग रही थी जबकि वे वस्त्र बार-बार धुलाई के पश्चात सिकुड़ गए थे और चंपा को ठीक नहीं आते थे। उसे स्नान भी कराया गया और उसके सूखे और उलझे हुए बालों में तेल भी लगाया गया। केवल तब उसने विश्वास करना आरंभ किया कि उसे उसके घर से अच्छे किसी स्थान पर ले जाया जा रहा है। जब वे स्कूल पहुंचे, बच्चे पहले से ही अपनी कक्षाओं में थे। रामलाल ने अपनी बेटी को मुख्याध्यापिका के सुपुर्द कर दिया। अकेली छोड़े जाने पर, बेचारी लड़की ने भयभीत नज़रों के साथ इधर-उधर देखा। वहां कई कमरे थे, और प्रत्येक कमरे में उस जैसी लड़कियां चटाइयों पर पालथी मारकर बैठी हुई थीं, पुस्तकों में से पढ़ रही थीं और स्लेटों पर लिख रही थीं। मुख्याध्यापिका ने भोली को कक्षा के एक कमरे में एक कोने में बैठ जाने के लिए कहा।

[PAGE 57]: भोली को यह नहीं पता था कि वास्तव में स्कूल क्या होता है और वहां क्या होता है, लेकिन वह लगभग अपनी आयु की बहुत सारी लड़कियों को वहां देखकर प्रसन्न थी। उसे आशा थी इन लड़कियों में से शायद कोई लड़की उसकी सहेली बन जाए। कक्षा में जो महिला अध्यापक थी वह लड़कियों को कुछ कह रही थी लेकिन भोली कुछ भी नहीं समझ सकी। वह दीवार पर तस्वीरों को देख रही थी। उनके रंगों ने उसको आकर्षित किया घोड़ा उसी प्रकार से भूरा था जैसे घोड़े पर तहसीलदार उनके गांव के दौरे पर आया था; बकरी उनके पड़ोसी की बकरी की तरह ही काली थी; तोता उसी प्रकार से हरा था जैसा उसने आम के बगीचे में देखा था; और गाय बिल्कुल उनकी लक्ष्मी के समान थी। और अचानक ही भोली ने देखा कि अध्यापिका उसके पास खड़ी थी, और उस पर मुस्कुरा रही थी। “छोटी बच्ची, तुम्हारा क्या नाम है ?”

“भ-भो-भो-” वह इससे अधिक नहीं हकला सकी। तब उसने रोना शुरू कर दिया और विवश बाढ़ के रूप में उसकी आंखों से आंसू बहने लगे। वह सिर नीचे किए हुए कोने में बैठी रही, उसमें उन लड़कियों की ओर देखने का साहस नहीं हुआ, जिन्हें वह जानती थी, अभी तक उस पर हंस रही थीं। जब स्कूल की घंटी बजी, सभी लड़कियां तेज गति से कक्षा से बाहर भाग गई, लेकिन भोली में अपने उस कोने को छोड़ने का साहस नहीं हुआ। उसका सिर अभी भी झुका हुआ था, वह अभी भी सुबक रही थी। “भोली। अध्यापिका की आवाज़ इतनी नर्म और शांत थी कि अपने पूरे जीवन में उसने इस प्रकार की आवाज़ कभी नहीं सुनी थी। यह उसके हृदय को छू गई। “उठो,” अध्यापिका ने कहा। यह आदेश नहीं था, परंतु मात्र एक मित्रतापूर्वक सुझाव था। भोली उठ गई। “अब मुझे अपना नाम बताओ।” उसके सारे शरीर पर पसीना आ गया। क्या उसकी हकलाती हुई जुबान उसे पुनः अपमानित करवाएगी ? उसे दयालु महिला के लिए, फिर भी, एक बार उसे प्रयास करने का निर्णय किया। उसकी आवाज़ इतनी शांत थी; वह उस पर नहीं हंसेगी। “भ-भ-भो-भो-” उसने हकलाकर बोलना शुरू किया। “शाबाश, शाबाश” अध्यापिका ने उसका साहस बढ़ाया। “आइए, अब पूरा नाम ?” “भ-भ-भो-भोली” आखिरकार वह उसे कह पाई और उसने राहत महसूस की जैसे कि यह महान् उपलब्धि हो। “शाबाश।” अध्यापिका ने उसे स्नेहपूर्वक थपथपाया और कहा, “अपने हृदय से डर को बाहर निकाल दो और तुम भी दूसरों की तरह बोलने में सक्षम हो जाओगी।” भोली ने ऊपर की ओर देखा जैसे पूछना चाहती है, “सचमुच?”

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

[PAGE 58]: “हां, हां, यह बहुत आसान होगा। तुम सिर्फ हर रोज स्कूल आओ। क्या तुम आओगी?” भोली ने हां में सिर हिलाया। ‘नहीं, इसे चिल्लाकर कहो।’ “ह-ह-हाँ” और भोली स्वयं हैरान थी कि वह यह सही बोल पाई थी। “क्या मैंने तुम्हें नहीं बताया? अब यह किताब ले लो।” किताब सुंदर तस्वीरों से भरी हुई थी और तस्वीरें रंगीन थीं कुत्ता, बिल्ली, बकरी, घोड़ा, तोता, बाघ और बिल्कुल लक्ष्मी जैसी गाय। और प्रत्येक तस्वीर के साथ काले बड़े अक्षरों में एक शब्द लिखा था। “एक महीने में तुम इस किताब को पढ़ने में सक्षम हो जाओगी। तब मैं तुम्हें एक बड़ी किताब दूंगी, और तब उससे भी बड़ी किताब। समय आने पर तुम गांव में अन्य किसी से भी अधिक शिक्षित हो जाओगी। तब कोई भी तुम पर नहीं हंस पाएगा। लोग तुम्हारी बात को सम्मानपूर्वक सुनेंगे और तुम बिना थोड़ी-सी भी हकलाहट के बोल सकोगी। समझी ? अब घर जाओ और कल सुबह जल्दी आ जाना।

भोली को ऐसा लगा मानो अचानक गांव के मंदिर की सभी घंटियां बज रही थीं और स्कूल के सामने वाले घर के सामने खड़े वृक्षों में बड़े-बड़े लाल रंग के फूल खिल गए। उसका हृदय एक नई आशा और एक नए जीवन से धड़क रहा था। इसी प्रकार वर्षों बीत गए। गांव एक छोटा कस्बा बन गया। छोटा-सा प्राथमिक विद्यालय, उच्च विद्यालय बन गया। अब लोहे के शैड के नीचे एक छोटा सिनेमा और रूई धुनने की एक मिल लग गई। डाक गाड़ी ने उनके रेलवे स्टेशन पर ठहरना आरंभ कर दिया। एक रात, रात्रि भोजन के पश्चात रामलाल ने अपनी पत्नी से पूछा, “तब, क्या मैं बिशंबर का प्रस्ताव स्वीकार कर लूं ?” . “हां, अवश्य ही,” उसकी पत्नी ने कहा। “भोली ऐसा समृद्ध दूल्हा पाकर बहुत भाग्यशाली रहेगी। एक बड़ी दुकान, एक उसका अपना घर और मैंने सुना है कि उसके कई हज़ार रुपए बैंक में भी हैं। साथ ही वह दहेज की भी मांग नहीं कर रहा है।” “वह तो ठीक है, लेकिन वह इतना जवान नहीं है आपको पता है लगभग उतनी उम्र का है जितनी का मैं हूं और वह लंगड़ाता भी है। साथ ही, उसकी पहली पत्नी के बच्चे भी काफी बड़े हैं।”

[PAGE 59]: “तो इससे क्या फर्क पड़ता है ?” उसकी पत्नी ने उत्तर दिया। “पैंतालीस या पचास-यह आदमी के लिए अधिक आयु नहीं है। हम भाग्यशाली हैं कि वह दूसरे गांव का है और वह उसके चेचक के दागों और उसके बुद्धि के अभाव को नहीं जानता। यदि हम इस प्रस्ताव को स्वीकार नहीं करते हैं, तो वह सारी जिंदगी कुंवारी रह सकती है।” “हां, लेकिन मैं हैरान हूं कि भोली क्या कहेगी।” .. “वह पागल लड़की क्या कहेगी ? वह तो एक गूंगी गाय के समान है।” “हो सकता है कि तुम ठीक कह रही हो।” रामलाल बुड़बुड़ाया। आंगन के दूसरे कोने में, भोली अपनी चारपाई पर जागती हुई पड़ी थी, अपने माता-पिता की कानाफूसी वाली बातचीत को । सुन रही थी।

बिशंबर नाथ एक समृद्ध पंसारी था। वह शादी के लिए मित्रों और रिश्तेदारों की एक बड़ी बारात लेकर आया। बारात के आगे-आगे पीतल का बैंड एक भारतीय फिल्म की लोकप्रिय धुन बजा रहा था, और दूल्हा एक सजी हुई घोड़ी पर सवार था। रामलाल इतनी शानो-शौकत को देखकर अत्यधिक प्रसन्न हो रहा था। उसने कभी स्वप्न भी नहीं लिया था कि उसकी चौथी बेटी की शादी इतनी शानदार होगी। भोली की बड़ी बहनें, जो उस अवसर पर आई हुई थीं, उसके भाग्य से ईर्ष्या कर रही थीं। जब शुभ घड़ी आई पंडित ने कहा, “दुल्हन को लाइए।” भोली, लाल रंग की रेशमी, दुल्हन वाली पोशाक पहने, पवित्र अग्नि के पास बने दुल्हन वाले स्थान तक लाई गई। “दुल्हन के गले में माला डाल दो,” विशंबर के एक मित्र ने उससे आग्रह करते हुए कहा।
दूल्हे ने पीले रंग के गेंदों की माला उठाई। एक महिला ने दुल्हन के चेहरे पर से रेशमी धूंघट को पीछे सरका दिया। बिशंबर ने तेजी से नज़र डाली। माला उसके हाथों में अटकी हुई रह गई। दुल्हन ने धीरे से अपना घूघट नीचे कर लिया।

“क्या तुमने उसे देख लिया है ?” विशंबर ने अपने से अगले मित्र से पूछा। “उसके चेहरे पर चेचक के दाग हैं।” “तो क्या हुआ ? तुम भी तो जवान नहीं हो।” “हो सकता है। लेकिन यदि मैं इससे शादी करूंगा तो, इसके पिता को मुझे पांच हज़ार रुपए देने होंगे।” रामलाल आगे बढ़ा और पगड़ी-अपना सम्मान-विशंबर के पैरों में रख दिया। “मुझे इस तरह अपमानित मत कीजिए। दो । हज़ार रुपए ले लीजिए।” “नहीं। पांच हज़ार वरना हम वापस जाते हैं। अपनी बेटी को रखिए।” “कृपया, थोड़ा-सा विचारशील बनो। यदि आप वापिस चले गए, तो मैं गांव में कभी भी अपना मुंह नहीं दिखा सकूँगा।” “तब पांच हजार रुपए निकालो।” चेहरे से आंसू गिराते हुए रामलाल अंदर गया, तिजोरी खोली और नोटों को गिना। उसने बंडल को दूल्हे के कदमों में रख दिया।

[PAGE 80]: विशंबर के लालची चेहरे पर एक विजयी मुस्कान चमकी। उसने जुआ खेला था और जीत गया था “मुझे माला दीजिए,” उसने घोषणा की। एक बार फिर दुल्हन के चेहरे से बूंघट हटाया गया, लेकिन इस बार उसकी नज़रें नीचे की ओर नहीं झुकी थी। वह ऊपर की ओर देख रही थी, सीधे अपने होने वाले पति की ओर देख रही थी और उसकी आंखों में न तो गुस्सा था और न ही घृणा, केवल ठंडा तिरस्कार था। बिशम्बर ने दुल्हन के गले में डालने के लिए माला उठाई; लेकिन इससे पहले वह ऐसा कर पाता, भोली का हाथ बिजली की रेखा की तरह बाहर निकाला और माला अग्नि में जा गिरी। वह उठकर खड़ी हो गई और उसने पूंघट को उतारकर फेंक दिया। “पिताजी!” भोली ने स्पष्ट ऊंची आवाज़ में कहा; और उसके पिता, माता, बहनें, भाई, रिश्तेदार और पड़ोसी उसे बिना ज़रा-सी हकलाहट के बोलते हुए सुनकर हैरान रह गए। “पिताजी! अपना धन वापस ले लीजिए। मैं इस आदमी से शादी करने वाली नहीं हूं।”

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

[PAGE 81]: रामलाल हक्का-बक्का रह गया। मेहमानों ने कानाफूसी करनी शुरू कर दी “इतनी बेशर्म! इतनी कुरूप और इतनी बेशर्म!” “भोली, क्या तुम पागल हो ?” रामलाल चिल्लाया “तुम अपने परिवार को अपमानित करना चाहती हो ? हमारी इज्जत का कुछ तो ख्याल रखो!” “आपकी इज्जत की खातिर” भोली ने कहा, “मैं इस लंगड़े, बूढ़े आदमी से शादी करने को तैयार हो गई थी। लेकिन मैं ऐसे कमीने, लालची और घृणित कायर को अपने पति के रूप में स्वीकार नहीं करूंगी। मैं नहीं, मैं नहीं, मैं नहीं।” “कितनी बेशर्म लड़की है। हम भी सोच रहे थे कि वह तो हानि रहित गूंगी गाय है।” भोली बूढ़ी महिला की ओर हिंसक रूप से मुड़ी, “हां, आंटी, आप ठीक कह रही हो। आप सभी सोचते थे मैं एक गूंगी गाय हूं। इसीलिए आप मुझे इस हृदय विहीन प्राणी को सौंपना चाहते थे। लेकिन अब गूगी गाय, हकलाकर बोलने वाली मूर्ख, बोल रही है। क्या आप कुछ और सुनना चाहते हो ?” बिशंबर नाथ, पंसारी ने बारात के साथ वापस चलना शुरू कर दिया। घबराए हुए बैंड वालों ने सोचा कि शादी की रस्म पूरी हो गई है और उन्होंने रस्म का अंतिम गीत बजाया।

रामलाल जमीन में गड़ा हुआ-सा खड़ा था, उसका सिर दुःख और लज्जा के बोझ से झुका हुआ था। पवित्र अग्नि की लपटें धीरे-धीरे बुझ गई। सभी जा चुके थे। रामलाल भोली की ओर मुड़ा और कहा, “लेकिन अब तेरा क्या होगा, अब कोई भी तुमसे शादी नहीं करेगा। हम तेरा क्या करेंगे ?” और सुलेखा ने शांत और स्थिर आवाज़ में कहा, “आप चिंता मत कीजिए, पिताजी! बुढ़ापे में मैं आपकी और माता जी की सेवा करूंगी। और मैं उसी स्कूल पढ़ाया करूंगी जहां पर मैंने इतना सीखा है। क्या यह ठीक नहीं है, मैडम ?” इस समूचे समय अध्यापिका एक कोने में खड़ी हुई थी, इस नाटक को देख रही थी। “हां, भोली, निःसंदेह,” उसने उत्तर दिया और उसकी मुस्कुराती हुई आंखों में गहरी संतुष्टि की चमक थी जो कि एक कलाकार उस समय महसूस करता है जब वह अपनी सर्वोत्तम कलाकृति को पूर्ण करने का विचार करता है।

Bholi Word – Misndgs in Hindi

[PAGE 54]: Expectations = hopes (आशाए); simpleton = very simple (भोली/सादी); numberdar = an official who collects revenue (नंबरदार); fallen off = dropped (गिर जाना); cot = bed (चारपाई); damaged= injured (क्षतिग्रस्त); brain = mind (मस्तिष्क/दिमाग); remained = to continue (रहना); backward = retarted (पिछड़ा हुआ); pretty = beautiful (सुंदर); attack = to assault (आक्रमण); small-pox = a disease (चेचक का रोग); entire = complete (समूचा/संपूण); permanently = for ever (स्थाई रूप से); disfigured = made ugly (कुरूप बना दिया); pock-marks = marks left by smallpox (चेचक के निशान); stammered = spoke with halts (हकलाकर बोलना); mimicked = imitated (नकल करना); youngest = smallest in age (सबसे छोटी); prosperous = rich (संपन्न); plenty = very much (बहुत अधिक); except = leaving aside (सिवाय); strong = powerful (शक्तिशाली); settled = fixed (तय हो जाना); bridegrooms = male matches (दूल्हा); worried = anxious (चिंतित); intelligence = brilliance (प्रतिभा)।

[PAGE 55]: Perform = to carry out (संपन्न करना); ceremony = religious rites (उत्सव); revenue = state’s income (राजस्व); representative = a member of the group (प्रतिनिधि); consulted = to ask advice of (परामर्श किया); crazy = mad (पागल); frightened = scared (भयभीत)।

[PAGE 56]: Shouted = cried (चिल्लाया); terror = dread (भय); grip = hold (पकड़); decent = nice (बढ़िया/उत्तम); passed on = sent forward (आगे भेज देना); cared = worried (परवाह करना); mend = to repair (मरम्मत करना); shrunk = to have folds (सिकुड़ जाना); matted = entangled (उलझे हुए); squatted’= sat on the heels (पालथी मारकर बैठना)।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

[PAGE 57]: Exactly = accurately (सही रूप से); glad = happy (प्रसन्न); almost = nearly (लगभग); present = existing now (उपस्थित); hoped = desired (आशा की); understand = to know (समझना); fascinated = attracted (आकर्षित होना); orchard = garden (बगीचा); noticed = observed (देखा); smiling = laughing slightly (मुस्कुराना); flowed = to run as a stream (बहना); scurried = hurried out (तेजी से बाहर आना); sobbing = weeping in suppressed manner (सुबकते हुए); soothing = be calming (सुहावनी); command = order (आदेश); sweat = perspiration (पसीना); disgrace = humiliate (अपमान); decided = took decision (निर्णय लिया); effort = attempt (प्रयास); encouraged = urged (हौंसला दिया); relieved = got free (मुक्त होना); achievement = attainment (उपलब्धि); patted = stroked (थपथपाना); affectionately = lovingly (प्यार से)।

[PAGE 58] : Nodded = shook the head (सिर हिलाना); astonished = surprised (हैरान); slightest = least (हल्का-सा/थोड़ा-सा); blossomed = put forth flowers (फूल खिल जाना); throbbing = pulsating (धड़कते हुए); ginning = separating raw cotton from its seeds (रूई धुनना); limps = walks lamely (लंगड़ाता है)।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 9 Bholi

[PAGE 59] : Proposal = scheme (प्रस्ताव); witless = foolish (मूर्ख, तर्कहीन); muttered = spoke slowly (बुड़बुड़ाया); courtyard = an enclosure before a house (आंगत); conversation = personal talk (बातचीत); procession = a group of persons moving forward (जुलूस); decorated = adorned (सजाया हुआ); overjoyed = too much happy (अत्यधिक प्रसन्न); pomp = splendour (शान-शौकत); splendour = grandeur (शान); grand = great (विशाल); occasion = chance (अवसर); envious = jealous (ईर्ष्यालु); auspicious = pious (पवित्र); clad in = dressed in (पहने हुए); prompted = urged (आग्रह किया); veil = mask (घूंघट); glance = look (देखना); poised = held in balance (साधा); humiliate = downcast (अपमानित करना); considerate = regard for others (विचारशील); streaming = flowing (बहना)।

[PAGE 60] : Triumphant = victorious (विजयी); gambled = played a game of chance for money (जुआ खेला); announced = declared (घोषणा की); straight = direct (सीध); prospective = would be (होने वाला); contempt = hatred (घृणा); struck out = hit out (टकराना); streak = a long irregular line of colour (धारा/रेखा); startled = amazed (चकित) ।

[PAGE 61] : Thunderstruck = amazed (चकित); contemptible = hateful (घृणित); coward = fearful person (कायर); dumb = unable to speak (गूंगी); confused = bewildered (घबराए हुए); ceremony = a religious observance (रस्म); rooted = fixed to the ground (जड़ हो जाना); grief = sorrow (दुःख); sacred = pious (पवित्र); steady = firm (दृढ)); satisfaction = gratification (संतुष्टि); contemplates = meditates (विचार करना); completion = accomplishment (पूर्ण होना); masterpiece = a piece of highest workmanship (सर्वोत्तम कलाकृति)।

JAC Class 10 English Solutions

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

JAC Board Class 10th English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

JAC Class 10th English The Hack Driver Textbook Questions and Answers

Read and Find Out (Pages 47 & 50)

Question 1.
Why is the lawyer sent to New Mullion?
What does he first think about the place?
(वकील को न्यू मुलियन क्यों भेजा जाता है? वह उस स्थान के बारे में पहले क्या सोचता है?)
Answer:
The narrator is a lawyer. He is sent to New Mullion to serve summons on a person named Oliver Lutkins. He first thinks about the place to be a sweet and simple village. But he is shocked when he finds it dirty and unromantic.
(वर्णनकर्ता एक वकील है। उसे ओलिवर लुटकिन्स नाम के एक आदमी को आदेश तामील करवाने के लिए न्यू मुलियन भेजा जाता है। पहले तो वह सोचता है कि वह एक प्यारा-सा और साधारण गाँव होगा। लेकिन इस गाँव को गंदा और अरोचक पाकर उसे सदमा सा लगा।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 2.
Who befriends him? Where does he take him?
(उसके साथ कौन मित्रता करता है? वह उसे कहाँ ले जाता है?)
Or
Who behaved friendly with the lawyer and where did he take him and why?
(वकील के साथ किसने मित्रतापूर्ण व्यवहार किया और वह उसे क्यों और कहाँ ले गया?)
Answer:
The lawyer goes to New Mullion. There a hack driver befriends him. He offers the lawyer in searching for Oliver Lutkins. He takes him to a number of places. Infact, the hack driver is Oliver Lutkins himself.
(वकील न्यू मुलियन जाता है। वहाँ एक गाड़ीवान उसके साथ मित्रता कर लेता है। वह ओलिवर लुटकिन्स को खोजने में मदद की पेशकश करता है। वह उसे कई स्थानों पर ले जाता है। वास्तव में, गाड़ीवान ही स्वयं ओलिवर लुटकिन्स है।)

Question 3.
What does he say about Lutkins?
(वह लुटकिन्स के विषय में क्या कहता है ?)
Answer:
The hack driver says that Lutkins often borrows from others. But he never pays back. He is not bad at heart. But it is hard to make him part with his money.
(गाड़ीवान कहता है कि लुटकिन्स प्राय लोगों से उधार लेता है। लेकिन वह कभी भी उधार वापस नहीं करता है। वह दिल से खराब नहीं है। लेकिन उससे पैसे वसूल करना बहुत ही कठिन काम है।)

Question 4.
What more does Bill say about Lutkins and his family?
(बिल लुटकिन्स और उसके परिवार के बारे में और क्या अतिरिक्त जानकारी देता है?)
Answer:
Bill tells the lawyer that Lutkins has a mother. They have a farm house three miles north. He says that his mother is a real terror. She is about nine feet tall and four feet thick. But she is as quick as a cat.
(बिल वकील को बताता है कि लुटकिन्स की एक माँ है। तीन मील उत्तर में उनका एक फार्म हाऊस है। वह कहता है कि उसकी माँ सचमुच में एक आतंक है। वह लगभग 9 फुट लंबी और 4 फुट मोटी है। लेकिन उसमें बिल्ली जैसी फूर्ति है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 5.
Does the narrator serve the summons that day?
(क्या वर्णनकर्ता उस दिन आदेश तामील करवा पाता है ?)
Answer:
No, The narrator is not able to serve the summons that day. However, he comes again to New Mullion the next day with another person. This time he is able to serve him the summons as the other person recognizes the hack driver as Lutkins.
(नहीं, वर्णनकर्ता उस दिन आदेश तामील नहीं करवा पाता है। हालाँकि अगले दिन वह (एक अन्य व्यक्ति के साथ) पुनः न्यू मुलियन आता है। इस बार वह उसे आदेश तामील करवाने में सफल हो जाता है क्योंकि दूसरा आदमी गाड़ीवान को लुटकिन्स के रूप में पहचान जाता है।)

Question 6.
Who is Lutkins?
(लुटकिन्स कौन है ?)
Answer:
Lutkins is a hack driver in New Mullion. He is a cheat. He borrows money from different persons. But he never pays them back. He is able to cheat the narrator also. But he is a cheerful and friendly person.
(लुटकिन्स न्यू मुलियन में एक गाड़ीवान है। वह एक धोखेबाज है। वह भिन्न-भिन्न लोगों से धन उधार लेता है। लेकिन वह उन्हें धन का पुनः भुगतान नहीं करता है। वह वर्णनकर्ता को भी ठग लेता है। लेकिन वह एक खुशमिजाज और मित्रतापूर्ण व्यक्ति

Think about it (Page 53)

Question 1.
When the lawyer reached New Mullion, did ‘Bill’ know that he was looking for Lutkins? When do you think Bill came up with his plan for fooling the lawyer?
(जब वकील न्यू मुलियन पहुँचा, क्या ‘बिल’ जानता था कि वह लुटकिन्स को तलाश कर रहा था ? आपके विचार में बिल ने वकील को मूर्ख बनाने की योजना कब सोची ?)
Answer:
The lawyer reached New Mullion. There he came across Lutkins. But the lawyer did not recognise him. The lawyer told him that he had come to meet Lutkins. At this Lutkins made a plan to befool him. He told him that his name was Bill and he would help him in finding out Lutkins.
(वकील न्यू मुलियन पहुँचा। वहाँ उसकी मुलाकात लुटकिन्स से हुई। लेकिन वकील उसे नहीं पहचानता था। वकील ने उसे बताया कि वह लुटकिन्स से मिलने आया है। इस पर लुटकिन्स ने उसका मूर्ख बनाने की योजना बनाई। उसने उसे बताया कि उसका नाम बिल है और लुटकिन्स को खोजने में वह उसकी मदद करेगा।)

Question 2.
Lutkins openly takes the lawyer all over the village. How is it that no one lets out the secret? (Hint: Notice that the back driver asks the lawyer to keep out of sight behind him when they go into Fritz’s.) Can you find other such subtle ways in which Lutkins manipulates the tour?
(लुटकिन्स वकील को सरेआम पूरे गाँव में घुमाता है। यह कैसे हुआ कि किसी ने भी उसका भेद नहीं खोला? क्या आप कुछ और ऐसे छोटे-छोटे तरीके बता सकते हैं जिससे लुटकिन्स अपने भेद को छुपाकर रखता है ?)
Answer:
Yes, Lutkins manipulates the tour cleverly. Now where does he let the lawyer go first to enquire about the man he is looking for. Lutkins himself goes in. Then he comes out with the news that Lutkins left the place only five minutes before. In fact, he talks very confidently and is able to befool the lawyer.
(हाँ, लुटकिन्स चतुराई के साथ उस भ्रमण की व्यवस्था करता है। अब वह उस वकील को उस आदमी की तलाश में सबसे पहले जहाँ भी लेकर जाता है। लुटकिन्स स्वयं अंदर जाता है। तब वह इस समाचार के साथ बाहर आता है कि लुटकिन्स सिर्फ पाँच मिनट पहले ही उस स्थान को छोड़कर गया है। वास्तव में वह बड़े विश्वास के साथ बातें करता है और वकील को मूर्ख बना देता है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 3.
Why do you think Lutkins neighbours were anxious to meet the lawyer?
(आपके विचार में लुटकिन्स के पड़ोसी वकील से मिलने के लिए क्यों उत्सुक थे ?)
Answer:
Lutkins had been duping the lawyer since morning. All the people of New Mullion had enjoyed this fun. But Lutkins’ neighbours had missed this chance. So they were anxious to meet the lawyer.
(लुटकिन्स सुबह से ही वकील को छल रहा था। न्यू मुलियन के सभी लोगों ने इस मजाक का आनंद लिया था। लेकिन लुटकिन्स के पड़ोसी इस अवसर से चूक गए थे। इसलिए वे वकील से मिलने को उत्सुक थे।)

Question 4.
After his first day’s experience with the hack driver the lawyer thinks of returning to New Mullion to practise law. Do you think he would have reconsidered this idea after his second visit?
(घोडागाड़ी के चालक के साथ अपने पहले दिन के अनुभव के कारण वकील का विचार न्यू मुलियन में आकर वकालत करने का था। आप क्या सोचते हैं कि अपनी दूसरी यात्रा में उसका मन बदल गया ?)
Answer:
After his first visit the lawyer was much impressed by Lutkins and all other people of New Mullion. He found them very helpful, simple and loving. But on his second visit he was totally disillusioned when he saw that the hack driver was himself Oliver Lutkins. He found them no more truthful and simple. He found them very cunning. I think he surely shall have given up the idea of practicing law at New Mullion
(अपनी पहली यात्रा के पश्चात् वकील लुटकिन्स और न्यू मुलियन के दूसरे लोगों के व्यवहार से बहुत प्रभावित हुआ। उसने उन्हें बहुत अधिक मददगार, सादे और प्यार करने वाले पाया। लेकिन अपनी दूसरी यात्रा में वह पूर्णतया भ्रम मुक्त हो गया जब उसने देखा कि घोड़ागाड़ी का चालक ही स्वयं ओलिवर लुटकिन्स है। उसने उन्हें अधिक सच्चा और साधारण नहीं पाया। उसने उन्हें बहुत चालाक पाया। मेरा विचार है कि उसने न्यू मुलियन में वकालत करने का विचार अवश्य ही त्याग दिया होगा।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 5.
Do you think the lawyer was gullible? How could he have avoided being taken for a ride?
(आपके विचार में क्या वकील को आसानी से बेवकूफ बनाया जा सकता था ? वह बेवकूफ बनाए जाने से कैसे बच सकता था?)
Answer:
Yes, the lawyer was gullible. He could not see through the tricks of Lutkins. He was befooled by the other villagers also, including Lutkins’ mother. If he had met some people alone, he could have avoided being taken for a ride.
(हाँ, वकील को आसानी से बेवकूफ बनाया जा सकता था। वह लुटकिन्स की चाल को नहीं समझ सका। उसको लुटकिन्स की माँ सहित अन्य सभी गाँववासियों ने बेवकूफ बनाया। यदि वह कुछ लोगों से बिल्कुल अकेले में मिलता तो वह बेवकूफ बनाए जाने से बच सकता था।)

Talk about it (Page 53)

Question 1.
Do we come across persons like Lutkins only in fiction or do we encounter them in real life as well? You can give examples from fiction, or narrate an incident that you have read in the newspaper, or an incident from real life.
Answer:
This world is full of all kinds of people. Apart from others, there are cheats also in this world. They are on the look out for gullible people. Then they befool them easily with their confidence and tricks. Mr Natwarlal is such a person from real life. He has cheated hundreds of people. Then he was caught and put into jail. Yes I remember one such incident. A man came to a woman who lived in our neighbourhood. He told her that he could double her gold bangles with the help of his supernatural power. At that time she was wearing four gold bangles.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

He said that he would turn them into eight gold bangles. He was carrying a bag. The woman gave him the bangles. Then he asked her to fetch a glass of water for him. When she returned with water, he gave her eight gold bangles. She was overjoyed. He charged only five hundred rupees for that ‘great’ service. In the evening, when her husband came, she showed him hereight ‘gold’ bangles. Her husband got suspicious. They got the bangles checked and found that all the eight bangles were made of brass. Now they understood his trick. When the woman had gone to fetch water, he had replaced the four gold bangles with eight brass bangles which he was carrying in his bag.

Question 2.
Who is a ‘con man’, or a confidence trickster?
Answer:
‘Con’ is the short form of confidence. A con man is a person who deceives or befools others by winning their confidence. He himself is full of so much confidence that the other cannot see through his tricks. That is why, such a person is also called a ‘confidence trickster’.

JAC Class 10th English The Hack Driver Important Questions and Answers

Very Short Answer Type Questions

Question 1.
Where is the lawyer sent?
Answer:
The lawyer is sent to New Mullion.

Question 2.
What job did the narrator get after passing graduation?
Answer:
He got the job of a junior assistant in a law firm.

Question 3.
How did the lawyer go to New Mullion?
Answer:
The lawyer went to New Mullion by train.

Question 4.
Who befriends the lawyer in New Mullion?
Answer:
A hack driver named Bill befriends him in New Mullion.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 5.
Why was the lawyer happy to go to New Mullion?
Answer:
The lawyer was sick of the city life. So he was happy to go to New Mullion

Question 6.
Who is the writer of the story “The Hack Driver’?
Answer:
Sinclair Lewis.

Question 7.
Why was the lawyer sent to New Mullion?
Answer:
The lawyer was sent to New Mullion to serve summons on a man Oliver Lutkins.

Question 8.
What was the real name of the hack driver?
Answer:
His real name was Oliver Lutkins.

Question 9.
Who is Lutkins?
Answer:
Lutkins is a hack driver in New Mullion.

Question 10.
Where did the lawyer and the hack driver enjoy their lunch?
Answer:
They enjoyed their lunch on Wade’s Hill.

Question 11.
Where did the hack-driver take the narrator first of all?
Answer:
The hack-driver took the narrator first of all to Fritz’s shop.

Question 12.
Where did the hack-driver live?
Answer:
The hack-driver lived in New Mullion.

Question 13.
How did Oliver Lutkins mother treat the narrator?
Answer:
She ran after the narrator to kill him.

Question 14.
Who was Gustaft?
Answer:
He was a barber in New Mullion.

Question 15.
Where was Lutkins mother’s farmhouse?
Answer:
His mother’s farmhouse was three kilometres away from New Mullion in the north.

Short Answer Type Questions

Question 1.
What job did the narrator get after graduation? Did he like his work?
(स्नातक की उपाधि प्राप्त करने के पश्चात् लेखक को क्या नौकरी मिली ? क्या वह अपने काम को पसंद
Or
Why did the narrator not like his job?
(लेखक को अपना काम पसंद क्यों नहीं था?)
Answer:
After graduation, the narrator got the job of a junior assistant clerk in a law firm. His work was to serve summons like a cheap private detective. He had to go to dirty areas of the city. So he did not like his work.
(स्नातक की उपाधि प्राप्त करने के पश्चात्, लेखक को एक कानूनी फर्म में एक कनिष्ठ सहायक लिपिक की नौकरी मिल गई। उसका काम एक सस्ते निजी जासूस की भाँति अदालती आदेश तामील करवाना था। उसे शहर के गंदे क्षेत्रों में जाना पड़ता था। इसलिए वह अपने काम को पसंद नहीं करता था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 2.
(i) Why was he happy to go to New Mullion? Why did he go there?
(वह न्यू मुलियन जाने में क्यों प्रसन्न था ? वह वहाँ क्यों गया ?)
Answer:
The author was sick of the city life. He was happy to go to New Mullion because he thought that he would get peace and natural beauty there. He went there to serve summons to a person named Oliver Lutkins.
(लेखक शहर के जीवन से तंग आ चुका था। वह न्यू मुलियन जाने में प्रसन्न था क्योंकि उसने सोचा था कि उसे वहाँ शांति और प्राकृतिक सुंदरता की अनुभूति होगी। वह वहाँ ओलिवर लुटकिन्स नामक एक आदमी को अदालती आदेश तामील करवाने गया था।)

(ii) Why did the lawyer find the sight at the station “agreeable”?
(वकील को स्टेशन का दृश्य अच्छा क्यों लगा ?)
Answer:
The lawyer was severely disappointed when he viewed the sight of New Mullion. Its streetswere rivers of mud. But the only agreeable sight was the delivery man he met at the station. He was cheerful and friendly.
(जब वकील ने न्यू मुलियन के दृश्य को देखा तो वह बहुत अधिक निराश हुआ। इसकी गलियों कीचड़ की नदियों के समान थीं। लेकिन वहाँ पर केवल एक ही अच्छा दृश्य था और वह था डिलिवरी मैन जिसे वह स्टेशन पर मिला था। वह प्रसन्नचित्त और मित्रतापूर्वक था।)

Question 3.
How did the hack driver sketch the character of Lutkins?
(घोडागाड़ी के चालक ने लुटकिन्स का चरित्र-चित्रण कैसे किया ?)
Answer:
The hack driver said that Lutkins was a very dishonest fellow. He was very good at deceiving people. It was hard to catch him. He loved playing poker. He owed money to many but did not pay anybody a cent because he did not like to part with money.
(घोडागाड़ी के चालक ने कहा कि लुटकिन्स बहुत बेईमान था। वह दूसरों को धोखा देने में निपुण था। उसे पकड़ पाना कठिन काम था। उसे पोकर का खेल खेलने का शौक था। उसने बहुत सारे लोगों से पैसा उधार ले रखा था लेकिन किसी का एक सेंट भी नहीं लौटाता था क्योंकि वह पैसे देना ही नहीं चाहता था।)

Question 4.
With what impression did the lawyer come back to the city?
(वकील क्या प्रभाव लेकर शहर लोटा ?)
Answer:
The lawyer was happy and excited. He was a little worried about his failure to trace out Lutkins. He thought that people in New Mullion were simple, slow-spoken and helpful. He even wanted to start his law practice at New Mullion.
(वकील प्रसन्न और उत्साहित था। वह लुटकिन्स को ढूँढ पाने में अपनी असफलता से बहुत कम चिंतित था। उसने सोचा कि न्यू मुलियन के लोग बहुत साधारण, धीमे-स्वर में बोलने वाले और मददगार थे। यहाँ तक कि वह न्यू मुलियन में अपनी वकालत शुरु करना चाहता था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 5.
How did the people at the law firm receive him?
(कानून की फर्म में लोगों ने उसका कैसा स्वागत किया ?)
Answer:
The people at the law firm were very angry with him over his failure. They called him a useless fool. The chief of the firm almost murdered him. He said that he might do well at digging ditches.
(कानून की फर्म में लोग उसकी असफलता के कारण उससे बहुत नाराज़ थे। उन्होंने उसे बेकार मूर्ख कहा। कानून की फर्म के मुखिया ने तो उसे लगभग मार ही दिया। उसने कहा कि वह खाइयाँ खोदने का काम अच्छा कर सकता है।)

Question 6.
Why was he sent back to New Mullion? Who went with him?
(उसे न्यू मुलियन वापस क्यों भेजा गया? उसके साथ कौन गया?)
Answer:
Lutkins was badly needed as a witness in a case in the court the next morning. So the narrator was sent back to serve the summons to Lutkins. A man who recognised Lutkins went with him.
(अगली सुबह अदालत में एक केस में गवाह के रूप में लुटकिन्स की बहुत अधिक आवश्यकता थी। इसलिए लेखक को लुटकिन्स को आदेश तामील करवाने के लिए वापस न्यू मुलियन भेजा गया। एक आदमी जो लुटकिन्स को पहचानता था उसके साथ गया।)

Question 7.
Who was the hack driver? What really hurt the feelings of the narrator?
(घोडागाड़ी का चालक कौन था ? लेखक की भावनाओं को वास्तव में किस बात से ठेस पहुँची?)
Answer:
In reality the hack driver was Oliver Lutkins himself. He took the narrator the whole day in his carriage looking for Oliver Lutkins. The narrator’s feelings were hurt because Lutkins and his mother laughed at him as though he was a bright boy of seven years.

(वास्तव में घोड़ागाड़ी का चालक स्वयं ओलिवर लुटकिन्स था। वह लेखक को अपनी घोड़ागाड़ी में लेकर सारा दिन लुटकिन्स की तलाश करता रहा। लेखक की भावनाओं को ठेस पहुँची क्योंकि लुटकिन्स और उसकी माँ उस पर इस प्रकार हैंसे जैसे कि वह सात वर्ष का चमकीला (आकर्षक) बच्चा हो।)

Question 8.
How did the hack driver offer to help the narrator?
(घोडागाड़ी के चालक ने लेखक की कैसे सहायता करने का प्रस्ताव रखा ?)
Answer:
The hack driver told the narrator that he could help him a lot to trace out Lutkins. He said that he knew all the places where he could be found but he said that he would charge for it.
(घोडागाड़ी के चालक ने लेखक को बताया कि वह लुटकिन्स को ढूँढने में उसकी बहुत अधिक मदद कर सकता है। उसने कहा कि उसे उन सभी स्थानों की जानकारी है जहाँ लुटकिन्स मिल सकता है लेकिन उसने कहा कि वह इसके लिए पैसे वसूलेगा।)

Question 9.
How did Lutkins’ mother treat the lawyer?
(लुटकिंस की माँ ने वकील के साथ कैसा व्यवहार किया?)
Answer:
The hack driver took the lawyer to Lutkins’ mother’s farm house. Some three miles away from New Mullion. Reaching there, Bill told the lady that a lawyer had come from the city to serve summons on her sori Lutkins. Listening this, she ran after the lawyer with an iron rod in her hand.
(गाड़ीवान वकील को लुटकिंस की माँ के फार्म हाऊस में ले गया। न्यू मुलियन से कुछ तीन मील दूर। वहाँ पहुँचकर बिल ने महिला को बताया कि एक वकील शहर से उसके बेटे लुटकिंस को आदेश तामील करवाने आया था। यह सुनकर वह अपने हाथ में लोहे की छड़ी लेकर वकील के पीछे दौड़ी।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 10.
How did the narrator learn the truth about the hack driver?
(लेखक को घोड़ागाड़ी के चालक की वास्तविकता का कैसे पता चला ?)
Answer:
The owner of the law firm in the city sent back the narrator to New Mullion immediately. A man who knew Lutkins was also sent with him. When they reached at the station, the hack driver was standing there near his carriage. The man pointed out that the hack driver was Lutkins.
(शहर में कानूनी फर्म के मालिक ने लेखक को तुरंत वापस न्यू मुलियन भेज दिया। एक आदमी, जो लुटकिन्स को जानता था, को भी उसके साथ भेजा गया। जब वे स्टेशन पर पहुंचे तो घोड़ागाड़ी का चालक अपने वाहन के पास खड़ा था। उस आदमी ने संकेत किया कि घोड़ागाड़ी का चालक ही लुटकिन्स है।)

Essay Type Questions

Question 1.
Describe the narrator’s first visit to New Mullion.
(लेखक की न्यू मुलियन की पहली यात्रा का वर्णन कीजिए।)
Or
Describe the young lawyer’s first encounter with the hack driver.
(गाड़ीवान के साथ युवा वकील की पहली मुलाकात का वर्णन कीजिए।)
Answer:
The narrator was a junior assistant clerk in a law firm in the city. Once he was sent to New Mullion to serve summons to a person named Oliver Lutkins. He reached New Mullion by train. At the station he met a hack driver. He seemed to be helpful and friendly. The narrator told him that he wanted to see Lutkins very urgently. The hack driver was Lutkins himself. He told the narrator that he knew all the places very well where Lutkins could be found. The narrator hired him at the rate of two dollars per hour. The hack driver drove the narrator for six hours in New Mullion in search of Lutkins. He kept the narrator behind him. He was so cunning that he tutored the people about his plan. Everybody said that Lutkins was there a little while ago and had just gone away. The narrator had to return back to the city without finding Lutkins.

(लेखक शहर में एक कानून की फर्म में कनिष्ठ सहायक लिपिक था। एक दिन उसे ओलिवर लुटकिन्स नामक एक आदमी को आदेश तामील करवाने के लिए न्यू मुलियन भेजा गया। वह गाड़ी से न्यू मुलियन पहुँचा। स्टेशन पर उसे एक गाड़ीवान मिला। वह मददगार और मित्रतापूर्वक दिखता था। लेखक ने उसे बताया कि वह लुटकिन्स से बहुत जरूरी मिलना चाहता है। गाड़ीवान स्वयं लुटकिन्स था। उसने लेखक को बताया कि वह उन सभी स्थानों को अच्छी तरह जानता है जहाँ लुटकिन्स मिल सकता था। लेखक ने उसको दो डॉलर प्रति घंटा की दर से किराए पर कर लिया।
गाड़ीवान लेखक को छह घंटे तक लुटकिन्स की तलाश में न्यू मुलियन में घूमता रहा। उसने लेखक को अपने से पीछे रखा। वह इतना चालाक था कि लोगों को अपनी योजना के बारे में पहले ही सिखा देता था। सभी ने यही कहा कि लुटकिन्स वहाँ थोड़ी देर पहले आया था लेकिन अभी-अभी चला गया था। इसलिए लेखक को लुटकिन्स को ढूँढे बिना वापस शहर लौटना पड़ा।)

Question 2.
How were the summons served to Lutkins?
(लुटकिन्स को आदेश कैसे तामील करवाए गए?)
Answer:
During his first visit to New Mullion the narrator failed to serve the summons to Oliver Lutkins because he was duped by a hack driver. The Chief of the law firm was very angry over his failure. The firm needed Lutkins very badly because he was an important witness in a case in the court next morning. So the narrator was sent back to New Mullion immediately. A man who knew Lutkins was also sent with him. When they reached New Mullion station, the hack man was standing there near his carriage. He was talking to his mother. The man recognised him as Oliver Lutkins. Then the narrator served him the summons.

(न्यू मुलियन की अपनी पहली यात्रा के दौरान लेखक ओलिवर लुटकिन्स को आदेश तामील करवाने में असफल रहा क्योंकि वह एक गाड़ीवान के द्वारा छला गया था। कानूनी फर्म का मुखिया उसकी असफलता के कारण बहुत नाराज था। फर्म को लुटकिन्स की बहुत अधिक आवश्यकता थी क्योंकि अगली सुबह अदालत में एक मुकद्दमे में वह एक महत्त्वपूर्ण गवाह था। इसलिए वर्णनकर्ता को तत्काल ही न्यू मुलियन वापस भेजा गया। एक आदमी, जो लुटकिन्स को जानता था, भी उसके साथ भेजा गया। जब वे न्यू मलियन स्टेशन पहुंचे, गाड़ीवान वहाँ पर अपने वाहन के पास खड़ा था। वह अपनी माँ से बातें कर रहा था। उस आदमी ने उसकी पहचान ओलिवर लुटकिन्स के रूप में की। तब लेखक ने उसे आदेश तामील करवा दिए।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 3.
Write a character sketch of the lawyer.
(वकील का चरित्र-चित्रण कीजिए।)
Answer:
The lawyer was a fresh graduate from a university. He got a job as a junior assistant clerk in a law firm. His duty was to serve the summons. He did not like his job. He liked simple, honest and friendly people. He got very happy when he was asked to go to New Mullion. He loved natural beauty. He liked New Mullion and its people very much. He considered starting his law practice at New Mullion. He was simple hearted man. He was easily taken for a ride by the hack driver. He could not see the trick of the hack man behind his friendly behaviour. But he was a man of self-respect. His feelings were hurt when Lutkins and his mother laughed at him as he was a bright boy of seven years.

(वकील एक विश्वविद्यालय से स्नातक की उपाधि प्राप्त एक युवा वकील था। उसे कानून की एक फर्म में कनिष्ठ सहायक लिपिक की नौकरी मिल गई। उसका काम आदेश तामील करवाना था। वह अपनी नौकरी को पसंद नहीं करता था। उसे साधारण, ईमानदार और मित्रतापूर्वक लोग पसंद थे। जब उसे न्यू मुलियन जाने के लिए कहा गया तो वह बहुत प्रसन्न हो गया। उसे प्राकृतिक सुंदरता से बहुत प्यार था। उसने न्यू मुलियन और उसके लोगों को बहुत पसंद किया। उसने न्यू मुलियन में अपनी वकालत शुरु करने का विचार किया। वह एक साफ हृदय वाला व्यक्ति था। उसे गाड़ीवान के द्वारा आसानी से अपनी बातों में फंसा लिया गया। वह गाड़ीवान के मित्रतापूर्वक व्यवहार के पीछे उसकी चालबाज़ी को नहीं समझ सका। उसमें आत्मसम्मान की भावना थी। जब लुटकिन्स और उसकी माँ उसे सात वर्ष के एक चमकदार लड़के की भाँति देखकर हँसे तो उसकी भावनाओं को ठेस पहुँची।)

Question 4.
Write a character-sketch of the hack driver.
(गाड़ीवान का चरित्र-चित्रण कीजिए।)
Answer:
Lutkins is a hack driver in New Mullion. He is a cheater. He borrows money from different persons. But he never pays them back. He is able to cheat the narrator also. But he is a cheerful and friendly person. The lawyer reached New Mullion. There he came across Lutkins. But the lawyer did not recognise him. The lawyer told him that he had come to meet Lutkins. At this Lutkins made a plan to befool him. He told him that his name was Bill and he would help him in finding out Lutkins.

(न्यू मुलियन में लुटकिंस एक गाड़ीवान है। वह एक धोखेबाज है। वह विभिन्न व्यक्तियों से पैसे उधार लेता है। लेकिन वह उन्हें कभी वापिस नहीं करता। वह वर्णनकर्ता को भी धोखा देने में सक्षम है। लेकिन वह हँसमुख और मिलनसार व्यक्ति है। वकील न्यू मुलियन पहुँचा। वहाँ वह लुटकिंस के पास आया। लेकिन वकील ने उसे नहीं पहचाना। वकील ने उसे बताया कि वह लुटकिंस से मिलने आया था। इस पर, लुटकिंस ने उसे पागल बनाने की योजना बनाई। उसने उसे बताया कि उसका नाम बिल था और वह उसे लुटकिंस का पता लगाने में मदद करेगा।

Multiple Choice Questions

Question 1.
After doing graduation with honours, what job did the narrator get?
(A) teacher
(B) junior assistant clerk in a law firm
(C) lawyer
(D) police officer
Answer:
(B) junior assistant clerk in a law firm

Question 2.
What job was assigned to the narrator in the law firm?
(A) serve summons
(B) prepare legal briefs
(C) fight cases
(D) all of the above
Answer:
(A) serve summons

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 3.
Where was the narrator sent one day?
(A) New Mullion
(B) Old Mullion
(C) Red Mullion
(D) Hill Mullion
Answer:
(A) New Mullion

Question 4.
The narrator was sent to New Mullion to serve summons on:
(A) Fritz
(B) Gustaff
(C) Oliver Lutkins
(D) Oliver Lutkins’ mother
Answer:
(C) Oliver Lutkins

Question 5.
New Mullion was at a distance of …………………. kilometres from the place where the narrator
was employed.
(A) ten
(B) twenty
(C) thirty
(D) forty
Answer:
(D) forty

Question 6.
The narrator went to New Mullion by:
(A) bus
(B) train
(C) plane
(D) hack
Answer:
(B) train

Question 7.
What was the only agreeable sight when the narrator reach New Mullion station?
(A) streets
(B) shops
(C) the delivery man
(D) all of the above
Answer:
(C) the delivery man

Question 8.
How was the delivery man to the narrator?
(A) friendly
(B) haughty
(C) indifferent
(D) cold
Answer:
(A) friendly

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 9.
Who offered the narrator to help in locating Oliver Lutkins?
(A) Gustaff
(B) Fritz
(C) Oliver’s mother
(D) The Hack Driver
Answer:
(D) The Hack Driver

Question 10.
Who was the Hack Driver actually?
(A) Fritz
(B) Gustaff
(C) Oliver Lutkins
(D) Gray
Answer:
(C) Oliver Lutkins

Question 11.
Where did the hack driver take the narrator first of all?
(A) Fritz’s shop
(B) Gustaff’s shop
(C) Gray’s shop
(D) Oliver’s mother’s farmhouse
Answer:
(A) Fritz’s shop

Question 12.
Who gave himself a false name’Bill’?
(A) the narrator
(B) Oliver Lutkins
(C) Fritz
(D) Gustaff
Answer:
(B) Oliver Lutkins

Question 13.
Where did the narrator and the hack driver enjoyed there lunch?
(A) in a big restaurant
(B) at Oliver’s house
(C) at Fritz’s house
(D) on Wade’s Hill
Answer:
(D) on Wade’s Hill

Question 14.
Oliver’s mother rush after the narrator with ……………… in her hand.
(A) an iron rod
(B) a gun
(C) a stick
(D) a stone
Answer:
(A) an iron rod

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

Question 15.
Did the narrator find Oliver during his first visit to New Mullion?
(A) yes
(B) no
(C) may be
(D) not known
Answer:
(B) no

Question 16.
Why was the narrator ordered back to New Mullion once again?
(A) to arrest Lutkins
(B) to serve summons on him
(C) to live permanently in New Mullion
(D) all of the above
Answer:
(B) to serve summons of him

Question 17.
Who was sent with the narrator on his second visit to New Mullion?
(A) a relative of Lutkins
(B) an experienced lawyer
(C) a man who had worked with Lutkins
(D) none of the above
Answer:
(C) a man who had worked with Lutkins

Question 18.
Was the narrator successful in serving summons on Lutkins on his second visit?
(A) yes
(B) no
(C) may be
(D) may not be
Answer:
(A) yes

Question 19.
What was Gustaff?
(A) a barber
(B) a butcher
(C) a hack driver
(D) a carpenter
Answer:
(A) a barber

Question 20.
Who is the writer of the story “The Hack Driver’?
(A) Guy de Maupassant
(B) Sinclair Lewis
(C) K.A. Abbas
(D) Claire Boiko
Answer:
(B) Sinclair Lewis

The Hack Driver Summary in English

The Hack Driver Introduction in English

“The story “The Hack Driver is the story of a hack driver called Oliver Lutkins. He lived at New Mullion. He was an important witness in a court case. The law firm wrote many letters to him but he did not appear before the court. At last the firm sent a young lawyer to New Mullion to issue summons to Lutkins. The Junior assistant clerk did not recognise Lutkins. Lutkins met him at the station. He took the assistant clerk all over the town in search of Lutkins although he himself was Lutkins. He could not serve the summans to Lutkins. He had to return back to the city. But the owner of the legal firm sent him back to New Mullion. He could serve the summons to Lutkins this time.

The Hack Driver Summary in English

After passing graduation the narrator became a junior assistant clerk in a law firm. His duty was to serve summons to the people regarding the court cases. He had to visit the dirty corners of the city. He hated this unpleasant work. Once he was asked to go to New Mullion to serve summons to Oliver Lutkins. It was forty miles away from that place. He reached there by train. He hired a hack at the rate of two dollars per hour. The narrator told the hack driver that he wanted to see Oliver Lutkins. The hack driver himself was the same person whom the narrator was looking for but he did not recognise him.

The hack driver told him that his name was Bill or Magnuson and everybody called him Bill. He told the narrator that Lutkins would be playing a poker, game in the back of Fritz’s shop. They went there but could not find Lutkins there. Then they went to Gustaffs shop. Fritz had told them that Lutkins had gone there for a shave. When they arrived there, they were informed that Lutkins had not come there.

Later they went to Gray’s shop who told them that Lutkins had just gone away five minutes ago to the poolroom. They reached the poolroom. There they were told that Lutkins had come there but he had just bought a packet of cigarettes and gone away. It was 1 p.m. by then. They were feeling hungry. Bill suggested the narrator that they should enjoy their lunch on the Wade’s Hill Bill got the lunch packed from his wife and they enjoyed it on the hill top.

While sitting on the hill top Bill talked about his town’s people in detail. He talked about the minister’s wife, the college students and the lawyer’s wife. The narrator came to know better about the town. Then they got down from the hill top. Bill told the narrator that Lutkins would have gone to his mother’s farmhouse three kilometres away in the north. He said that his mother was a terror. He narrated him his experience with Lutkins mother. They reached there and inquired Lutkins’ mother about his whereabouts. She ran after them with an iron rod in her hand. But anyhow they could manage to examine the whole house but could not find him there.

It was nearly time for the narrator to catch the afternoon train, and Bill drove him to the station. On the way to the city, the narrator was worried very little over his failure to find Lutkins. He was busy thinking about Bill Magnuson. He was considering returning to New Mullion to practice law. When the narrator told the owner of the firm that he could not trace out Lutkins, he got very angry. They were badly in need of Lutkins the next morning.

He asked the narrator to return back to New Mullion immediately. He sent an another person with the narrator who recognised Lutkins. When they arrived at New Mullion station, Bill was standing at the station near his carriage. The author recognised him as Bill Magnuson but the other man said that it was Oliver Lutkins in reality. The narrator was very much surprised. He served him summons.

The Hack Driver Summary in Hindi

The Hack Driver Introduction in Hindi

(कहानी ‘The Hack Driver’ एक घोड़ा गाड़ीचालक की कहानी है जिसका नाम ओलिवर लुटकिन्स था। वह न्यू मुलियन में रहता था। वह एक अदालती मुकद्दमे में एक महत्त्वपूर्ण गवाह था। कानूनी फर्म ने उसे अनेक पत्र लिखे लेकिन वह अदालत के सामने उपस्थित नहीं हुआ। आखिर में फर्म ने एक कनिष्ठ सहायक लिपिक को लटकिन्स को आदेश तामील करवाने के लिए न्य मुलियन भेजा। कनिष्ठ सहायक लिपिक लुटकिन्स को नहीं पहचानता था। लुटकिन्स उसे स्टेशन पर मिल गया। वह सहायक लिपिक को लुटकिन्स की तलाश में सारे शहर में ले गया यद्यपि वह स्वयं लुटकिन्स था। वह लुटकिन्स को आदेश तामील नहीं करा सका। उसे शहर वापस लौटना पड़ा। लेकिन कानून की फर्म के मालिक ने उसे न्यू मुलियन वापस भेज दिया। वह इस बार लुटकिन्स को आदेश तामील करा सका।)

The Hack Driver Summary in Hindi

स्नातक की उपाधि की परीक्षा पास करने के पश्चात् लेखक एक कानून की फर्म में कनिष्ठ सहायक लिपिक बन गया। उसका काम लोगों को अदालती मुकद्दमों के संबंध में अदालती आदेश तामील कराना था। उसे शहर के गंदे क्षेत्रों में जाना पड़ता था। वह इस असुखद कार्य से घृणा करता था। एक बार उसे ओलिवर लुटकिन्स नामक एक आदमी को अदालती आदेश तामील करवाने के लिए न्यू मुलियन जाने को कहा गया। यह स्थान वहाँ से चालीस मील दूर था। वह वहाँ गाड़ी से पहुँचा। उसने दो डॉलर प्रति घंटे के हिसाब से एक तांगा किराए पर ले लिया। लेखक ने गाड़ीवान को बताया कि वह ओलिवर लुटकिन्स से मिलना चाहता है। गाड़ीवान स्वयं वही व्यक्ति था जिसे लेखक ढूँढ रहा था, लेकिन वह उसे नहीं पहचानता था।

गाड़ीवान ने उसे बताया कि उसका नाम बिल और मैग्नुसन है और सभी उसे बिल के नाम से पुकारते हैं। उसने उसे बताया कि लुटकिन्स फ्रिट्ज की दुकान के पिछवाड़े में पोकर का खेल, खेल रहा होगा। वे वहाँ गए परंतु वह उन्हें वहाँ नहीं मिला। तब वे गुस्टॉफ की दुकान पर गए। फ्रिट्ज ने उन्हें बताया था कि लुटकिन्स वहाँ दाढ़ी बनवाने गया है। जब वे वहाँ पहुंचे तो उन्हें बताया गया कि लुटकिन्स वहाँ नहीं आया था। बाद में वे ग्रे की दुकान पर गए, जिसने उन्हें बताया कि लुटकिन्स सिर्फ पाँच मिनट पहले ही जुआघर गया था। वे जुआघर पहुँचे। वहाँ उन्हें बताया गया कि लुटकिन्स वहाँ आया तो था लेकिन उसने सिर्फ एक पैकेट सिगरेट खरीदा और चला गया। तब तक दोपहर बाद का एक बज चुका था। उन्हें भूख लग गई थी। बिल ने लेखक को सझाव दिया कि उन्हें अपने दोपहर के खाने का आनंद वाड़े की पहाड़ी पर लेना चाहिए। बिल ने अपनी पत्नी से दोपहर का भोजन पैक करवाया और उन्होंने पहाड़ी की चोटी पर उसका आनंद लिया।
पहाड़ी की चोटी पर बैठे हुए बिल ने अपने शहर के लोगों के बारे में विस्तार से बातें कीं।

उसने मंत्री की पत्नी, कॉलेज के विद्यार्थियों और वकील की पत्नी के बारे में बातें कीं। लेखक को कस्बे के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त हो गई। तब वे पहाड़ी की चोटी से नीचे उतर आए। बिल ने लेखक को बताया कि लुटकिन्स उत्तर दिशा में तीन किलोमीटर दूर स्थित अपनी माँ के फार्म हाऊस पर चला गया होगा। उसने कहा कि उसकी माँ एक आतंक है। उसने लुटकिन्स की माँ के साथ अपने अनुभव को उसे सुनाया। वे वहाँ पहुँचे और लुटकिन्स की माँ से उसके बारे में जानकारी माँगी। वह अपने हाथ में लोहे की एक छड़ लेकर उनके पीछे भागी। लेकिन जैसे-तैसे उन्होंने घर का निरीक्षण कर लिया और उन्हें वह कहीं भी नहीं मिला। लेखक का दोपहर बाद वाली गाड़ी पकड़ने का समय हो गया था और बिल उसे स्टेशन तक ले आया। शहर की ओर लौटते समय रास्ते में वह लुटकिन्स को ढूंढ पाने में अपनी असफलता के बारे में बहुत कम चिंतित था। वह बिल मैग्नुसन के बारे में सोचने में बहुत व्यस्त था। वह न्यू मुलियन में लौटकर वकालत करने के बारे में विचार कर रहा था।

जब लेखक ने फर्म के मालिक को बताया कि वह लुटकिन्स को नहीं ढूंढ पाया है तो वह बहुत क्रोधित हो गया। उन्हें अगली सुबह लुटकिन्स हर हालत में चाहिए था। मालिक ने लेखक को तुरंत न्यू मुलियन लौट जाने के लिए कहा। उसने लेखक के साथ एक अन्य व्यक्ति को भेजा जो लुटकिन्स को पहचानता था। जब वे न्यू मुलियन पहुँचे तो उन्होंने बिल को अपने वाहन के पास खड़े हुए देखा। लेखक ने उसकी पहचान बिल मैग्नुसन के रूप में की, जबकि दूसरे आदमी ने कहा कि वह वास्तव में ओलिवर लुटकिन्स है। लेखक बहुत अधिक हैरान था। उसने उससे आदेश तामील करवा दिए।

The Hack Driver Translation in Hindi

[PAGE 47]: (एक युवा वकील श्रीमान लुटकिन्स को अदालती आदेश तामील करवाने के लिए एक गाँव में आता है। एक मित्र तांगेवाला लुटकिन्स की खोज में उसे गाँव के चक्कर लगवाता है। क्या उसे वह मिल जाता है ? लुटकिन्स कौन है?) आनर्स के साथ स्नातक की उपाधि प्राप्त करने के पश्चात् मैं एक शानदार कानूनी फर्म में कनिष्ठ सहायक लिपिक बन गया। मुझे कानूनी मुकद्दमे तैयार करने के लिए नहीं, बल्कि एक सस्ते निजी जासूस की तरह अदालती आदेश तामील करवाने के लिए भेजा जाता था। मुझे अपने शिकारों को ढूंढने के लिए शहर के गंदे और अंधेरे वाले क्षेत्रों में जाना पड़ता था। कुछ अधिक बड़े और विश्वस्त व्यक्ति मुझे मात दे देते थे। मैं इस असुखद कार्य से घृणा करता था और शहरी जीवन का जो पक्ष मेरे सामने प्रकट हुआ, उससे मैं घृणा करता था। मैं वहाँ से तत्काल अपने निजी कस्बे में भाग जाना चाहता था, जहाँ मैं इस असुखद प्रशिक्षण कार्यक्रम के बिना तत्काल प्रभाव से वास्तविक वकील बन सकता था।

इसलिए एक दिन मुझे बहुत प्रसन्नता हुई, जब उन्होंने मुझे चालीस मील दूर, ‘न्यू मुलियन’ कस्बे में, ओलिवर लुटकिन्स नाम के एक आदमी को आदेश तामील कराने के लिए भेज दिया। हमें इस व्यक्ति की एक कानूनी मुकद्दमे में गवाह के रूप में आवश्यकता थी, और उसने हमारे सभी पत्रों की अवहेलना कर दी थी। जब मैं न्यू मुलियन पहुँचा, तो मधुर और सादे ग्रामीण जीवन के बारे में मेरी उत्सुकतापूर्ण आशाएँ कठोर निराशाओं में बदल गईं। उसकी गलियों कीचड़ की नदियों के समान थीं, जिनके दोनों ओर लकड़ी से बनी दुकानें थीं, जिन पर या तो गहरे भूरे रंग का पेंट (रंग) किया हुआ था, या वे बिना रंग के थीं। उस स्थान पर केवल एक ही सुखद बात थी और वह था स्टेशन का डिलिवरी मैन (वितरक)। उसकी आयु लगभग 40 वर्ष थी, चेहरा लाल, प्रसन्नचित्त और कमर मोटी थी। उसके ड्यूटी पर पहने हुए वस्त्र गदै और काफी पुराने थे, लेकिन उसके तरीके मैत्रीपूर्ण थे। आपको एकदम ऐसा लगता है कि वह मनुष्यों को पसंद करता था।मैंने उसे बताया, “मैं ओलिवर लुटकिन्स नाम के आदमी से मिलना चाहता हूँ।”

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

[PAGE 48]: “लुटकिन्स ? मैंने उसे यहीं कहीं आस-पास एक घंटा पहले देखा था। यद्यपि उसे पकड़ना कठिन है-हमेशा कुछ-न-कुछ करता रहता है। शायद वह फ्रिट्ज की दुकान के पिछवाड़े में पोकर का खेल खेलना शुरु करने वाला है। बच्चे, मैं तुम्हें बताऊंगा-क्या लुटकिन्स को ढूँढने की कोई जल्दी है ?” “हाँ। मुझे वापस शहर लौटने के लिए दोपहर बाद वाली गाड़ी पकड़नी है।” इस बात के बारे में मैं बहुत महत्त्वपूर्ण और गुप्त रहना चाहता था। मैं आपको बताऊंगा। मेरे पास एक घोड़ागाड़ी है। मैं उसे बाहर ले आऊंगा और हम दोनों बाहर इकट्ठे चलेंगे और लुटकिन्स को ढूँढ लेंगे। मुझे अधिकतर स्थानों का पता है जहाँ वह अटका रहता है।” । – वह इतना निःसंकोची और मैत्रीपूर्ण था कि मैं उसके स्नेह की गर्माहट से चमक उठा। मुझे पता था कि वह अपना धंधा चाहता था लेकिन उसकी दयालुता असली थी। मैं खुश था कि भाड़े के पैसे इस अच्छे आदमी को मिलेंगे। मैंने उसके साथ सौदेबाज़ी करके दो डॉलर प्रति घंटे के हिसाब से तय कर लिया, और तब वह पास ही स्थित अपने घर से पहियों के ऊपर एक काला संदूक (गाड़ी) ले आया। उसने कहा, “अच्छा, नवयुवक, यह गाड़ी है,” और उसकी विशाल मुस्कान ने मुझे उसका पक्का मित्र बना दिया। ये ग्रामीण एक अजनबी की सहायता करने के लिए किस तरह तैयार रहते हैं। उसने मेरे लिए ओलिवर लुटकिन्स को ढूंढ निकालना अपना काम समझ लिया था।

[PAGE 48]: उसने कहा, “नवयुवक, मैं दखल नहीं देना चाहता हूँ, लेकिन मेरा अनुमान है कि आप लुटकिन्स से कुछ धनराशि प्राप्त करना चाहते हो। वह कभी किसी को एक सेंट भी नहीं देता है। उसे पोकर के खेल में हारे हुए मेरे पचास सेंट देने हैं। मैं मूर्ख था कि मैंने उसे उधार दे दिया। वह वास्तव में बुरा नहीं है, लेकिन उससे पैसे प्राप्त करना बहुत ही कठिन काम है। यदि आप इतने बढ़िया वस्त्र पहनकर उससे पैसे प्राप्त करने का प्रयास करोगे, तो वह आप पर शक करेगा, और वहाँ से भाग जाएगा। यदि आप चाहें तो मैं फ्रिट्ज की दुकान में जाकर उसके बारे में पता लगाता हूँ, आप मेरे पीछे छुपे रहें।”

[PAGE 49]: इसी बात के लिए मैं उसे पसंद करता था। मैं स्वयं, लुटकिन्स को कभी नहीं ढूँढ सकता था। गाड़ीवान के ज्ञान की सहायता से, मुझे उस व्यक्ति को ढूँढ निकालने का पूर्ण विश्वास था। मैंने उसे अपने विश्वास में लिया और उसे बता दिया कि मैं लुटकिन्स को अदालती आदेश तामील करवाना चाहता हूँ, क्योंकि उस आदमी ने गवाही देने से मना कर दिया था जबकि उसकी सूचना से हमारा मुकद्दमा जल्दी से सुलझ जाता। चालक ने ईमानदारी से सुना। आखिर में, उसने मेरे कंधे के ऊपर थपकी दी और हँसा, “अच्छा, हम भैया लुटकिन्स को हैरानी में डाल देंगे।”
“चालक, चलो चलें।”
“यहाँ आस-पास के अधिकतर लोग मुझे बिल या मैग्नुसन के नाम से पुकारते हैं। मेरे धंधे का नाम है ‘विलियम मैग्नुसन फैंसी कार्टिंग एंड हैकिंग।”
“ठीक है, बिल। क्या हम फ्रिट्ज की दुकान पर चलें”
“हाँ, लुटकिन्स के वहाँ पर अन्य स्थानों की अपेक्षा होने की अधिक संभावना है। वह बहुत अधिक पोकर खेलता है। लोगों को धोखा देने में वह माहिर है।” ऐसा लग रहा था कि बिल लुटकिन्स के बेईमानी के गुणों का वर्णन कर रहा था। मुझे लगा कि यदि वह पुलिस में होता, तो लुटकिन्स को सम्मानपूर्ण ढंग से गिरफ्तार करके, उसे जेल भेजकर खेद प्रकट करता।
बिल मुझे फ्रिट्ज की दुकान पर ले गया। “क्या तुमने यहाँ कहीं आस-पास आज ओलिवर लुटकिन्स को देखा है? उसका एक मित्र उसे ढूँढ रहा है।” बिल ने प्रसन्नतापूर्वक कहा।
बिल के पीछे छुपते हुए, फ्रिट्ज ने मेरी ओर देखा। वह हिचका, और तब उसने स्वीकार किया, “हाँ, वह थोड़ी देर पहले यहीं पर था। मेरा अनुमान है कि वह दाढ़ी बनवाने के लिए गुस्टॉफ की दुकान पर गया होगा।”

“ठीक है, यदि वह यहाँ आए तो उसे बता देना कि मैं उसे ढूँढ रहा हूँ।”
तब वह गाड़ी को गुस्टॉफ नाई की दुकान पर ले गया। पुनः बिल पहले अंदर गया, और मैं दरवाजे पर अटका रहा। उसने न केवल स्वीडी व्यक्ति बल्कि दो ग्राहकों से भी पूछा कि क्या उन्होंने लुटकिन्स को देखा है। स्वीडी ने नहीं देखा था। उसने क्रोधित होकर कहा, “मैंने उसे नहीं देखा है, और मैं उसे देखने की इच्छा भी नहीं रखता हूँ। लेकिन यदि वह तुम्हें मिल जाए तो उससे पैंतीस डॉलर का मेरा ऋण भी वसूल कर लेना।” ग्राहकों में से एक ने सोचा कि उसने लुटकिन्स को होटल के इस ओर मुख्य सड़क पर घूमते देखा था। जब हम दुबारा घोड़ागाड़ी में सवार हुए, बिल ने अनुमान लगाया कि क्योंकि लुटकिन्स ने गुस्टॉफ को दिया हुआ धन वसूल कर लिया था शायद वह दाढ़ी बनवाने के लिए ग्रे की दुकान पर चला गया होगा। ग्रे नाई की दुकान पर केवल पाँच मिनट के अंतर में हमने लुटकिन्स को खो दिया। वह अभी-अभी गया था शायद जुआघर में गया था। जुआघर में हमें पता चला कि उसने वहाँ से केवल सिगरेट का एक पैकेट खरीदा था और बाहर चला गया था। इसलिए हमने उसका पीछा किया, हम उससे थोड़े अंतर पर ही पीछे चल रहे थे लेकिन उसे कभी पकड़ नहीं पाए। एक घंटा बीत गया और एक बज गया। मैं भूखा था। परंतु बिल द्वारा उसके पड़ोसियों के भद्दे देहाती विचारों से आनंदित होकर मुझे इस बात की परवाह नहीं थी कि मैंने लुटकिन्स को खोजा या नहीं।

[PAGE 50]: “क्या कुछ खा लिया जाए ?” मैंने सुझाव दिया “आओ रेस्टोरेंट चलें मैं आपको भोजन खिला दूंगा।”.
“ठीक है, मुझे अपनी पत्नी के पास घर चले जाना चाहिए। मुझे ये रेस्टोरेंट अधिक पसंद नहीं हैं यहाँ केवल चार ही रेस्टोरेंट हैं और वे सभी गंदे हैं। आपको बताऊं हम क्या करेंगे। हम पत्नी के पास जाएंगे और उससे दोपहर का भोजन पैक करवा लेंगेवह आपसे आधे डॉलर से अधिक वसूल नहीं करेगी, और रेस्टोरेंट में चिकनाई वाला भोजन खाना आपको अधिक महंगा पड़ेगा और हम वाडे की पहाड़ी पर जाकर भोजन करेंगे और दृश्य का आनंद लेंगे। मैं जानता था कि बिल के द्वारा एक नगरवासी के प्रति सहायतापूर्वक व्यवहार करना पूर्णतया भाई-चारे की भावना नहीं है। मैं इस समय के लिए उसे भुगतान कर रहा था; अंत में मैंने उसे छह घंटे के लिए भुगतान किया (जिसमें दोपहर के भोजन के समय का एक घंटा भी शामिल था।) और वह उस समय काफी ऊँची कीमत थी। लेकिन वह मुझसे अधिक बेईमान था। मैंने पूरा पैसा फर्म से वसूल किया था। लेकिन उसकी उपस्थिति के लिए मुझे उसे कुछ देना था। उसकी प्रसन्नचित्त देहाती बुद्धिमता मेरे जैसे देहाती लड़के के लिए, जो शहरी जीवन से तंग आ चुका था, बहुत ताजगी पहुँचाने वाली थी। जब हम पहाड़ी की चोटी पर बैठे थे, और चारागाहों और छोटी खाड़ियों की ओर देख रहे थे, जो कि वृक्षों के बीच जा रहे थे।

उसने न्यू मुलियन के बारे में बात की और शब्दों के साथ उसमें रहने वाले लोगों की एक तस्वीर बनाई। उसने प्रत्येक चीज़ पर ध्यान दिया, लेकिन कोई बात नहीं कि वह लोगों पर हंसता हो, वह उनकी मूर्खता को समझता भी था और क्षमा भी करता था। उसने मंत्री की पत्नी के बारे में बताया जो गिरजाघर में सबसे ऊँची आवाज़ में गाती थी जब वह सबसे अधिक कर्जदार थी। उसने उन लड़कों के बारे में अपने विचार प्रकट किए जो बढ़िया कपड़ों में कॉलेज से लौटे थे। उसने वकील के बारे में बताया जिसकी पत्नी उसे एक दिन ही कॉलर और टाई लगाए हुए नहीं देख सकती थी। उसने उन सभी को सजीव बना दिया। उस दिन मैं न्यू मुलियन के बारे में पहले की अपेक्षा अधिक जानकारी प्राप्त कर पाया और इसे अधिक प्यार करने लग गया। बिल को कॉलेजों और शहरों के बारे में जानकारी नहीं थी, लेकिन उसने ग्रामीण क्षेत्रों में दूर-दूर तक यात्रा की थी, और बहुत सारे काम कर चुका था। अपने साहसिक कारनामों से उसने सादगी और हँसी का दर्शन प्राप्त कर लिया था। उसने मुझे शक्तिशाली बना दिया। हमने चारागाहों और जंगलों वाले उस शांत स्थान को छोड़ दिया, और ओलिवर लुटकिन्स की तलाश जारी कर दी। हम उसे नहीं ढूँढ सके। अंत में बिल को लुटकिन्स का एक मित्र मिला और उसे यह स्वीकार करना पड़ा कि उसके अनुमान के अनुसार, “ओलिवर उत्तर दिशा में तीन मील दूर स्थित अपनी माँ के फार्म पर चला गया है।” हम योजनाएं बनाते हुए उस ओर चल दिए।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

[PAGE 51]: “मैं ओलिवर की माँ को जानता हूं। वह एक आतंक है।” बिल ने गहरी सांस ली “मैं एक बार उसके लिए वहाँ एक ट्रंक लेकर गया था, और उसने तो लगभग मेरी खाल खींच ली थी क्योंकि मैंने उस ट्रंक को अंडों के बक्से की तरह संभाल कर नहीं रखा था। वह लगभग नौ फुट लंबी और चार फुट मोटी है तथा बिल्ली की तरह चालाक है, और वह निश्चित रूप से बातें कर सकती है। मैं दावे के साथ कह सकता हूँ कि ओलिवर ने सुन लिया होगा कि कोई उसका पीछा कर रहा है तो वह अपने-आपको अपनी माँ के पीछे छुपाने के लिए वहाँ चला गया होगा। अच्छा हम उसे आजमाएंगे। लेकिन आपके लिए ठीक रहेगा कि मैं इस काम को करूं। आप साहित्य और कानून में तो महान् हो सकते हो लेकिन आपने बात को दृढ़ता से कहने का प्रशिक्षण नहीं लिया है।” हम एक घटिया फार्महाऊस में पहुँच गए; वहाँ हमारा सामना एक भारी भरकम और प्रसन्नचित्त महिला से हुआ। मेरा मार्गदर्शक बहादुरी के साथ उसके पास गया और कहा, “मुझे पहचानो? मैं बिल मैग्नुसन नामक, गाड़ीवान हूँ। मैं आपके बेटे, ओलिवर से मिलना चाहता हूँ।” ।

“मुझे ओलिवर के बारे में कुछ नहीं पता है, और न ही मैं पता रखना चाहती हूँ”, वह चिल्लाई।
“अब, इधर देखिए। हमने बहुत बकवास सुन ली है। यह नौजवान शहर से अदालत का प्रतिनिधि बनकर आया है और ओलिवर लुटकिन्स को ढूंढने की खातिर हमें सारी सम्पत्ति की तलाशी लेने का अधिकार है।”
बिल ने मुझे बहुत महत्त्वपूर्ण बना दिया, और वह महिला बहुत प्रभावित हो गई। वह रसोईघर में गई और हम भी उसके पीछे चले गए। उसने पुराने फैशन वाले स्टोव में से लोहे की एक छड़ निकाली और चिल्लाते हुए हमारी ओरं आई। “तुम जो चाहो तलाशी ले लेना यदि पहले इससे झुलसने से बच जाओ।” वह चिल्लाई और हमें डर के मारे पीछे हटते हुए देखकर हँसी। “आओ हम यहाँ से खिसक लें। वह हमारी हत्या कर देगी,” बिल धीरे से बोला। उसने कहा बाहर निकल लो, “क्या तुमने उसे मुस्कराते हुए देखा? वह हमारी ओर देखकर हँस रही थी।”।

मैं सहमत हो गया कि यह बहुत तिरस्कारपूर्ण व्यवहार था। फिर भी, हमने घर की तलाशी ले ली। क्योंकि इस घर की केवल एक ही मंजिल थी, बिल घर के चारों ओर घूमा, और सभी खिड़कियों में से झाँककर देखा। हमने अनाज के भंडार गृह और अस्तबल को भी देखा; हम पूर्णतया विश्वस्त हो चुके थे कि लुटकिन्स वहाँ पर नहीं था। अब मेरे लिए दोपहर बाद वाली गाड़ी पकड़ने का समय लगभग हो चुका था और बिल मुझे स्टेशन पर ले आया। शहर की ओर लौटते समय मुझे इस बात की बहुत कम चिंता थी कि मैं लुटकिन्स को नहीं ढूंढ पाया। मैं बिल मैग्नुसन के बारे में सोचने में बहुत व्यस्त था। वास्तव में, मैंने न्यू मुलियन में लौटकर वकालत करने के बारे में विचार किया। यदि मुझे बिल जैसा गंभीर और खुशहाल मानव नहीं मिल गया होता तो, शायद मेरा फ्रिट्ज और गुस्टॉफ और सैकड़ों अन्य धीमे स्वर में बोलने वाले, साधारण, बुद्धिमान पड़ोसियों से प्यार न हो पाता ? मैंने विश्वविद्यालयों और कानूनी फर्मों की सीमाओं से बाहर एक ईमानदार और खुशहाल जीवन का चित्रण किया। मैं उत्साहित था। मुझे एक खजाना मिल गया था। मैंने जीवन के एक नए मार्ग की खोज कर ली थी।

[PAGES 51]: लेकिन मैंने लुटकिन्स के बारे में अधिक चिंता नहीं की, केवल फर्म ने की। मैंने उन सभी को परेशान पाया। अगली सुबह मुकद्दमा अदालत में आ रहा था, और उन्हें लुटकिन्स चाहिए था। मैं शर्माया हुआ सा, बेकार मूर्ख था। उस सुबह मेरा भावी कानूनी व्यवसाय शुरु होने से पहले ही समाप्त हो चुका था।

[PAGE 52]: मुखिया ने तो लगभग मेरी जान ले ली। उसने संकेत दिया कि इससे अच्छा मैं खाइयाँ खोदना शुरू कर दूँ। मुझे वापस न्यू मुलियन जाने का आदेश दिया गया, और मेरे साथ एक आदमी भेजा गया जिसने लुटकिन्स के साथ काम किया था। मुझे इस बात से थोड़ा अफसोस था, क्योंकि इससे बिल के साथ मेरे पुनः आवारागर्दी करने पर रोक लग जाएगी। जब गाड़ी न्यू मुलियन पहुँची तो बिल स्टेशन के प्लेटफार्म पर, अपनी गाड़ी के पास था। बड़ी हैरानी की बात थी, कि वह बूढ़ी बाघिन, लुटकिन्स की माँ वहाँ बिल के साथ बातें कर रही थी और हँस रही थी, वह झगड़ा तो बिल्कुल भी नहीं कर रही थी।

गाड़ी की सीढ़ियों से मैंने अपने साथी को बिल की ओर संकेत किया और कहा, “वह बहुत बढ़िया आदमी है, एक वास्तविक मानव । मैंने सारा दिन उसके साथ बिताया था।” “उसने ओलिवर लुटकिन्स को ढूँढने में मदद की थी ?” “हाँ, उसने मेरी बहुत मदद की।” “उसने अवश्य की होगी; वह स्वयं लुटकिन्स है।” जिस बात से मुझे वास्तव में दुःख पहुँचा वह थी, जब मैंने लुटकिन्स को आदेश तामील करवाए, तो वह और उसकी माँ मुझ पर इस प्रकार हँसे मानो मैं सात वर्ष का आकर्षक बालक था। स्नेहपूर्ण दयालुता के साथ उन्होंने मुझसे प्रार्थना की कि एक पड़ोसी के घर जाकर उनके साथ एक कप कॉफी पी लें। “मैंने उन्हें आपके बारे में बताया और वे आपसे मिलने को उत्सुक हैं,” लुटकिन्स ने प्रसन्न होते हुए कहा। “कस्बे में केवल वे ही ऐसे लोग हैं जो कल आपसे मिलने से चूक गए थे।”

The Hack Driver Word – Misndgs in Hindi

[PAGE 47]: Hack = A horse drawn vehicle (घोड़ागाड़ी); serve = to issue (तामील करवाना); summons = court orders (अदालत के आदेश); magnificent = glorious (शानदार); legal = lawful (कानूनी); briefs = summary of cases (मुकद्दमे का संक्षेप); detective = secret agent (गुप्तचर); victims = preys (शिकार); unpleasant= vulgar (भद्दा); revealed = disclosed (प्रत्यक्ष करना); considered = thought over (विचार किया); fleeing = running away (भाग जाना); rejoiced = felt happy (आनंदित होना); witness = evidence (गवाह); ignored = neglected (अवहेलना करना); expectations = hopes (आशाए); severely = violent (प्रचंड); disappointed = frustrated (निराश); bare = naked (नंगा)।

[PAGE 48]: Probably = more likely (संभवतया); poker game = a game of cards (ताश का खेल); locating = finding out (ढूँढना); glowed = shone (चमक उठा); warmth = heat (गर्माहट); affection = love (स्नेह); glad= happy (खुशी); managed = arranged (प्रबंध कर लेना); bargain = settlement of price (सौदेबाज़ी करना); sort = type (प्रकार); interfere = meddle (हस्तक्षेप करना)।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 8 The Hack Driver

[PAGE 49]: Suspicious = doubtful (संदेहास्पद); confidence = trust (विश्वास); settled = fixed (तय कर लिया); earnestly = honestly (ईमानदारीपूर्वक); folks= people (लोग); proceed = to go ahead (आगे बढ़ना); deceiving = cheating (धोखा देते हुए); admire = praise (प्रशंसा करना); talent = quality (गुण); regret = sorry (खेद); cheerily = merrily (प्रसन्नतापूर्वक); hesitated = held back (हिचक जाना); admitted = accepted (स्वीकार कर लेना); lingered = stayed back (पीछे ठहर जाना); concluded = guessed (निष्कर्ष निकाला); exhausted = finished (समाप्त कर देना); poolroom = gamblehouse (जुआघर); pursued = chased (पीछा किया); rough = vulgar (भद्दा); scarcely = hardly (मुश्किल से)।

[PAGE 50]: Charge = to cost (कीमत लेना); greasy = oily (चिकना); entirely = completely (पूर्णतया); country = rural side (देहात); pastures = meadows (चारागाहें); creek = small gulf (छोटी खाड़ी); slipped = slided (फिसल जाना); commented = expressed views (विचार व्यक्त किए); strengthened = gave strength (मज़बूत करना); resumed = started again (दुबारा आरंभ किया); guessed = concluded (अनुमान लगाया)।

[PAGE 51]: Terror = fright (आतंक); swearing = to say firmly (दृद्ता से कहना); enormous = very big in size (विशालकाय); carter = coachman (गाड़ीवान); represents = a member of delegation (प्रतिनिधि होना); impressed = convinced (प्रभावित हुआ); retired = went away (चला जाना); seized = hold (पकड़ना); retreat = receding (पीछे हट जाना); peering = looking (झांकना); examined = enquired (निरीक्षण किया); barn = granary (अनाज का भंडार गृह); worried = troubled (चिंतित); strict = hard (कठोर); excited = stimulated (उत्तेजित); treasure = anything much valued (खजाना); upset = confused (परेशान)।

[PAGE 52]: Promising = giving assurance (वचन देते हुए); career = way of making a livelihood (व्यवसाय); hinted = pointed (संकेत किया); ditches = moats (खाइया); prevent = stop (रोकना); loafing = to spend time idly (आवारागर्दी करना); companion = mate (साथी); hurt = pricked (चुभना); anxious = troubled (चिंताग्रस्त); missed = failed to obtain (चूक जाना)।

JAC Class 10 English Solutions

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

JAC Board Class 10th English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

JAC Class 10th English The Necklace Textbook Questions and Answers

Read and Find Out (Pages 39, 41 & 42)

Question 1.
What kind of a person is Mme Loisel – why is she always unhappy?
(मैडम लॉयसेल किस तरह की व्यक्ति है – वह हमेशा दुःखी क्यों रहती है ?)
Or
Why was Matilda Loisel always unhappy ?
(मेटिल्डा लॉयसेल हमेशा दुःखी क्यों रहती है?)
Answer:
Mme Loisel is a beautiful woman. She has high dreams. But she is married to a poor man. She overlooks the realities of life and wants to lead a life of grandeur and luxury.
(मैडम लॉयसेल एक सुन्दर महिला है। उसके ऊँचे सपने हैं। लेकिन उसकी शादी एक गरीब आदमी से हो जाती है। वह जीवन की वास्तविकताओं को नजरअंदाज करके वैभव और ऐशो-आराम वाला जीवन जीना चाहती है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 2.
What kind of a person is her husband?
(उसका पति किस प्रकार का व्यक्ति है ?)
Answer:
Loisel’s husband is a very simple-hearted person. He works as a clerk. He loves his wife deeply. He wants to see his wife always happy.
(श्रीमती लॉयसेल का पति एक साधारण हृदय वाला आदमी है। वह एक लिपिक के रूप में कार्य करता है। वह अपनी पत्नी से बहुत अधिक प्यार करता है। वह हमेशा अपनी पत्नी को प्रसन्न देखना चाहता है।)

Question 3.
What fresh problem now disturbs Mme Loisel?
(कौन-सी नई समस्या अब मैडम लॉयसेल को परेशान करती है?)
Answer:
The fresh problem is that Mme Loisel has no pretty dress to wear at the party.
(नई समस्या यह है कि मैडम लॉयसेल के पास पार्टी में पहनने के लिए कोई सुन्दर पोशाक नहीं है।)

Question 4.
How is the problem solved?
(समस्या का समाधान कैसे होता है ?)
Answer:
Her husband solves the problem. He buys a new dress for her. In this way, the problem is solved.
(उसका पति समस्या का समाधान करता है। वह उसके लिए एक नई पोशाक खरीदता है। इस प्रकार से, समस्या का समाधान होता है।)

Question 5.
What do M. and Mme Loisel do next?
(उसके बाद श्रीमान और श्रीमती लॉयसेल क्या करते हैं ?)
Answer:
The next problem is that of having a necklace to wear at the party. So Mme Loisel and her husband decide to borrow a necklace from her friend, Mme Forestier.
(अगली समस्या पार्टी में पहनने के लिए एक हार प्राप्त करने की थी। इसलिए श्रीमती लॉयसेल और उनका पति उसकी एक सहेली श्रीमती फोरेस्टियर से एक हार उधार लेने का निर्णय करते हैं।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 6.
How do they replace the necklace?
(व हार को कैसे वापस करते हैं?)
Or
What did Loisel do to replace the necklace?
(लॉयसेल ने हार वापिस करने के लिए क्या किया?)
Answer:
Mr Loisel buys a necklace in 36,000 francs. He had with him only 18,000 francs. He had to borrow the rest of money on high rates of interest. In this way they replace the necklace.
(मि० लॉयसेल 36,000 फ्रैंक में एक हार खरीदते हैं। उसके पास केवल 18,000 फ्रैंक थे। शेष राशि उसको व्याज की ऊँची दरों पर उधार लेनी पड़ी। इस प्रकार से उन्होंने हार को वापस किया।)

Think about it (Page 46)

Question 1.
The course of the Loisels’ life changed due to the necklace. Comment.
(हार के कारण लॉयसेल की जिन्दगी बदल गई। टिप्पणी कीजिए।)
Answer:
Mr and Mrs Loisel bought another necklace for thirty six thousand francs to replace the lost one. Mr Loisel had eighteen thousand francs of his own. He borrowed the rest of eighteen thousand francs on very high rates of interest. After this incident their life changed a lot. They discharged their maid. They changed their lodgings and rented some rooms in an attic. Madame Loisel learnt the odious work of kitchen. She washed the dishes and sosiy clothes. She went to market herself for shopping. Mr Loisel started working for some merchants in the evening. At night he often did copying at five sous per page. This hard life lasted for ten years.

(श्रीमान और श्रीमती लॉयसेल ने खोए हुए हार के बदले में देने के लिए छत्तीस हज़ार फ्रैंक में एक दूसरा हार खरीदा। उसके पास अठारह हज़ार फ्रैंक तो अपने थे। अठारह हज़ार फ्रैंक श्रीमान लॉयसेल ने व्याज की बहुत ऊंची दरों पर उधार लिए। इस घटना के पश्चात् उनका जीवन बहुत अधिक बदल गया। उन्होंने अपनी नौकरानी को हटा दिया। उन्होंने अपनी रिहायश बदल ली और एक दूसरी अटारी में कुछ कमरे किराये पर ले लिए। श्रीमती लॉयसेल ने रसोई के घृणित कार्य को सीखा। उसने बर्तन तथा गदै कपड़े धोए। वह स्वयं बाजार में खरीददारी के लिए गई। श्रीमान लॉयसेल ने शाम के समय कुछ व्यापारियों के लिए काम करना शुरू कर दिया। रात को वह पांच सॉस प्रति पेज के हिसाब से प्रतिलिपि करता था। ऐसा कठोर जीवन दस वर्ष तक रहा।)

Question 2.
What was the cause of Matilda’s ruin? How could she have avoided it?
(मेटिल्डा की बर्बादी का क्या कारण था ? वह इससे कैसे बच सकती थी)
Answer:
Matilda was not contented with her life. Her discontentment with life was the real cause of her ruin. Had she not borrowed the necklace from her friend, her life would not have been ruined. The immediate cause of the ruin of her life was the diamond necklace that she had borrowed from Madame Forestier.

(मेटिल्डा अपने जीवन से संतुष्ट नहीं थी। जीवन के प्रति यह असंतुष्टता उसकी बर्बादी का प्रमुख कारण थी। यदि उसने अपनी सहेली से हार उधार न लिया होता तो उसका जीवन बर्बाद नहीं होता। उसके जीवन की बर्बादी का तत्काल कारण हीरों का वह हार था, जो उसने श्रीमती फोरेस्टियर से उधार लिया था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 3.
What would have happened to Matilda if she had confessed to her friend that she had lost her necklace?
(यदि मेटिल्डा अपनी सहेली के सामने स्वीकार कर लेती कि उसका हार गुम हो गया है तो क्या होता ?)
Answer:
If Matilda had confessed to her friend that she had lost the necklace, she and her husband would have been saved from all the hardship. Her friend would have told her that her diamonds were false. They were not worth over five hundred francs.
(यदि मेटिल्डा ने अपनी सहेली के सामने स्वीकार कर लिया होता कि उससे हार गुम हो गया था, तो वह और उसका पति परेशानियों से बच सकते थे। उसकी सहेली उसे बता देती कि उसके हीरे नकली थे। उनका मूल्य पांच सौ फ्रैंक से अधिक नहीं था।)

Question 4.
If you were caught in a situation like this, how would you have dealt with it?
(यदि आप ऐसी स्थिति में फंस जाते, तो आप इससे कैसे निपटते ?)
Answer:
If I caught in a situation like this, I would have gone to my friend from whom I had borrowed the necklace. Then I would have confessed before her that I had lost the necklace. I paid the cost of the necklace to her directly if she demanded.

(यदि मैं ऐसी स्थिति में फंस जाता/जाती, तो मैं सीधा अपने उस मित्र (सहेली) के पास जाता जाती जिससे मैंने हार उधार लिया था। तब मैं उसके सामने इस बात को स्वीकार कर लेता/लेती कि मैंने हार खो दिया है। यदि वह माँग करता/करती तो मैं हार की कीमत का भुगतान सीधे ही उसे करता/करती।)

Talk about it (Page 46)

Question 1.
The characters in this story speak in English. Do you think this is their language? What clues are there in the story about the language its characters must be speaking in?
Answer:
This story was originally written in French. So the language of the characters is not English. There are many clues to it. The names of characters are essentially French. The currency mentioned in the story is ‘franc’, which is French. The names of places are French, for example, “Palais-Royal’, ‘Champs-Elysees’ etc.

Question 2.
Honesty is the best policy.
Answer:
It is a well-known proverb that honesty is the best policy. Honesty is a great blessing. An honest person shines like a gem in the world. On the other hand, every one dislikes a dishonest man. Honesty is like a weapon which enables man to face all the difficulties of life. In today’s life, an honest man may not become rich. He may not possess all the comforts of life. He may be troubled by difficulties. But still he will never lose his peace of mind. An honest person is honoured and respected by everybody. Inspite of his poverty, he leads a satisfied life. He has peace of mind. Therefore, we should be honest. It will earn us the respect of our friends.

Question 3.
We should be content with what life gives us.
Answer:
Contentment is the greatest of all virtues. We must learn to be contented with what life gives us. God is all powerful. He looks after all human beings. He gives us joys and sorrows, according to our fate. We must remember that we cannot get anything more than what written in our destiny. At the same time we cannot get anything before the time fixed for it by our destiny. Those who are not content, lead a life of misery. A contented labourer is much better than a discontented millionaire. The labourer works hard, earns some money, then has a sound sleep at night. It is because he is contented. On the other hand, a businessman earns millions, but still spends sleepless nights. He wants to earn more and more. That is a miserable life. In this story Matilda suffers because she is not contented with her lot.

JAC Class 10th English The Necklace Important Questions and Answers

Very Short Answer Type Questions

Question 1.
What kind of a person is Mme Loisel?
Answer:
She is a very beautiful woman.

Question 2.
Why is Mme Loisel always unhappy?
Answer:
Mme Loisel is always unhappy because of her poverty.

Question 3.
What did Mr. Loisel bring home one evening?
Answer:
One evening Mr. Loisel brought home an invitation card. They were invited to a party at the residence to the minister of Public Instruction.

Question 4.
How did Mme Loisel react at the invitation card?
Answer:
She was not interested in the card because she had no beautiful dress to wear in the party.

Question 5.
How did Matilda get the jewels to wear to the ball?
Answer:
She borrowed a necklace from her childhood friend, Mrs. Forestier.

Question 6.
Who is the author of the lesson ‘The Necklace’?
Answer:
Guy de Maupassant.

Question 7.
What kind of a person is Mr. Loisel?
Answer:
He is a very simple-hearted and loving person.

Question 8.
How was the problem of dress solved?
Answer:
Mr. Loisel bought a new dress for his wife.

Question 9.
Why had Mr. Loisel saved four hundred francs?
Answer:
He had saved four hundred francs to buy a shooting gun.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 10.
Who was Matilda married to?
Answer:
Matilda was married to a poor clerk.

Question 11.
What was the actual cost of Mme Forestier’s necklace?
Answer:
It’s actual cost was only five hundred francs.

Question 12.
How much did the necklace cost to the Loisel?
Answer:
The necklace cost to the Loisel thirty six thousand francs.

Question 13.
In the lesson ‘The Necklace who is described as a mistake of destiny?
Answer:
In this Lesson, Mrs. Loisel is described as a mistake of destiny.

Question 14.
How much time did the Loisels take to repay the loan?
Answer:
They took ten years to repay the loan.

Question 15.
What did Matilda think, she was born for?
Answer:
Matilda thought that she was born for all delicacies and luxuries.

Question 16.
What was the name of Matilda’s rich friend?
Answer:
Her name was Mme Forestier.

Short Answer Type Questions

Question 1.
How was Mrs Loisel ‘a mistake of destiny’?
(श्रीमती लॉयसेल किस प्रकार ‘एक भाग्य की गलती’ थी ?)
Answer:
Mrs Matilda Loisel was very charming and pretty. She appeared to be a lady of a high family. But she was born in a family of clerks. As her parents did not have much money, she was married to a clerk. But her thoughts were high. She wanted to enjoy the luxuries of life. So, the writer says that she was a mistake of destiny.’

(श्रीमती मेटिल्डा लॉयसेल बहुत आकर्षक और सुंदर थी। वह एक ऊंचे परिवार की स्त्री प्रतीत होती थी। लेकिन वह लिपिकों के एक परिवार में पैदा हुई थी। जैसे कि उसके पिता के पास अधिक पैसा नहीं था, इसलिए उसकी शादी एक लिपिक के साथ की गई। मगर उसके विचार ऊंचे थे। वह जीवन के ऐश्वर्यो का आनंद उठाना चाहती थी। इसलिए लेखक कहता है कि वह ‘एक भाग्य की गलती’ थी।)

Question 2.
What was the cause of her ceaseless suffering?
(उसके अनंत कष्टों का क्या कारण था ?)
Answer:
Mrs. Loisel was very beautiful. She wanted to lead a life of comfort and luxury. She wanted to enjoy life. But she was married to a clerk. She lived in a simple house and led an ordinary life. This was the cause of her ceaseless suffering.

(श्रीमती लॉयसेल बहुत सुंदर थी। वह आराम और ऐश्वर्य का जीवन जीना चाहती थी। वह जीवन का आनंद उठाना चाहती थी। मगर उसकी शादी एक लिपिक से हुई थी। वह सादे घर में रहती थी और साधारण जीवन व्यतीत करती थी। यह उसके अनंत कष्टों का कारण था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 3.
What did her husband bring home one evening?
Why was be so elated?
(एक शाम उसका पति घर क्या लेकर आया? वह इतना गर्वित क्यों था?)
ing, her husband brought home an invitation card. They were invited to a party at the residence of the Minister of Public Instruction. He was so elated because he thought that it would make his wife happy.
(एक शाम उसका पति एक निमंत्रण पत्र लाया। उन्हें लोक शिक्षा मंत्री के आवास पर पार्टी में बलाया गया था। वह इतना गर्वित इसलिए था क्योंकि उसने सोचा कि यह उसकी पत्नी को प्रसन्न कर देगा।)

Question 4.
How did Matilda get the jewels to wear to the ball?
(मेटिल्डा ने नृत्य-पार्टी में पहनने के लिए आभूषण कैसे प्राप्त किए ?)
Answer:
Matilda went to her friend Madame Forestier’s house. She told her the story of her distress. She borrowed a necklace of diamonds from her. In this way, she got jewels for the ball.
(मेटिल्डा अपनी सहेली श्रीमती फोरेस्टियर के घर गई। उसने उसे अपनी दर्द-भरी कहानी सुनाई। उसने उससे हीरों का एक हार उधार लिया। इस प्रकार उसने नृत्य-पार्टी के लिए आभूषण प्राप्त किए।)

Question 5.
What happened at the ball? Was her dream fulfilled?
(नृत्य-पार्टी में क्या हुआ ? क्या उसका सपना पूरा हुआ ?)
Answer:
At the ball Madame Loisel was a great success. She was the prettiest of all women. She was full of joy. All the men noticed her and asked her name. Her victory was complete. Her dream was fulfilled.
(नृत्य-पार्टी में श्रीमती लॉयसेल को महान सफलता प्राप्त हुई। वह सभी महिलाओं में सबसे अधिक सुंदर थी। वह बहुत अधिक प्रसन्न थी। सभी पुरुषों ने उसकी ओर ध्यान दिया और उसका नाम पूछा। उसकी विजय पूर्ण थी। उसका स्वप्न पूर्ण हो गया था।)

Question 6.
Why was she not delighted on receiving the invitation for the party?
(वह पार्टी का निमंत्रण पत्र पाकर प्रसन्न क्यों नहीं हुई ?)
Answer:
Mrs Loisel wanted to lead a life of luxury. She wanted to attend parties. One day her husband got an invitation to attend the party given by the Minister of Public Instruction. But she did not have a good dress to wear at the party. So she was not happy to get the invitation.
(श्रीमती लॉयसेल ऐश्वर्य का जीवन जीना चाहती थी। वह पार्टियों में जाना चाहती थी। एक दिन उसके पति को लोक शिक्षा मंत्री द्वारा पार्टी में आने का निमंत्रण पत्र मिला। मगर उसके पास पार्टी में पहनने के लिए अच्छी पोशाक नहीं थी। इसलिए वह निमंत्रण-पत्र पाकर प्रसन्न नहीं थी।)

Question 7.
Why was her husband saving money?
(उसका पति पैसा क्यों बचा रहा था ?)
Answer:
Her husband was fond of shooting birds. He wanted to take part in shooting larks next summer. Some of his friends were also going for shooting. So he was saving money. He wanted to purchase a gun with that money.
(उसके पति को पक्षियों का शिकार करने का शौक था। वह अगली गर्मियों में पक्षियों के शिकार में भाग लेना चाहता था। उसके कुछ मित्र भी शिकार पर जा रहे थे। इसलिए वह पैसा बचा रहा था। वह उस पैसे से बंदूक खरीदना चाहता था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 8.
Why was Matilda married to a clerk?
(मेटिल्डा की शादी एक लिपिक से क्यों हुई ?)
Answer:
Matilda belonged to a family of clerks. Her parents were not rich. They did not have a big dowry for Matilda. She had no means to be married to a rich and famous man. So she was married to Loisel who was a clerk.
(मेटिल्डा लिपिकों के परिवार से संबंध रखती थी। उसके माता-पिता अमीर नहीं थे। उनके पास मेटिल्डा को देने के लिए अधिक दहेज नहीं था। उसके पास किसी अमीर और प्रसिद्ध व्यक्ति से शादी करने का साधन नहीं था। इसलिए उसकी शादी लॉयसेल से हुई जो एक लिपिक था।)

Question 9.
How did the Loisel react when they realized that the necklace had been lost?
(जब उन्होंने महसूस किया कि हार खो गया, तो लॉयसेल की कैसी प्रतिक्रिया थी?)
Answer:
When the Loisels realized that the necklace had been lost, it was a big blow for them. They made a big search for the necklace. They looked into the folds of Matilda’s dress. The husband searched the whole route by which they had come home.
(जब लॉयसेल ने महसूस किया कि हार खो गया है, तो यह उनके लिए एक बड़ा झटका था। उन्होंने हार के लिए एक बड़ी खोज की। उन्होंने मोटिल्डा की पोशाक की तहों में देखा। पति ने पूरे रास्ते की तलाशी ली, जिससे वे घर आए थे।)

Question 10.
Describe Matilda’s experience at the dance party.
(नृत्य पार्टी में मेटिल्डा के अनुभवों का वर्णन करो।)
Answer:
Matilda looked very charming at the dance party. All the men at the party looked at her. They asked her name. Everybody wanted to be introduced to her. The officers at the party wanted to dance with her. She danced with joy. She had a great sense of victory.
(मेटिल्डा नाच पार्टी में बहुत आकर्षक लग रही थी। पार्टी में सभी व्यक्तियों ने उसकी ओर देखा। उन्होंने उसका नाम पूछा। प्रत्येक व्यक्ति उसका परिचय प्राप्त करना चाहता था। पार्टी में अफसर भी उसके साथ नृत्य करना चाहते थे। उसने खुशी से नृत्य किया। उसमें महान जीत की भावना आ गई।)

Question 11.
When did the party end? What did Matilda find when she reached home?
(पार्टी कब संपन्न हुई ? जब वह घर पहुंची तो मेटिल्डा ने क्या देखा ?)
Answer:
The party ended at four o’clock in the morning. Matilda and her husband reached home. Matilda stood before the mirror. She wanted to see herself again with the necklace. But she was shocked to find that she had lost the necklace.
(पार्टी सुबह चार बजे संपन्न हुई। मेटिल्ला और उसका पति घर पहुंचे। मेटिल्डा दर्पण के सामने खड़ी हो गई। वह हार के साथ अपने आपको फिर से देखना चाहती थी। मगर उसे यह देखकर सदमा लगा कि उसका हार खो गया था।)

Question 12.
What efforts did Matilda and her husband make to look for the lost necklace?
(मेटिल्डा और उसके पति ने खोए हुए हार को ढूंढने के लिए क्या प्रयत्न किए ?)
Answer:
They looked into the folds of Matilda’s dress, in the folds of her cloak and in her pockets. Her husband searched the whole route by which they had come home. He returned at seven o’clock. He informed the police. He went to the newspaper’s office to announce a reward. But the lost necklace was not found.
(उन्होंने मेटिल्डा की पोशाक की तहों में, उसके चोगे की तहों में और उसकी जेबों में तलाश किया। उसके पति ने उस सारे रास्ते में तलाश किया जिस रास्ते से वे घर आए थे। वह सात बजे लौटकर आया। उसने पुलिस को सूचित किया। वह इनाम घोषित करने के लिए अखबार के कार्यालय में गया। लेकिन खोया हुआ हार नहीं मिला।)

Essay Type Questions

Question 1.
Describe in detail the kind of life that Mrs Loisel dreamed of.
(उस जीवन का विस्तार से वर्णन करो जिसे जीने का सपना श्रीमती लॉयसेल देखती थी।)
Or
Why did Mrs Loisel remain dissatisfied from her life?
(श्रीमती लॉयसेल अपने जीवन से असंतुष्ट क्यों रहती थी?)
Answer:
Mrs Loisel was pretty and charming. She was married to a clerk. She led an ordinary existence. But she was not happy with her life. She felt that she should have been bom in a rich family. She wanted to lead a life of luxury and comfort. She wanted to enjoy life. She dreamed of a big house in which there was very good furniture. She dreamed of beautiful and costly curtains. Mrs Loisel dreamed of her private room which was filled with very good perfume. She wanted to enjoy the company of rich and famous guests. When she sat down to dinner, she disliked her cheap and ordinary dining table. She disliked her simple meals. She dreamed of delicious dinners served in shining silver wares. She dreamed of having a number of attractive dresses and costly ornaments. In short, Mrs Loisel dreamed of a rich and luxurious life.

(श्रीमती लॉयसेल सुंदर और आकर्षक थी। उसकी शादी एक लिपिक से हुई थी। वह एक सादा जीवन जीती थी। लेकिन वह अपने जीवन से खुश नहीं थी। वह महसूस करती थी कि उसे अमीर परिवार में पैदा होना चाहिए था। वह ऐश्वर्य और आराम का जीवन जीना चाहती थी। वह जीवन का आनंद उठाना चाहती थी। वह एक बड़े घर का सपना देखती थी जिसमें अच्छा फीचर हो। वह सुंदर और महंगे पर्दो का सपना देखा करती थी। श्रीमती लॉयसेल एक ऐसे निजी कक्ष का सपना लेती थी जो अच्छी खुशबू से भरा हो। वह अमीर और प्रसिद्ध मेहमानों की संगति का आनंद उठाना चाहती थी। जब वह खाना खाने बैठती तो उसे अपने सस्ते और साधारण खाने की मेज़ से नफरत होने लगती थी। उसे अपने सादे भोजन भी अच्छे नहीं लगते थे। वह चांदी के बर्तनों में परोसे गए स्वादिष्ट भोजन का सपना देखा करती थी। वह बड़ी संख्या में आकर्षक पोशाकों और महंगे आभूषणों का सपना देखती थी। संक्षेप में श्रीमती लॉयसेल अमीर और ऐश्वर्यपूर्ण जीवन का सपना देखा करती थी।)

Question 2.
What preparations did Mrs Loisel make for the ball?
(श्रीमती लॉयसेल ने नृत्य पार्टी के लिए क्या तैयारियां की?)
or
How did Matilda manage a new dress and jewellery for the ball?
(मटिल्डा ने नृत्य पार्टी के लिए एक नई पोशाक और आभूषणों की व्यवस्था कैसे की?)
Answer:
Mrs Loisel did not have a good dress to wear at the party. She told her husband that a suitable dress would cost four hundred francs. Her husband had been saving money in order to buy a gun. He gave up the idea of purchasing the gun. Mrs Loisel purchased a beautiful dress with that money. But Mrs Loisel was still not happy. Now she told her husband that she did not have any jewellery to wear at the party. Her husband asked her to request Mrs Forestier for help. Mrs Loisel and Mrs Forestier were very good friends. Mrs Forestier was very rich. She had a number of necklaces. Her husband suggested that she should borrow a necklace from her. Mrs Loisel liked the idea. She went to her friend. Mrs Forestier agreed to lend her a necklace. She showed her several of her necklaces. She asked Mrs Loisel to choose any of those necklaces. All these necklaces looked attractive and costly. At last Mrs Loisel selected a beautiful necklace and borrowed it. In this way, Mrs Loisel made preparations for the party.

(श्रीमती लॉयसेल के पास नृत्य पार्टी पर पहनने के लिए अच्छी पोशाक नहीं थी। उसने अपने पति को बताया कि एक उपयुक्त पोशाक पर चार सौ फ्रैंक लग जाएंगे। उसका पति एक बंदूक खरीदने के लिए पैसा बचा रहा था। उसने बंदूक खरीदने का विचार त्याग दिया। श्रीमती लॉयसेल ने उस पैसे से एक सुंदर पोशाक खरीदी।मगर श्रीमती लॉयसेल अब भी खुश नहीं थी। अब उसने अपने पति से कहा कि उसके पास नृत्य पार्टी में पहनने के लिए कोई आभूषण नहीं है। उसके पति ने उसे श्रीमती फोरेस्टियर से मदद के लिए प्रार्थना करने के लिए कहा। श्रीमती लॉबसेल और श्रीमती फोरेस्टियर बहुत अच्छी सहेलियां थीं। श्रीमती फोरेस्टियर बहुत अमीर थी। उसके पास बहुत सारे हार थे। उसके पति ने सलाह दी कि वह उससे एक हार उधार ले ले। श्रीमती लॉयसेल को यह उपाय बहुत अच्छा लगा। वह अपनी सहेली के पास गई। श्रीमती फोरेस्टियर उसे हार उधार देने के लिए तैयार हो गई। उसने उसे अपने बहुत सारे हार दिखाए। ये सब हार आकर्षक और महंगे लगते थे। अंत में श्रीमती लॉयसेल ने एक सुंदर हार का चुनाव किया और उसे उधार ले लिया। इस प्रकार श्रीमती लॉयसेल ने पार्टी के लिए तैयारियां कीं।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 3.
How did the couple’s life change after they raised the loan for the necklace?
(हार के लिए कर्ज का प्रबंध करने के बाद दंपति का जीवन कैसे बदल गया?)
Or
What kind of life did Matilda and her husband live after the loss of the diamond necklace?
(हीरे का हार खो जाने के उपरांत मेटिल्डा और उसका पति किस प्रकार का जीवन व्यतीत करते थे?)
Answer:
The couple needed thirty six thousand francs to purchase a diamond necklace and return it to Mrs Forestier. But Mr Loisel had only eighteen thousand francs with him. He raised a loan of eighteen thousand francs for purchasing the necklace. fe worked hard in order to repay that debt. They changed their lodgings. They shifted to a small room. They dismissed their maid. Mrs Loisel did all her household work herself. She had to be very frugal in her purchases. She bargained for small amounts. Mr Loisel did extra work in the evenings. Sometimes late at night he did the work of copying manuscripts. After ten years of hard work, they were able to pay off their debt. But because of hard work and misery, Mrs Loisel looked old. Ten years ago, she was pretty and charming. But now she looked unattractive. She had become an ordinary woman of a poor house. She remembered her past life with sadness. Sometimes she remembered that great party. She remembered how beautiful and attractive she had looked at the party. Thus the couple’s life was completely changed after they had raised the loan for the necklace.

(दंपत्ति को हीरों का हार खरीदने और उसे श्रीमती फोरेस्टियर को लौटाने के लिए छत्तीस हज़ार फ्रैंक की जरूरत थी। लेकिन श्रीमान लॉयसेल के पास केवल अठारह हज़ार फ्रैंक ही थे। उसने हार खरीदने के लिए अठारह हज़ार फ्रैंक के कर्ज़ का प्रबंध किया। अब लॉयसेल और उसकी पत्नी ने ऋण चुकाने के लिए कड़ा परिश्रम किया। उन्होंने अपनी रहने की जगह बदल ली। वे एक छोटे-से कमरे में रहने के लिए आ गए। उन्होंने अपनी नौकरानी को निकाल दिया। श्रीमती लॉयसेल घर का सारा काम स्वयं करती थी। उसे अपनी खरीददारी में भी बहुत कटौती करनी पड़ी। वह छोटी-छोटी राशियों के लिए सौदेबाज़ी करती थी। श्रीमान लॉयसेल ने शाम को अतिरिक्त कार्य किया। कई बार वह रात को देर तक पांडुलिपियों की प्रतियां बनाने का कार्य करता था। दस वर्ष के कठिन परिश्रम के बाद वे अपना कर्ज चुकाने में सफल हो गए। लेकिन कठिन परिश्रम और कष्ट के कारण श्रीमती लॉयसेल बूढ़ी लगने लगी थी। दस वर्ष पहले वह सुंदर और आकर्षक थी। लेकिन अब वह अनाकर्षक लगती थी। वह एक गरीब घर की सामान्य स्त्री बन गई थी। वह अपने पुराने जीवन को उदासी से याद करती थी। कई बार वह उस महान पार्टी को भी याद करती थी। उसे याद आया कि वह उस पार्टी में कितनी सुंदर और आकर्षक लग रही थी। इस प्रकार दंपत्ति का जीवन हार के लिए कर्ज का प्रबंध करने के बाद पूर्णतया बदल गया।)

Question 4.
Write a brief character-sketch of Matilda Loisel.
(मेटिल्डा लॉयसेल का संक्षिप्त चरित्र-चित्रण करो।)
Answer:
Mrs Matilda Loisel is the central character in this story. She was born in a poor family. She was very pretty and attractive. She was married to a clerk. So she led to simple life. She always dreamed of a rich and luxurious life. She wanted to enjoy life fully. She wanted to attend parties. She borrowed a necklace from a friend to wear at a party. Everybody praised her beauty. But she lost the necklace. The loss of necklace changed her life. Her husband borrowed a lot of money to replace it. She and her husband worked hard for ten years to repay the debt. In the end, she came to know that the necklace was made of artificial diamonds.
Matilda was a woman of self-respect. She did not tell Mrs Forestier that she had lost the necklace. She decided to suffer in life but not to lose herself respect. She worked hard for ten years. She faced difficulties But she did not grumble. She suffered for no fault of hers. We feel sympathy for her.

(श्रीमती मेटिल्डा लॉयसेल इस कहानी की केंद्रीय पात्र है। उसका जन्म एक गरीब परिवार में हुआ था। वह बहुत सुंदर और आकर्षक थी। उसकी शादी एक लिपिक से हुई थी। इसलिए वह सादा जीवन व्यतीत करती थी। वह सदा अमीर एवं ऐश्वर्यपूर्ण जीवन का सपना लेती थी। वह जीवन का पूर्ण आनंद उठाना चाहती थी। वह पार्टियों में जाना चाहती थी। मेटिल्डा एक दर्दनाक पात्र है। उसने एक पार्टी में पहनने के लिए अपनी एक सहेली से एक हार उधार लिया। हर व्यक्ति ने उसकी सुंदरता की तारीफ की। लेकिन उसने हार खो दिया। हार के खो जाने से उसका जीवन बदल गया। उसके पति ने हार को वापस देने के लिए बहुत अधिक पैसा उधार लिया। उसने एवं उसके पति ने कर्ज उतारने के लिए दस साल तक कड़ा परिश्रम किया। अंत में उसे पता चला कि हार नकली हीरों का बना हुआ था। मेटिल्डा आत्म-सम्मान वाली स्त्री थी। उसने श्रीमती फोरेस्टियर को यह नहीं बताया कि हार खो गया है। उसने निर्णय किया कि वह जीवन में कष्ट उठा लेगी लेकिन अपने आत्म-सम्मान को नहीं खोएगी। उसने कठिनाइयों का सामना किया। मगर उसने शिकायत नहीं की। उसने अपने किसी दोष के बिना कष्ट उठाया। हमें उसके लिए सहानुभूति महसूस होती है।)

Question 5.
What would have happened if Matilda had made the true confession to Mme Forestier?
(यदि मेटिल्डा मैडम फोरेस्टियर को सच्चाई बता देती तो क्या घटित होता?)
Answer:
Matilda would have saved herself and her husband a great deal of trouble if she had made the true confession to Mme Forestier. If Matilda had been truthful with Mme Forestier, she could have known from her that the necklace was of false diamonds. But Matilda had not the courage to speak the truth which cost her family full ten years. Matilda could easily have avoided a great deal of misery in her life by her confession. But she tried to hide the truth from her friend and so she and her husba
e truth from her friend and so she and her husband had to face a great deal of hardships and to lead a horrible life for ten years.

(यदि मेटिल्डा मैडम फोरेस्टियर के सामने सच्चाई को स्वीकार कर लेती तो वह स्वयं को तथा अपने पति को एक बहुत बड़े संकट से बचा सकती थी। यदि मेटिल्डा मैडम फोरेस्टियर को सच्चाई बता देती तो उसे उससे यह पता चल जाता कि वह हार नकली हीरों से बना हुआ था। लेकिन मेटिल्डा में सच बोलने का साहस नहीं था, जिसकी कीमत उसके परिवार को पूरे दस वर्षों में चुकानी पड़ी। सच्चाई को स्वीकार करके मेटिल्डा बहुत ही आसानी से इतने बड़े कष्टों से बच सकती थी। लेकिन उसने अपनी सहेली से सच्चाई छुपाने की कोशिश की और इसलिए उसे और उसके पति को बहुत अधिक कष्टों का सामना करना पड़ा और पूरे दस वर्ष तक भयानक कष्टों वाला जीवन व्यतीत करना पड़ा।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 6.
How did Matilda come to know the real cost of the necklace?
(मेटिल्डा को हार की असली कीमत का पता कैसे चला?)
Answer:
After a period of about ten years one evening Matilda came face to face with Mme. Forestier. Matilda recognised her and greeted her but Mme. Forestier did not recognise her. When Matilda told her about herself Mme. Forestier was stunned how she changed so much. At this Matilda told her whole tragedy. Then Mme forestier told her that her necklace was of false diamonds and its cost was just five hundred francs.
(दस साल की अवधि के बाद, एक शाम मेटिल्डा और मैडम फोरेस्टियर आमने-सामने आई। मेटिल्डा ने उसे पहचान लिया और उसका अभिवादन किया लेकिन मैडम फोरेस्टियर ने उसे नहीं पहचाना। जब मेटिल्डा ने उसे अपने बारे में बताया तो मैडम फोस्टियर चकित हो गई कि वह इतना कैसे बदल गई। इस पर, मेटिल्डा ने उसे पूरी कहानी बताई। तब मैडम फोरेस्टियर ने उसे बताया कि उसका हार नकली हीरों का था और उसकी कीमत केवल पाँच हजार फ्रैंक थी।)

Multiple Choice Questions

Question 1.
Matilda was born into a family of:
(A) ministers
(B) officers
(C) clerks
(D) shopkeepers
Answer:
(C) clerks

Question 2.
What did Matilda suffer from?
(A) delicacies
(B) luxuries
(C) poverty
(D) all of the above
Answer:
(C) poverty

Question 3.
Whom was Matilda married to?
(A) a petty clerk
(B) a minister
(C) an officer
(D) a businessman
Answer:
(A) a petty clerk

Question 4.
One day Mr Loisel received an invitation from:
(A) the Minister of Health
(B) the Minister of Home Affairs
(C) the Minister of Sea Affairs
(D) the Minister of Public Instruction
Answer:
(D) the Minister of Public Instruction

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 5.
How did Loisel feel on receiving the invitation?
(A) sad
(B) elated
(C) puzzled
(D) surprised
Answer:
(B) elated

Question 6.
Why did Mrs Loisel throw the invitation spitfully?
(A) she had no jewellery to wear
(B) she had not any beautiful dress to wear
(C) she did not like parties
(D) both (A) and (B)
Answer:
(D) both (A) and (B)

Question 7.
For what had Loisel saved four hundred francs?
(A) to buy a gun
(B) to buy a T.V.
(C) to buy a shirt
(D) to buy a bicycle
Answer:
(A) to buy a gun

Question 8.
From where did Mrs Loisel borrow the necklace?
(A) Mme Hillary
(B) Mme Forestier
(C) Mme Marry
(D) Mme Anne
Answer:
(B) Mme Forestier

Question 9.
What did Mrs Loisel borrow from Mme Forestier?
(A) a bracelet
(B) a necklace
(C) a Venetian Crosszx
(D) all of the above
Answer:
(B) a necklace

Question 10.
How did Mrs Loisel perform at the ball?
(A) she had a great success
(B) none noticed her
(C) she did not enjoy the ball
(D) all of the above
Answer:
(A) she had a great success

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 11.
Matilda always remained:
(A) happy
(B) unhappy
(C) contended
(D) delighted
Answer:
(B) unhappy

Question 12.
When did Mr. and Mrs. Loisel return home from the ball?
(A) at 2 a.m.
(B) at 3 a.m.
(C) at 4 a.m.
(D) at 5 a.m.
Answer:
(C) at 4 a.m.

Question 13.
What spoiled Mr. and Mrs. Loisel pleasure?
(A) the loss of necklace
(B) the loss of dress
(C) the loss of money
(D) all of the above
Answer:
(A) the loss of necklace

Question 14.
Did they find the lost necklace?
(A) yes
(B) no
(C) may be
(D) not known
Answer:
(B) no

Question 15.
How much Loisels had to spend to replace the necklace?
(A) eighteen thousand francs
(B) thirty six thousand francs
(C) forty thousand francs
(D) fifty thousand francs
Answer:
(B) thirty six thousand francs

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 16.
What change came in the life of Loisels after raising a big loan?
(A) they sent away the maid
(B) they changed their lodgings
(C) they rented some rooms in an attic
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

Question 17.
How did the loan affect Mrs. Loisel’s life?
(A) she learned the odious work of a kitchen
(B) she washed the dishes
(C) she took down the refuse to the street
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

Question 18.
How much time did they take to repay the loan?
(A) two years
(B) five years
(C) ten years
(D) twenty years
Answer:
(C) ten years

Question 19.
What was the actual cost of Mme Forestier’s necklace?
(A) five hundred francs
(B) ten thousand francs
(C) one hundred francs
(D) five thousand francs
Answer:
(A) five hundred francs

Question 20.
Did Mrs. Loisel come to know the real cost of the necklace?
(A) yes
(B) no
(C) may be
(D) may not be
Answer:
(A) yes

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

Question 21.
Who is the writer of the lesson ‘The Necklace?
(A) Robert W. Peterson
(B) Guy de Maupassant
(C) Sinclair Lewis
(D) K.A. Abbas
Answer:
(B) Guy de Maupassant

The Necklace Summary in English

The Necklace Introduction in English

The Necklace’ is one of the well known stories of Maupassant. The story centres round Matilda Loisel, who is a beautiful woman. She suffers greatly because of her desire to appear rich and fashionable. She is married to a clerk and leads an ordinary life. But she wants to be rich and famous. Her husband gets an invitation to attend a dance party given by the Minister of Public Instruction. Matilda borrows a diamond necklace from her rich friend Madame Forestier to wear it at the party. She looks charming and everybody praises her. But when she returns home, she finds that she has lost the necklace. She and her husband borrow a big amount of money to replace the necklace. Both of them work hard for ten years to pay off their debt. Their life becomes miserable. One day, after the debt is paid off, Matilda comes across Madame Forestier. Matilda is shocked to learn from her that the necklace was made of artificial diamonds and its price was not more than 500 francs.

The Necklace Summary in English

“The Necklace’ is a touching story. The story centers around Matilda Loisel. She is a very charming young lady. She is married to a clerk. She is not satisfied with her ordinary life. She wants to enjoy comforts and luxuries of life. She is jealous of her own schoolmates, who are rich. One day her husband gets an invitation to attend the dance party given by the Minister of Public Instruction. He thinks that she will be happy to get the invitation. But she becomes sad. She tells her husband that she has nothing to wear at the party. Her husband spends all his savings and buys a beautiful gown for her. Now she complains that she has no jewelry or ornament. Without it she will be considered a poor lady. Her husband advises her to borrow some ornaments from her wealthy friend Madame Forestier. She goes to Madame Forestier’s house and borrows a beautiful diamond necklace.

At the party, Matilda looks very beautiful. All the men at the party pay attention to her. They want to be introduced to her. They want to dance with her. Even the Minister pays attention to her. She is filled with joy. She dances with pleasure. She leaves the hall at four o’clock in the morning. When she reaches home, she stands before the mirror to praise her own beauty. But suddenly she utters a cry. She has lost the diamond necklace somewhere. Her husband goes out to see if he can find it. He searches for the necklace everywhere. But he does not find it. Matilda and her husband are greatly depressed.

Matilda’s husband advises her to write to her friend that she has sent the necklace for repairs. It will give them some time to buy another necklace. They go from shop to shop to purchase a similar necklace. At last they find a necklace similar to the lost one. The bargain is settled at 36,000 francs. Matilda’s husband borrows the money at a high interest. They buy the necklace and return it to Madame Forestier. She does not even open the box to look at the necklace.

Now Matilda and her husband are under heavy debt. They work hard to pay off this debt. Their life becomes miserable. They dismiss their servant. They move to a cheap house. Matilda does all the household work herself. Her husband works in the evening and late at night to pay off the debt. They work hard for ten years. At last, they are able to pay off their debt. Now Matilda looks old. She is no longer charming.

One Sunday, Matilda goes out for a walk. She comes across Madame Forestier and talks to her. Madame Forestier is surprised to see Matilda so changed. Matilda tells her the story of her hard life. She tells Madame Forestier that she has suffered greatly because of her. Then she tells Madame Forestier the whole story. She tells her how she lost her necklace and bought another one for thirty six thousand francs. She tells Madame Forestier that it has taken them ten years to pay off the debts. Madame Forestier is moved to hear the whole story. Then she tells Matilda that her necklace was made of artifical diamonds. It was worth only five hundred francs.

The Necklace Summary in Hindi

The Necklace Introduction in Hindi

(‘TheNecklace’ Maupassant की प्रसिद्ध कहानियों में से एक है। यह कहानी मेटिल्डा लॉयसेल पर केंद्रित है, जो एक सुंदर स्त्री है। वह अपनी अमीर और फैशनेबल नज़र आने की इच्छा के कारण बहुत दुःख उठाती है। उसकी शादी एक लिपिक के साथ हुई है और वह एक साधारण जीवन बिताती है। मगर वह अमीर और प्रसिद्ध बनना चाहती है। उसके पति को लोक शिक्षा मंत्री द्वारा नृत्य पार्टी पर आने का निमंत्रण मिलता है। पार्टी पर पहनने के लिए मेटिल्डा अपनी अमीर सहेली श्रीमती फोरेस्टियर से हीरों का एक हार उधार लेती है। वह आकर्षक लगती है और हर व्यक्ति उसकी प्रशंसा करता है। लेकिन जब वह घर पहुंचती है, तो वह देखती है कि उसका हार खो गया है। वह और उसका पति हार लौटाने के लिए बहुत बड़ी राशि उधार लेते हैं। दोनों अपना कर्जा चुकाने के लिए दस वर्ष तक कड़ी मेहनत करते हैं। उनकी जिंदगी कष्टपूर्ण हो जाती है। कर्जा चुकाने के बाद, एक दिन, मेटिल्डा की मुलाकात श्रीमती फोरेस्टियर से होती है। मेटिल्डा उससे यह जानकर हैरान हो जाती है कि वह हार नकली हीरों का बना हुआ था और उसकी कीमत केवल 500 फ्रैंक थी।)

The Necklace Summary in Hindi

‘The Necklace’ एक मार्मिक कहानी है। कहानी मेटिल्डा लॉयसेल के चारों ओर केंद्रित है। वह बहुत आकर्षक युवा स्त्री है। उसकी शादी एक लिपिक से हुई है। वह अपने साधारण जीवन से संतुष्ट नहीं है। वह जीवन के आराम और ऐश्वर्यों का आनंद उठाना चाहती है। वह अपने स्कूल की सखियों से जलती है, जो अमीर हैं।
एक दिन उसके पति को लोक निर्देशक मंत्री द्वारा एक नृत्य पार्टी में आने का निमंत्रण मिलता है। वह सोचता है कि वह निमंत्रण पाकर खुश होगी। लेकिन वह उदास हो जाती है। वह अपने पति को बताती है कि उसके पास पार्टी में पहनने के लिए कुछ भी नहीं है। उसका पति अपनी सारी जमा पूंजी खर्च कर देता है और उसके लिए एक सुंदर लबादा खरीदता है। अब वह शिकायत करती है कि उसके पास गहने या आभूषण नहीं हैं। इसके बिना उसे गरीब स्त्री समझा जाएगा। उसका पति उसे अपनी अमीर सहेली श्रीमती फोरेस्टियर से कोई आभूषण उधार लेने की सलाह देता है। वह श्रीमती फोरेस्टियर के घर जाती है और एक संदर हीरे का हार उधार ले लेती है।

पार्टी में मेटिल्डा बहुत सुंदर लगती है। पार्टी में सभी व्यक्ति उसकी तरफ ध्यान देते हैं। वे उससे परिचित होना चाहते हैं। वे उसके साथ नृत्य करना चाहते हैं। यहां तक कि मंत्री भी उसकी तरफ ध्यान देता है। वह खुशी से भर जाती है। वह खुशी से नृत्य करती है। वह हाल से सुबह चार बजे निकलती है। जब वह घर पहुंचती है तो वह अपनी सुंदरता की तारीफ करने के लिए दर्पण के आगे खड़ी होती है। लेकिन अचानक वह चीख मारती है। उसने हीरों का हार कहीं खो दिया है। उसका पति बाहर चला जाता है ताकि वह उसे ढूंढ सके। वह हार की सब जगह तलाश करता है, लेकिन उसे वह नहीं मिलता। मेटिल्डा और उसका पति उदास हो जाते हैं। . मेटिल्डा का पति उसे अपनी सहेली को यह लिखने की सलाह देता है कि उसने हार को मुरम्मत के लिए भेजा है। इससे उन्हें एक अन्य हार खरीदने का मौका मिल जाएगा। वे ऐसा हार खरीदने के लिए कई दुकानों पर जाते हैं। आखिर उन्हें खोए हुए हार की तरह का एक हार मिल जाता है। सौदा 36,000 फ्रैंक में तय होता है। मेटिल्डा का पति ऊंचे ब्याज पर पैसा उधार ले लेता है। वे हार खरीदकर श्रीमती फोरेस्टियर को वापिस कर देते हैं। वह हार को देखने के लिए बक्सा भी नहीं खोलती।

अब मेटिल्डा और उसका पति भारी कर्जे में दब जाते हैं। वे इस कर्जे को चुकाने के लिए कठिन परिश्रम करते हैं। उनका जीवन कष्टदायक बन जाता है। वे अपने नौकर को हटा देते हैं। वे सस्ते घर में चले जाते हैं। मेटिल्डा सभी घरेलू कार्य स्वयं करती है। उसका पति शाम को और देर रात तक कर्ज चुकाने के लिए काम करता है। वे दस वर्ष तक कठिन परिश्रम करते हैं। आखिर वे अपना कर्ज चुकाने में सफल हो जाते हैं। अब मेटिल्डा बूढ़ी नज़र आती है। अब वह आकर्षक नहीं लगती। एक रविवार मेटिल्डा सैर पर जाती है। उसकी मुलाकात श्रीमती फोरेस्टियर से होती है और वह उससे बात करती है। श्रीमती फोरेस्टियर, मेटिल्डा को इतना बदला हुआ देखकर हैरान हो जाती है। मेटिल्डा उसे अपने कठिन जीवन की कहानी सुनाती है। वह श्रीमती फोरेस्टियर को बताती है कि उसने उसके कारण बहुत कष्ट उठाए हैं। तब वह श्रीमती फोरेस्टियर को सारी कहानी सुनाती है। वह उसे बताती है कि उसने किस प्रकार उसका हार खो दिया था और वैसा ही हार 36,000 फ्रैंक में खरीदा था। वह श्रीमती फोरेस्टियर को बताती है कि उन्हें कर्जा चुकाने के लिए दस वर्ष लग गए। श्रीमती फोरेस्टियर सारी कहानी सुनकर द्रवित हो जाती है। तब वह मेटिल्डा को बताती है कि उसका हार नकली हीरों का बना हुआ था। यह केवल 500 फ्रैंक मूल्य का था।

The Necklacet Translation in Hindi

[PAGE 39]: (मेटिल्डा को एक शानदार पार्टी में आमंत्रित किया जाता है। उसके पास एक सुंदर पोशाक है लेकिन आभूषण नहीं है। वह एक सहेली से एक हार उधार लेती है। और उसे खो देती है। तब क्या होता है?) वह उन सुंदर, युवा महिलाओं में से एक थी, जिसने दुर्भाग्य से, लिपिकों के घर में जन्म लिया था। उसके पास न दहेज, न आशाएं, और न ही प्रसिद्ध बनने के लिए साधन थे, जिनके माध्यमसे कोई अमीर या विशिष्ट व्यक्ति उससे प्यार करे या शादी करे; और उसने स्वयं को शिक्षा बोर्ड के कार्यालय में काम करने वाले एक लिपिक के साथ शादी करने के लिए राजी कर लिया। वह साधारण थी, परंतु वह दुःखी थी। वह निरंतर यह सोचकर दुःखी रहती थी कि, उसका जन्म सभी प्रकार की कोमलताओं और सुख-सुविधाओं के लिए हुआ है। वह अपने घर की निर्धनता, भद्दी दीवारों और टूटी-फूटी कुर्सियों के कारण दुःखी रहती थी। ये सभी चीजें उसे परेशान और क्रोधित कर देती थीं। जब वह अपने पति के सामने रात्रि भोजन करने बैठती, जिसने आनंदित होकर बड़े कटोरे पर से कपड़ा हटाते हुए कहा, “अरे! बड़े अच्छे मालपुए हैं! मैं जानता हूं इससे अधिक स्वादिष्ट कुछ नहीं हो सकता…..”, वह भव्य रात्रि भोज पार्टियों, चमकदार चांदी के बारे में और शानदार प्लेटों में परोसे गए विशिष्ट भोजन के बारे में सोचा करती थी। उसके पास न तो फ्रॉक थी और न ही आभूषण, कुछ भी नहीं। और वह केवल उन्हीं वस्तुओं से प्यार करती थी। उसकी एक अमीर सहेली थी, जो कॉन्वेंट स्कूल में उसके साथ पढ़ती थी, वह उसके घर जाना पसंद नहीं करती थी जब वह उसके घर से लौटती थी तो बहुत दुःखी होती थी। वह कई दिनों तक निराशा और परेशानी के कारण रोती रहती थी। एक शाम उसके पति अपने हाथ में एक बड़ा लिफाफा लिए गर्व के साथ लौटे। “यह है,” उसने कहा “यह तुम्हारे लिए कुछ है।”

[PAGE 40]: उसने जल्दी से एक छपा हुआ कार्ड बाहर निकाला, जिस पर ये शब्द लिखे हुए थे “लोक निर्देशक मंत्री और श्रीमती जॉर्ज रामपौन्यु 18 जनवरी दिन सोमवार सायं को श्री और श्रीमती लॉयसेल को मंत्री के आवास पर सादर आमंत्रित करते हैं।’ प्रसन्न होने के स्थान पर, जैसा कि उसके पति को आशा थी, उसने बुड़बुड़ाते हुए ईर्ष्यापूर्वक पत्र को मेज के ऊपर फेंक दिया, “आपके विचार में मेरा इससे क्या लेना देना है ?” “लेकिन, मेरी प्रिय, मैंने सोचा था कि यह आपको प्रसन्न कर देगा। आप कभी बाहर नहीं जाती हो, और यह एक अवसर है, और एक बढ़िया अवसर ! ऐसे अवसर की तो प्रत्येक को इच्छा होती है, और यह तो एक बहुत ही चुना हुआ अवसर है; इस प्रकार के अवसर अधिकतर कर्मचारियों को नहीं मिला करते। वहां आप समूचे कर्मचारी वर्ग के दर्शन करोगी।” उसने उसकी ओर चिढ़ी हुई नज़रों से देखा और अधीरता से घोषणा कर दी, “आप क्या सोचते हैं ऐसे अवसर पर मैं ऐसे वस्त्र पहनूंगी?” उसने तो इसके बारे में सोचा भी नहीं था; वह हकलाकर बोला, “क्यों, जो पोशाक पहनकर तुम थियेटर जाती हो। वह मुझे सुंदर लगती है वह अपनी पत्नी को रोता हुआ देखकर, दुःख के कारण, घबराकर, मौन हो गया। वह हकलाकर बोला, “क्या बात है ? क्या बात है?” काफी प्रचंड प्रयत्न से, उसने अपनी पीड़ा पर काबू पाया और अपनी गीली गालों को पोंछते हुए एक शांत आवाज़ में उत्तर दिया, “कुछ बात नहीं है। केवल मेरे पास वस्त्र नहीं हैं और परिणामस्वरूप से मैं इस पार्टी में नहीं जा सकती हूं। अपना निमंत्रण पत्र किसी सहकर्मी को दे देना जिसकी पत्नी मेरे से अधिक सुसज्जित हो।” वह दुःखी था, लेकिन उत्तर दिया, “मेटिल्डा, आओ पता करें। एक सही वेशभूषा पर कितनी लागत आएगी, कोई ऐसी वेशभूषा जो अन्य अवसरों पर भी काम आ सके, कोई बहुत ही साधारण सी चीज़?”

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

[PAGES 40-41]: उसने कुछ समय के लिए अपने दिमाग पर बल दिया और उस रकम (धन) के बारे में सोचने लगी कि जिससे उसे उसी क्षण इंकार का सामना न करना पड़े और बचत करने वाला लिपिक भयभीत और हैरान न हो। अंत में उसने संकुचाते हुए स्वर में कहा, “मैं सही-सही नहीं बता सकती, लेकिन मुझे ऐसा लगता है कि चार सौ फ्रैंक में काम चल जाएगा।

[PAGE 41]: वह जरा-सा पीला पड़ गया, क्योंकि उसने यह धन एक बंदूक खरीदने के लिए बचाया था ताकि अगली ग्रीष्म ऋतु में, वह किसी दल के साथ शिकार पर जा सके, कुछ मित्रों के साथ जो रविवार को पक्षियों का शिकार करते थे। फिर भी उसने उत्तर दिया, “बहुत अच्छा। मैं आपको चार सौ फ्रैंक दे दूंगा। लेकिन एक सुंदर वेशभूषा खरीदने का प्रयास करना।”
नृत्य-पार्टी का दिन आ पहुंचा और श्रीमती लॉयसेल उदास, परेशान और चिंतित नज़र आई। जबकि, उसकी वेशभूषा लगभग तैयार थी। एक शाम उसके पति ने उससे कहा, “आपको क्या परेशानी है? आप दो-तीन दिनों से विचित्र-सा व्यवहार कर रही हो।” और उसने उत्तर दिया, “मैं परेशान हूं क्योंकि मेरे पास आभूषण नहीं हैं, अपने आपको सजाने-संवारने के लिए कुछ भी नहीं है। मैं बिल्कुल गरीबी से त्रस्त लगूंगी। मैं इस पार्टी में नहीं जाना पसंद करूंगी।” उसने उत्तर दिया, “आप कुछ प्राकृतिक फूल पहन सकती हो। इस मौसम में वे बहुत फैशन वाले लगते हैं।” वह संतुष्ट नहीं थी। “नहीं,” उसने उत्तर दिया, “अमीर महिलाओं के बीच में भद्दा प्रदर्शन करने से अपमानित होने से अधिक और कुछ नहीं है।”

तब उसका पति चीख उठा, “हम कितने मूर्ख हैं ! जाओ, और अपनी सहेली श्रीमती फोरेस्टियर को ढूंढो और उसे अपने आभूषण उधार देने के लिए कहो।” उसने खुशी के मारे चीख मारी, “यह ठीक है!” उसने कहा, “मैंने तो इसके बारे में सोचा भी नहीं था।” अगले दिन वह अपनी सहेली के घर गई और अपने दर्द की कहानी उसे सुनाई। श्रीमती फोरेस्टियर अपनी गुप्त कोठरी में गई, और आभूषणों का एक बड़ा डिब्बा, बाहर निकालकर लाई, उसे खोला, और कहा, “मेरी प्रिय, इनमें से पसंद कर लो।” शरू में उसने कछ कंगन देखे, तब मोतियों का एक पड़ा देखा, तब सराहनीय कारीगिरी वाला सोने और जवाहरात का एक वेनेटियन क्रास देखा। उसने आईने के सामने आभूषणों को पहनकर देखा, थोड़ा संकुचाई, लेकिन निर्णय नहीं कर पाई कि उन्हें ले या छोड़ दे। तब उसने पूछा, “क्या आपके पास और कुछ नहीं है ?” “क्यों, हां। आप स्वयं देख लो। मुझे मालूम नहीं आप किस चीज को पसंद करोगी।” अचानक, उसने साटिन के काले रंग के एक डिब्बे में, हीरों का एक बहुत बढ़िया हार पाया। उसके हाथ कांपने लगे जब उसने उसे बाहर निकाला। उसने उसे अपनी वेशभूषा के साथ मिलाते हुए अपने गले से लगाया और आनंद-विभोर हो गई। तब उसने, थोड़ा हिचकते हुए, लेकिन पूरी उत्सुकता के साथ कहा, “क्या आप मुझे यह उधार दोगी ? केवल यह ?” “क्यों, हां, अवश्य ही।”

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

[PAGE 42] : वह अपनी सहेली की गर्दन पर गिर गई, स्नेहपूर्वक आलिंगन किया और तब अपने खजाने (हार) को लेकर चली गई। नृत्य पार्टी का दिन आ गया। श्रीमती लॉयसेल को महान सफलता मिली। वह पार्टी में सबसे अधिक सुंदर, शान वाली, सुहावनी मुस्कान वाली और प्रसन्नता से भरपूर लग रही थी। सभी पुरुषों ने उसकी ओर देखा, उसका नाम पूछा, और उसके साथ परिचय करना चाहा। वह खुशी में मस्त होकर धूमधाम से नाची, सिवाय अपनी प्रशंसा के किसी अन्य बात की नहीं सोची, यह विजय इतनी संपूर्ण और हृदय को मीठी लगने वाली।
वह सुबह लगभग चार बजे घर लौटी। उसका पति लगभग आधी रात से ही एक छोटे से बाहरी कक्ष में अर्द्ध-सुप्त अवस्था में पड़ा था, उसके साथ तीन और भद्रपुरुष भी थे, जिनकी पलियां स्वयं पार्टी का अत्यधिक आनंद ले रही थीं। उसने अपनी पत्नी के कंधों पर वे शाल लपेट दिए जो वे अपने साथ लाए थे, जिनकी गरीबी पार्टी की शानदार वेशभूषा से मेल नहीं खा रही थी। वह जल्दी में वहां से निकल जाना चाहती थी कहीं दूसरी औरतें उसे देख न लें, जिन्होंने मूल्यवान रोओं वाले वस्त्र पहन रखे थे। लॉयसेल ने उसे रोका, “प्रतीक्षा करो,” उसने कहा, “मैं गाड़ी मंगवा रहा हूं।”
परंतु उसने उसकी बात अनसुनी कर दी और तेजी से सीढ़ियां उतर गई। जब वे गली में आ गए, तो वहां उन्हें कोई वाहन नजर नहीं आया; और उन्होंने वाहन की तलाश करनी शुरू कर दी और वे एक गाड़ीवान को आवाजें देने लग गए जिसे उन्होंने कुछ दूरी पर देखा था।

वे निराश और कांपते हुए साथ-साथ नदी की ओर चल दिए। अंत में उन्हें एक वैसा ही पुराना छकड़ा मिल गया जैसा दिन छिपने के बाद पैरिस के अंदर दिखाई देता है। वह छकड़ा उन्हें उनके दरवाजे तक ले गया और वे थके माद अपने कमरे तक पहुंचे। उसके लिए सभी कुछ संपन्न हो चुका था और उसके पति को याद आया कि उसे दस बजे तक कार्यालय पहुंचना है। उसने आइने के सामने खड़े होकर अपने कंधों से शाल उतारे, अपने आपको पूरी शान में अंतिम बार देखने के लिए। अचानक उसने एक चीख मारी। उसका हार उसके गले में नहीं था। लॉयसेल, जो पहले ही आधे वस्त्र उतार चुका था, ने पूछा, “क्या बात है ?” वह चिंतापूर्वक उसकी ओर मुड़ी। “मेरे पास….मेरे पास…..मेरे पास अब श्रीमती फोरेस्टियर का हार नहीं है।” वह दुःखी होकर उठा, “क्या! यह कैसे हो गया ? यह संभव नहीं है।” और उन्होंने कपड़ों की तहों में, लबादे की तहों में, जेबों में सभी जगह देखा। उन्हें यह नहीं मिला। उसने पूछा, “आपको यकीन है जब हमने मंत्री का घर छोड़ा, तब वह तुम्हारे पास था ?”

[PAGE 43]: “हां, जब हम बाहर आए तो मैंने यह महसूस किया था।” “लेकिन अगर तुमने उसे गली में खोया होता तो, हमें उसके गिरने की आवाज़ सुनाई देनी चाहिए थी। वह अवश्य ही गाड़ी में गिर गया होगा।” “हां, यह संभव है। क्या तुमने गाड़ी का नंबर लिया था ?” “नहीं, और तुमने, क्या तुमने देखा था कि नंबर क्या था?” “नहीं” दोनों ने लज्जित नज़रों से एक-दूसरे को देखा। आखिर में लॉयसेल ने पुनः वस्त्र पहन लिए। “मैं जा रहा हूं”, उसने कहा “उस रास्ते पर जहां हम पैदल चले थे और देखता हूं कि कहीं वह मुझे मिल जाए।” और वह चला गया। वह अपने रात के लबादे में रही, उसमें बिस्तर पर लेटने की हिम्मत नहीं थी। लगभग सात बजे उसका पति लौट आया। उसे कुछ भी नहीं मिला था। वह पुलिस और गाड़ी वालों के कार्यालय में गया, और समाचार-पत्र में इनाम की पेशकश के साथ विज्ञापन भी दिया। उसने इस भयानक तबाही के कार्य से पहले परेशानी की स्थिति में सारा दिन प्रतीक्षा की। लॉयसेल शाम को लौटा, उसका चेहरा पीला था, उसे कुछ भी पता नहीं चल पाया था।

उसने कहा, “अपनी सहेली को पत्र लिख दो कि तुम्हारे से हार का एक कुंदा टूट गया है और तुम उसकी मुरम्मत करवा दोगी। इससे हमें समय मिल जाएगा। जैसा उसने बताया उसने वैसा लिख दिया। एक सप्ताह के बाद उनकी सारी आशाएं लुप्त हो गई। और लॉयसेल ने, जो कि लगभग पांच वर्ष अधिक बूढ़ा हो गया था घोषणा की, “हमें बदले में आभूषण देना चाहिए।” की एक दुकान में, उन्हें हीरों का एक हार दिखाई दिया, जो उन्हें बिल्कुल वैसा ही लगा जैसा उन्होंने खोया था। उसकी कीमत चालीस हज़ार फ्रैंक थी। उन्हें यह छत्तीस हज़ार फ्रैंक में मिल सकता था। लॉयसेल के पास अठारह हज़ार फ्रैंक थे, जो उसका पिता उसके लिए छोड़कर गया था। शेष उसने उधार लिया। उसने तबाह कर देने वाले करार किए, सूदखोरों से पैसे उधार लिए और अन्य सभी देनदारों से पैसे उधार लिए। तब वह नया हार प्राप्त करने के लिए गया, उसने व्यापारी के काऊंटर पर छत्तीस हज़ार फ्रैंक जमा करवा दिए। जब श्रीमती लॉयसेल आभूषणों को लेकर श्रीमती फोरेस्टियर के पास गई, तो श्रीमती फोरेस्टियर ने रूखे स्वर में उससे कहा, “आपको ये मुझे जल्दी लौटा देने चाहिएं थे, क्योंकि मुझे इनकी आवश्यकता पड़ सकती थी।”

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

[PAGE 44]: जैसाकि श्रीमती लॉयसेल को भय था श्रीमती फोरेस्टियर ने आभूषणों के डिब्बे को खोलकर नहीं देखा। यदि वह अदला-बदली को देख लेती तो क्या सोचती ? वह क्या कहती ? क्या वह उसे चोर समझती? श्रीमती लॉयसेल को अब आवश्यकता के भयानक जीवन का पता चल गया। उसने पूर्णतया, बड़ी बहादुरी से, अपनी भूमिका अदा की। इस भयानक कर्ज को चुकाना आवश्यक था। वह उसे चुकाएगी। उन्होंने नौकरानी को हटा दिया, उन्होंने अपना घर बदल लिया; उन्होंने एक अटारी में कुछ कमरे किराये पर ले लिए। उसने रसोई के घृणित काम को सीख लिया। उसने बर्तन मांजे। उसने गंदे कपड़े धोए, उसने लोगों के कपड़े धोए और तश्तरियों को ढकने वाले कपड़े धोए और उन्हें सूखने के लिए रस्सी पर टांग दिया। वह हर सुबह घर का कूड़ा बाहर गली में निकालती, पानी लाती और नीचे उतरते समय सांस लेने के लिए ठहर जाती थी। और किसी साधारण महिला की तरह वस्त्र पहनती थी, वह पंसारी, मांस-विक्रेता और फल विक्रेता के पास अपनी बाजू पर टोकरी टांगकर खरीददारी करने के लिए जाती थी और अपनी दयनीय धनराशि की अंतिम सीमा तक सौदेबाजी करती थी। पति शाम में भी काम करता था, किसी व्यापारी की पुस्तकों को क्रम में रखता था, और रात को प्रायः पांच सॉस प्रति पेज के हिसाब से प्रतिलिपि बनाया करता था। और इस प्रकार का जीवन दस वर्ष तक चलता रहा। दस वर्ष के अन्त में, उनका जीवन ऋण मुक्त हो गया।

अब श्रीमती लॉयसेल बूढ़ी नज़र आती थी। वह काफी शक्तिशाली कठोर महिला और एक गरीब परिवार की सूखी महिला बन चुकी थी। उसके बाल बुरी तरह संवारे हुए थे, उसकी स्कों में सिलवटें पड़ी हुई थीं, उसके हाथ लाल हो गए थे, वह ऊंचे स्वर में बोलती थी, और बड़ी-बड़ी बाल्टियों में पानी भरकर फर्श को धोती थी। लेकिन कई बार, जब उसका पति कार्यालय में गया होता था, तो वह खिड़की के सामने बैठ जाया करती थी और पुराने समय वाली उस सायंकालीन पार्टी के बारे में सोचा करती थी, उस नृत्य-पार्टी के बारे में सोचा करती थी जिसमें वह सबसे अधिक सुंदर और प्रशंसा की पात्र थी। . यदि वह हार न खोया होता तो कैसा होता ? कौन जानता है ? जीवन कितना अकेला है, और कितना परिवर्तनों से भरा हुआ है। कितनी छोटी-सी चीज़ व्यक्ति के जीवन को नष्ट कर सकती है और बचा सकती है! रविवार की एक शाम को जब वह Champs Elysees में सप्ताह भर की चिंताओं से स्वयं को मुक्त करने के लिए टहल रही थी, अचानक उसे एक बच्चे के साथ सैर कर रही महिला नज़र आई। यह श्रीमती फोरेस्टियर थी, अभी भी युवा, सुंदर और आकर्षक थी।

श्रीमती लॉयसेल हैरान रह गई। क्या उसे उसके साथ बात करनी चाहिए? हां, निश्चित रूप से। और अब तो वह ऋणमुक्त हो चुकी है, वह उसको सब कुछ बताएगी। क्यों नहीं? वह उसके पास गई, “सुप्रभात, जीन।” उसकी सहेली ने उसे नहीं पहचाना और उस सामान्य महिला द्वारा परिचितों की भांति संबोधित किए जाने पर वह हैरान थी। वह हकलाकर बोली, “लेकिन, श्रीमती मैं आपको नहीं जानती-शायद आपको भ्रम हो गया है.” “नहीं, मैं मेटिल्डा लॉयसेल हूं।” उसकी सहेली आश्चर्य से चीख पड़ी, “अरे! मेरी बेचारी मेटिल्डा! आप कैसे बदल गई हो!”

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

[PAGE 45]: “हां, जब से मेरी आपसे पिछली मुलाकात हुई थी तब से मुझे कुछ मुश्किल दिनों का सामना करना पड़ा है; और बहुत दयनीय स्थिति से गुजरना पड़ा है और यह सभी कुछ आपके कारण हुआ है “मेरे कारण ? वह कैसे ?” “क्या आपको हीरों का वह हार याद है जो कमिश्नर की नृत्य पार्टी में पहनने के लिए आपने मुझे उधार दिया था?” “हां, बहुत अच्छी तरह से”
“ठीक है, मैंने उसे खो दिया था।” “वह कैसे हुआ, वह तो तभी तुमने मुझे लौटा दिया था?” “मैंने बिल्कुल उस जैसा दूसरा हार लौटाया था। और उस हार की कीमत चुकाने में हमें दस वर्ष लग गए। आप समझ सकती हो कि यह हमारे लिए, जिनके पास कुछ भी नहीं था, चुकाना बहुत मुश्किल था। लेकिन अब चुकाया जा चुका है और मैं पूर्णतया संतुष्ट हूं।” श्रीमती फोरेस्टियर हैरान (दंग) रह गई। उसने कहा, “तुमने कहा कि तुमने मेरे हार के बदले में हीरों वाला हार खरीदा था?” “हां। तब आपने उसे ध्यान से नहीं देखा था ? वे एक-जैसे थे।” और वह गर्व और सामान्य प्रसन्नता के साथ मुस्कराई। श्रीमती फोरेस्टियर इस बात से भावुक हो गई और उसने यह उत्तर देने से पहले अपने दोनों हाथ पकड़ लिए, “अरे! मेरी बेचारी मेटिल्डा! मेरे हार के हीरे नकली थे। उनकी कीमत पांच सौ फ्रैंक से अधिक नहीं थी!”

The Necklacet Word – Misndgs in Hindi

[PAGE 39]: Grand = glorious (शानदार); jewellery = ornament (आभूषण); borrows = owes (उधार लेना); pretty = beautiful (सुंदर); destiny = luck (भाग्य); distinguished = marked out, typical (विशिष्ट, उत्कृष्ट); incessantly = continuously (निरंतर रूप से); delicacies = tenderness (कोमलता); luxuries = comforts (सुविधाएँ); apartment = house (घर); shabby = ugly (भद्दी); tortured = tormented (परेशान किया); tureen = a dish (कटोरा); delighted = pleased (आनंदित); potpie = a sweet bread (मालपुए); elegant = graceful (शान वाली); exquisite = marvellous (शानदार); despair = hopelessness (निराशा); elated = proudfully (गर्वित)।

[PAGE 40]: Inscribed = imprinted (छपे हुए); spitefully = with jealousy (ईर्ष्या से); murmuring = speak in low voice (बुड़बुड़ाना); irritated = offended (चिढ़ा हुआ); declared = announced (घोषणा की); impatiently = restlessly (अधीरतापूर्वक); stammered = spoke with halts (हकलाकर बोला); stupefied = shocked (परेशान अवस्था में); dismay = grief ( दुःख); violent = outrageous ( तीव्र ); vexation = irritation (संताप/पीड़ा); colleague = co-worker (सहकर्मी); grieved = pained (दुःखी); reflected = meditated (मनन करना); immediate =instant (तुरंत); exclamation = surprise (हैरानी); hesitating = doubting (संकोच करते हुए)।

[PAGE 41]: Exactly = nearly (करीब-करीब); larks = small singing bird (गाने वाला पक्षी); adorn = to beautify (सुसज्जित करना); chic = fashionable (फैशन वाली); convinced = assured firmly (पक्का यकीन होना); humiliating = degrading (अपमानित करने वाला); uttered = pronounced (उच्चारण किया); related = narrated (वर्णन किया); distress = sorrow/trouble (संकट); closet = private room (निजी कक्ष); admirable = praise worthy (प्रशंसनीय); workmanship = skill in doing some work (कारीगिरी); ecstatic = very delightful (आनंददायक); anxiety $=$ fear of uncertainty (उत्सुकता); certainly = definitely (अवश्य ही)।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 7 The Necklace

[PAGE 42]: Embraced = folded in the arms (आलिंगन किया); passion = a strong emotion (भावावेश); treasure = jewels (आभूषण, खजाना); the ball = group-dance (नृत्य-पार्टी); enthusiasm = high spirit (जोश); intoxicated = highly pleasant (उन्माद); salons = decorated rooms (सजावटी कमरे); wraps = shawls (शालें); clashed = conflicted (विरोध करना); detained = stopped (रोका); descended = came down (नीचे उतरते हुए); rapidly = fastly (तीव्र गति से); hailing = calling (पुकारना); coachman = tonga driver (गाड़ीवान); carriage = tonga (तांगा); shivering = trembling ( कांपते हुए); wearily = much tired (थका हुआ); removed = took off (हटाया)।

[PAGE 43]: Cast down = ashamed (शर्मिंदा होना); track = path (मार); advertisement = public announcement (विज्ञापन); state = condition (दशा); bewilderment = perplexity (घबराहट); frightful = horrible (भयानक);clasp = operatorname{link}(जोड़); repaired = mended (मरम्मत); dictated = spoke loudly. (बोलकर लिखवाना); replace = to substitute (बदलना); chaplet = wreathe (माला, हार)।

[PAGE 44]: Perceive = to see minutely (ध्यान से देखना); substitution = replacement (बदलना); horrible = terrible (भयानक); heroically = bravely (बहादुरीपूर्वक); lodgings = temporary habitation (किराये का घर); odious = hateful (घृणित); haggling = quarrelling over prices (मोल-भाव करना); restored = paid back (चुकता कर दिया); awry = with twists (सिलवटों वाले); flattered = false praise (चापलूसी); approached = went near. (पास पहुंचना); recognise = to identify (पहचानना); astonishment = amazement (हैरानी)।

[PAGE 45]: Miserable = wretched (दयनीय); loaned = owed (उधार देना); decently = with respect (शिष्टतापूर्वक); content = satisfied (संतुष्ट); worth = value (मूल्य)।

JAC Class 10 English Solutions

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

JAC Board Class 10th English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

JAC Class 10th English The Making of a Scientist Textbook Questions and Answers

Read and Find Out (Pages 32 & 34)

Question 1.
How did a book become a turning point in Richard Ebright’s life?
(एक पुस्तक ने रिचर्ड एबराइट के जीवन को कैसे बदल दिया?)
Answer:
One day Ebright’s mother gave him a book. It was entitled ‘The Travels of Monarch X’. This book was about butterflies. It described how monarch butterflies migrate to Central America. This book created an interest in him about monarch butterflies. He conducted experiments on butterflies and became very famous. In this way, this book became a turning point in his life.

(एक दिन एबराइट की माँ ने उसे एक पुस्तक दी। उसका शीर्षक था ‘मोनार्क एक्स की यात्राएँ । यह पुस्तक तितलियों के बारे में थी। इसमें वर्णन था कि मोनार्क तितलियाँ कैसे मध्य अमेरिका में विस्थापन करती हैं। इस पुस्तक ने मोनार्क तितलियों के बारे में उसमें रुचि पैदा कर दी। उसने तितलियों पर प्रयोग किए और बहुत प्रसिद्ध हो गया। इस प्रकार से, इस पुस्तक ने उसका जीवन बदल दिया।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 2.
How did his mother help him?
(उसकी माँ ने उसकी मदद कैसे की?)
Answer:
His mother found that he was curious about things around him. She encouraged him to pursue his interest further. She was a source of inspiration for him.
(उसकी माँ ने देखा कि वह अपने इर्द-गिर्द की चीजों के बारे में उत्सुक था। उसने उसे अपनी रुचि को आगे बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया। वह उसके लिए एक प्रेरणा स्रोत थी।)

Question 3.
What lesson does Ebright learn when he does not win anything at a science fair?
(जब एबराइट एक विज्ञान मेले में कोई पुरस्कार नहीं जीतता है तो वह क्या सबक सीखता है?)
Answer:
Ebright learns a lesson that a mere display of things does not win any prize at the science fair. He must conduct some real experiments. Later when he does real experiments, he wins prizes at the science fairs.
(एबराइट सबक सीखता है कि विज्ञान मेले में केवल मात्र चीजों का प्रदर्शन करने भर से इनाम नहीं जीता जा सकता है। उसे अवश्य ही कुछ असली प्रयोग करने चाहिएँ। बाद में जब वह वास्तविक प्रयोग करता है, तो वह विज्ञान मेले में इनाम जीतता है।)
(i) How do honeybees identify their own honeycombs?
(ii) Why does rain fall in drops?
(iii) Can you answer these questions?
1. You will find Professor Yash Pal’s and Dr Rahul Pal’s answers (as given in Discovered Questions) on page 75.
Answer:
Students may see the answers to these questions on page 75 of their text book.

2. You also must have wondered about certain things around you. Share these questions with your class, and try to answer them.
Answer:
It should be discussed at class level.

JAC Class 10th English The Making of a Scientist Important Questions and Answers

Very Short Answer Type Questions

Question 1.
Which book became a turning point in Ebright’s life?
Answer:
The book “The Travels of Monarch X’ became a turning point in Ebright’s life.

Question 2.
Who gave Ebright the book “The Travels of Monarch X’?
Answer:
Ebright’s mother gave him the book.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 3.
Which theory is discovered by Ebright?
Answer:
Ebright discovers theory how cells work.

Question 4.
What was the name of Ebright’s home town?
Answer:
The name of Ebright’s home town was Reading.

Question 5.
Who did Ebright write for an idea of real science experiment?
Answer:
For this idea, he wrote to Dr. Frederick A Urquhart.

Question 6.
What did Ebright start collecting in childhood?
Answer:
He started collecting coins, rocks and butterflies in his childhood.

Question 7.
What are the qualities that go into the making of a scientist?
Answer:
These qualities are first rate mind, curiosity and will to win for right teason.

Question 8.
Where did Richard Ebright graduate from?
Answer:
Richard Ebright graduated from Harvard University.

Question 9.
At what grade did Ebright get hint of what real science is?
Answer:
He got this hint when he was in seventh grade.

Question 10.
Which butterflies were not eaten by birds?
Answer:
Monarch butterflies were not eaten by birds.

Question 11.
Which book did Ebright’s mother give him to?
Answer:
Ebright’s mother gave him the book ‘The Travels of Monarch X’.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 12.
Which fields of science did Ebright contribute?
Answer:
Ebright contributed in the fields of Biochemistry and Biology.

Question 13.
What did the book “The Travels of Monarch X’ describe?
Answer:
The book The Travels of Monarch X’describe how Monarch butterflies migrate to Central America.

Question 14.
Who was Richard A. Weiherer?
Answer:
Richard A. Weiherer was Ebright’s social studies teacher.

Question 15.
What is DNA?
Answer:
DNA is a substance in the nucleus of a cell that controls heredity.

Short Answer Type Questions

Question 1.
To which field of science has Richard H. Ebright contributed?
(रिचर्ड एच० एबराइट ने विज्ञान के किस क्षेत्र में योगदान दिया है?)
Answer:
Richard H. Ebright is one of the leading scientists. He had been interested in science since his boyhood. He has contributed significantly to Biochemistry and Molecular Biology.
(रिचर्ड एच० एबराइट एक प्रमुख वैज्ञानिक है। वह अपने बचपन से ही विज्ञान में रुचि ले रहा था। उसने खासतौर से जीव-रसायन और परमाणु रसायनशास्त्र में योगदान दिया है।)

Question 2.
What were the hobbies of Ebright in his childhood?
(बचपन में एबराइट की क्या रुचियाँ थीं?)
Answer:
Ebright’s hobby was collecting things. Ebright was fascinated by butterflies. He started collecting butterflies in kindergarten. He also collected rocks, fossils and coins. He also became a star-gazer and an eager astronomer.
(चीजें एकत्र करने की एबराइट की बचपन की रुचि थी। एबराइट तितलियों की ओर आकर्षित होता था। जब वह छोटी कक्षा में था तो उसने तितलियों को इकट्ठा करना शुरु कर दिया। वह चट्टानें, जीवाश्म और सिक्के भी एकत्रित करता था। वह सितारों को निहारने वाला और एक उत्सुक खगोलविद् बन गया।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 3.
How did Ebright’s mother help him in his hunger for learning?
(ज्ञान के लिए उसकी भूख में उसकी माँ ने उसकी मदद कैसे की?)
Answer:
Ebright’s mother would find work for Richie if he had nothing to do. She found learning tasks for him. He had great hunger for learning. He earned top grades in school. By the time he was in second grade, he had collected 25 species of butterflies.
(यदि रिची के पास करने के लिए कोई काम नहीं होता था तो उसकी माँ उसके लिए काम ढूँढ़ती थी। वह उसके लिए सीखने के काम ढूँढ़ती थी। उसमें सीखने की बहुत अधिक भूख थी। उसने स्कूल में उच्च दर्जा हासिल किया। जब तक वह दूसरी श्रेणी में पहुंचा, तो तब तक वह तितलियों की पच्चीस प्रजातियों का संग्रह कर चुका था।)

Question 4.
Which book did Ebright’s mother give him? How did this book change his life?
(एबराइट की माँ ने उसे कौन-सी किताब दी? इस पुस्तक ने उसके जीवन को कैसे का दिया?)
Answer:
One day Ebright’s mother gave him a children’s book. That book was ‘The Travels of Monarch X’. It described how monarch butterflies migrate to Central America. This book fascinated him. This book stimulated his interest in butterflies. He devoted his time to the study of butterflies and won many prizes. In this way, this book changed his life.

(एक दिन एबराइट की माँ ने उसे बच्चों की एक किताब दी। वह पस्तक थी ‘मोनार्क एक्स की यात्राएँ। इसमें वर्णन किया गया था कि मोनार्क तितलियाँ किस प्रकार से मध्य अमेरिका में विस्थापन करती हैं। इस पुस्तक ने उसे आकर्षित किया। इस पुस्तक ने तितलियों में उसकी रुचि को बढ़ाया। वह तितलियों के अध्ययन में अपना समय लगाता था और उसने कई इनाम जीते। इस प्रकार से, इस पुस्तक ने उसके जीवन को बदल दिया।)

Question 5.
What did Ebright realize when he started tagging butterflies?
(जब एबराइट ने तितलियों को बाँधना शुरु कर दिया तो उसने क्या महसूस किया ?)
Answer:
Ebright started tagging monarch butterflies. He realized that chasing the butterflies one by one won’t enable him to catch many. So he decided to raise a flock of butterflies.
(एबराइट ने मोनार्क तितलियों को टैग लगाना शुरु कर दिया। उसने महसूस किया कि एक-एक करके तितलियाँ पकड़ने से वह अधिक तितलियाँ नहीं पकड़ पाएगा। इसलिए उसने तितलियों के एक झुण्ड को पालने का निर्णय लिया।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 6.
How did Ebright raise a flock of butterflies?
(एबराइट ने तितलियों को झुण्ड के रूप में कैसे पाला?) .
Answer:
Ebright would catch a female monarch and take her eggs. He would raise them in his basement, from egg to caterpillar, to pupa to adult butterfly. Then he would tag the butterflies’ wings and let them go.
(एबराइट ने एक मादा मोनार्क को पकड़ा और उसके अंडे लिए। उसने उन्हें अपने तहखाने में पाला, अंडे से इल्ली, इल्ली से प्यूपा और प्यूपा से व्यस्क तितली। तब वह तितलियों के पंखों पर टैग लगाता था और उन्हें उड़ जाने देता था।)

Question 7.
Why did Ebright begin to lose interest in tagging butterflies?
(एबराइट ने तितलियों को टैग बाँधने में रुचि क्यों खोनी शुरु कर दी?) .
Answer:
Ebright began to lose interest in tagging butterflies. The reason was that there was no feedback. He was a little disappointed as only two butterflies had been recaptured. And they had been found not more than seventy-five miles from where he lived.
(तितलियों को टैग बाँधने में एबराइट की रुचि खत्म होने लगी। कारण यह था कि इससे कोई अच्छा परिणाम नहीं मिलता था। वह थोड़ा निराश भी था क्योंकि अब तक केवल दो तितलियाँ दोबारा से पकड़ी गई थीं। और वे भी उस स्थान से 75 मील से अधिक दूरी पर नहीं थी जिस स्थान पर वह रहता था।)

Question 8.
What happened with Ebright when he entered a county science fair for the first time?
(एबराइट के साथ क्या हुआ जब उसने प्रथम बार काऊंटी विज्ञान मेले में प्रवेश किया ?)
Answer:
He entered a county science fair Ebright for the first time. His entries were slides of frog tissues. But he did not win any prize.
(एबराइट ने काऊंटी विज्ञान मेले में पहली बार भाग लिया। उसकी प्रतियोगिता मेंढ़क की कोशिकाओं का प्रदर्शन था। लेकिन उसने कोई इनाम नहीं जीता।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 9.
What did Ebright realize when he did not win any prize in the county science fair?
(जब एबराइट ने कांऊटी विज्ञान मेले में कोई पुरस्कार नहीं जीता तो उसने क्या महसूस किया ?)
Answer:
He realised that the winners had tried to do real experiments. So he decided to do further research in his favourite field, that is, insects on which he had already been doing work.
(उसने महसूस किया कि विजेताओं ने वास्तविक प्रयोग किए थे। इसलिए उसने अपने प्रिय विषय, कीटों के बारे में, जिस पर वह पहले भी कई प्रयोग कर चुका था पर और शोध करने का निर्णय लिया।)।

Question 10.
What happened when Ebright wrote to Dr. Urquhart for ideas?
(जब एबराइट ने डॉ० उरक्वार्ट को उसके सुझावों के लिए लिखा तो क्या हुआ ?)
Answer:
Ebright wrote to Dr. Urquhart for ideas. In reply, the famous scientist gave him many suggestions for experiments. These experiments kept Ebright busy all through high school. He also won many prizes in county and international science fairs.
(एबराइट ने डॉ० उरक्वार्ट को उसके सुझावों के लिए लिखा। उत्तर में, प्रसिद्ध वैज्ञानिक ने उसे प्रयोगों के लिए कई सुझाव दिए। इन प्रयोगों ने एबराइट को हाई स्कूल के दौरान पूर्णतया व्यस्त रखा। उसने काऊंटी और अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान मेलों में अनेकों इनाम जीते।)

Question 11.
Why do the viceroy butterflies imitate the monarch butterflies?
(वायसराय तितलियाँ मोनार्क तितलियों की नकल क्यों करती हैं?)
Or
Why did viceroy butterflies copy monarchs? What was the similarity between them?
(वायसराय तितलियाँ मोनार्क की नकल क्यों करती थी? उनके बीच में क्या समानताएँ थी?)
Answer:
In one of his science fair projects, he tested the theory that viceroy butterflies imitate monarchs. He reached the conclusion that viceroys look like monarchs because birds do not find monarchs tasty. They like to eat viceroy butterflies. By copying monarchs, the viceroys escape being eaten by birds.

(विज्ञान मेले के अपने एक परियोजना में, उसने इस सिद्धान्त की परख की कि वायसराय तितलियाँ मोनार्क तितलियों की नकल करती हैं। वह इस निष्कर्ष पर पहुँचा कि वायसराय तितलियाँ मोनार्क तितलियों जैसी इसलिए दिखती हैं क्योंकि पक्षियों को मोनार्क स्वादिष्ट नहीं लगती हैं। वह वायसराय तितलियों को खाना पसंद करती हैं। मोनार्क की नकल करके, वायसराय तितलियाँ पक्षियों के द्वारा खाए जाने से बच जाती हैं।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 12.
Which simple question led to the discovery of an unknown insect hormone? (किस साधारण से प्रश्न ने एक अज्ञात कीट हार्मोन की खोज का रास्ता खोला?)
Answer: In his second year in high school Ebright’s research led to his discovery of an unknown insect hormone. Indirectly, it led to his new theory on the life of cells. He tried to answer a very simple question: “What is the purpose of the twelve tiny gold spots on a monarch pupa?”
(हाई स्कूल के द्वितीय वर्ष में एबराइट के शोध ने एक अज्ञात कीट हार्मोन की खोज का रास्ता खोला। अप्रत्यक्ष रूप से, इसने कोशिकाओं के जीवन का एक नया सिद्धान्त दिया। उसने एक अति साधारण प्रश्न का उत्तर देने का प्रयास किया “मोनार्क प्यूपा के शरीर पर बारह छोटी सुनहरी गोल चित्तियों का क्या उद्देश्य है?”)

Question 13.
What did Ebright discover about the spots on a monarch butterfly’s pupa?
(एबराइट ने मोनार्क तितली के प्यूपा के शरीर पर चित्तियों के बारे में क्या खोज की?)
Answer:
Ebright tried to find out that what was the purpose of the twelve tiny gold spots on a monarch butterfly’s pupa. To find the answer Ebright and another student built a device that showed that the spots were producing a hormone. It was necessary for the butterfly’s full development
(एबराइट ने इस बात का पता लगाने का प्रयास किया कि मोनार्क तितली के प्यूपा के शरीर पर बनी बारह छोटी गोल सुनहरी चित्तियों का क्या उद्देश्य है। उत्तर पाने के लिए एबराइट और एक अन्य विद्यार्थी ने एक यंत्र बनाया जो दिखाता था कि चित्तियाँ एक हार्मोन पैदा करती हैं। यह तितली के पूर्ण विकास के लिए आवश्यक था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 14.
What idea did Ebright get when he was looking at the X-ray photos of cells?
(जब एबराइट कोशिकाओं के एक्स-रे फोटो देख रहा था तो उसे क्या विचार सूझा?)
Answer:
One day, Ebright was seeing the X-ray photos of the chemical structure of cells. He got the idea for his new theory about cell life. Those photos provided him the answer to one of biology’s puzzles : how the cell can read the blueprint of its DNA.
(एक दिन, एबराइट कोशिकाओं के रासायनिक ढाँचे की एक्स-रे फोटो देख रहा था। उसे कोशिका जीवन के अपने नए सिद्धांत का विचार सूझा। उन चित्रों ने उसे प्राणी विज्ञान की एक पहेली का उत्तर दिया वह थी-कोशिका अपने डी०एन०ए० के ढाँचे को कैसे ‘पढ़’ सकती है।)

Essay Type Questions

Question 1.
How did Ebright’s mother encourage him to become a scientist?
(वैज्ञानिक बनने के लिए एबराइट की माँ ने उसे कैसे उत्साहित किया?)
Or
How did Ebright’s mother help him in becoming a scientist? Explain.
(वैज्ञानिक बनने के लिए एबराइट की माँ ने उसकी कैसे सहायता की? वर्णन करें।)
Or
Describe the role of his mother in making Ebright a Scientist.
(एबराइट को वैज्ञानिक बनाने में उसकी माँ की भूमिका का वर्णन करें।)
Answer:
Ebright’s mother recognized his curiosity and encouraged him. She took him on trips. She also bought him telescopes, microscopes, cameras and other equipments so that he could follow his hobbies. Ebright’s mother was his friend until he started going school. She would bring home friends for him. Ebright’s mother would find work for him if he had nothing to do. She found learning tasks for him. He had great hunger for learning. He eamed top grades in school. By the time he was in second grade, he had collected 25 species of butterflies. One day his mother gave him a children’s book. It opened the world of science to Ebright.

(एबराइट की माँ ने उसकी उत्सुकता को पहचाना और उसे प्रोत्साहित किया। वह उसे यात्राओं पर ले गई। उसने उसके लिए टेलीस्कोप, माइक्रोस्कोप, कैमरे और अन्य उपकरण खरीदे ताकि वह अपनी रुचियों को आगे बढ़ा सके। जब तक एबराइट स्कूल नहीं गया तो उसकी माँ ही उसकी मित्र थी। वह उसके लिए उसके मित्रों को घर बुलाती थी। एबराइट की माँ उसके लिए काम ढूँढ़ती थी यदि उसके पास करने के लिए काम नहीं होता था। वह उसके लिए सीखने के काम ढूँढ़ती थी। उसमें सीखने की बहुत अधिक भूख थी। स्कूल में वह उच्च श्रेणी हासिल करता था। जब वह दूसरी कक्षा में हुआ तो वह तितलियों की 25 प्रजातियों का संग्रह कर चुका था। एक दिन उसकी माँ ने उसे बच्चों की एक पुस्तक दी। इस पुस्तक ने उसके लिए विज्ञान की दुनिया के दरवाजे खोल दिए।)

Question 2.
Which book proved to be a turning point in Ebright’s life?
(किस पुस्तक ने एबराइट के जीवन को बदल दिया?)
Answer:
One day, Ebright’s mother gave him a book. That book was ‘The Travels of Monarch x’. It described how monarch butterflies migrate to Central America. This book fascinated him. At the end of the book, readers were invited to help study butterfly migrations. They were asked to tag butterflies for research by Dr. Frederick of Toronto University, Canada. Anyone who found a tagged butterfly was asked to send the tag to Dr. Frederick. Ebright started tagging monarch butterflies. The butterfly collecting season around Reading lasts only six weeks in late summer. He realized that chasing the butterflies one by one won’t enable him to catch many. So he decided to raise a flock of butterflies.

(एक दिन, एबराइट की माँ ने उसे एक पुस्तक दी। यह पुस्तक थी ‘मोनार्क एक्स की यात्राएँ, इसमें इस बात का वर्णन था कि मोनार्क तितलियाँ मध्य अमेरिका में कैसे विस्थापन करती हैं। इस पुस्तक ने उसे आकर्षित किया। पुस्तक के अंत में, पाठकों को तितलियों के विस्थापन का अध्ययन करने में मदद के लिए आमंत्रित किया गया था। उन्हें यह भी कहा गया था कि कनाडा के टोरन्टो विश्वविद्यालय के प्रोफेसर डॉ० फ्रेडरिक के शोध के लिए वे तितलियों के परों पर टैग बाँधे। जिस किसी को भी टैग बंधी हुई तितली मिलती थी उसे वह तितली डॉ० फ्रेडरिक के पास भेजनी थी। एबराइट ने मोनार्क तितलियों को टैग लगाने शुरु कर दिए। रीडिंग के आस-पास के क्षेत्रों में तितलियाँ पकड़ने का मौसम ग्रीष्म ऋतु के अंत में लगभग छः सप्ताह तक रहता था। उसने महसूस किया कि एक-एक करके वह ज्यादा तितलियाँ नहीं पकड़ सकता था। इसलिए उसने झुण्ड में तितली पालन करने का निर्णय लिया।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 3.
What experiments did Ebright do about monarch butterflies?
(मोनार्क तितलियों के बारे में एबराइट ने क्या प्रयोग किए?)
Answer:
Ebright wrote to Dr. Frederick for ideas. In reply, the famous scientist gave him many suggestions for experiments. These experiments kept Ebright busy all through high school. He also won many prizes in county and international science fairs. Ebright tried to find the cause of a viral disease that killed all monarch caterpillars. He thought the disease might be carried by a beetle. He tried raising caterpillars in the presence of beetles. But he didn’t get any real results. But he showed his experiment in the science fair and won. The next year his science fair project was testing the theory that viceroy butterflies imitate monarchs. By copying monarchs, the viceroys escape being eaten by birds. This project was placed first in the zoology division and third overall in the county science fair.

(एबराइट ने सुझावों के लिए डॉ० फ्रेडरिक को लिखा। उत्तर में, प्रख्यात वैज्ञानिक ने प्रयोगों के लिए बहुत-से सुझाव दिए। इन प्रयोगों ने एबराइट को हाई स्कूल के दौरान व्यस्त रखा। उसने कांऊटी और अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान मेलों में अनेकों इनाम जीते। एबराइट ने एक वायरल बीमारी का कारण पता लगाने का प्रयास किया जिसकी वजह से सारी मोनार्क इल्लियाँ मर जाती थीं। वह सोचता था कि यह बीमारी एक गुबरैला कीट के कारण पैदा होती है। उसने गुबरैलों की उपस्थिति में इल्लियों को पालने का निर्णय लिया। लेकिन उसे कोई वास्तविक परिणाम हासिल नहीं हुए। लेकिन उसने अपने प्रयोग को विज्ञान मेले में दिखाया और इनाम जीता। अगले साल विज्ञान मेले में उसका परियोजना था कि इस सिद्धान्त की परख करना कि वायसराय तितलियाँ मोनार्क तितलियों की नकल करती हैं। मोनार्क तितलियों की नकल करके, वायसराय तितलियाँ पक्षियों के द्वारा खाए जाने से बच जाती हैं। प्राणी विज्ञान वर्ग में यह परियोजना पहले स्थान पर और पूरे कांऊटी विज्ञान मेले में तीसरे स्थान पर रहा।)

Question 4.
How did Ebright discover an unknown insect hormone?
(एबराइट ने एक अज्ञात कीट हार्मोन कैसे खोजा?)
Answer:
In his second year in high school Ebright’s research led to his discovery of an unknown insect hormone. Indirectly, it led to his new theory on the life of cells. He tried to answer a very simple question. What is the purpose of the twelve tiny gold spots on a monarch pupa? To prove Ebright and one another student built a device that showed that the spots were producing a hormone. It was necessary for the butterfly’s full development. This project won Ebright first place in the county fair and entry into the International Science and Engineering Fair. There he won third place for zoology

(हाई स्कूल के दूसरे वर्ष के दौरान एबराइट के शोध के कारण एक अज्ञात कीट हार्मोन का आविष्कार हुआ। अप्रत्यक्ष रूप से इसने कोशिका जीवन के नये सिद्धान्त का प्रतिपादन किया। उसने एक अति साधारण प्रश्न का उत्तर देने का प्रयास किया। एक मोनार्क प्यूपा के शरीर पर पाई जाने वाली बारह सुनहरी चित्तियों का क्या उद्देश्य है ? इस बात को सिद्ध करने के लिए एबराइट और एक दूसरे विद्यार्थी ने एक यंत्र का निर्माण किया जिसने दिखाया कि चित्तियाँ एक हार्मोन का निर्माण करती हैं। तितली के पूर्ण विकास के लिए यह आवश्यक था। इस परियोजना ने काऊंटी विज्ञान मेले में प्रथम स्थान हासिल किया और उसे अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान और इंजीनियरिंग मेले में प्रवेश मिल गया। वहाँ उसने जीव विज्ञान वर्ग में तीसरा स्थान हासिल किया।)

Question 5.
How did Ebright get the idea for his new theory about cell life? How can this theory be beneficial?
(कोशिका जीवन के बारे में अपने नए सिद्धान्त का विचार एबराइट को कैसे सूझा? यह सिद्धान्त कैसे लाभकारी सिद्ध हो सकता है?)
Answer:
One day, Ebright was seeing the X-ray photos of the chemical structure of cells. He got the idea for his new theory about cell life. Those photos provided him the answer to one of biology’s puzzles : how the cell can read the blueprint of its DNA. DNA is the substance in the nucleus of a cell that controls heredity. It is the blueprint for life. Ebright and his college room-mate James R. Wong drew pictures and constructed plastic models of molecules to show how it could happen. At the Harvard Medical School, Ebright began experimenting to test his theory. If the theory proves correct, it will be a big step towards understanding the life processes. It might also lead to new ideas for preventing some types of cancer and other diseases.

(एक दिन, एबराइट कोशिकाओं के रासायनिक ढाँचे के एक्स-रे फोटो देख रहा था। उसे कोशिका जीवन के बारे में अपने नए सिद्धान्त का विचार सूझा। उन चित्रों ने उसे प्राणी विज्ञान की एक पहेली का उत्तर दिया-कोशिका अपने डी०एन०ए० को कैसे ‘पढ़ सकती है। डी०एन०ए० एक कोशिका के केंद्र में पाया जाने वाला तत्त्व होता है जो अनुवांशिकी को नियंत्रित करता है। यह जीवन की रूपरेखा होता है। एबराइट और उसके कॉलेज के सहपाठी जेम्स आर वोंग ने चित्र बनाए और यह दिखाने के लिए कि यह कैसे होता है अणुओं के प्लास्टिक के मॉडल बनाए। हारवर्ड मैडिकल स्कूल, में एबराइट ने अपने सिद्धान्त की परख करने के लिए प्रयोग शुरू कर दिए। यदि सिद्धांत सही साबित होता है, तो जीवन प्रक्रियाओं को समझने के लिए यह एक बड़ा कदम साबित होगा। इससे कुछ प्रकार के कैंसर और अन्य बीमारियों को रोकने में भी मदद मिलेगी।)

Multiple Choice Questions

Question 1.
Which theory is discovered by Ebright?
(A) how cells work
(B) how motion works
(C) how digestion system works
(D) all of the above
Answer:
(A) how cells work

Question 2.
Richard H. Ebright was a famous:
(A) singer
(B) scientist
(C) doctor
(D) engineer
Answer:
(B) scientist

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 3.
What did Ebright start collecting in childhood?
(A) butterflies
(B) rocks
(C) coins
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

Question 4.
Who encouraged Ebright in his interest in learning?
(A) his mother
(B) his father
(C) his brother
(D) his teacher
Answer:
(A) his mother

Question 5.
Which was Ebright’s home town?
(A) London
(B) Liverpool
(C) Reading
(D) Oxford
Answer:
(C) Reading

Question 6.
Ebright tried to grow caterpillers in the presence of:
(A) bettles
(B) snakes
(C) wasps
(D) all of the above
Answer:
(A) bettles

Question 7.
According to Ebright what was required for winning a prize in the science fair?
(A) real experiment
(B) mere display of things
(C) both (A) and (B)
(D) none of the above
Answer:
(A) real experiment

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 8.
Which of the following is a type of butterflies?
(A) viceroy
(B) monarch
(C) both (A) and (B)
(D) none of the above
Answer:
(C) both (A) and (B)

Question 9.
Which butterflies were not eaten by birds?
(A) viceroy
(B) monarch
(C) both (A) and (B)
(D) none of the above
Answer:
(B) monarch

Question 10.
Which book did Ebright’s mother give him to?
(A) Travels of Monarch X
(B) Travels of Ebright
(C) Travels of Dr Urquhart
(D) Travels of Viceroy X
Answer:
(A) Travels of Monarch X

Question 11.
Ebright took part in county ……………… fair.
(A) handicraft
(B) science
(C) cattle
(D) insects
Answer:
(B) science

Question 12.
Ebright is an expert …………….
(A) scientist
(B) debator
(C) photographer
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

Question 13.
Ebright graduated from:
(A) Harvard
(B) London
(C) Toronto
(D) Oxford
Answer:
(A) Harvard

Question 14.
At what grade did Richard get a hint of what real science is?
(A) fourth grade
(B) fifth grade
(C) sixth grade
(D) seventh grade
Answer:
(D) seventh grade

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

Question 15.
Who did Richard write for an idea of real science experiment?
(A) his mother
(B) Dr. Frederick A. Urquhart
(C) both (A) and (B)
(D) none of the above
Answer:
(B) Dr. Frederick A. Urquhart

Question 16.
Which of the following is a part of the life cycle of butterflies?
(A) egg
(B) caterpillar
(C) pupa
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

The Making of a Scientist Summaryn in English

The Making of a Scientist Introduction in English

Richard H. Ebright is one of the leading scientists. He has contributed significantly to Biochemistry and Molecular Biology. When Ebright was a little child, he used to collect butterflies, rocks, fossils and coins. He was an eager star-gazer also. But he was mainly interested in butterflies. During his school as well as college days, he did many experiments for which he was awarded many prizes. Most of his experiments were on butterflies. These experiments were a milestone in the world of science.

The Making of a Scientist Summaryn in English

Richard H. Ebright is one of the leading scientists. He has contributed significantly to Biochemistry and Molecular Biology. He had been interested in science since his boyhood years. At the age of twenty-two, he excited the scientific world with a new theory. It was concerned with the working of cells. Ebright and his college room-mate explained the theory in an article. It was published in the journal entitled ‘Proceedings of the National Academy of Science’. It was first of his many achievements in the field of science. It started with his studies on ‘butterflies’.

Ebright was the only child of his parents. They lived in north of Reading, Pennsylvania. There was nothing for Ebright to do there. He had no companions. He was not a good player. But his hobby was collecting things. Ebright was fascinated by butterflies. He started collecting butterflies in kindergarten. He also collected rocks, fossils and coins. He also became a star-gazer and an eager astronomer.

Ebright’s mother recognized his curiosity and encouraged him. She took him on trips. She also bought him telescopes, microscopes, cameras and other equipment so that he could follow his hobbies. Ebright’s mother was his friend until he started school. She would bring home friends for him. He was her whole life after her husband’s death.

Ebright’s mother would find work for Richie if he had nothing to do. She found learning tasks for him. He had great hunger for learning. He earned top grades in school. By the time he was in second grade, he had collected 25 species of butterflies. These were found around in hometown. One day his mother gave him a children’s book. It opened the world of science to Ebright.

That book was ‘The Travels of Monarch X. It described how monarch butterflies migrate to Central America. This book fascinated him. At the end of the book, readers were invited to help study butterfly migrations. They were asked to tag butterflies for research by Dr. Frederick A. Urquhart of Toronto University, Canada. Anyone who found a tagged butterfly was asked to send the tag to Dr. Urquhart. Ebright startedtagging monarch butterflies. The butterfly collecting season around Reading lasts only six weeks in late summer. He realized that chasing the butterflies one by one won’t enable him to catch many. So he decided to raise a flock of butterflies. He would catch a female monarch and take her eggs. He would raise them in his basement from egg to caterpillar to pupa to adult butterfly. Then he would tag the butterflies’ wings and let them go.

However, soon Ebright began to lose interest in tagging butterflies. The reason was that there was no feedback. He was a little disappointed as only two butterflies had been recaptured. And they had been found not more than seventy-five miles from where he lived. By the time, Ebright reached the seventh grade. He got busy with other scientific experiments. He entered a county science fair. His entries were slides of frog tissues. But he did not win any prize. He realised that the winners had tried to do real experiments. So he decided to do further research in his favourite field, that is, insects on which he had already been doing work.

Ebright wrote to Dr. Urquhart for ideas. In reply, the famous scientist gave him many suggestions for experiments. These experiments kept Ebright busy all through high school. He also won many prizes in county and international science fairs. For his eighth grade project, Ebright tried to find the cause of a viral disease that killed all monarch caterpillars. He thought the disease might be carried by a beetle. He tried raising caterpillars in the presence of beetles. But he didn’t get any real results. But he showed his experiment in the science fair and won. The next year his science fair project was testing the theory that viceroy butterflies imitate monarchs. He said that viceroys look like monarchs because birds do not find monarchs tasty. By copying monarchs, the viceroys escape being eaten by birds. His project was to see if birds would eat monarchs. This project was placed first in the zoology division and third overall in the county science fair.

In his second year in high school Ebright’s research led to his discovery of an unknown insect he Indirectly, it led to his new theory on the life of cells. He tried to answer a very simple question: What is the purpose of the twelve tiny gold spots on a monarch pupa? To find the answer Ebright and another student built a device that showed that the spots were producing a hormone. It was necessary for the butterfly’s full S2 development. This project won Ebright first place in the county fair and entry into the International Science and Engineering Fair. There he won third place for zoology. He also got a chance to work in Walter Reed Army Institute of Research.

Ebright’s interest in butterflies never abated. As a high school junior, he continued his advanced experiments on the monarch pupa. His project won first place at the International Science Fair. In his senior year, he grew cells from a monarch’s wing in a culture. He showed that the cells would divide and develop into normal butterfly wing scales only if they were fed the hormone from the gold spots. That project won first place for zoology at the International Fair. He also worked at the army laboratory and at the U.S. Dept. of Agriculture’s laboratory. The following summer Ebright went back to the Dept. of Agriculture’s lab and worked on the hormone theory. Finally he was able to identify the hormone’s chemical structure.

A year-and-a half later, one day, Ebright was seeing the X-ray photos of the chemical structure of cells. He got the idea for his new theory about cell life. Those photos provided him the answer to one of biology’s puzzles: how the cell can read the blueprint of its DNA. DNA is the substance in the nucleus of a cell that controls heredity. It is the blueprint for life. Ebright and his college room-mate James R. Wong drew pictures and constructed plastic models of molecules to show how it could happen.

No one was surprised when Richard Ebright graduated from Harvard with highest honours. He also became a graduate student researcher at Harvard Medical School. There he began experimenting to test his theory. If the theory proves correct it will be a big step towards understanding the life processes. It might also lead to new ideas for preventing some types of cancer and other diseases. Ebright has many other interests also. He also became a champion debater and public speaker, a good canoeist and an all-round outdoor-person. He was also an expert photographer of nature and scientific exhibits.

Ebright’s social studies teacher, Richard Weiherer had high praise for him. Ebright said about his teacher that he opened his mind to new ideas. Richard A. Weiherer also spoke highly of Ebright about his interests. He won because he wanted to do the best job. He said that Ebright was competitive, but not in a bad sense. In the end, the writer says Ebright possessed those traits which are necessary for the making of a scientist. These are: Start with a first-rate mind, add curiosity and mix in the will to win for the right reasons. Ebright had these qualities.

The Making of a Scientist Summaryn in Hindi

The Making of a Scientist Introduction in Hindi

(रिचर्ड एच० एबराइट प्रमुख वैज्ञानिकों में से एक है। उसने जीव-रसायन और परमाणु रसायनशास्त्र के क्षेत्र में विशेष योगदान दिया है। जब एबराइट एक छोटा बच्चा था, तो वह तितलियाँ, चट्टानें, जीवाश्म और सिक्के इत्यादि एकत्रित करता रहता था। वह उत्सुकतापूर्वक सितारों को निहारने वाला भी था। लेकिन उसकी मुख्य रुचि तितलियों में थी। अपने स्कूल और कॉलेज के दिनों में, उसने कई प्रयोग किए जिसके लिए उसे बहुत-से इनाम मिले। उसके अधिकतर प्रयोग तितलियों पर थे। ये अनुसंधान वैज्ञानिक जगत में एक मील का पत्थर साबित हुए।)

The Making of a Scientist Summaryn in Hindi

रिचर्ड एच० एबराइट प्रमुख वैज्ञानिकों में से एक है। उसने जीव-रसायन और परमाणु रसायनशास्त्र में विशेष योगदान दिया है। वह अपने लड़कपन से ही विज्ञान में रुचि रखता था। बाईस साल की आयु में, उसने वैज्ञानिक संसार को एक नए सिद्धांत से उत्तेजित कर दिया। यह सिद्धांत कोशिकाओं की कार्य-प्रणाली से संबंधित था। एबराइट और उसके कॉलेज के सहपाठी ने इस सिद्धांत को एक लेख में समझाया। यह एक पत्रिका में प्रकाशित हुआ जिसका नाम था, ‘प्रोसीडिंग्ज ऑफ द नैशनल एकेडमि ऑफ साईंस । विज्ञान के क्षेत्र में उसकी कई उपलब्धियों में से यह पहली थी। यह उसके ‘तितलियों के अध्ययन से आरंभ हुई।

एबराइट अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था। वे पेनसिलवेनिया में, रीडिंग के उत्तर में रहते थे। वहाँ पर एबराइट के करने के लिए कुछ भी नहीं था। उसका कोई साथी नहीं था। वह एक अच्छा खिलाड़ी नहीं था। मगर चीजें इकट्ठा करना उसका शौक था। एबराइट तितलियों की तरफ आकर्षित हुआ। उसने स्कूल समय में ही तितलियाँ इकट्ठा करना आरंभ कर दिया था। वह पत्थर, जीवाश्म और सिक्के भी इकट्ठे करता था। वह तारे देखने वाला भी बन गया और एक उत्सुक खगोलशास्त्री भी बन गया।

एबराइट की माता ने उसकी उत्सुकता को पहचाना और उसे प्रोत्साहित किया। वह उसे यात्राओं पर ले जाती थी। उसने उसे दूरबीन, सूक्ष्मदर्शी यंत्र, कैमरे और अन्य यंत्र खरीद दिए ताकि वह अपने शौक पूरे कर सके। जब तक उसने स्कूल जाना आरंभ नहीं किया एबराइट की माता उसकी मित्र थी। वह उसके लिए घर पर मित्र लेकर आती थी। उसके पति की मृत्यु के बाद वह ही उसका सारा जीवन था। अगर उसके पास करने के लिए कुछ नहीं होता था तो एबराइट की माता उसके लिए काम ढूँढती थी। वह उसके लिए सीखने के काम ढूँढती थी। उसे ज्ञान की भूख थी। वह स्कूल में सबसे अधिक नंबर लेता था। जब तक वह दूसरे दर्जे में पहुँचा, उसने तितलियों की पच्चीस प्रजातियाँ इकट्ठी कर ली थीं। ये उसके शहर के आस-पास पाई जाती थीं। एक बार उसकी माता ने उसे बच्चों की एक पुस्तक दी। इसने एबराइट के सामने विज्ञान का संसार खोल दिया।

उस पुस्तक का नाम था, ‘द ट्रैवल्स ऑफ मोनार्क एक्स’। इसमें वर्णन किया गया था कि किस तरह मोनार्क तितली मध्य अमेरिका में स्थानांतरण करती है। इस पुस्तक ने उसे आकर्षित किया। पुस्तक के अंत में, पाठकों को कहा गया था कि वे तितलियों के स्थानांतरण का अध्ययन करने में सहायता करें। उनसे कहा गया था कि वे टोरंटो विश्वविद्यालय, कनाडा के डॉक्टर फ्रेड्रिक ए. उरक्वार्ट के शोध कार्य के लिए तितलियों को टैग करें। जिस किसी को भी बाँधी गई तितली मिले उसे उसने डॉ० उरक्वार्ट के पास भेजना था। एबराइट ने मोनार्क तितलियों को बाँधना आरंभ कर दिया। रीडिंग के आस-पास तितलियाँ इकट्ठी करने का मौसम गर्मियों के अंत में केवल छह सप्ताह तक चलता है। उसने महसूस किया कि तितलियों को एक-एक करके इकट्ठा करने से वह अधिक तितलियाँ था और उसके अण्डे लेता था। वह अपने घर के तहखाने में उनका प्रजनन अण्डे से सुण्डी से प्यूपा और फिर व्यस्क तितली तक करता था। तब वह तितलियों को बाँधता था और उन्हें उड़ा देता था।

लेकिन, शीघ्र ही एबराइट की तितलियों में रुचि कम होनी आरंभ हो गई। इसका कारण था कि कोई प्रतिक्रिया प्राप्त नहीं होती थी। वह कुछ निराश हो गया था क्योंकि केवल दो तितलियों को ही फिर से पकड़ा जा सका था और उन्हें उसके घर से पचहत्तर मील से अधिक दूर से नहीं पकड़ा गया था। जब तक एबराइट सातवीं कक्षा में पहुँचा, वह अन्य वैज्ञानिक प्रयोगों में व्यस्त हो गया। उसने एक काऊंटी विज्ञान मेले में भाग लिया। उसकी प्रविष्टि मेंढक की ऊतकों की स्लाईड थी। मगर उसे कोई इनाम नहीं मिला। उसने महसूस किया कि विजेताओं ने वास्तविक प्रयोग करने के प्रयत्न किए थे। इसलिए उसने अपने प्रिय क्षेत्र में अन्य शोध कार्य करने का फैसला किया, अर्थात् कीड़ों के क्षेत्र में जिसमें वह पहले से ही काम कर रहा था।

एबराइट ने डॉ० उरक्वार्ट को उसे नए विचार देने को लिखा। उत्तर में, उस प्रसिद्ध वैज्ञानिक ने उसे प्रयोग करने के लिए बहुत-से सुझाव दिए। इन प्रयोगों ने एबराइट को पूरे हाई स्कूल के दौरान व्यस्त रखा। उसने काऊंटी और अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान मेलों में बहुत से इनाम जीते। अपने आठवें दर्जे के परियोजना के लिए, एबराइट ने उस वायरल बीमारी का कारण ढूँढने का प्रयत्न किया जिससे सारे मोनार्क केटरपिल्लर मर जाते थे। उसने सोचा कि यह बीमारी शायद किसी गुबरैले द्वारा फैलती है। उसने गुबरैलों की उपस्थिति में सुंडियों का विकास करने का प्रयत्न किया। मगर उसे कोई वास्तविक परिणाम नहीं मिले। मगर उसने अपना प्रयोग विज्ञान मेले में दिखाया और इनाम जीता। अगले साल उसकी विज्ञान मेले की परियोजना थी, इस सिद्धांत की जाँच करना कि वायसराय तितलियाँ मोनार्क तितलियों की नकल करती हैं। उसने कहा कि वायसराय तितलियाँ मोनार्क की तरह लगती हैं क्योंकि पक्षियों को मोनार्क स्वादिष्ट नहीं लगती। मोनार्क की नकल करके वायसराय तितलियों पक्षियों द्वारा खाए जाने से बच जाती हैं। उसकी परियोजना थी यह देखना कि क्या पक्षी मोनार्क तितलियों को खाएँगे। इस परियोजना को काऊंटी विज्ञान मेले में जीव-विज्ञान प्रभाग में प्रथम और कुल मिलाकर तीसरा स्थान प्राप्त हुआ।

हाई स्कूल के दूसरे साल में एबराइट के शोध के कारण एक अनजान कीट हार्मोन की खोज हुई। अप्रत्यक्ष रूप से, यह शोध कोशिकाओं के जीवन के बारे में एक नए सिद्धांत की तरफ ले गया। उसने एक साधारण प्रश्न का उत्तर देने का प्रयत्न किया; मोनार्क तितली के प्यूपा पर बारह छोटे-छोटे सुनहरे धब्बों का क्या उद्देश्य है ? इसका उत्तर खोजने के लिए एबराइट और एक अन्य छात्र ने एक यंत्र का निर्माण किया जिसने यह दर्शाया कि ये धब्बे एक हार्मोन का निर्माण कर रहे हैं। यह तितली के पूर्ण विकास के लिए आवश्यक था। इस परियोजना में एबराइट को काऊंटी विज्ञान मेले में प्रथम स्थान मिला और अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान एवं इंजीनियरिंग मेले में प्रवेश मिला। वहाँ पर जीव-विज्ञान में उसे तीसरा स्थान मिला। उसे वाल्टर रीड आर्मी इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च में काम करने का मौका भी मिला।

तितलियों में एबराइट की रुचि कभी कम नहीं हुई। हाई स्कूल जूनियर के तौर पर, उसने मोनार्क प्यूपा पर अपने प्रयोग जारी रखे। उसकी परियोजना को अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान मेले में प्रथम स्थान मिला। अपने सीनियर साल में, उसने एक कल्चर में मोनार्क के पंखों से कोशिकाओं को विकसित किया। उसने यह दर्शाया कि कोशिकाएँ विखंडित होकर केवल तभी एक सामान्य तितली के पंखों में विकसित होती हैं, अगर उन्हें उन सुनहरी धब्बों से लिए गए हार्मोन खिलाएँ जाएँ। इस परियोजना को अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान मेले में जीव विज्ञान में प्रथम स्थान मिला। उसने आर्मी प्रयोगशाला में और अमरीकी कृषि विभाग की प्रयोगशाला में भी काम किया। अगली गर्मियों में एबराइट कृषि विभाग की प्रयोगशाला में फिर से गया और हार्मोन के सिद्धांत पर कार्य किया। अंत में वह हार्मोन की रासायनिक संरचना को पहचानने में सफल हो गया।

एक साल और छह महीने बाद, एक दिन, एबराइट कोशिकाओं की रासायनिक संरचना के एक्स-रे चित्र देख रहा था। उसे कोशिकाओं के जीवन के बारे में एक नए सिद्धांत का विचार मिला। उन चित्रों ने उसे जीव-विज्ञान की एक पहेली का उत्तर दे दियाकोशिका किस प्रकार डी०एन०ए० के आधार को ‘पढ़’ लेती है। डी.एन.ए. कोशिका के केंद्र में वह पदार्थ होता है जो वंश को नियंत्रित करता है। यह जीवन का ढाँचा होता है। एबराइट और उसके कॉलेज के सहपाठी जेम्स आर० वोंग ने तस्वीरें बनाई और सूक्ष्मकणों के प्लास्टिक मॉडल बनाए ताकि वे यह दर्शा सकें कि क्या होता है।

कोई भी व्यक्ति तब हैरान नहीं हुआ जब रिचर्ड एबराइट ने हारवर्ड से सबसे अधिक नंबर लेकर स्नातक की परीक्षा पास की। वह हारवर्ड मैडिकल स्कूल में ग्रैजुएट छात्र शोधकर्ता भी बन गया। वहाँ पर उसने अपने सिद्धांत को जाँचने के लिए प्रयोग करने आरंभ कर दिए। अगर यह सिद्धांत सही साबित होता है तो यह जीवन की प्रक्रिया को समझने में बहुत सहायता करेगा। यह शायद कई प्रकार के कैंसर और अन्य बीमारियों को रोकने के लिए नए विचार भी प्रदान कर सकता है।

एबराइट के अन्य कई शौक हैं। वह एक कुशल वाद-विवाद करने वाला और भाषण देने वाला, एक अच्छा नौका चलाने वाला और एक बहुमुखी व्यक्ति भी बन गया। वह प्रकृति और वैज्ञानिक प्रदर्शनियों का एक कुशल फोटोग्राफर भी है। एबराइट का सामाजिक अध्ययन का अध्यापक, रिचर्ड वेहरर उसकी बहुत तारीफ करता है। एबराइट ने अपने अध्यापक के बारे में कहा कि उसने उसके दिमाग को नए विचारों के लिए खोल दिया। रिचर्ड ए० वेहरर ने भी एबराइट की रुचियों के बारे में उसकी प्रशंसा की। वह इसलिए सफल हुआ क्योंकि वह सर्वोत्तम काम करना चाहता था। उसने कहा कि एबराइट प्रतिस्पर्धात्मक था, मगर खराब भावना से नहीं। अंत में, लेखक कहता है कि एबराइट में वे गुण थे जो वैज्ञानिक बनने के लिए आवश्यक हैं। ये हैं सर्वोत्तम दिमाग के साथ काम शुरु करो, साथ में जिज्ञासा का प्रयोग करो और साथ में सही बातों के लिए जीतने की इच्छा मिलाओ। एबराइट में ये सारे गुण थे।

The Making of a Scientist Translation in Hindi

[PAGE 32]: (रिचर्ड एबराइट को जीव-रसायन और परमाणु रसायनशास्त्र के लिए सीलें स्कॉलर अवार्ड तथा सेहरिंग प्लग अवार्ड हासिल हुए हैं। यह उसका तितलियों के लिए आकर्षण था जिसने उसके लिए विज्ञान के क्षेत्र को खोल दिया।) बाईस वर्ष की आयु में, एक पूर्व ‘स्कॉऊट ऑफ दी ईयर’ ने कोशिकाएँ कैसे कार्य करती हैं का सिद्धान्त प्रतिपादित करके विज्ञान जगत को उत्तेजित कर दिया था। रिचर्ड एच. एबराइट तथा उनकेकॉलेज के सहपाठी ने इस सिद्धान्त की व्याख्या ‘प्रोसीडिंग्ज ऑफ द नैशनल एकेडमि ऑफ साईस’ में एक लेख लिखकर की। यह पहली बार हुआ था कि इस वैज्ञानिक पत्रिका ने कॉलेज विद्यार्थियों के लेख को प्रकाशित किया था। खेल के क्षेत्र में तो यह, ऐसे था जैसे पंद्रह वर्ष की आयु में एक टीम बनाकर बेसबाल का अति महत्त्वपूर्ण मुकाबला जीतने जैसा था। रिचर्ड एबराइट के लिए तो यह विज्ञान तथा अन्य क्षेत्रों में हासिल उपलब्धियों में पहला था। और यह तितलियों के साथ आरम्भ हुआ। – अपने माता-पिता की इकलौती संतान के रूप में, वह पेनसिलवेनिया के नार्थ ऑफ रीडिंग में बड़ा हुआ। “वहाँ मेरे करने के लिए अधिक कुछ नहीं था,” उसने कहा। “मैं अकेला एक व्यक्ति की टीम के साथ फुटबाल और बेसबाल नहीं खेल सकता था। लेकिन एक काम था जो मैं कर सकता था-वह था चीजें एकत्र करना।”इसलिए उसने ऐसा ही किया, और हमेशा के लिए किया। स्कूल के दिनों से ही, एबराइट उसी इरादे के साथ तितलियाँ पकड़ता था जो कि उसकी सारी गतिविधियों को प्रमाणित करती हैं। वह चट्टानें, जीवाश्म और सिक्के भी एकत्रित करता था। वह एक उत्सुक खगोलशास्त्री भी बन गया, कई बार सारी रात सितारे निहारता रहता था।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

[PAGE 33]: आरंभ से ही एक प्रतिभाशाली मन के साथ उसमें सीखने की तीव्र उत्सुकता थी। उसकी माँ ने सीखने में उसकी रुचि को बढ़ावा दिया। वह उसे यात्राओं पर ले गई, उसके लिए दूरबीनें, सूक्ष्मदर्शी, कैमरे, पर्वतों पर चढ़ने के लिए प्रयुक्त होने वाले औजार और बहुत-से अन्य औजार तथा और कई प्रकार से उसकी मदद की। “मैं उसकी एकमात्र एक साथी थी जब तक उसने स्कूल जाना शुरु नहीं किया,” उसकी माँ ने कहा। “उसके पश्चात् मैं उसके लिए मित्रों को घर बुलाती। लेकिन रात को हम दोनों मिलकर काम करते थे। रिची के पिता की मृत्यु उस समय हुई थी जब वह तीसरी कक्षा में पढ़ता था, तब से तो वह मेरे लिए मेरा संपूर्ण जीवन ही बन गया था।” वह और उसका बेटा शाम के समय डाइनिंग रूम के मेज पर बैठकर ही अपना समय बिताते थे। “यदि उसके पास करने के लिए कुछ काम नहीं होता था, तो मैं उसके लिए काम ढूँढ़ती थी-शारीरिक काम नहीं, बल्कि दिमागी काम,” उसकी माँ ने कहा। “वह इसे पसन्द करता था। वह सीखना चाहता था।” और उसने सीखा भी। स्कूल में उसने हमेशा उच्च श्रेणी हासिल की “दैनिक कामों में तो वह लगभग दूसरे बच्चों जैसा ही था,” उसकी माँ ने कहा। जिस समय वह दूसरी कक्षा में था तो एबराइट ने अपने कस्बे के आस-पास विद्यमान तितलियों की सभी पच्चीस प्रजातियों का पता लगा लिया था। (नीचे दिया गया बॉक्स देखें)

Species and Sub-species of Butterflies Collected in
Six Weeks in Reading, Pennsylvania
(पेनसिलवेनिया के रीडिंग कस्बे में छः सप्ताह के समय में, संग्रहित की गई तितलियों की प्रजातियाँ और उप-प्रजातियाँ)
Gossamer-Winged  Butterflies Wood Nymphs and Satyrs Brush-footed Butterflies
• white Mhairstreak • eyed brown • variegated fritillary
• acadian hairstreak • wood nymph (grayling) • Harris’s checkerspot
• bronze copper Monarchs • monarch or milkweed • pearl crescent
• bog copper • Whites and Sulphurs • mourning cloak
• purplish copper • olympia • painted ladyc
• eastern-tailed blue • cloudless sulphur • buckeye
• melissa blue • European cabbage • viceroy
• silvery blue • white admiral
• Snout Butterfly • red – spotted purple.
• hackberry

“संभवतः तितलियों का संग्रह समाप्त हो चुका था।” उसने कहा, “लेकिन तब मेरी माँ ने मुझे बच्चों की एक किताब दी जिसका नाम था मोनार्क एक्स की यात्राएँ।” उस पुस्तक ने, जो यह बताती थी कि मोनार्क तितलियाँ कैसे मध्य अमेरिका जाती हैं, ने एक उत्सुक युवा संग्रहकर्ता के सामने विज्ञान के संसार को खोलकर रख दिया।

[PAGE 34] : पुस्तक के अंत में, पाठकों को आमंत्रित किया गया था कि वे तितलियों के विस्थापन के अध्ययन में मदद करें। उनसे कहा गया था कि वे कनाडा, टोरंटो विश्वविद्यालय के प्रोफैसर फ्रेड्रिक ए० उरक्वार्ट के पास शोध के लिए तितलियों को बाँधकर भेजें। एबराइट की माँ ने डॉ० उरक्वार्ट को पत्र लिखा और शीघ्र ही एबराइट ने मोनार्क तितलियों के पंखों में हल्का टैग तक पहुँचा दें। रीडिंग के आस-पास के क्षेत्रों में तितलियों एकत्र करने का मौसम ग्रीष्म ऋतु के अंतिम दिनों में लगभग छः सप्ताह तक रहता है। (आगे ग्राफ देखें)। यदि आप एक-एक करके, तितलियों को पकड़ना चाहेंगे तो अधिक तितलियाँ नहीं पकड़ पाएँगे। इसलिए एबराइट के लिए अगला कदम था तितलियों को झुंड में पकड़ना। वह एक मादा मोनार्क को पकड़ेगा, उसके अंडे लेगा, और वह उनके जीवन चक्र जैसे अंडे से इल्ली, इल्ली से प्यूपा, प्यूपा से व्यस्क तितलियाँ के अनुसार अपने तहखाने में उन्हें पालेगा। तब वह तितलियों के पंखों पर टैग लगाएगा और उन्हें जाने देगा। कई सालों तक उसका यह तहखाना हज़ारों तितलियों का आवास बना रहा जब वे अपने विकास की विभिन्न अवस्थाओं में थी।
JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

“अंततः मुझे तितलियों को टैग बाँधने में अरुचि होने लगी। यह नीरस कार्य है और इसके अधिक अच्छे परिणाम भी नहीं निकलते हैं,” एबराइट ने कहा । “इतने समय तक मैंने यह कार्य किया,” उसने हँसकर कहा, “मेरे द्वारा बाँधी गई केवल दो तितलियों को पुनः पकड़ा गया और वे भी उस स्थान से पच्चहत्तर मील से अधिक दूर नहीं थी जहाँ मैं रहता था।”

[PAGE 35] : जब सातवीं कक्षा में वह काऊंटी के विज्ञान मेले में गया और वहाँ खो गया तो उसे इस बात की थोड़ी जानकारी मिली कि असली विज्ञान क्या होता है। “यह वास्तव में एक दुःख की बात थी कि वहाँ मेले में बैठकर उसे कुछ भी नहीं मिला जबकि अन्य लोगों को कुछ-न-कुछ मिला था,” एबराइट ने कहा। उसे मेले में वह मेंढक की कोशिकाओं की पट्टिकाएँ दिखाने ले गया था, जिन्हें उसने एक सूक्ष्मदर्शी से दिखाया था। उसने महसूस किया कि विजेताओं ने केवल मात्र साफ-सुथरा प्रदर्शन करने के स्थान पर वास्तविक प्रयोग किए थे। एबराइट में प्रतियोगिता की भावना तो पहले से ही साफ दिखाई दे रही थी। मैं जानता था कि अगले साल के मेले में मुझे भी कोई असली प्रयोग करना था,” उसने कहा। “जिस विषय के बारे में मैं जानता था वह था कीटों पर कार्य जिसे मैं वर्षों से कर रहा था। इसलिए उसने सुझावों के लिए डॉ० उरक्वार्ट को लिखा, और जवाब में उसे प्रयोग से संबंधित ढेरों सुझाव मिले। जिन्होंने एबराइट को हाई स्कूल की पढ़ाई के दौरान हमेशा व्यस्त रखा तथा कांऊटी और अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान मेलों में उसे पुरस्कार परियोजना तक पहुँचाया।

अपने आठवें दर्जे की परियोजना में, एबराइट ने उस वायरस बीमारी का कारण ढूँढ़ने का प्रयास किया जिसकी वजह से हर साल सभी मोनार्क इल्लियाँ मर जाती थीं। एबराइट सोचता था कि गुबरैला कीट के द्वारा बीमारी फैलाई जाती होगी। उसने गुबरैला कीटों की उपस्थिति में इल्लियों को पालने का प्रयास किया। “मुझे कोई वास्तविक परिणाम नहीं मिले,” उसने कहा। “लेकिन मैं आगे बढ़ता गया और दिखाया कि मैंने प्रयोग किया है। इस बार में जीता।” अगले साल उसके विज्ञान मेले की परियोजना थी, उस सिद्धान्त की परख करना कि वायसराय तितलियाँ मोनार्क तितलियों की नकल करती हैं। सिद्धान्त यह था कि वायसराय मोनार्क की तरह इसलिए दिखती हैं क्योंकि मोनार्क पक्षियों को स्वादिष्ट नहीं लगती हैं। दूसरी ओर, वायसराय पक्षियों को स्वादिष्ट लगती हैं। इसलिए वे जितनी ज्यादा मोनार्क तितलियों जैसी लगेंगी वे उतनी कम ही पक्षियों का शिकार होंगी। एबराइट की परियोजना थी कि, वास्तव में, क्या पक्षी मोनार्क तितलियों को खा सकते थे। उसने शोध किया कि तेलियर चिड़िया साधारण चिड़ियों का भोजन नहीं कर सकती। यह हासिल होने वाली सभी मोनार्क तितलियों को खा सकती थी। (एबराइट ने कहा कि बाद में अन्य लोगों द्वारा किए गए शोधों ने दिखाया कि वायसराय तितलियाँ मोनार्क तितलियों की नकल करती हैं।) प्राणी विज्ञान वर्ग में इस परियोजना को पहला स्थान हासिल हुआ और पूरी काऊंटी विज्ञान मेले में तीसरा स्थान हासिल हुआ।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

[PAGE 36]: हाई स्कूल के दूसरे वर्ष में, रिचर्ड एबराइट ने एक शोध शुरु किया जिसने एक अज्ञात कीट हार्मोन की खोज की। अप्रत्यक्ष रूप से, उसकी इस खोज ने कोशिकाओं के जीवन पर आधारित नए सिद्धान्त को भी जन्म दिया। जिस प्रश्न का उसने उत्तर देने का प्रयास किया वह आसान था एक मोनार्क प्यूपा के शरीर पर बारह प्रकार की सुनहरी चित्तियों का क्या उद्देश्य हो सकता है? “प्रत्येक मानता था कि वे चित्तियाँ सिर्फ सजावटी होती हैं, एबराइट ने कहा। “लेकिन डॉ० उरक्वार्ट इस बात को नहीं मानते थे।” इस बात का उत्तर जानने के लिए, एबराइट तथा विज्ञान के एक और प्रतिभाशाली विद्यार्थी ने ऐसे उपकरण का पता लगाया जो दर्शाता है कि चित्तियाँ हार्मोन्स उत्पन्न करती हैं जो तितलियों के पूर्ण विकास के लिए आवश्यक है। इस परियोजना ने काऊंटी मेले में एबराइट के लिए पहला स्थान हासिल किया और अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान और इंजीनियरिंग मेले में प्रवेश हासिल कर लिया। वहाँ उसने प्राणी विज्ञान में तीसरा स्थान हासिल किया। और उसे ग्रीष्मकाल के अवकाश के दौरान वॉल्टर रीड आर्मी शोध संस्थान में कीट विज्ञान पर प्रयोग करने का अवसर मिल गया।

हाई स्कूल जूनियर के रूप में, रिचर्ड एबराइट मोनार्क प्यूपा पर अग्रणी प्रयोग करता रहा। उस वर्ष अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान मेले में उसके प्रयोग ने पहला स्थान हासिल किया और सेना प्रयोगशाला में ग्रीष्मावकाश के दौरान काम करने का एक और अवसर हासिल किया। हाई स्कूल सीनियर के रूप में, वह एक कदम और आगे बढ़ा। उसने संवर्धन के द्वारा मोनार्क तितलियों के पंखों से कोशिकाएँ पैदा की और बताया कि कोशिकाएँ टूटती हैं तथा सामान्य तितलियों के रूप में विकसित होती हैं केवल तभी उन्हें सुनहरी चित्तियों के द्वारा हार्मोन्स से पोषित किया जाता है। उस परियोजना ने अंतर्राष्ट्रीय मेले में प्राणी विज्ञान में पहला स्थान हासिल किया। स्नातक उपाधि हासिल करने के बाद उसने अपना ग्रीष्मावकाश सेना की प्रयोगशाला तथा संयुक्त राज्य अमेरिका के कृषि विभाग की प्रयोगशाला के माध्यम से आगे बढ़ाया। अगले वर्ष ग्रीष्म ऋतु में, हावर्ड विश्वविद्यालय में प्रथम वर्ष की समाप्ति पर, एबराइट कृषि विभाग की प्रयोगशाला में दोबारा से गया और सुनहरी चित्तियों से हार्मोन्स लेकर और अधिक प्रयोग किए। प्रयोगशाला के आधुनिक यंत्रों का प्रयोग करते हुए वह हार्मोन के रासायनिक ढाँचे को पहचानने में सफल रहा।

डेढ़ वर्ष के उपरान्त, अपने जूनियर वर्ष में, कोशिका जीवन के बारे में एबराइट के दिमाग में एक नया विचार आया। ऐसा तब हुआ जब वह हार्मोन के रासायनिक ढाँचे के एक्स-रे चित्र को देख रहा था। जब अपने उन फोटो को देखा, तो एबराइट चिल्लाया नहीं, यूरोका! ‘आखिर’ ‘मैंने इसे पा लिया है!’ लेकिन वह विश्वास करता था कि कीटों के हार्मोन्स के बारे में, खोजों से उसे कई प्रश्नों के उत्तर मिल गए थे-कोशिका अपने डी०एन०ए० के ढाँचे को कैसे पढ़’ सकती है। डी०एन०ए० किसी कोशिका के केन्द्रक में एक विशेष प्रकार का पदार्थ होता है जो अनुवांशिकी को नियंत्रित करता है। यह कोशिका के रूप और कार्य को निर्धारित करता है। इस प्रकार से डी०एन०ए० जीवन की एक रूपरेखा है।

[PAGE 37]: एबराइट और उसका कॉलेज का सहपाठी, जेम्स आर०वोंग, उस सारी रात तस्वीरें बनाते रहे और अणुओं के प्लास्टिक के नमूने बनाते रहे यह दिखाने के लिए कि यह कैसे हुआ। बाद में उन्होंने मिलकर कागज लिखा जिसमें इस सिद्धांत की व्याख्या थी। हैरानी की बात है कि कोई भी उसे नहीं जानता था, रिचर्ड एबराइट ने सर्वोच्च स्थान हासिल करते हुए हारवर्ड विश्वविद्यालय से स्नातक की उपाधि हासिल की, वह 1,510 विद्यार्थियों की अपनी कक्षा में दूसरे स्थान पर रहा। एबराइट हारवर्ड मेडिकल स्कूल में शोध विद्यार्थी के रूप में स्नातक उपाधि करने लगा। तब वह अपने सिद्धान्त को परखने के लिए प्रयोग करने लगा। यदि सिद्धान्त सही साबित होता है, तो जीवन की प्रक्रियाओं को समझने के लिए यह एक बड़ा कदम होगा। यह कैंसर और अन्य बीमारियों को रोकने के लिए कुछ नए विचार प्रस्तुत करेगा। यह सब कुछ एबराइट की वैज्ञानिक उत्सुकता के कारण संभव हुआ है। हाई स्कूल में एक मोनार्क प्यूपा के शरीर पर चित्तियों के उद्देश्य पर खोज ने अंततः कोशिका जीवन के सिद्धांत का प्रतिपादन कर दिया।

रिचर्ड एबराइट विज्ञान में तब से रुचि लेता आ रहा है जब उसने पहली बार तितलियों को इकट्ठा करना शुरु किया था लेकिन गंभीर रूप से नहीं क्योंकि अन्य रुचियों के कारण उसके पास समय नहीं था। एबराइट वाद-विवाद में माहिर, और एक जन वक्ता बन गया। वह एक छोटी किश्ती चलाना भी जानता था और सभी क्षेत्रों में कुशल व्यक्ति बन गया। वह एक कुशल फोटोग्राफर बन गया, विशेष रूप से प्रकृति दृश्यों और वैज्ञानिक प्रदर्शनों का। हाई स्कूल में रिचर्ड एबराइट एक सीधा-सादा विद्यार्थी था। क्योंकि सीखना आसान था, उसने ढेर सारी ऊर्जा का प्रयोग वाद-विवाद में और मॉडल यूनाइटेड नेशनंस क्लब में लगाया। उसने एक प्रशंसक भी हासिल कर लिया-रिचर्ड ए० वेहरर, उसके सामाजिक विज्ञान के अध्यापक और दोनों क्लबों के परामर्शदाता “उस समय श्रीमान वेहरर मेरे लिए सही व्यक्ति थे। नए विचारों के लिए उसने मेरी आँखें खोल दी। एबराइट ने कहा।

“रिचर्ड हमेशा अतिरिक्त प्रयास करता ही रहता है।” श्रीमान वेहरर ने कहा, “मुझे जिस बात से सबसे अधिक खुशी हुई, यहाँ एक ऐसा आदमी था जो तितलियों पर शोध कार्य करते हुए तथा अन्य विषयों में रुचि लेते हुए रात को तीन-चार घंटे तक वाद-विवाद पर शोध करता था।” “रिचर्ड में प्रतियोगिता की भावना थी,” श्रीमान वेहरर ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा, “लेकिन एक नकारात्मक भावना से नहीं।” उसने व्याख्या की, “रिचर्ड की जीतने में रुचि केवल मात्र जीत दर्ज करने या इनाम हासिल करने की नहीं थी। बल्कि, वह तो जीतता था क्योंकि वह जो भी कर सकता था उसमें सर्वश्रेष्ठ करता था। सही कारणों से, वह सर्वश्रेष्ठ काम करना चाहता है।” और वैज्ञानिक बनने में शामिल तत्त्वों में से यह भी एक तत्त्व है। एक प्रथम दर्जे के दिमाग से शुरु हो, उसमें उत्सुकता पैदा करो और सही कारण के लिए जीतने की इच्छा का मिश्रण करो। एबराइट में ये गुण हैं। उस दिन से जब ‘मोनार्क एक्स की यात्राएँ’ पुस्तक . ने, वैज्ञानिक संसार को उसके सामने खोला था, रिचर्ड एबराइट ने अपनी वैज्ञानिक उत्सुकता को कभी भी खोने नहीं दिया है।

The Making of a Scientist Word – Misndgs in Hindi

[PAGE 32]: Scout = member of an organisation (स्काउट/संगठन का एक सदस्य); excited = ecstatic (उत्तेजित); cells = a very minute unit of living matter (कोशिकाएँ); string = line (पंक्ति); kindergarten = school for children (बच्चों का स्कूल); determination = firmness of purpose (पक्का इरादा); fossils= prehistoric remains (जीवाश्म); astronomer = one who studies astronomy (खगोलशास्त्री)।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

[PAGE 33]: Curiosity = inquisitiveness (जिज्ञासा); telescopes = device to view far away objects (दूरबीन); microscopes = device to see very minute objects (सूक्ष्मदर्शी); physical = relating to the body (शारीरिक); hairstreak = a butterfly species (तितली की प्रजाति); purplish = having purple colour (बैंगनी रंग का); melissa = a butterfly species (तितली की प्रजाति); variegated = having lines of different colours (विविध प्रकार की रंगदार धारियों का होना); crescent = shaped like the half moon (अर्ध-चंद्ररूप); hackberry = a butterfly species (तितली की प्रजाति); monarch = a butterfly species (तितली की प्रजाति); migrate = move from one place to the other (स्थानांतरण); collector = one who collects things (वस्ताँ इकटा करने वाला)।

[PAGE 34]: Adhesive = sticky (चिपकने वाला); tagged = attached string (साथ लगी डोरी); chase = follow (पीछा करना); flock = group (समूह); basement = cellar (तहखाना); caterpillar = larva of a butterfly (तितली का लारवा); pupa = early state of a butterfly (तितली का प्रारंभिक रूप); adult = fully grown (व्यस्क); development = growth (विकास); gossamer-winged = having very thin wings (पतले पंखों वाली); eventually = at last (अंततः); tedious = tough, boring ( नीरस); feedback = response (प्रतिक्रिया); recaptured = caught again (फिर से कैद किया)।

[PAGE 35]: Slides = small thin glass strips (शीशे की पट्टिका); tissues = mass of cells (कोशिकाओं का समूह); neat = clean ( साफ); display = show (प्रदर्शन); stack = many ( कई); viral disease = disease caused by virus (वायरस द्वारा उत्पन्न बीमारी); beetle = an insect (गुबरैला); copy = imitate (नकल करना); starling = a bird (एक पक्षी); probably = perhaps (शायद)।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 6 The Making of a Scientist

[PAGE 36]: Insect hormone = hormone of an insect (कीड़े का हार्मोन); tiny = small (छोटा); spots = marks (निशान); assumed = thought (सोचा); ornamental = decorative (सजावटपूण); excellent = superb (शानदार); device = an instrument (कोई यंत्र आदि); entomology = science dealing with insects (कीट विज्ञान); culture = a process of testing (जाँचने की प्रक्रिया); fed = gave food (भोजन खिलाया); sophisticated = advanced (आधुनिक); identify = to know (पहचानना); structure = construction (बनावट); puzzles = problems (समस्याएँ); blueprint = basis (ढाँचा)।

[PAGE 37]: Nucleus = centre (केंद्रक); heredity = coming from forefathers (वंशानुगत); molecules = smallest units (सबसे छोटी इकाई); processes = methods (तरीके); preventing = hindering (रोकना); champion debater = superb in debates (वाद-विवाद में माहिर); canoeist = sailor of a small boat (छोटी किश्ती का नाविक); exhibits = displays (प्रदर्शन); competitive = the spirit of competition (प्रतिस्पर्धा की भावना); ingredients = contents (अवयव)।

JAC Class 10 English Solutions

JAC Class 10 English Letter Writing

JAC Board Class 10th English Letter Writing

JAC Class 10th English Letter Writing Textbook Questions and Answers

Situation Based Formal Latter

Even in the age of science and technology where e-mail is the most convenient mode of communication, letters have not lost their relevance even today. Formal letters are written to authorities in various professions. These letters are written in a formal language.
Formal letters must have certain rules and regulations. The format of formal letters is as follows:

Format of Formal Letters

Sender’s Address ……………………………
Date ……………………………
Recipient’s address ……………………………
Subject ……………………………
Salutation ……………………………
Body of the Letter ……………………………
(a) Introductory paragraph ……………………………
(b) Description/content ……………………………
(c) Concluding paragraph ……………………………
Complimentary close/Subscription ……………………………
Signature ……………………………

Note: Sender’s address is written on the top left-hand corner of the page. There should be complete’and accurate address.
Date: The date on which the letter is being written.
Receiver’s address: The receiver’s address should include the official tille/name/position of the receiver.
Sub: The purpose of writing the letter.
Salutation/greetings: Sir/Madam
Body of letter: This is the main part of a letter. It consists of either two or three paragraphs. In the first paragraph, the purpose of the letter should be made clear. The lone of the content should be formal. Letter should be concise and to the point.
Complimentary close: In it, yours sincerely/failhfully, etc., should be written.
Signature: Signature of the person who is sending/writing the letter.

JAC Class 10 English Letter Writing

Letter to The Editor

1. Taking help from the information given below, write a letter to the editor of an esteemed daily, showing your concern at the increasing number of vehicles on the roads of cities in India. It not only causes inconvenience to the people but also affects the health of millions of people. Taking these hints into consideration, give your suggestions regarding checking the number of vehicles on roads. You are Rahul/Rubina of Bengaluru.

  • Increasing number of vehicles
  • Causing noise and air pollution
  • Emits harmful and poisonous gases
  • Health hazards

Answer:
114, 8th Cross
Malleswaram, Bengaluru
15th May 20xx
The Editor
The Times of India
New Delhi
Sub: Limiting the number of vehicles Sir
Through the columns of your esteemed newspaper, I wish to draw the attention of the authorities concerned towards the increasing number of vehicles on the roads of cities in our country. It is really a cause of concern for the people of our country. With the coming of various types of vehicles launched by the automobile companies, the burden on the roads has increased tremendously. Everyday, the latest models of cars like BMW, Honda, Mercedes-Benz, Jaguar, etc., are coming on the road. In the same manner the numbers of trucks, bikes, etc., are also increasing.

The growing prosperity of middle class and the easy loan offered by various banks have also added to the craze of vehicles among the masses. These vehicles emit harmful and poisonous gases and pollute the environment. It is also a health hazard too. So, to limit the number of vehicles on the roads the formula of single family-single vehicle should be brought to effect. The facility of public transport should be increased. Buses, sharing rickshaws, metro trains, etc., should be given preference and there should be public awareness among the masses too. Through these measures, this problem can be solved to a certain extent.
Thanking you.
Yours faithfully
Rahul Kumar

JAC Class 10 English Letter Writing

2. Write a letter to the editor of The Evening Times expressing your concern at the burgeoning growth of illegal colonies and slums in the metros seclusion the meters. Taking information/hints given below, also suggest how to stop such problem.

  • Increase in the number of illegal colonies and slums
  • Water logging – a cause of concern
  • Haven for breeding mosquitoes and fungus

Answer:
24, Block-I
Shadipur, New Delhi
24th December 20xx
The Editor
The Evening Times
New Delhi
Sub: Burgeoning growth of illegal colonies and slums Sir
Through the columns of your newspaper I wish to intend that the burgeoning growth of illegal colonies and slums in the metro cities, have become a cause of concern for all of us. The unsystematic planning of urbanisation is considered to be one of the major causes of such evils. It has given birth to many illegal colonies and shanty slums in the metro city. The migration from villages to cities in masses have also played a role in perpetuation of such problem.

A number of people are compelled to live in slums and illegal colonies. There is lack of basic amenities in slums. There is no facility of proper drinking water, drainage and other things. Waterlogging is a major problem of such areas. It helps in breeding mosquitoes and fungus that causes water-bome diseases like cholera, malaria, dengue, etc. So, the government should take major initiative in this regard and they should slow down the migration to cities. Only stringent measures can save our cities from being converted into illegal colonies and slums. The people and the authorities concerned who are found guilty in perpetuating such problems must be punished.
Thanking you.
Yours sincerely
Ajay Khetan

JAC Class 10 English Letter Writing

3. Taking help from the hints given below, write a letter to the editor of a national daily expressing your concern about the pressure an adolescent faces and also suggest the ways to cope with it.

  • Increasing crime, cases of drinking
  • Drug trafficking
  • Physical and sexual abuses increasing
  • Should be handled with the cooperation of social organisations.

Answer:
118, Gali No-5
Vishwas Park
Uttam Nagar, New Delhi
23rd April 20xx
The Editor
The Hindustan Times
New Delhi
Sub: Pressure faced by adolescents Sir
Through the columns of your esteemed newspaper I would like to raise the issue of pressure being faced by the adolescents. Due to lack of proper guidelines the adolescents adopt wrong path and get entrapped in activities like crime, drinking, drug trafficking, verbal, physical or sexual abuse, etc. The crime committed by the youngsters in the big cities have become common.

The youngsters below the age of 21 are more likely to be involved in committing crimes, fights, physical or sexual violence. At such a tender age, they also get themselves engaged in numerous illegal activities. It causes more problems. These issues can be handled with the combined efforts of society, and social organisations. The police and other agencies should make concerted and combined efforts to counsel them properly.
Thanking you.
Yours sincerely
A.K. Bhatnagar

JAC Class 10 English Letter Writing

4. You are Karan/Kartik, D-89 G.B. Road, Gaya. You saw the following article in the newspaper, The Hindustan Times. Write a letter to the editor of the concerned daily expressing your unhappiness at the lack of safety for women in Bodh Gaya. Also mention the measures adopted to solve the problem.

Gaya: Sunidhi, a teacher employed in Govt. Girls High School, was attacked on her way back home at 7.30 pm last Saturday. A chain of instances of bag and chain snatching, pickpocketing, etc., took place. Targeted women have been reported from \different areas of the locality.
Answer:
D-89, G.B. Road Gaya
27th June 20xx
The Editor
The Hindustan Times
New Delhi
Sub: Lack of safety for women Sir
Through the columns of your esteemed newspaper I apparently express my disgust and resentment at the lack of safety of women in Gaya town and its adjacent areas.

Last Saturday, Sunidhi, a teacher employed in Govt. Girls High School was attacked on her way back home at 7.30 p.m. This incident has really created sensation in the area. It clearly speaks volumes about the incident of women’s safety and security in the area. A chain of instances of bag and chain snatching, pickpocketing, etc., are on rise in the area. The anti-social elements are engaged in such activities on large scale. They wander on the road freely. Eve-teasing has become a regular phenomenon in the evening hours. Young women and girls have also become the soft target. They even can’t dare to come out of their houses in the evening hours. But the police do not take much cognizance of the problem. I would humbly request to the authorities concerned to look into the matter seriously and take necessary action. Those who are found guilty should be severely punished.
Thanking you.
Yours sincerely
Karan/Kartik

5. As a conscious and responsible citizen of the country you are very much concerned about the increase in the cases of road accidents in the mega cities of the country. Interpret the data given below and write a letter to the editor of an esteemed daily in about 100-120 words.
JAC Class 10 English Letter Writing 1
Answer:
F-131, A.K. Road
Faridabad (Flaryana)
29th March 20xx
The Editor
The Deccan Herald
New Delhi
Sub: Increase in road accidents in the metro cities Sir
Through the columns of your esteemed daily I wish to draw the attention of the authorities concerned towards the increase in road accidents in the mega cities.

As evident from the graph, it is quite disappointing that the cases of road accidents have been increasing steadily in all the mega cities of the country. In the year 2014, the road accidents went up to 1500. As the years passed, there was seen a major increase in the road accidents which went up to 1850. These accidents led to the loss of many lives. These are all caused by rash and negligent driving. Actually, it has become a common phenomenon among the people.

The authorities concerned should look into the matter and punishment should be given to the ones held guilty. The punishment should include maximum imprisonment, hefty fines or both. To enforce the safety rules on the road, the traffic police must take active and stringent measures.
Thanking you.
Yours sincerely
Aashish Saini

JAC Class 10 English Letter Writing

6. You are Kishan/Kanica. You saw the following news item in the newspaper about the increase of the patient of corona virus in the country. Write a letter to the editor of a newspaper about the difficulties and the after-effects of it.

Corona: A cause of concern
New Delhi: The cases of corona victims increasing day by day. Not only in Delhi but also other parts of the country. Due to not following the rule, it has spread out to vmore places at an alarming rate.
Answer:
39, Nai Sarak
Delhi
5th April 20xx
The Editor
The Deccan Herald
New Delhi
Sub: Corona: A cause of concern Sir
Through the columns of your esteemed daily, I would like to draw the attention of the authorities concerned towards the problem arising out due to the spread of corona virus and its effects. The cases of corona victims are increasing day-by-day. It has spread not only in Delhi but also in the entire country. Although the govt, issued an advisory and locked down the entire country, even then the cases of corona are increasing day by day.

The govt, has advised the people to stay home and remain indoors. But due to non-following of the advisory, the disease has spread into many areas and death toll has risen up to 200 mark. The cases of corona are increasing at an alarming rate. So, as a responsible and conscious citizen of the country I would like to appeal to the public not to commit mistakes in this regard. It may have disastrous effects.
Thanking you.
Yours sincerely
Vikas Kumar

7. You are Ranvir Kumar, President of Sports Federation of India. Using the information given below, write a letter to the editor of a national daily in about 100-120 words for promoting games and sports.
Games and Sports

  • In the population of 130 crore people games and sports not at its height.
  • Only cricket, kabaddi, badminton, etc., are of world level.
  • Not much promotion from the govt. side.
  • Less populated countries are a step ahead in games and sports.

Answer:
F-231, Anna Nagar
Chennai
10th September 20xx
The Editor
The Hindustan Times
New Delhi
Sub: Promotion of Games and Sports Sir
Through the columns of your esteemed daily, I would like to draw your kind attention towards the promotion of games and sports. India is a thickly populated country with 130 crore population. But in the area of game and sports it is not so developed as it should have. Except a few games like cricket, kabaddi, badminton, etc., no other game is of world level.

Indian players cannot compete with players of world fame either in Olympics or in world level tournament, they cannot stand before them. Even the countries with less population are a step ahead in games and sports. India can’t even qualify for World Cup football tournament, lawn tennis, etc. In spite of all these, the govt, has not paid much attention for the promotion of games and sports. The athletes or players are not supported financially. So, most of the competent players can’t even afford to give their best and they can’t compete with the players of world fame. It is really a matter of grave concern for us. I would even request to the govt, through this letters to look into the matter and take necessary and effective steps in this direction, so that our players can be at par with the international players. This way games and sports can be promoted in our country.
Thanking you.
Yours sincerely
Manas Tyagi

JAC Class 10 English Letter Writing

Complaint Letters

1. Write a letter in about 100-120 words to the manager, Furniture Mart, New Delhi complaining about the poor quality of office furniture you recently purchased from them, taking hints from the box given below. You are Mr. D Kashyap, Principal, K.P Public School, Nazafgarh, New Delhi.

  • Nature of complaint
  • Date of purchase: 30th March 20xx
  • Details of invoice: A K P-1099
  • Excessive price, immediate replacement

Answer:
K.P. Public School
Nazafgarh, New Delhi
17th April 20xx
The Manager
Furniture Mart
Kirti Nagar, New Delhi
Sub: Complaint against poor quality of office furniture
Sir
This is to bring to your notice that we had purchased furniture from your showroom dated 30th March 20XX vide invoice no-AKP-1099 for our school but most of the items are of poor quality. Tables, benches and chairs are not properly polished and some furniture are even broken up. Even the nails and scrubs of the benches and tables are coming out and some are even losing their places. We had ordered for the almirahs of Godrej company but devoiding our order you had supplied the almirahs of a local company. Moreover, you have charged the price as per Godrej price list which is quite unfair on your part.

The make and fittings of the almirahs are substandard. After verifying the price of chairs, benches and tables from other showrooms, we came to the conclusion that we had been charged exorbitantly. It is nearly a matter of shame that a reputed showroom like yours has not been able to maintain the quality of its products.

Therefore, I would like to request you to get the unpolished and fractured furniture replaced. I would also request you to get the almirahs replaced with a genuine Godrej product. Deliver the items at their earliest.
Thanking you.
Yours sincerely
D. Kashyap (Principal)

JAC Class 10 English Letter Writing

2. Write a letter to M/s Infratech Computers complaining that the laptop Hp Envy-13 (8th generation) you recently purchased from them does not function properly and ask for replacement. You are Rajesh/Riya Duggal, D-49, Sector-13, Gurugram. Write a letter on the basis of the given hints.
Hints:

  • Hp Envy-13 8th generation not functioning properly
  • Screen of the laptop damaged
  • Audio quality very poor, blinks from time to time

Answer:
D-49, Sector 13
Gurugram
31st January 20xx
M/s Infratech Computers
Gurugram
Sub: Complaint regarding functioning of laptop and its replacement
Sir/Madam
This is to bring to your notice that I had purchased a laptop, Hp Envy-13 8th generation worth ?70,000 from your showroom dated 27th January 20xx vide Invoice No-9C-SS-1976. Since the day I purchased it, it is not working properly. Since you delivered it Online to me I could not check it physically. The screen of the laptop was also damaged. It even blinks from time to time. It hangs at frequent intervals. Its audio quality is very poor. It is really a sad state of affair that even after investing such a high amount for the laptop it is of the worst quality. After all why the product of such a reputed company does not function properly. I am really disappointed because such type of negligence was not expected from the reputed showroom like yours.
I would like to request you to change the laptop with a new one that is in proper condition.

I look forward to your reply and speedy action in this regard. If you have any query, please contact me on my contact no – 9771xxxxxx.
Thanking you.
Yours sincerely
Riya Duggal

3. Recently you read an article in the newspaper- ‘An old couple murdered in Gurugram’. You were shocked to hear this news and decided to write a letter to the commissioner of police complaining regarding the rising rate of crime against the old and helpless people. Write a letter of complaint taking into account the hints given below for the safety and security of the older people. You are Rahul Tyagi of A-45, Phase-I, Palam Vihar, Gurugram.
Hints:

  • Older people assaulted and even killed in afternoon time.
  • Need proper protection of police .
  • RWA negligent towards them
  • Family members leave them alone at the mercy of servants
  • Loot money and jewellery
  • Homeguards should be deployed in each society.

Answer:
A-45 Phase-I
Palam Vihar
Gurugram
7th January 20xx
The Commissioner of Police
Gurugram
Sub: Rising rate of crime against the old and helpless people
Sir
I wish to lodge a complaint regarding the rising rate of crime against the old and helpless people everyday. We see the news of the murder of the old and helpless people. It has really become an affair of the day. It is really a matter of grave concern for all of us.

In the afternoon time, when nobody is at home the older and helpless people are assaulted and sometimes they are even killed. Actually, the family members leave them alone at the mercy of servants. They take undue advantage of the situation and loot money and jewellery. The police department can do a lot in this regard. They can do a lot to make their lives safe and secure. There should be special phone numbers at every police station to hear the complaints of the aged people. Some home guards should be deployed in each society and they should be instructed to visit the old and helpless people time to time.

I hope that the police department will take some effective measures to prevent crimes against the old and helpless people.
Thanking you.
Yours sincerely
Rahul Tyagi

Inquiry Letters

1. Using the hints given below, write a letter of inquiry to the Manager, Maury a Sheraton Hotel, Delhi for conducting the wedding reception of your elder brother in one of their halls. You are Abhinav/Aprajita of Rajouri Garden, New Delhi.
Hints:

  • Charges of the hall for 200 guests
  • Catering cost per head
  • Decoration charges, etc.
  • Parking facilities

Answer:
F-117, Sector-7
Rajouri Garden, New Delhi
10th October 20xx
The Manager
Maurya Sheraton Hotel
New Delhi
Sub: Inquiry about conducting a wedding reception
Sir
Kindly let me know whether one of your halls would be available on 30th October for conducting the wedding reception of my brother. Please give me the complete details of the following:

  • Charge of the hall with capacity of 200 guests
  • Catering cost per head/including vegetarian and non-vegetarian items
  • Decoration charge
  • Service charges to be made
  • Advance amount to be paid

Also make clear whether the parking facilities for at least 100 cars/vehicles, etc., would be available.

Please send me the complete details with charges (head wise) and also the list of menu offered by you at the above mentioned address at the earliest. Also make it clear in whose favour and how much amount of cheque be issued. Looking forward for an early and favourable response from your side.
Thanking you.
Your sincerely
Aprajita Singh

JAC Class 10 English Letter Writing

2. You are Riya Kapoor of F-13, Sector 3, Rohini. You are interested in taking admission in National Institute, Pune. Using the hints given below, write a letter of inquiry to the Director, Film Institute, Pune in about 100-120 words.
Hints:

  • Admission procedure
  • Duration of the course and fees
  • Eligibility criteria, etc.
  • Fee received in lump sum or in instalment

Answer:
F-13, Sector-3
Rohini, New Dehi
15th January 20xx
The Director
Film Institute, Pune
Sub: Seeking information regarding admission procedure, eligibility criteria, etc.
Sir
This is with reference to the advertisement given by you in the newspaper regarding the above mentioned course. I have just passed the class XII with CBSE board with arts stream. I am highly interested in joining your academy for the academic year 2020-21.1 have heard a lot about the prestigious institute which has produced a number of veteran actors for the Bollywood. But I would like to know about the admission procedure, eligibility criteria, duration of the course, fee structure, how much amount to be paid whether in lump sum or in installments.

Kindly tell me appropriate time to apply, availability of admission forms, payment, accommodation facilities, etc. Kindly send me the brochure in which all the details are available. Looking forward for an early response from your side.
Thanking you.
Yours sincerely
Riya Kapoor

3. You are Atul Bhattacharya of K-93, Chittaranjan Park, New Delhi. Using the hints given below, write a letter to M/S Harbour Press International, Darya Ganj, New Delhi regarding the catalogue, etc.
Hints:

  • Range of books available from nursery to class XII
  • Terms and conditions of supply
  • Mode of payment
  • Delivery date

Answer:
K-93 Chittarajan Park
New Delhi
17th May 20xx
M/S Harbour Press International
Darya Ganj, New Delhi
Sub: Regarding request for catalogue Sir
It has come to my notice that Harbour Press International publishes books ranging from nursery to class 12 for all subjects. It is a highly reputed publishing house and publishes books of high quality. We are interested in purchasing a few books of your publication of the following items.
1. Harbour Applied English Grammar and Composition – IX and X
2. Additional Practice books on English, Mathematics, Science classes 6 to 10
3. Math Practice – Classes 9 and 10
I shall be highly obliged if you send me the latest catalogue by VPP. I am also interested in knowing the terms and conditions of supply and mode of payment, etc. Kindly confirm whether you will take advance payment in full or after delivering the products. I hope that you will take my request on priority basis and provide the necessary information at the earliest.
Thanking you.
Yours sincerely
Atul Bhattacharya

4.
JAC Class 10 English Letter Writing 2
Manav Singh of D-15, Sector-5, Dwarka, a Class XII student of the science stream sees this advertisement. He writes a letter to the institute seeking information about the crash course of IIT-JEE the timing of the classes, fees, etc. Write a letter.
Answer:
D-15, Sector-5
Dwarka, New Delhi
19th March 20XX
The Director
Success Coaching Centre
Z-17, Nangal Roy, Delhi
Sub: Crash course for IIT-JEE Sir
This is with reference to the advertisement in the Indian Express dated 10th March. I would like to know more information and details about the IIT crash course offered by your institute, timing, fee structure, mode of payment, etc.

I need coaching of all the subjects. Please let me know about the coaching in detail. Does your institute cater to individual difficulties or only general problems are discussed and resolved?

Kindly guide me on all the points mentioned above. I want detailed information, so send me the booklet on the above mentioned address.
Thanking you.
Yours sincerely
Manav singh

JAC Class 10 English Letter Writing

Placing Order Letters

1. You are the incharge of science laboratory of Universal Public School, Preet Vihar, New Delhi. Using the hints given below, place an order to KB Laboratory Works, Noida for various apparatus/equipment used in your laboratory.
Hints:

  • Mention the name of apparatus/equipment, etc.
  • Quantity to be required
  • Order to be supplied

Answer:
Universal Public School
Preet Vihar, New Delhi
17th May 20xx
The Manager
M/S KB Laboratory Works
Noida
Sub: Placement of order for supply of apparatus/equipment used in laboratory
Sir
On behalf of Universal Public School, I would like to place a bulk order for the supply of various apparatus/equipments used in our laboratory. Kindly send the following apparatus at the above address.

Apparatus Name Quantities
1. Beaker 10 pieces
2. Funnels 12 pieces
3. Droppers 15 pieces
4. Bunsen Burners 20 pieces
5. Thermometer 15 pieces
6. Spring Balances 10 pieces

All the items should be in good condition and properly packed. Kindly send me the bank details and invoice, so that payment could be transferred to your bank account through online banking. Hope that the items will be delivered soon. Any damage during transportation would entirely be your responsibility.
Thanking you.
Yours sincerely
Ashok Kumar (Incharge)

2. You are Arbaaz Khan, librarian, Vasant Valley Public School, Vasant Kunj, New Delhi. Using the hints given below write a letter to Rupa Book Depot, Mehrauli, New Delhi to place an order for some books for your school library.
Hints:

  • Mention names of books
  • Their quantities
  • Author/publisher name
  • Discount offered 15%
  • Mode of payment

Answer:
Vasant Valley Public School Vasant Kunj, New Delhi 20th September 20xx
M/S Roopa Book Depot
Mehrauli, New Delhi
Sub: Placement of order for supply of books Sir
This is to inform you that our school management has decided to put an order with your company for the supply of some books. We need some books of the latest edition for our library. We agree to the terms and conditions and also the discount of 15% offered by you. The details are as follows:

Name of Books Author name Publisher Quantity
1. Wings of Fire Dr. APJ Abdul Kalam 10 pieces
2. Maths Olympiad Terry Chew 7 pieces
3. English – English Dictionary Oxford Publishers 5 pieces
4. Unbreakable
(Autobiography of Mary Kom)
Mary Kom 10 pieces
5.Malayalam Manorama Manorama Publication 3 pieces

I humbly request you to supply the books for the school library by 30th September. If any damage is caused during transportation, your order will deemed to be cancelled. Kindly send me the bank details so that either a cheque or Online payment may be made on time. Looking for a favourable response from your side.
Thanking you.
Yours sincerely
Arbaaz Khan, Librarian

JAC Class 10 English Letter Writing

Non-Compliance Letters

1. You have placed an order for a few books with Delhi Book Store, Darya Ganj, New Delhi. But you have not received the books so far. Using the hints given below, write a letter to the book shop regarding non-compliance of your order.
Hints:

  • Delay in delivery
  • Negligent attitude shown by the shop
  • Order might be cancelled

Answer:
St. Xavier’s Public School
Jhandewalan, New Delhi
18th March 20xx
Delhi Book Store
Darya Ganj, Delhi
Sub: Non-compliance of the order No. 1079/DBS/O3 Sir
This is with reference to your order No. 1079/DBS/03 dated 8th March 20xx regarding the delivery of a few books for our school library.

I state that despite repeated reminders on the phone, the books have not been delivered yet to the library. These books were urgently required by the students, which they could use for their references. It is really a sad state of affairs and quite upsetting. I am really very worried about the non-compliance and negligent attitude shown by your shop towards our order. If the books mentioned above do not reach us within three days from the receipt of the letter, your order will necessarily be cancelled. And this order will be placed elsewhere. A list of books is enclosed. Kindly do the needful at the earliest.
Thanking you.
Yours sincerely
A.K Rohtagi (Librarian)

JAC Class 10 English Letter Writing

2. You have placed an order for a few drugs with Medlife Drugs Store, No-117, Sadar Bazar, New Delhi. You have not got the medicines yet. Using the hints given below, write a letter to the drug store about the non-compliance of your order.
Hints:

  • Delay in delivery of medicines
  • Not taken prompt action in this regard
  • Cancellation of order

Answer:
X-13 Sadar Bazar
New Delhi
10th April 20xx
Medlife Drugs Store
No-117, Sadar Bazar
New Delhi
Sub: Regarding non-compliance of the order
Sir
This is to inform you that I had placed an order for a the delivery of a few life saving drugs for personal use.

Regretfully, I have to state that despite numerous reminders on the phone, the medicines have not yet been delivered to me. These medicines are quite necessary for saving my life. Even if I miss these drugs for a day or two it will be quite dangerous for my health. It may even take my life too. I am really very upset about the non-compliance and negligent attitude shown by your shop towards my order. If the specified drugs do not reach us with in two to three days, your order will be cancelled. The order will be placed elsewhere. If something untoward happens to me, necessary action will be taken against your store. Kindly do the needful at the earliest.
Thanking you.
Yours sincerely
A.K. Kapoor

JAC Class 10 English Solutions

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

JAC Board Class 10th English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

JAC Class 10th English Footprints without Feet Textbook Questions and Answers

Read and Find Out (Pages 26 & 28)

Question 1.
How did the invisible man first become visible?
(अदृश्य आदमी पहली बार दिखाई देने वाला आदमी कैसे बना?)
Answer:
The invisible man entered a big London store. He broke open boxes and wrappers and fitted himself with warm clothes. He wore shoes, an overcoat and a hat. Now he was a fully visible man.
(अदृश्य आदमी लंदन के एक बड़े स्टोर में घुसा। उसने संदूकों और लिफाफों को खोला और स्वयं को गर्म कपड़ों से सुसज्जित कर लिया। उसने जूते पहने, एक ओवर कोट पहना और एक टोप पहना। अब वह पूर्ण रूप से दिखाई देने वाला व्यक्ति था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 2.
Why was he wandering the streets?
(वह गलियों में क्यों भटक रहा था?)
Answer:
Griffin had set fire to his landlord’s house. He feared lest the police should catch him. So he was invisibly wandering the streets of London.
(ग्रिफिन ने अपने मकान मालिक के घर को आग लगा दी थी। उसे भय था कि कहीं पुलिस उसे गिरफ्तार न कर ले। इसलिए वह अदृश्य रूप से लंदन की गलियों में भटक रहा था।)

Question 3.
Why does Mrs. Hall find the scientist eccentric?
(श्रीमती हॉल वैज्ञानिक को सनकी किस्म का क्यों पाती है?)
Answer:
Griffin came to Iping in winter. His coming at that time was strange. His appearance and habits were also strange. Mrs. Hall tried to be friendly with him. But he got angry. He said that he did not want to be disturbed. These things compelled Mrs. Hall to think that he was an eccentric person.
(ग्रिफिन सर्दी में आइपिंग आया। उसका उस समय आना विचित्र था। उसका रूप और आदतें भी विचित्र थीं। श्रीमती हॉल ने उसके साथ मित्रतापूर्ण व्यवहार करने का प्रयत्न किया। मगर वह नाराज हो गया। उसने कहा कि वह नहीं चाहता कि उसे तंग किया जाए। इन बातों ने श्रीमती हॉल को यह सोचने पर मजबूर कर दिया कि वह एक सनकी व्यक्ति है।)

Question 4.
What curious episode occurs in the study?
(अध्ययन-कक्ष में क्या विचित्र घटना घटी?)
Answer:
One day, early in the morning, the clergyman and his wife heard noises in their study room. They went downstairs. They heard the chink of money. Someone was stealing money from the desk. They opened the door silently. But they were surprised to find the room empty. Yet the money was missing. This was very curious.
(एक दिन, बहुत प्रातः पादरी और उसकी पत्नी ने अध्ययन-कक्ष से आवाजें सुनीं। वे सीढ़ियों से नीचे गए। उन्होंने पैसों के खनकने की आवाज सुनी। कोई मेज से पैसे चुरा रहा था। उन्होंने चुपके से दरवाजा खोला। परंतु वे यह देखकर हैरान हो गए कि कमरा खाली था। फिर भी पैसे गायब थे। यह बहुत विचित्र था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 5.
What other extraordinary things happen at the inn?
(सराय में और कौन-कौन सी विचित्र घटनाएँ घटीं?)
Answer:
First, Mrs. Hall heard a sniff close to her ear. This was very strange as she did not see anyone near her. Secondly, the hat leapt up and struck her face. Thirdly, the bed room chair sprang into the air and attacked her. These were the three extraordinary things.
(पहले तो श्रीमती हॉल ने अपने कान के पास साँस लेने की आवाज सुनी। यह बहुत अजीब बात थी क्योंकि उसे अपने पास कोई नजर नहीं आया। दूसरे, टोप उछला और उसके चेहरे से टकराया। तीसरे, शयनकक्ष की कुर्सी उछली और उस पर प्रहार किया। ये तीन असाधारण बातें थीं।)

Think about it (Page 31)

Question 1.
“Griffin was rather a lawless person.” Comment.
(ग्रिफिन एक अपराधी किस्म का आदमी था। प्रकाश डालिए।)
Or
Griffin was a brilliant scientist but not a good human being. Explain.
(ग्रिफिन एक अति बुद्धिमान वैज्ञानिक था परंतु एक अच्छा व्यक्ति नहीं था। व्याख्या करें।)
Answer:
Griffin was a scientist. He made strange experiments. He discovered how to make human body invisible. Griffin was a lawless person. His landlord did not like him. He tried to get the house vacated. Griffin became angry. He set the house on fire. Then he became invisible and came out. He went into a big London store and stole clothes from there. Then he went to a shop of theatrical company. He stole clothes and other things from there. He attacked the shopkeeper and robbed him. Then he came to Iping village. He stayed at an inn. He stole money from a clergyman’s house. When the policeman came to arrest him, he became invisible and beat him. Then he became free and walked out.

(ग्रिफिन एक वैज्ञानिक था। उसने विचित्र प्रयोग किए। उसने खोज की कि मानवीय शरीर को किस प्रकार अदृश्य बनाया जा सकता है। ग्रिफिन एक स्वेच्छाचारी व्यक्ति था। उसका मकान मालिक उसे पसंद नहीं करता था। उसने घर खाली करवाना चाहा। ग्रिफिन को गुस्सा आ गया। उसने घर को आग लगा दी। तब वह अदृश्य बन गया और बाहर आ गया। वह एक बड़े लंदन स्टोर में गया और उसने वहाँ से कुछ कपड़े चुराए। तब वह नाटकीय कंपनी वाली एक दुकान में गया। वहाँ से उसने कुछ कपड़े और अन्य वस्तुएँ चुराईं। उसने दुकानदार पर आक्रमण किया और उसे लूट लिया। तब यह आइपिंग गाँव में आया। वह एक सराय में ठहरा। उसने एक पादरी के घर से पैसा चुराया। जब सिपाही उसे गिरफ्तार करने आया तो वह अदृश्य हो गया और उसको पीटा। तब वह स्वतंत्र हो गया और बाहर चला आया।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 2.
How would you assess Griffin as a scientist? (एक वैज्ञानिक के रूप में आप ग्रिफिन का मूल्यांकन कैसे करोगे?)
Answer:
Griffin was not a true scientist. A true scientist does not misuse his knowledge. Griffin was a brilliant scientist. He discovered a rare drug. But he misused that drug. He became invisible. He stole clothes and money. He hit the shopkeeper and robbed him. He stole the clergyman’s money also..
(ग्रिफिन एक सच्चा वैज्ञानिक नहीं था। एक सच्चा वैज्ञानिक अपने ज्ञान का दुरुपयोग नहीं करता। ग्रिफिन एक प्रतिभाशाली वैज्ञानिक था। उसने एक दुर्लभ दवा की खोज की। लेकिन उसने उस दवा का दुरुपयोग किया। वह अदृश्य बन गया। उसने कपड़े और पैसे चुराए। उसने दुकानदार पर हमला किया और उसे लूटा। उसने पादरी के पैसे भी चुराए।)

Talk about it (Page 31)

Question 1.
Would you like to become invisible? What advantages and disadvantages do you foresee, ifyoudid?
(क्या आप अदृश्य बनना चाहोगे? यदि आप अदृश्य बन गए तो इसके क्या लाभ और हानियाँ आपको नज़र आते हैं?)
Answer:

Advantages Disadvantages
1. one can do one’s work without being disturbed. 1. Privacy of a person can be violated by an
2. Deception or treachery of others can be found 2. There will be disorder in the society.
3. Evil things can be checked. 3. Criminals like thieves would commit crime without being seen.
4. Crime can be detected easily. 4. Honesty, love, fellow feeling, sympathy etc. will disappear.

 

लाभ हानियाँ
1. व्यक्ति बिना किसी व्यवधान के अपना काम कर सकता| 1. एक अदृश्य आदमी के द्वारा व्यक्ति की निजता को भंग
2. दूसरे लोगों के द्वारा की जा रही धोखाधड़ी का पता लग सकता है। 2. समाज में अव्यवस्था की स्थिति पैदा हो जाएगी।
3. बुराइयों पर अंकुश लगाया जा सकता है। 3. अपराधी, जैसे चोर, बिना दिखे अपराध करते रहेंगे।
4. अपराधों का आसानी से पता लगाया जा सकता है। । 4. ईमानदारी, प्यार, भाईचारा, सहानुभूति इत्यादि सभी लुप्त हो जाएँगे।

Question 2.
Are there forces around us that are invisible, for example, magnetism? Are there aspects of matter that are ‘invisible’ or not visible to the naked eye? What would the world be like if you could see such forces or such aspects of matter?
(क्या हमारे इर्द-गिर्द कुछ अदृश्य ताकते हैं, जैसे कि आकर्षण शक्ति? क्या कुछ ऐसी चीजें भी हैं जो ‘अदृश्य’ हैं या जिन्हें हम नंगी आँखों से नहीं देख सकते हैं? दुनिया किस प्रकार की होती है यदि आप इन सभी शक्तियों अथवा चीजों को नंगी आँखों के साथ देख सकते?)
Answer:
It is good that these things are not visible. Otherwise if one could see every force, there would be disorder in the society. There are certain things which are better when they are felt only and not seen. There are many aspects of the matter that are invisible and should remain so.
(यह अच्छी बात है कि ये चीजें दिखाई नहीं देती हैं। वरना यदि हम प्रत्येक शक्ति को देखने लग जाते तो समाज में अव्यवस्था पैदा हो जाती। बहुत सी चीजें ऐसी होती हैं जो महसूस करने में अच्छी होती हैं, देखने में नहीं। किसी वस्तु के बहुत-से पहलू ऐसे होते हैं जो अदृश्य होते हैं और उन्हें ऐसा ही रहना चाहिए।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 3.
What makes glass or water transparent (what is the scientific explanation for this?) Do you think it would be scientifically possible for a man to become invisible, or transparent? (Keep in mind that writers of science fiction have often turned out to be prophetic in their imagination!)
(पानी और शीशा पारदर्शी क्यों होता है (इसकी वैज्ञानिक व्याख्या क्या है?) क्या आपके विचार में वैज्ञानिक रूप से अदृश्य या पारदर्शी हो जाना संभव है? (अपने दिमाग में रखिए कि वैज्ञानिक उपन्यास लिखने वाले लेखक अपनी कल्पना में प्रायः भविष्यवक्ता (पैगंबर) नज़र आते हैं?)
Answer:
Glass or water is transparent because it does not block the light falling on it. The light passes through them. I think it will not be possible for a man to become invisible or transparent. However, nothing can be said with certainty. Science has made some mind-blowing inventions. Perhaps after many years scientists may succeed in making human beings transparent.
(पानी या शीशा पारदर्शी होता है क्योंकि यह अपने ऊपर पड़ने वाले प्रकाश को रोकता नहीं है। प्रकाश इनके बीच से गजर जाता है। मेरे विचार में किसी आदमी के लिए यह संभव नहीं है कि वह अदृश्य या पारदर्शी बन जाए। लेकिन यकीन के साथ कुछ भी नहीं कहा जा सकता है। विज्ञान ने कई अद्भुत आविष्कार कर लिए हैं। हो सकता है कि बहुत से सालों के बाद वैज्ञानिक मनुष्यों को पारदर्शी बनाने में सफल हो जाएँ।)

JAC Class 10th English A Triumph of Surgery Important Questions and Answers

Very Short Answer Type Questions

Question 1.
Who was Griffin?
Answer:
Griffin was a brilliant scientist.

Question 2.
What kind of a man was Griffin?
Answer:
Griffin was a lawless person.

Question 3.
What was the name of the invisible man?
Answer:
His name was Griffin.

Question 4.
What did Griffin discover?
Answer:
Griffin discovered a drug that could make the human body transparent.

Question 5.
Where was the shop of the theatrical company?
Answer:
It was at Drury Lane.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 6.
What was the name of the village constable?
Answer:
His name was Mr Jaffars.

Question 7.
Where did the two boys notice footprints without feet?
Answer:
The two boys noticed footprints without feet in the centre of London on the steps of a house.

Question 8.
Why did Griffin slip into a big London store?
Answer:
Griffin slipped into a big London store because the cold was unbearable.

Question 9.
According to Mrs Hall what type of a person was her guest?
Answer:
She found him an eccentric person.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 10.
After making a theft in the shop of a theatrical company where did Griffin decide to go?
Answer:
After making a theft in the shop of a theatrical company Griffin decided to go to Iping Village.

Question 11.
Who was following the muddy footprints?
Answer:
The two boys were following the muddy footprints.

Question 12.
Whose house did Griffin set on fire?
Answer:
Griffin set his landlord’s house on fire.

Question 13.
Why was the time bad for Griffin to become invisible?
Answer:
The time was bad because it was bitterly cold outside.

Question 14.
Who was Mrs. Hall?
Answer:
Mrs. Hall was the Landlord’s wife?

Question 15.
Who was Mr. Jaffars?
Answer:
Mr. Jaffars was the constable of sping village.

Question 16.
How did Griffin become invisible?
Answer:
Griffin became invisible when he removed all his clothes worn by him.

Short Answer Type Questions

Question 1.
Why were the two boys in London surprised and fascinated?
(लंदन में दो लड़के हैरान और आकर्षित क्यों थे?)
Answer:
The two boys in London saw the muddy footprints. The footprints were fresh. But they could not see any man. The footprints moved on. Soon these prints disappeared. So, the two boys were surprised and fascinated.
(लंदन में दो लड़कों ने कीचड़-भरे कदमों के निशान देखे। कदमों के निशान ताजा थे। मगर वे किसी व्यक्ति को नहीं देख पाए। कदमों के निशान आगे बढ़ते गए। शीघ्र ही ये निशान गायब हो गए। इसलिए दोनों लड़के हैरान और आकर्षित हुए।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 2.
The scientist (Griffin) slipped into a big London store because:
विज्ञानिक (ग्रिफिन) एक बड़े लंदन स्टोर में घुसा क्योंकि-)
(a) he wanted to rob the shop.
(वह दुकान लूटना चाहता था।)
(b) he wanted to buy clothes.
(वह कपड़े खरीदना चाहता था।)
(c) the cold was unbearable.
(ठंड असहनीय थी।)
(d) he was very hungry.
(वह बहुत भूखा था।)
Or
Why did Griffin slip into a big London store?
(ग्रिफिन लंदन की एक बड़ी दुकान में क्यों घुसा?)
Answer:
Griffin slipped into a big London store because the cold was unbearable.
(ग्रिफिन लंदन की एक बड़ी दुकान में इसलिए घुसा क्योंकि सर्दी असहनीय थी।)

Question 3.
What did he do inside the shop?
(उसने दुकान में क्या किया?)
Answer:
Inside the London store, Griffin wore woollen clothes. He wore shoes, an overcoat and a hat. He ate cold meat and drank coffee. He enjoyed sweets and wine also. Then he slept on a pile of quilts.
(लंदन के स्टोर में ग्रिफिन ने गर्म कपड़े पहन लिए। उसने जूते, ओवरकोट और एक टोपी पहनी। उसने ठंडा माँस खाया और कॉफी पी। उसने मिठाइयों और शराब का आनंद भी उठाया। तब वह रजाइयों के एक ढेर पर सो गया।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 4.
What happened when Griffin didn’t wake up in time?
(जब ग्रिफिन समय पर नहीं जागा तो क्या हुआ?)
Answer:
Griffin entered a big London store. There he slept on a pile of quilts. The next morning he did not wake up in time. The shop assistants opened the door. They found Griffin sleeping.
(ग्रिफिन लंदन के एक बड़े स्टोर में घुसा। वहाँ वह रजाइयों के एक ढेर पर सो गया। अगली प्रातः वह समय पर नहीं जागा। दुकान के सहायकों ने दरवाजा खोला। उन्होंने ग्रिफिन को सोता हुआ पाया।)

Question 5.
How did he escape from the London store?
(लंदन स्टोर से ग्रिफिन कैसे बच निकला?)
Answer:
Griffin got up and tried to escape. The assistants ran after him. But Griffin took off his clothes one by one. He became invisible and escaped.
(ग्रिफिन उठा और उसने बचने का प्रयत्न किया। सहायक उसके पीछे भागे। मगर ग्रिफिन ने एक-एक करके अपने कपड़े उतार दिए। वह अदृश्य हो गया और बचकर भाग गया।)।

Question 6.
What did Griffin do in the shop of a theatrical company?
(नाटकीय कंपनी की दुकान में ग्रिफिन ने क्या किया?)
Answer:
Griffin entered the shop of a theatrical company. He wore bandages round his forehead. Then he wore dark glasses, a false nose and a big hat. He put side whiskers also. Then he attacked the shopkeeper. He robbed him of his money and came out.
(ग्रिफिन एक नाटकीय कंपनी की दुकान में घुस गया। उसने अपने माथे पर पट्टियाँ बाँध लीं। तब उसने काला चश्मा, नकली नाक और बड़ा टोप पहन लिया। उसने गालों पर बाल भी लगा लिए। तब उसने दुकानदार पर प्रहार किया। उसने उससे पैसे छीने और बाहर आ गया।)

Question 7.
Why were the landlord and his wife surprised to see the scientist’s door wide open?
(सराय का मालिक और उसकी पत्नी वैज्ञानिक का दरवाजा एकदम खुला देखकर हैरान क्यों हुए?)
Answer:
The scientist always kept his room locked. He got angry if anybody tried to enter his room. So, the landlord and his wife were surprised when they found his door w
(वैज्ञानिक अपना कमरा सदा बंद रखता था। अगर कोई व्यक्ति उसके कमरे में घुसने का प्रयत्न करता था तो वह नाराज हो जाता था। इसलिए मकान मालिक और उसकी पत्नी उसके दरवाजे को खला देखकर हैरान हो गए। यह एक असाधारण बात थी।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 8.
What did the scientist do when he became furious? Why were the people in
(बहुत अधिक गुस्से में आकर वैज्ञानिक ने क्या किया? मदिरालय में बैठे लोग क्यों डर गए थे?)
Answer:
The scientist became angry. He took off his bandages, false nose and side whiskers. But he was still wearing his clothes. The people in the bar were horrified when they saw a headless man.
(वैज्ञानिक नाराज हो गया। उसने अपनी पट्टियाँ, नकली नाक और गालों के बालों को उतार दिया। लेकिन वह अभी भी कपड़े पहने हुए था। मदिरालय के लोग एक बिना सिर के व्यक्ति को देखकर डर गए।)

Question 9.
What happened to the constable?
(सिपाही को क्या हुआ?)
Answer:
The policeman tried to catch Griffin. But he looked a headless man. Griffin hit the constable. Then Griffin took off his clothes and became totally invisible. The constable was hit by unseen blows. Griffin knocked him unconscious.
(सिपाही ने ग्रिफिन को पकड़ने का प्रयत्न किया। लेकिन वह बिना सिर का व्यक्ति लगता था। ग्रिफिन ने सिपाही पर आक्रमण किया। ग्रिफिन ने अपने कपड़े उतार दिए और पूरी तरह अदृश्य हो गया। सिपाही पर अदृश्य घूसों द्वारा प्रहार हुआ। ग्रिफिन ने उस पर प्रहार करके उसे बेहोश कर दिया।)

Question 10.
Why did Griffin set the house of the landlord on fire?
(ग्रिफिन ने मकान मालिक के घर को आग क्यों लगाई?)
Answer:
Griffin was a lawless man. His landlord disliked him. He tried to eject him from his house. Griffin became angry. He wanted to take revenge upon him. So he set fire to his house.
(ग्रिफिन एक स्वेच्छाचारी व्यक्ति था। उसका मकान मालिक उससे नफरत करता था। उसने ग्रिफिन को घर से निकालने का प्रयत्न किया। ग्रिफिन नाराज हो गया। वह उससे बदला लेना चाहता था। इसलिए उसने उसके घर को आग लगा दी।)

Question 11.
What reason did Griffin give Mrs. Hall for coming to Iping?
(ग्रिफिन ने श्रीमती हॉल को अपना आइपिंग आने का क्या कारण बताया?)
Answer:
Griffin told Mrs. Hall that he had come to Iping for having rest. He said that he did not want to be disturbed in his work. He told her that his face had been affected in a
(ग्रिफिन ने श्रीमती हॉल को बताया कि वह आइपिंग में आराम करने के लिए आया था। उसने कहा कि वह नहीं चाहता कि उसके काम में बाधा डाली जाए। उसने उसे कहा कि उसका चेहरा एक दुर्घटना से प्रभावित हो गया था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 12.
What did Griffin do in the house of the clergyman?
(ग्रिफिन ने पादरी के घर में क्या किया?)
Answer:
Griffin ran short of money. He decided to steal it from the clergyman’s house. He entered the house invisibly and stole money from his desk.
(ग्रिफिन के पैसे खत्म हो गए। उसने पादरी के घर से पैसे चुराने का फैसला किया। वह अदृश्य होकर उसके घर में घुसा और उसके मेज से पैसे चुरा लिए।)

Question 13.
How did Griffin become a homeless wanderer without clothes?
(ग्रिफिन किस प्रकार से बिना कपड़ों का घुमक्कड़ व्यक्ति बन गया?)
Answer:
Griffin was a lawless scientist. He wanted to take revenge on his landlord. He set his house on fire. Then he took some rare drugs. He became invisible. He took off his clothes and came out. Thus he became a homeless wanderer without clothes.
(ग्रिफिन एक स्वेच्छाचारी वैज्ञानिक था। वह अपने मकान मालिक से बदला लेना चाहता था। उसने उसके घर को आग लगा दी। तब उसने कछ दुर्लभ दवाइयों खाई। वह अदृश्य बन गया। उसने अपने कपड़े उतारे और बाहर आ गया। इस प्रकार वह बिना कपड़ों का घुमक्कड़ व्यक्ति बन गया।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 14.
Why was the time bad for Griffin, the scientist, to become invisible?
(ग्रिफिन नामक वैज्ञानिक के लिए अदृश्य बनने का समय बुरा क्यों था?)
Answer:
Griffin removed his clothes and became invisible. It was the month of January. The air was very cold. He started shivering with cold. Thus the time was bad for Griffin to become invisible.
(ग्रिफिन ने कपड़े उतारे और अदृश्य बन गया। यह जनवरी का महीना था। हवा बहुत ठंडी थी। उसने ठंड से कॉपना आरंभ कर दिया। इस प्रकार ग्रिफिन के अदृश्य बनने के लिए समय बहुत खराब था।)

Question 15.
How did Griffin save himself from the cold of January?
(ग्रिफिन ने स्वयं को जनवरी की ठंड से कैसे बचाया?)
Answer:
Griffin was shivering with cold. He entered a big store. After sometime, the store was closed. Griffin wore warm clothes. Then he slept on a pile of quilts. Thus he saved himself from the cold.
(ग्रिफिन ठंड से काँप रहा था। वह एक बड़े स्टोर में घुस गया। कुछ समय के बाद स्टोर बंद हो गया। ग्रिफिन ने गर्म कपड़े पहन लिए। तब वह रजाइयों के एक ढेर पर सो गया। इस प्रकार उसने स्वयं को ठंड से बचाया।)

Question 16.
Why was there an empty space above the shoulders even when Griffin was fully clothed?
(जब ग्रिफिन ने पूरे कपड़े पहन लिए तो भी उसके कंधों के ऊपर खाली स्थान क्यों था?)
Answer:
Griffin’s body had become totally invisible. He became fully clothed. But the space over his shoulders remained uncovered. Therefore, there was an empty space above his shoulders.
(ग्रिफिन का शरीर पूरी तरह अदृश्य बन गया था। उसने पूरे कपड़े पहन लिए। मगर कंधों के ऊपर का उसका भाग बिना ढका रहा। इसलिए उसके कंधों के ऊपर खाली स्थान था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 17.
How did Griffin become inside?
(ग्रिफिन अदृश्य कैसे हुआ?)
Answer:
Griffin was a brilliant scientist. He made some experiments to show that human body could be made transparent. At last he discovered a rare drug. He took this drug and his body became as transparent as a sheet of glass.
(ग्रिफिन एक प्रतिभाशाली वैज्ञानिक था। उसने यह दर्शाने के लिए कुछ प्रयोग किए कि मानवीय शरीर को पारदर्शी बनाया जा सकता है। आखिरकार उसने एक दुर्लभ दवा की खोज की। उसने यह दवा खाई और उसका शरीर काँच की चादर की तरह पारदर्शी बन गया।)

Essay Type Questions

Question 1.
What was the curious episode that took place in the clergyman’s study?
(वह अजीब घटना कौन-सी थी जो पादरी के अध्ययन-कक्ष में घटी?)
Answer:
One day, early in the morning some sounds came from the study. The clergyman and his wife were awakened. They came downstairs. They heard the chink of money from the study. It was clear that someone was taking away money from the clergyman’s desk. The clergyman took a poker in his hand. He carefully opened the door. He expected to find a thief in the room. So he shouted and asked the man to give in. But he found the room empty. They were surprised. He and his wife looked under the desk. They looked behind the curtains. They even checked the chimney. But they did not find anybody. However, the desk had been opened. They found that money was missing from the desk. This was really a curious episode.

(एक दिन बहुत प्रातः अध्ययन-कक्ष में से कुछ आवाजें आईं। पादरी और उसकी पत्नी जाग गए थे। वे नीचे आए। उन्होंने अध्ययन-कक्ष में से पैसों की खनक सुनी। यह स्पष्ट था कि कोई व्यक्ति पादरी की मेज से पैसे चुरा रहा था। पादरी ने एक छड़ी अपने हाथ में ली। उसने सावधानी से दरवाजा खोला। उसे आशा थी कि वह कमरे में किसी चोर को पाएगा। इसलिए वह चिल्लाया और व्यक्ति से बोला कि वह हार मान ले । मगर उसने कमरे को खाली पाया। वे हैरान थे। उसने और उसकी पत्नी ने मेज के नीचे देखा। उन्होंने पर्दो के पीछे झाँका। उन्होंने चिमनी की जाँच भी की। पर उन्हें कोई नहीं मिला। फिर भी मेज को खोला गया था। उन्होंने पाया कि मेज में से पैसे गायब थे। यह सचमुच एक अजीब घटना थी।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 2.
Why did Griffin enter the big London store? What did he do there? How was he finally obliged to leave it?
(ग्रिफिन बड़े लंदन स्टोर में क्यों दाखिल हुआ? उसने वहाँ क्या किया? आखिर उसे वह छोड़ने के लिए मजबूर क्यों होना पड़ा?)
Describe Griffin’s adventures in a London store.
(लंदन स्टोर में ग्रिफिन के साहसिक कार्यों का वर्णन करो।)
Answer:
Griffin set fire to his landlord’s house. Then he took a drug and became invisible. But he had to remove his clothes. It was the middle of winter. The air was very cold. He reached a London store. Before the closing time, he entered the store. After some time, the store was closed. Now he was free. He broke open boxes and wrappers. He took out some clothes and wore them. He was feeling hungry. So he went into the kitchen. He ate cold meat and drank coffee. Then he lay on a pile of quilts. The next morning, he did not get up in time. The shop assistants reached. They found Griffin sleeping on quilts. He woke up and tried to run away. The servants ran after him. Griffin again took off his clothes one by one. He became invisible once again. Thus, he was able to save himself.

(ग्रिफिन ने अपने मकान मालिक के घर को आग लगा दी। तब उसने एक दवाई खाई और अदृश्य हो गया। लेकिन उसे अपने कपड़े उतारने पड़े। सर्दी के मौसम का मध्य था। हवा बहुत ठंडी थी। वह लंदन के एक स्टोर में पहुँचा। बंद होने के समय से पहले वह इसके अंदर चला गया। थोड़ी देर के बाद स्टोर बंद हो गया। अब वह स्वतंत्र था। उसने बक्से और बंडल खोल दिए। उसने कुछ कपड़े निकाले और उन्हें पहन लिया। उसे भूख लग रही थी। इसलिए वह रसोई में गया। उसने ठंडा माँस खाया और कॉफी पी। तब वह रजाइयों के एक ढेर पर लेट गया। अगली प्रातः वह समय पर नहीं उठ सका। दुकान के सहायक आ गए। उन्होंने ग्रिफिन को रजाइयों पर सोए हुए पाया। वह जाग गया और भागने का प्रयत्न किया। नौकर उसके पीछे भागे। ग्रिफिन ने फिर एक-एक करके अपने कपड़े उतार दिए। वह फिर से अदृश्य हो गया। इस प्रकार वह स्वयं को बचाने में सफल हो गया।)

Question 3.
Why was the arrival of the stranger in a village inn an unusual event? Give two reasons.
(किसी अजनबी का गाँव की सराय में आना कोई असाधारण घटना क्यों थी? दो कारण बताइए।)
Answer:
Griffin was a scientist. He reached the village inn in winter. He was a stranger in that village. It was not a proper time to visit the village. People did not come there in winter. So the event was unusual. Secondly, Griffin looked very strange. He was wearing dark glasses, a false nose and covered with bandages. He did not talk to anyone in the village. He said that he wanted to live alone. He asked Mrs. Hall not to disturb him. The people of the village were attracted towards his strange appearance and habits. Thus, his coming to the village was an unusual event.

(ग्रिफिन एक वैज्ञानिक था। वह सर्दी के मौसम में गाँव की सराय में पहुँचा। वह उस गाँव में अजनबी था। यह गाँव में आने का उचित समय नहीं था। लोग वहाँ सर्दी में नहीं आते थे। इसलिए घटना असाधारण थी। दूसरे, ग्रिफिन बहुत अजीब लगता था। उसने काला चश्मा, एक नकली नाक और एक बड़ा टोप पहना हुआ था। उसका माथा पट्टियों से ढका हुआ था। उसने गाँव में किसी से बात नहीं की। उसने कहा कि वह अकेला रहना चाहता है। उसने श्रीमती हॉल से कहा कि उसे तंग न करें। गाँव के लोग उसकी अजीब शक्ल और आदतों की तरफ आकर्षित हुए। इस प्रकार उसका उस गाँव में आना एक असाधारण घटना थी।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 4.
Describe the policeman’s fight with the invisible man.
(अदृश्य व्यक्ति के साथ हुई सिपाही की लड़ाई का वर्णन करो।)
Or
Describe the scene when Mr. Jaffers tries to arrest “a man without a head”?
(उस दृश्य का वर्णन करें जब श्री जाफर “बिना सिर के एक व्यक्ति” को गिरफ्तार करने का प्रयत्न करता है?)
Answer:
One day, Griffin stole money from the clergyman’s house. The people of the village suspected Griffin. They thought that he had stolen the money. Mrs. Hall called a policeman. When the policeman reached there, he was surprised. Griffin had removed his spectacles, false nose and side whiskers. Now, he looked headless. The policeman was surprised as he had to arrest a headless man. He tried to catch Griffin. But Griffin started taking off his clothes one by one. He was becoming more and more invisible. In the end, he became totally invisible. The constable tried to fight with him. Some villagers also tried to help the policeman. But they received blows from nowhere. Then Griffin hit the policeman. He fell unconscious. Then Griffin became free and walked out.

(एक दिन ग्रिफिन ने पादरी के घर से पैसे चुराए। गाँव के लोगों को ग्रिफिन पर शक हुआ। उनका विचार था कि उसने पैसे चुराए हैं। श्रीमती हॉल ने एक सिपाही को बुलवाया। जब सिपाही वहाँ पहुँचा तो वह हैरान हो गया। ग्रिफिन ने अपना चश्मा, नकली नाक और साइड के गलमुच्छे उतार दिए थे। अब वह बिना सिर का लगता था। सिपाही हैरान हो गया क्योंकि उसे एक बिना सिर के व्यक्ति को कैद करना था। उसने ग्रिफिन को पकड़ने का प्रयत्न किया। भगर ग्रिफिन ने एक-एक करके अपने कपड़े उतारने आरंभ कर दिए। वह अधिक-से-अधिक अदृश्य होता चला गया। अन्त में वह पूरी तरह अदृश्य हो गया। सिपाही ने उससे लड़ने का प्रयत्न किया। कुछ गाँव वालों ने भी सिपाही की सहायता करने का प्रयत्न किया। मगर उन्हें न जाने कहाँ से मुक्के पड़े। तब ग्रिफिन ने सिपाही पर प्रहार किया। वह बेहोश होकर गिर गया। तब ग्रिफिन आजाद हो गया और बाहर चला गया।)

Question 5.
How did Griffin steal money from the clergyman’s house? How did he escape arrest?
(ग्रिफिन ने पादरी के घर से पैसे कैसे चुराए? वह कैद होने से कैसे बचा?)
Or
Narrate the adventure of Griffin in the village Iping.
(आइपिंग गाँव में ग्रिफिन के साहसिक कार्य का वर्णन करो।)
Answer:
Griffin came to live at village Iping. One day, he ran short of money. He had to pay the rent to the innkeeper. He made himself invisible. He entered the clergyman’s house. He took money from the desk. When he was taking away the money, the clergyman and his wife heard the sound. They came downstairs to look into the matter. They opened the door and looked into the room. But nobody was there. Griffin came back to his room and paid the dues to the landlady. But the neighbours suspected Griffin. Mrs. Hall called a policeman. He tried to arrest Griffin. But Griffin made himself invisible and escaped arrest.

(ग्रिफिन आइपिंग गाँव में रहने के लिए आया। एक दिन उसके पास पैसों की कमी हो गई। उसने सराय के मालिक को किराया देना था। उसने स्वयं को अदृश्य बनाया। वह पादरी के मकान में घुस गया। उसने मेज में से कुछ पैसे चुरा लिए। जब वह पैसे उठा रहा था तो पादरी और उसकी पत्नी ने आवाज सुनी। वे नीचे आए ताकि मामले की छानबीन कर सकें। उन्होंने दरवाजा खोला और कमरे के अंदर झाँका। मगर वहाँ कोई नहीं था। ग्रिफिन वापिस अपने कमरे में आया और उसने सराय की मालकिन का भुगतान कर दिया। लेकिन पड़ोसियों को ग्रिफिन पर शक हो गया। श्रीमती हॉल ने एक सिपाही को बुला भेजा। उसने ग्रिफिन को गिरफ्तार करने का प्रयत्न किया। मगर ग्रिफिन ने स्वयं को अदृश्य कर लिया और गिरफ्तार होने से बच गया।)

Multiple Choice Questions

Question 1.
What was Griffin?
(A) scientist
(B) clergyman
(C) shopkeeper
(D) landlord
Answer:
(A) scientist

Question 2.
Griffin discovered a medicine that could make his body ………
(A) large
(B) small
(C) invisible
(D) all
Answer:
(C) invisible

Question 3.
Whose house did Griffin set on fire?
(A) the landlord
(B) the clergyman
(C) Mrs. Hall
(D) the shopkeeper
Answer:
(A) the landlord

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 4.
Griffin swallowed certain rare drugs and his body became as… ertain rare drugs and his body became as …………………….. as a sheet of glass.
(A) shining
(B) thin
(C) transparent
(D) thick
Answer:
(C) transparent

Question 5.
What type of a man was Griffin?
(A) brilliant scientist
(B) lawless person
(C) both (A) and (B)
(D) none of the above
Answer:
(C) both (A) and (B)

Question 6.
Who were following the muddy footprints?
(A) the landlord
(B) two girls
(C) Mr and Mrs Hall
(D) two boys
Answer:
(D) two boys

Question 7.
Griffin left his muddy footprints on the steps of a house in the middle of ….
(A) London
(B) Paris
(C) Moscow
(D) Iping
Answer:
(A) London

Question 8.
Why was it a bad time to wander about in London without clothes?
(A) it was rainy season
(B) it was very hot
(C) it was bitterly cold
(D) none of the above
Answer:
(C) it was bitterly cold

Question 9.
What did Griffin do in the big London store?
(A) he wore shoes
(B) he wore an overcoat
(C) he ate cold meat and sweets
(D) all of the above
Answer:
(D) all of the above

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 10.
How did Griffin escape from the assistants?
(A) by running hard
(B) by removing his newly worn clothes
(C) by hitting the assistants
(D) by hiding in a shed
Answer:
(B) by removing his newly worn clothes

Question 11.
The shop of the theatrical company was situated at:
(A) Drury Lane
(B) London Lane
(C) Iping Lane
(D) Griffin Lane
Answer:
(A) Drury Lane

Question 12.
Who did Griffin attack and rob all the money?
(A) the landlord
(B) the assistants of London store
(C) the owner of the big London store
(D) the owner of the theatrical company
Answer:
(D) the owner of the theatrical company

Question 13.
According to Mrs Hall what type of a scientist was her guest?
(A) good
(B) brilliant
(C) eccentric
(D) all of the above
Answer:
(C) eccentric

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

Question 14.
After making a theft in the shop of a theatrical company where did Griffin decide to go?
(A) Iping village
(B) Oxford city
(C) Paris
(D) London
Answer:
(A) Iping village

Question 15.
At Iping where did Griffin stay?
(A) in a hotel
(B) in an inn
(C) in a church
(D) in a hut
Answer:
(B) in an inn

Footprints without Feet Summary in English

Footprints without Feet Introduction in English

This story is about a scientist. His name was Griffin. One day he discovered a wonderful drug. This drug could make him invisible. He set his landlord’s house on fire. Then he took the drug. He became invisible. He could see everybody but nobody could see him. But it was very cold. He was without clothes. He went into a store. He passed his night there. He stole money and clothes from there. He went to a village called Iping. There he stayed at an inn. He stole some money. The police was called. But he became invisible and escaped from there.

Footprints without Feet Summary in English

Griffin was a brilliant scientist. He conducted many experiments. One day he discovered a wonderful drug. It could make him invisible. He took that drug and became invisible. He could see everybody but nobody could see him. Griffin’s landlord did not like him. He tried to get his house vacated. Griffin became angry. He set the house on fire. Then he took the drug. He took off his clothes. He became invisible and went out.

It was winter. It was not easy to walk without clothes. Griffin had no money. So, he went into a big London store. He stole clothes from there. When he walked with those clothes, it seemed as if a headless man was walking. He took meat, coffee, sweets and wine from the kitchen of the store. Then he slept on a pile of quilts there.The next morning he did not wake up in time. The shop assistants arrived and saw him. Griffin ran out of fear. The assistants ran after him. Griffin took off his clothes one by one. He became invisible again. But now he was shivering with cold. He entered the shop of a theatrical company. He wore bandages round his forehead. He also wore dark glasses, a false nose and whiskers. Griffin robbed some money of the shopkeeper. Then he took a train and reached Iping village.

At Iping, Griffin booked two rooms at an inn. He paid the rent in advance. The name of the landlady was Mrs. Hall. She tolerated the strange behaviour of Griffin. Soon Griffin spent the stolen money. He told the landiady that he had no cash. He said that he was expecting a cheque. The next day, he stole money from the house of the clergyman. The clergyman and his wife were surprised. They had not seen anybody coming. The room was empty. Even then the money was stolen.

After sometime, the landlord and his wife found that Griffin’s room was open. They entered the room but there was nobody. Griffin’s clothes and bandages were lying on the floor. Suddenly, the hat jumped and struck Mrs. Hall’s face. Then the chair jumped and charged at her. The couple was afraid. They thought that there were ghosts in the room. They cried and ran downstairs.

The neighbours gathered there. They thought that Griffin was responsible for all that. A policeman was called. Before that Griffin and Mrs. Hall had a quarrel. Griffin became angry. He threw off his bandages, spectacles and false nose. Now he was wearing clothes but his body was not visible above the neck. The people were horrified when they saw a headless man Just then the policeman came. He was also surprised when he saw a headless man. He tried to catch Griffin. But Griffin started taking off his clothes. He became invisible. Those who tried to catch him got blows out of air. Soon Griffin became free. Nobody knew where to lay a hand on him. Griffin came out of the inn and started walking on the road. Now he was again a free man.

Footprints without Feet Summary in Hindi

Footprints without Feet Introduction in Hindi

(यह कहानी एक वैज्ञानिक के बारे में है। उसका नाम ग्रिफिन था। एक दिन उसने एक अद्भुत दवाई की खोज की। यह दवाई उसे अदृश्य बना सकती थी। उसने अपने मकान मालिक के घर को आग लगा दी। तब उसने दवाई ली। वह अदृश्य हो गया। वह प्रत्येक व्यक्ति को देख सकता था मगर उसे कोई नहीं देख सकता था। लेकिन बहुत ठंड थी। वह बिना कपड़ों के था। वह एक स्टोर में गया। उसने रात वहाँ बिताई। उसने वहाँ से पैसे और कपड़े चुराए। वह आइपिंग नामक एक गाँव में गया। वहाँ वह एक सराय में ठहरा। उसने कुछ पैसे चुराए। पुलिस को बुलाया गया। मगर वह अदृश्य बन गया और वहाँ से बच निकला।)

Footprints without Feet Summary in Hindi

ग्रिफिन एक प्रतिभाशाली वैज्ञानिक था। उसने अनेक प्रयोग किए। एक दिन उसने एक अद्भुत औषधि का आविष्कार किया। यह उसको अदृश्य बना सकती थी। उसने वह औषधि ली और अदृश्य बन गया। वह प्रत्येक व्यक्ति को देख सकता था लेकिन उसे कोई भी नहीं देख सकता था।ग्रिफिन का मकान मालिक उसे पसंद नहीं करता था। उसने अपना मकान खाली करवाने का प्रयास किया। ग्रिफिन क्रोधित हो गया। उसने घर को आग लगा दी। तब उसने औषधि ली। उसने अपने वस्त्र उतारे। वह अदृश्य हो गया और बाहर चला गया।

सर्दी का मौसम था। बिना वस्त्रों के घूमना आसान नहीं था। ग्रिफिन के पास पैसे नहीं थे। इसलिए वह लंदन के एक बड़े स्टोर में घुस गया। उसने वहाँ से वस्त्र चुराए। जब वह उन कपड़ों को पहनकर चला तो ऐसा लग रहा था जैसे कि कोई बिना सिर का आदमी चल रहा हो। उसने स्टोर की रसोई में से माँस, कॉफी, मिठाइयाँ और शराब ली। तब वह वहाँ गद्दों (रजाइयों) के एक ढेर पर सो गया।अगली सुबह वह समय पर नहीं उठा। दुकान के सहायक पहुँचे और उसे देखा। ग्रिफिन डर के मारे बाहर भागा। सहायक उसके पीछे भागे। ग्रिफिन ने एक-एक करके अपने वस्त्र उतार दिए। वह पुनः अदृश्य बन गया। लेकिन इस बार वह ठंड के कारण काँप रहा था। वह एक नाटकीय कंपनी की दुकान में घुस गया। उसने अपने माथे पर पट्टियाँ बाँधी। उसने काले चश्मे, एक नकली नाक और मूंछे भी पहनीं। ग्रिफिन ने दुकानदार का कुछ धन लूटा। तब उसने गाड़ी पकड़ी और आइपिंग गाँव पहुँच गया।

आइपिंग में ग्रिफिन ने एक सराय में दो कमरे बुक करवाए। उसने किराया पेशगी दे दिया। सराय की मालकिन का नाम श्रीमती हॉल था। उसने ग्रिफिन के विचित्र व्यवहार को सहन किया। शीघ्र ही ग्रिफिन ने चुराया हुआ धन खर्च कर दिया। उसने सराय की मालकिन को बताया कि उसके पास नकद पैसे नहीं हैं। उसने कहा कि वह किसी भी समय चैक के आने की प्रतीक्षा कर रहा है। अगले दिन उसने पादरी के घर से धन चुराया। पादरी और उसकी पत्नी हैरान थे। उन्होंने किसी को भी आते हुए नहीं देखा था। कमरा खाली था। फिर भी धन चोरी हो गया था। कुछ समय पश्चात् मालिक और उसकी पत्नी ने पाया कि ग्रिफिन का कमरा खुला हुआ था। उन्होंने कमरे में प्रवेश किया लेकिन वहाँ कोई भी नहीं था। ग्रिफिन के कपड़े और पट्टियौं फर्श पर बिखरे हुए थे। अचानक ही टोप उछला और श्रीमती हॉल के मुँह पर जा लगा। तब कुर्सी उछली और उस पर हमला कर दिया। दंपति डर गए। उन्होंने सोचा कि कमरे में भूत थे। वे चिल्लाए और सीढ़ियों से नीचे भागे।

वहाँ पड़ोसी एकत्रित हो गए। उन्होंने सोचा कि इसके लिए ग्रिफिन जिम्मेवार था। एक सिपाही को बुलाया गया। उससे पहले ग्रिफिन और श्रीमती हॉल में लड़ाई हुई। ग्रिफिन क्रोधित हो गया। उसने अपनी पट्टियाँ, चश्मे और नकली नाक उतारकर फेंक दिए। अब उसने वस्त्र पहन रखे थे लेकिन गर्दन से ऊपर उसका शरीर अदृश्य था। लोग भयभीत हो गए जब उन्होंने एक बिना सिर वाले आदमी को देखा। तभी सिपाही आ गया। जब उसने एक बिना सिर के आदमी को देखा तो वह भी हैरान हो गया। उसने ग्रिफिन को पकड़ने का प्रयास किया। लेकिन ग्रिफिन ने अपने वस्त्र उतारने शुरू कर दिए। वह अदृश्य बन गया। जिन्होंने उसे पकड़ने का प्रयास किया उन्हें हवा में से चूसे लगे। शीघ्र ही ग्रिफिन स्वतंत्र हो गया। कोई भी नहीं जानता था कि उसे पकड़ने के लिए कहाँ हाथ डाला जाए। ग्रिफिन सराय से बाहर निकला और उसने सड़क पर चलना आरंभ कर दिया। अब वह पुनः एक स्वतंत्र आदमी था।

Footprints without Feet Translation in Hindi

[PAGE 26]: दो लड़कों ने नंगे पाँव के कीचड़ वाले ताजा पदचिह्नों की तरफ हैरानी से देखा। कोई नंगे पाँवों वाला व्यक्ति लंदन के मध्य में स्थित एक मकान की सीढ़ियों पर क्या कर रहा था? और वह व्यक्ति कहाँ था? लड़के ध्यान से देख ही रहे थे कि उन्हें एक विचित्र दृश्य देखने को मिला। यहीं कहीं से एक ताजा पदचिह्न प्रकट हुआ। उनके आगे सीढ़ियों से उतरते हुए तथा नीचे गली में जाते हुए एक-एक करके और पदचिह्न आगे बढ़ने लगे। लड़के कौतूहलवश पीछा करने लगे। आखिरकार कीचड़ भरे निशान मद्धम होते गए और फिर पूर्णतया लुप्त हो गए।
इस रहस्य का कारण वास्तव में बहुत आसान था। आश्चर्यचकित लड़के एक ऐसे वैज्ञानिक का पीछा कर रहे थे, जिसने मानव शरीर को पारदर्शक बनाने की विधि खोज ली थी।

यह सिद्ध करने के लिए कि मानव शरीर को अदृश्य बनाया जा सकता है, ग्रिफिन नामक वैज्ञानिक ने अनेक प्रयोग किए थे। अंत में उसने कुछ दुर्लभ दवाइयाँ निगली तथा उसका शरीर एक शीशे की चादर की तरह पारदर्शक बन गया यद्यपि यह शीशे की तरह ठोस ही रहा। यद्यपि ग्रिफिन एक तीव्र बुद्धि वाला वैज्ञानिक था, फिर भी वह काफी स्वेच्छाचारी व्यक्ति था। उसका मकान मालिक उसे पसंद नहीं करता था और उसे अपने मकान से निकालना चाहता था। बदला लेने के लिए ग्रिफिन ने मकान को आग लगा दी। बिना दिखाई दिए भाग जाने के लिए उसे अपने कपड़े उतारने पड़े। इस प्रकार एक अदृश्य व्यक्ति बनकर वह बेघर होकर बिना कपड़ों और बिना पैसों के भटकने लगा-जब तक उसके पाँव कीचड़ में पड़ गए और चलते-चलते उसके पाँव के निशान बनने लगे थे।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

[PAGE 27] : उसने उन लड़कों से आसानी से पीछा छुड़ा लिया जो लंदन में उसके कदमों के निशानों का पीछा कर रहे थे। परंतु उसके जोखिम भरे कार्य अभी पूरे नहीं हुए थे। बिना वस्त्र पहने लंदन में घूमने के लिए उसने साल का गलत समय चुना था। यह शीत ऋतु का मध्य था। हवा बहुत अधिक ठंडी थी और वह कपड़ों के बिना नहीं रह सकता था। गलियों में इधर-उधर घूमने की बजाय उसने गरमाहट के लिए लंदन के एक बड़े स्टोर के अंदर जाने का निर्णय लिया। . स्टोर बंद होने का समय हुआ और जैसे ही दरवाजे बंद हुए ग्रिफिन को बिना पैसा खर्च किए वस्त्र पहनने तथा खाने-पीने का आनंद लेने का मौका मिल गया। उसने संदूकों और लिफाफों को खोला और स्वयं को गर्म कपड़ों से सुसज्जित कर लिया। वह जूते, ओवरकोट और एक खुला किनारे वाला टोप पहनकर शीघ्र ही पूर्णतया सुसज्जित और दृश्य व्यक्ति बन गया। भोजनालय के रसोईघर से उसे ठंडा माँस और कॉफी मिली और भोजन करने के पश्चात् उसने करियाने के स्टोर से प्राप्त मिठाइयों तथा मदिरा का सेवन किया। अंत में वह एक रजाइयों के ढेर पर सो गया। यदि ग्रिफिन केवल ठीक समय पर जाग जाता तो भी सब कुछ ठीक रहता। मगर हुआ ऐसा कि उसकी आँखें तब तक नहीं खुली जब तक दुकान के कर्मचारी अगली प्रातः वहाँ नहीं आ गए। जब उसने उनमें से दो को आते देखा तो वह घबरा गया और भागने लगा।

[PAGE 28] : स्वाभाविक रूप से उन्होंने उसका पीछा किया। अंत में वह अपने हाल ही में प्राप्त कपड़ों को शीघ्रता से उतारकर फेंक देने से बचने योग्य हो गया। इसलिए एक बार फिर, उसने स्वयं को जनवरी की ठंडी हवा में अदृश्य मगर नंगा पाया। इस आशा में कि उसे अपने कँधे के ऊपर के खाली स्थान को छुपाने के लिए कुछ मिल जाएगा, इस बार उसने एक नाटकीय कंपनी के स्टॉक को आजमाने का फैसला किया। ठंड से काँपते हुए वह Drury Lane ड्रामा संसार के केंद्र की ओर भागा। उसे शीघ्र ही एक उचित दुकान मिल गई। वह अदृश्य रूप से सीढ़ियों पर चढ़ा और थोड़ी देर पश्चात् अपने माथे पर पट्टियाँ, काला चश्मा, नकली नाक, गुच्छेदार मूंछे और एक लंबा टोप पहने हुए बाहर आया। वहाँ से बिना दिखाई दिए भाग निकलने के लिए उसने दुकानदार पर पीछे से बड़ी निर्दयता से प्रहार किया और इसके पश्चात् उसे जो भी धन मिला, उसे लूटकर चलता बना। भीड़-भाड़ वाले लंदन से बच भागने को उत्सुक, उसने आइपिंग गाँव की गाड़ी पकड़ी जहाँ पर उसने एक स्थानीय सराय में दो कमरे बुक करवाए।\

सर्दियों में सराय में एक अजनबी का आना एक असाधारण घटना थी। सब लोग असाधारण वेशभूषा वाले अजनबी के आने की चर्चा करने लगे। सराय की मालकिन श्रीमती हॉल ने दोस्ताना रहने का भरसक प्रयत्न किया। परंतु ग्रिफिन तो बात करना ही नहीं चाहता था और उसने कहा, “मेरे आइपिंग में आने का उद्देश्य एकांत प्राप्त करना ही है। मैं चाहता हूँ कि मेरे काम में मुझे कोई तंग न करे। इसके अतिरिक्त एक दुर्घटना के कारण मेरा चेहरा बिगड़ गया है।” इस बात से संतुष्ट होकर कि उसका अतिथि एक सनकी वैज्ञानिक था और यह देखते हुए कि उसने किराया भी पेशगी दे दिया था, श्रीमती हॉल उसे उसकी विचित्र आदतों और चिड़चिड़े स्वभाव के लिए क्षमा करने को तैयार हो गई। परंतु चुराया हुआ पैसा अधिक देर तक न रह सका और शीघ्र ही ग्रिफिन को यह बात स्वीकार करनी पड़ी कि उसके पास और नकद रुपया नहीं है। मगर उसने बहाना बनाया कि उसे जल्दी ही एक चैक के आने की आशा है। उसके थोड़ी देर बाद एक अद्भुत घटना घटी। बहुत प्रातः एक पादरी और उसकी पत्नी पढ़ने वाले कमरे में शोर सुनकर जाग उठे। चुपके से नीचे आते हुए उन्हें पादरी के डैस्क में से धन निकाले जाने की आवाज सुनाई दी। हाथ में दृढ़ता से लोहे की छड़ पकड़कर और बिना कोई शोर किए, पादरी ने एकदम कमरे का दरवाजा खोल दिया। “आत्मसमर्पण करो!”

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

[PAGE 29] : तब उसे यह देखकर हैरानी हुई कि कमरा खाली था। उसने और उसकी पत्नी ने मेज के नीचे, पर्दो के पीछे और यहाँ तक कि चिमनी में भी देखा। कहीं किसी का कोई चिह्न नहीं था। फिर भी डैस्क को खोला गया था और घर के खर्चे के पैसे गायब थे। “असाधारण बात!” पादरी सारा दिन यही कहता रहा। परंतु यह इतनी असाधारण बात नहीं थी जितनी कि उस सुबह थोड़ी देर बाद श्रीमती हॉल के कमरे के फर्नीचर की स्थिति हुई थी। सराय का मालिक और उसकी पत्नी सुबह जल्दी जाग गए और वैज्ञानिक के कमरे का दरवाजा एकदम खुला देखकर हैरान हुए। प्रायः यह अंदर से बंद ही रहता था और इस पर ताला लगा रहता था और यदि कोई उसके कमरे में प्रवेश करता तो वह बहुत नाराज होता। मौका इतना अच्छा था कि वे इसे खोना नहीं चाहते थे। उन्होंने कमरे के चारों ओर झाँका, कोई दिखाई न दिया और छानबीन करने का निश्चय किया। पलंग पर बिछे हुए कपड़े ठंडे थे, जिससे यह स्पष्ट था कि वैज्ञानिक को बिस्तर छोड़े काफी समय हो गया है और हैरानी की बात यह थी कि वे कपड़े और पट्टियाँ, जिन्हें वैज्ञानिक सदा पहने रहता था, कमरे में बिखरी पड़ी थीं।

अचानक श्रीमती हॉल ने अपने कान के समीप साँस लेने की आवाज सुनी। एक क्षण बाद बिस्तर के पाये से टोप उछला और उसके चेहरे से टकराया। तब कमरे की कुर्सी सजीव हो गई। हवा में उछलकर उसने सीधे अगली टाँगों से उस पर आक्रमण किया। जैसे ही वह और उसका पति भयभीत होकर जाने के लिए मुड़े, असाधारण कुर्सी ने उन्हें कमरे से बाहर धकेल दिया और उन पर दरवाजा बंद करके कमरे का ताला लगाती हुई प्रतीत हुई। श्रीमती हॉल लगभग बेहोश होकर सीढ़ियों से गिर पड़ी। उसे विश्वास हो गया कि कमरे में भूत-प्रेत हैं और अजनबी ने किसी तरह उनको फर्नीचर में दाखिल कर दिया था। “मेरी बेचारी माँ उस कुर्सी पर बैठती थी”, उसने कराहकर कहा। “जरा सोचो कि वही कुर्सी मेरे विरुद्ध खड़ी हो गई है!” पड़ोसियों की धारणा थी कि इस मुसीबत का कारण जादू-टोना है।

परंतु जादू-टोना हो, चाहे न हो, जब पादरी के घर चोरी का समाचार फैला, तो संदेह किया जाने लगा कि इसमें विचित्र वैज्ञानिक का हाथ था। जब उसने एकदम नकद रुपए पेश किए तो यह संदेह और भी पक्का हो गया क्योंकि उसने कुछ समय पहले ही स्वीकार किया था कि उसके पास नकद पैसे नहीं हैं। गुप्त रूप से गाँव के सिपाही को बुलाया गया। सिपाही की प्रतीक्षा करने की बजाए श्रीमती हॉल वैज्ञानिक के पास गई, जो रहस्यमय तरीके से अपने खाली शयनकक्ष से प्रकट हुआ था। उसने पूछा, “तुम ऊपर मेरी कुर्सी को क्या करते रहे हो? और मैं जानना चाहती हूँ कि खाली कमरे में से तुम कैसे प्रकट हुए और तुमने तालाबंद कमरे में किस प्रकार प्रवेश किया।”

[PAGE 30]: वैज्ञानिक को सदैव जल्दी क्रोध आ जाता था, अब वह क्रोध से लाल-पीला हो गया। “तुम नहीं जानती कि मैं कौन और क्या हूँ!” वह चिल्लाया। “ठीक है मैं तुम्हें दिखाऊँगा।”
अचानक उसने अपनी पट्टियाँ, मूंछे, चश्मा और नकली नाक भी फेंक दीं। उसे ऐसा करने में केवल एक मिनट लगा। बार (होटल) में उपस्थित लोग भयभीत होकर बिना सिर के मनुष्य को आँखें फाड़-फाड़कर देखने लगे! पुलिस का सिपाही, मिस्टर जैफर्ज़, अब पहुँच गया था और वह यह जानकर बहुत हैरान हुआ कि उसे बिना सिर के मनुष्य को पकड़ना था। परंतु जैफर्ज़ को अपना कर्तव्य निभाने में आसानी से नहीं रोका जा सकता था। यदि मैजिस्ट्रेट ने एक व्यक्ति की गिरफ्तारी का वारंट दिया हो, तो उस व्यक्ति को पकड़ना ही पड़ता है चाहे उसका सिर हो या नहीं।
तब बड़ा विचित्र दृश्य देखने में आया जब सिपाही ने एक ऐसे व्यक्ति को पकड़ने का प्रयल किया जो अधिक अदृश्य होता जा रहा था क्योंकि वह एक-एक करके कपड़े उतार रहा था। अंत में एक कमीज हवा में उड़ी और सिपाही ने पाया कि वह एक । ऐसे व्यक्ति में संघर्ष करते पाया जिसे वह बिल्कुल देख नहीं सकता था।

[PAGE 31]: कुछ लोगों ने उसकी सहायता करने का प्रयत्न किया, परंतु न जाने कहाँ से उन पर मार पड़ने लगी। अंत में जब जैफर्ज़ ने अदृश्य वैज्ञानिक को पकड़ने का अंतिम प्रयास किया तो वह चोट खाकर बेहोश हो गया। लोग घबराकर चिल्लाए, “उसे पकड़ो” मगर कहना आसान था, करना नहीं। ग्रिफिन ने स्वयं को आजाद करवा लिया था और अब कोई नहीं जानता था कि उसे कहाँ से पकड़ा जाए।

Footprints without Feet Word – Misndgs in Hindi

[PAGE 26]: Imprints = impressions (छाप चिहन); gazed = looked fixedly (ध्यान से देखा); remarkable = strange (अजीब, विलक्षण); descending = coming down (नीचे आते हुए); progressing = moving ahead (आगे बढ़ते हुए); fascinated = attracted (आकर्षित हुए); faint = dim, light (हल्का, मद्धम); altogether = completely (पूरी तरह); explanation = reason (कारण); mystery = secret (रहस्य); bewildered = confused (परेशान); transparent = through which light can pass (पारदर्शी); carried out = did, conducted (किया); invisible = that which cannot be seen (अदृश्य); swallowed = ate without chewing (निगला); rare = not often seen (दुर्लभ); drug = medicine (दवा, औषधि); solid = not in liquid or gaseous form (ठोस); brilliant= talented (प्रतिभाशाली); lawless = not caring for law (स्वेच्छाचारी); eject = to force someone out (जबरदस्ती निकालना); revenge = vindictive feeling (बदला)।

[PAGE 27]: Adventures = risky activities (जोखिम भरे काम); by no means = not at all (बिल्कुल नहीं); bitterly = excessive (बहुत अधिक); warmth = heat (गर्मी); regard = concern (चिंता); expense $=$ spending of money (खच); wrappers = paper covers (कागज के कवर); settled down = laid comfortably (आराम से लेट गया); managed = succeeded in (सफल होना)।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 5 Footprints without Feet

[PAGE 28]: Panicked = be afraid, confused (डर जाना, घबरा जाना); gave chase = followed (पीछा किया); chill = very cold (बहुत ठंडक); stock = store (भंडार); space = room (स्थान); shivering = trembling (काँपना); side-whiskers = beard (दाढ़ी); callously = without mercy (निर्दयता से); arrival = reaching (पहुँचना); appearance = outer form (बाहरी रूप); effort = attempt (प्रयत्न); solitude = loneliness (अकेलापन); disturbed = hindered (रुकावट डालना); satisfied = contented (संतुष्ट); eccentrical = whimsical (सनकी); excuse = ignore (उपेक्षा करना, माफ करना); irritable = easily annoyed (चिड़चिड़ा); temper = nature (स्वभाव); presently = soon (शीघ्र ही, इस समय); shortly = soon (शीघ्र); curious = strange (विचित्र); episode = event (घटना); occurred = happened (घटित हुआ); clergyman = priest (पादरी); chink = sound of coins (पैसों की खनक); poker = rod for poking fire (कुरेदनी); grasped = held firmly (कसकर पकड़ा); firmly = steadily (मजबूती से); surrender = submit (हार मानना)।

[PAGE 29] : Amazement = surprise (हैरानी); affair = matter (मामला); furious = very angry (बहुत गुस्से में); investigate = examine (पड़ताल करना); still = more (और अधिक); sniff = act of sniffing (नाक से साँस लेना); bedpost = leg or stand of bed (बिस्तर का पाया) । terror = fear (ड़र); slam = shut forcefully (जोर से बंद करना); extraordinary = unusual (असाधारण); convinced = sure (विश्वास होना); haunted = visited by ghosts (भूतहा); spirit = ghost (भूत, आत्मा); moaned = cried with pain (कराहा); witcheraft = sorcery (जादू-टोना); burglary = theft (चोरी); suspected = doubted (संदेह हुआ); suspicion = feeling of doubt (शक)।

[PAGE 30] : Question uick tempered = short tempered (चिड़चिड़ा); horrified = frightened (डरा हुआ); prevented = hindered, stopped (रोका); warrant = written official order (वॉरंट); garment = clothing (कपड़ा); struggling = fighting (संघर्ष करते हुए)।

[PAGE 31]: Knocked = hit or striked (प्रहार); unconscious = fainted (बेहोश); nervous = agitated, confused (उत्तेजित, परेशान)।

JAC Class 10 English Solutions

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

JAC Board Class 10th English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

JAC Class 10th English A Question of Trust Textbook Questions and Answers

Read and Find Out (Pages 20 & 22)

Question 1.
What does Horace Danby like to collect?
(होरेस डैन्बी क्या एकत्र करना पसंद करता है?)
Answer:
Horace Danby is a book lover. He likes to collect books. He loves rare and expensive books.
(होरेस डैन्बी एक पुस्तक प्रेमी है। वह पुस्तकें एकत्रित करना पसंद करता है। वह दुर्लभ और महँगी पुस्तकों को पसंद करता है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 2.
Why does he steal every year?
(वह हर साल चोरी क्यों करता है?)
Answer:
Every year, he breaks a safe. With this money he buys books. The stolen money lasts for twelve months. Then he steals again the next year.
(हर साल, वह एक तिजोरी तोड़ता है। इस धन से वह पुस्तकें खरीदता है। चोरी किया हुआ धन एक वर्ष तक चल जाता है। तब वह अगले वर्ष फिर से चोरी करता है।)

Question 3.
Who is speaking to Horace Danby?
(होरेस डैन्बी से कौन बातें कर रहा/रही है?)
Answer:
It is the voice of a lady. Horace Danby thinks that she is the mistress of the house. But she is only a thief like him. She poses to be the mistress of the house and befools Danby.
(यह एक महिला की आवाज है। होरेस डैन्बी सोचता है कि वह घर की मालकिन है। लेकिन वह उसके जैसी एक चोर है। वह घर की मालकिन होने का दिखावा करती है और डैन्ची को मूर्ख बनाती ।)

Question 4.
Who is the real culprit in the story?
(कहानी में असली अपराधी कौन है?)
Answer:
The real culprit in the story is the lady thief whom Danby meets in Shotover Grange. She poses before him to be the landlady. Danby has entered the house to steal. But he finds the lady there. She pretends that she has lost the key to the safe. Danby is befooled. He breaks the safe and is caught.
(कहानी में असली अपराधी महिला चोर है जिससे शोटोवर रेंज में मिला था। वह उसके सामने घर की मालकिन होने का दिखावा करती है। डैन्बी घर के अंदर चोरी करने घुसता है लेकिन वहाँ वह उस महिला को देखता है। वह दिखावा करती है कि उसने तिजोरी की चाबी खो दी है। डैन्बी मूर्ख बन जाता है। वह तिजोरी तोड़ता है और पकड़ा जाता है।)

Think about it (Page 25)

Question 1.
Did you begin to suspect, before the end of the story, that the lady was not the person Horace Danby took her to be? If so, at what point did you realise this, and how ?
(क्या आपको कहानी की समाप्ति से पहले ही संदेह होने लग गया था कि महिला वह व्यक्ति नहीं है जो होरेस डैन्बी उसे सोच रहा था? यदि ऐसा है तो किस बिंदु पर आपको ऐसा लगा, और कसे ?)
Answer:
In the beginning of the story, no suspicion is aroused. It appears that she is the mistress of the house. But when she says, “I have always liked the wrong kind of people”, there is a hint about her real identity. Later, when she persuades Danby to break open the safe, the suspicion is confirmed.
(कहानी के आरंभ में, कोई संदेह उत्पन्न नहीं हुआ। ऐसा लगता है कि वह घर की मालकिन है। लेकिन जब वह कहती है. “मैंने हमेशा गलत किस्म के लोगों को ही पसंद किया है”, इसमें उसके परिचय का संकेत मिलता है। बाद में जब वह डैन्बी को तिजोरी खोलने के लिए मना लेती है तो संदेह और पक्का हो जाता है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 2.
What are the subtle ways in which the lady manages to deceive Horace Danby into thinking she is the lady of the house? Why doesn’t Horace suspect that something is wrong?
वि कौन-कौन से चालाक तरीके हैं जिनसे महिला होरेस डैन्बी को यह अहसास करवा देती है कि वह घर की मालकिन है? होरेस को किसी गड़बड़ी के होने का संदेह क्यों नहीं होता है?)
Answer:
The lady is an experienced thief. She speaks with a lot of confidence. There is firmness in her voice. She poses to be the mistress of the house. She smiles while talking to him. Then she threatens to report to the police about Danby. Later she befools him by telling that she has forgotten the numbers to open safe. In this way, she convinces him that she is the mistress of the house.
(वह महिला एक अनुभवी चोर है। वह बहुत अधिक आत्मविश्वास से बातें करती है। उसकी आवाज में दृढ़ता है। वह घर की मालकिन होने का ढोंग करती है। वह उससे बातें करते समय मुस्कुराती है। तब वह डैन्बी के बारे में पुलिस को सूचना देने की धमकी भी देती है। बाद में वह उसे यह कहकर मूर्ख बना देती है कि वह तिजोरी खोलने वाला नंबर भूल गई है। इस प्रकार से वह उसे यकीन दिलाती है कि वह घर की मालकिन है।)

Question 3.
“Horace Danby was good and respectable—but not completely honest”. Why do you think this description is apt for Horace? Why can’t he be categorised as a typical thief?
(“होरेस डेन्ची अच्छा और सम्मानित-परंतु पूर्णतया ईमानदार नहीं था” आपके विचार में होरेस के लिए यह वर्णन बिल्कुल सही है? उसे एक विशेष (लाक्षणिक) चोर, क्यों नहीं कहा जा सकता है?
Answer:
This description aptly fits Horace. Horace Danby is not a regular or hardened criminal. He commits a theft to satisfy his love for books. In the society, he has reputation as ‘a good, host and respectable citizen’. He steals only once a year. So, he cannot be categorised as a typical thief.
(यह वर्णन होरेस के लिए बिल्कुल सटीक है। होरेस डैन्बी एक नियमित और पक्का अपराधी नहीं है। वह पुस्तकों के प्रति अपने प्यार को संतुष्ट करने के लिए चोरी करता है। समाज में उसका एक अच्छे और सम्मानित नागरिक’ के रूप में सम्मान है। वह साल में केवल एक बार चोरी करता है। इसलिए उसे विशेष (लाक्षणिक) चोर नहीं कहा जा सकता।)

Question 4.
Horace Danby was a meticulous planner but still he faltered. Where did he go wrong and why?
(होरेस डैन्बी एक अत्यधिक सावधान योजनाकार था लेकिन फिर भी वह डगमगा गया। उससे कहाँ गलती हुई और क्यों?)
Answer:
Horace Danby was a meticulous planner. Every year, he looted only one safe. So he planned carefully before stealing. But still he faltered and a lady befooled him. He could see through the lady’s sweet smile and crafty talk. He believed that she was the mistress of the house. She pretended that she had forgotten the numbers of the safe. He broke open the safe. But before doing so he had taken off his gloves. The police was able to trace him because of his fingerprints in the room.

(होरेस डैन्बी एक अत्यधिक सावधान योजनाकार था। हर वर्ष वह केवल एक तिजोरी लूटता था। इसलिए वह चोरी से पहले सावधानीपूर्वक योजना बनाता था। लेकिन फिर भी वह डगमगा गया और एक महिला ने उसे मूर्ख बना दिया। वह उस महिला की मधुर मुस्कान और उसके तराशे गए शब्दों को पहचान सकता था। उसने मान लिया कि वह उस घर की मालकिन थी। उसने ढोंग किया कि वह तिजोरी को खोलने वाला नंबर भूल गई है। उसका तिजोरी का ताला तोड़कर उसे खोल दिया। लेकिन ऐसा करने से पहले उसने अपने दस्ताने उतार लिए थे। पुलिस ने कमरे में उसकी उँगलियों के निशानों के आधार पर उसे गिरफ्तार कर लिया।)

Talk about it (Page 25)

Question 1.
Do you think Horace Danby was unfairly punished, or that he deserved what he got?
(आपके विचार में क्या होरेस डैन्बी को गलत सजा मिली थी, अथवा क्या वह इस सजा का हकदार था?)
Answer:
Yes, Horace Danby was unfairly punished. He was punished for a crime which he had not committed. He broke open the safe thinking that the lady was the mistress of the house. It is true that he committed the crime of entering the house and breaking open the safe. But he did not steal anything. So the punishment given to him was unjust.
(हाँ, होरेस डैन्बी को गलत सजा मिली थी। उसे ऐसे अपराध की सजा मिली थी जो उसने किया ही नहीं था। उसने यह सोचकर तिजोरी का ताला तोड़ा था कि वह महिला घर की मालकिन है। यह सच है कि उसने घर के अंदर घुसने का प्रयास करके और तिजोरी तोड़कर अपराध किया था। लेकिन उसने चुराया कुछ भी नहीं था। इसलिए उसे मिली सजा गलत थी।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 2.
Do intentions justify actions? Would you, like Horace Danby, do something wrong if you thought your ends justified the means? Do you think that there are situations in which it is excusable to act less than honestly?
(क्या इरादे कामों के औचित्य को सही ठहराते हैं? क्या आप भी होरेस डैन्ची की तरह कोई गलत काम करते यदि आप सोचते कि आपका साध्य आपके साधनों को सही ठहराता है? आपके विचार में क्या ऐसी स्थितियाँ भी हो सकती हैं जिनमें बेईमानीपूर्ण कार्य किए जाने को भी क्षमा किया जा सकता है?)
Answer:
No, intentions do not justify actions. One cannot commit a crime even if his intentions are right. Ends do not justify means. Honesty is the greatest virtue. I think there are no situations in which it is excusable to act less than honestly. Horace Danby committed crimes in order to buy books. That is a noble cause. However, a wrong action done for that noble cause cannot be excused. In the house, he broke open the safe for the sake of the lady. However, he had entered the house with the intention of stealing. Breaking into a house is in itself a crime. So the actions of Danby cannot be excused.

(नहीं, इरादे कामों को सही नहीं ठहराते हैं। चाहे किसी का इरादा बिल्कुल सही हो लेकिन वह अपराध नहीं कर सकता है। साध्य साधनों को सही नहीं ठहराता। ईमानदारी सबसे बड़ा गुण है। मेरे विचार में किसी भी परिस्थिति में बेईमानीपूर्वक कार्य करना क्षमा योग्य नहीं है। होरेस डैन्बी पुस्तकें खरीदने के लिए अपराध किया करता था। यह एक अच्छा काम है। लेकिन एक अच्छे काम के लिए एक गलत काम का किया जाना, इसे क्षमा नहीं किया जा सकता। उसने मकान मालकिन की खातिर तिजोरी खोली थी। हालाँकि उसने घर के अंदर चोरी करने के उद्देश्य से प्रवेश किया था। घर के अंदर सेंध लगाना अपने-आप में एक अपराध है। अतः डैन्बी के कार्य को क्षमा नहीं किया जा सकता।)

JAC Class 10th English A Question of Trust Important Questions and Answers

Very Short Answer Type Questions

Question 1.
What did Horace Danby like to collect?
Answer:
He liked to collect rare and expensive books.

Question 2.
What was the real profession of Horace Danby?
Answer:
He was a lock maker.

Question 3.
What was Horace Danby fond of?
Answer:
Horace Danby was fond of reading rare and expensive books.

Question 4.
What was the name of the dog at Shotover Grange?
Answer:
His name was Sherry.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 5.
Why did Horace take off his gloves?
Answer:
He took off his gloves to light the lighter.

Question 6.
Who is the real culprit – Horace or the lady in red?
Answer:
The lady in red is the real culprit.

Question 7.
Why did Horace Danby rob a safe every year?
Answer:
Horace Danby robbed a safe every year to manage enough money to buy rare and expensive books.

Question 8.
Where did Horace Danby decide to make a theft this year?
Answer:
This year he decided to make a theft at Shotover Grange.

Question 9.
What was Horace Danby suffering from?
Answer:
He was suffering from hay-fever.

Question 10.
Where was the safe in the room?
Answer:
It was behind a cheap painting.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 11.
How many times did Horace Danby make a theft in a year?
Answer:
Horace Danby made a theft only once in a year.

Question 12.
What did Horace Danby love?
Answer:
Horace Danby loved rare and expensive books.

Question 13.
How did Horace Danby manage to buy rare and expensive books?
Answer:
Horace Danby managed to buy rare and expensive book through a secret agent.

Question 14.
What did the young lady ask Horace Danby to do for her?
Answer:
She asked him to open the safe for her so that she might get the jewels to wear.

Question 15.
What work was given to Horace Danby in the Jail?
Answer:
He was given the job of a Librarian.

Question 16.
Who is the writer of the lesson A Question of Trust’?
Answer:
Victor Canning.

Short Answer Type Questions

Question 1.
Why is Horace Danby described as good and respectable but not completely honest?
(होरेस डैन्बी का एक अच्छे और सम्मानित परंत पूर्णतया ईमानदार व्यक्ति के रूप में वर्णन क्यों किया गया है।)
Answer:
Horace Danby was a good person. He made locks. He was very successful in his business. He had engaged two helpers in his business. But he was not completely honest because he robbed a safe every year.
(होरेस डैम्बी एक अच्छा आदमी था। वह ताले बनाता था। वह अपने व्यवसाय में बहुत सफल था। उसने अपने व्यवसाय में दो सहायक रखे हुए थे। लेकिन वह पूर्णतया ईमानदार नहीं था क्योंकि वह हर वर्ष एक तिजोरी लूटता था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 2.
Why did he rob every year? Was he a typical thief ? If so, why?
(वह हर वर्ष चोरी क्यों करता था? क्या वह विशेष प्रकार का चोर था? यदि था, तो कैसे ?)
Answer:
Horace loved reading rare and expensive books. So he robbed a safe every year to buy these books. He was a typical thief because he robbed only one safe every year.
(होरेस दुर्लभ और कीमती पुस्तकें पढ़ने का शौकीन था। इसलिए वह इन पुस्तकों को खरीदने के लिए हर वर्ष एक तिजोरी लूटता था। वह एक विशेष प्रकार का चोर था क्योंकि वह वर्ष में केवल एक तिजोरी ही लूटता था।)

Question 3.
Describe how Horace Danby planned his work ?
(वर्णन कीजिए कि होरेस डैन्बी ने अपने काम की योजना कैसे बनाई ?)
Answer:
Horace Danby studied the house at Shotover Grange for two weeks. He studied its rooms, its electric wiring, its paths and its garden. He was sure that the family was in London. The two servants had gone to the movies and they would not come back before four hours. He came out from behind the garden wall and entered the house. .
(होरेस डैन्बी ने दो सप्ताह तक शोटोवर ग्रॅज में मकान का अध्ययन किया। उसने इसके कमरों, बिजली की तारों, रास्तों और बाग का अध्ययन किया। उसे यकीन था कि परिवार लंदन गया हुआ था। दोनों नौकर फिल्म देखने जा चुके थे और उन्हें चार घंटे से पहले नहीं आना था। वह बाग की दीवार के पीछे से बाहर आया और घर में घुस गया।)

Question 4.
He was a very successful thief. What went wrong when he attempted to rob Shotover Grange?
(वह एक बहुत ही सफल चोर था। जब उसने शोटोवर ग्रेज को लूटने का प्रयास किया तो क्या गड़बड़ हो गई?).
Answer:
Danby was a very successful thief. He always used gloves while breaking a safe. He never left any fingerprints behind. This time when he started his work, he felt a little tickle in his nose. It was because of a big flower pot lying on the table. He was repeatedly sneezing. This happened wrong with him.
(डन्बी एक बहुत ही सफल चोर था। वह तिजोरी तोड़ते समय हमेशा दस्तानों का प्रयोग करता था। वह कभी भी उँगलियों के निशान पीछे नहीं छोड़ता था। इस बार जब उसने अपना काम आरंभ किया तो उसे अपने नाक में थोड़ी-सी परेशानी अनुभव हुई। यह मेज पर रखे एक बड़े फूलदान के कारण थी। वह बार-बार छींकें मार रहा था। उसके साथ यही गड़बड़ी थी।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 5.
What advice did the lady give Horace regarding his hay fever ? Was she really interested in his health?
(महिला ने होरेस को गर्मी के ज्वर के बारे में क्या सलाह दी ? क्या उसे वास्तव में ही उसके स्वास्थ्य में रुचि थी?)
Answer:
The lady told Horace that he could get rid of the disease if he found out which plant had given him the disease. She advised him that he should see a doctor. Actually, she was not interested in his health. She was just trying to be friendly and sympathatic.
(महिला ने होरेस को बताया कि वह बीमारी से छुटकारा पा सकता है यदि उसे यह पता चल जाए कि उसे यह बीमारी किस पौधे से हुई है। वह उसे डॉक्टर के पास जाने की भी सलाह देती है। वास्तव में, वह उसके स्वास्थ्य के प्रति चिंतित नहीं थी। वह उसके साथ केवल मित्रता और सहानुभूति प्रदर्शित करना चाहती थी।)

Question 6.
How often did Horace Danby rob every year? What did he do with the loot?
(होरेस डैन्बी एक वर्ष में कितनी बार चोरी करता था?)
Answer:
Every year, he breaks a safe. With this money he buys books. The stolen money lasts for twelve months. Then he steals again the next year.
(प्रत्येक वर्ष, एक तिजोरी तोड़ता है। इस पैसे से वह किताबें खरीदता है। चुराई गई धनराशि बाहर महीनों तक चलती फिर अगले वर्ष वह दोबारा चोरी करता है।)

Question 7.
In what way could his arrest have helped her?
(होरेस के गिरफ्तार होने से उस युवती को क्या मदद मिल सकती थी ?)
Answer:
If Horace Danby was arrested for the jewels robbery at Shotover Grange then she could be safe. She got the jewels but Horace broke the safe for her. Thus, his arrest could have helped her by making her tension free.
(यदि होरेस डैन्बी शोटोवर रेंज में आभूषणों की चोरी करने के लिए गिरफ्तार कर लिया जाता तो वह युवा महिला सुरक्षित हो सकती थी। उसने आभूषण प्राप्त किए परंतु उसके लिए तिजोरी होरेस ने तोड़ी थी। इसलिए उसकी गिरफ्तारी उसे तनावमुक्त करने में उसकी सहायता करती।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 8.
Did Horace get the jewels from the Grange safe? If not, why did the police arrest him?
(क्या होरेस को ग्रेज की तिजोरी से आभूषण प्राप्त हुए वे ? यदि नहीं, तो फिर पुलिस ने उसे गिरफ्तार क्यों किया?)
Answer:
No, Horace did not get the jewels from the Grange safe. But he broke open the safe for the wife of the owner of the house without gloves. But in reality that lady was a burglar. Thus, there were Horace’s fingerprints all over the room. So, the police arrested him for stealing the jewels from the Grange safe.
(नहीं, होरेस ने ग्रेज की तिजोरी से आभूषणों को नहीं चुराया था। लेकिन उसने बिना दस्तानों के मकान मालिक की पत्नी के लिए तिजोरी को तोड़कर खोला था। लेकिन वास्तव में, वह महिला एक चोर थी। अतः सारे कमरे में होरेस की उँगलियों के निशान थे। इसलिए पुलिस ने उसे ग्रेज की तिजोरी से आभूषण चुराने के लिए गिरफ्तार कर लिया।) ।

Question 9.
Who is the real culprit in this story, the lady or Horace ? How did he/she manage to rob the safe without leaving a single fingerprint ?
(इस कहानी में वास्तविक अपराधी कौन है-युवती या होरेस ? उसने तिजोरी को बिना उँगलियों के निशान छोड़े कैसे लूटा ?)
Answer:
In this story, the real culprit is the young lady. She managed to trick Horace for breaking the safe for her. She did not even touch the safe herself. She managed to get all the jewels. She had to do no physical exercise for this. In this way she managed to rob the safe without leaving a single fingerprint
(इस कहानी में वास्तविक अपराधी युवा महिला है। उसने चाल चलकर होरेस से तिजोरी तुड़वाई। उसने स्वयं तिजोरी को हाथ – भी नहीं लगाया। उसने सारे आभूषण प्राप्त कर लिए। इसके लिए उसे जरा-सी भी शारीरिक कसरत नहीं करनी पड़ी। इस प्रकार से उसने एक भी उँगली के निशान छोड़े बिना तिजोरी को लूट लिया।)

Question 10.
What do you think is the meaning of the phrase ‘honour among thieves’?
(आपके विचार में ‘चोरों के बीच वफादारी’ वाक्य का क्या अर्थ है ?)
Answer:
The phrase ‘honour among thieves’ means that thieves have their code of conduct. One thief is honest to the other thief. They never betray one another.
(‘चोरों के बीच वफादारी’ वाक्य का अर्थ है कि चोरों के आपस में व्यवहार के अपने नियम होते हैं। एक चोर दूसरे चोर के प्रति ईमानदार होता है। वे आपस में कभी भी एक-दूसरे को धोखा नहीं देते हैं।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 11.
Which of the two lacked honour?
(दोनों में से किसमें बेवफाई थी?)
Answer:
Among the two the young lady lacked honour. She came face to face with a thief, still she tricked him. But Horace did not know that she was a thief. She got all the jewels. She went free but poor Horace was arrested. It was against the profession of thieves.
(दोनों में से युवा महिला ने बेवफाई की। उसका एक चोर से सामना हुआ फिर भी उसने उसे धोखा दिया। लेकिन होरेस नहीं जानता था कि वह महिला एक चोर है। उसने सारे आभूषण पा लिए। वह तो आजाद रही लेकिन बेचारा होरेस गिरफ्तार हो गया। यह चोरों के पेशे के खिलाफ था।)

Question 12.
Describe Horace Danby.
(होरेस डैन्बी का वर्णन कीजिए।)
Answer:
Horace Danby was a good and respectable citizen. He was about fifty years old, but he was unmarried. He was a locksmith. He was very successful in his business. He was usually very well and healthy except for attacks of hay fever. But he was not completely honest.
(होरेस डैन्बी एक अच्छा और सम्मानजनक नागरिक था। वह लगभग पचास वर्ष का था परंतु वह अविवाहित था। वह ताले बनाने का काम करता था। वह अपने व्यवसाय में बहुत ही सफल था। वह प्रायः ठीक तथा स्वस्थ रहता था, केवल गर्मी के ज्वर की बीमारी को छोड़कर। लेकिन वह पूर्णतया से ईमानदार नहीं था।)

Question 13.
How did Horace Danby managed to get rare and expensive books?
(होरेस रेन्बी दुर्लभ और बहुमूल्य पुस्तकें कैसे प्राप्त करता था ?)
Answer:
Horace Danby loved rare and expensive books. He bought them secretly through an agent. But for this he had to rob a safe every year because he had not enough money to buy these books. In this way he managed to get these rare and expensive books.
(होरेस डैन्बी दुर्लभ और बहुमूल्य पुस्तकों से प्यार करता था। वह उन्हें एक एजेंट के माध्यम से गुप्त रूप से खरीदता था। लेकिन इसके लिए उसे हर वर्ष एक तिजोरी लूटनी होती थी क्योंकि उसके पास इन पुस्तकों को खरीदने के लिए पर्याप्त धन नहीं होता था। इस प्रकार वह दुर्लभ और बहुमूल्य पुस्तकें प्राप्त कर लेता था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 14.
What did the young lady ask Horace to do for her?
(युवा महिला ने होरेस को उसके लिए क्या करने को कहा?)
Or
What story did the lady tell Horace to get the jewels?
(महिला ने होरेस को आभूषण प्राप्त करने के लिए क्या कहानी बताई?)
Answer:
The young lady told Horace that she had come there to take the jewels from the safe. She said that she had to wear them that night in a party. She made an excuse of forgetting the number to open the safe. So she compelled Horace to break open the safe for her if not she would tell the police everything about him.
(युवा महिला ने होरेस को कहा कि वह वहाँ तिजोरी से अपने आभूषण लेने आई थी। उसने कहा कि उसे आभूषणों को उस रात एक पार्टी में पहनना था। उसने बहाना बनाया कि वह तिजोरी खोलने वाले नंबर भूल गई है। इसलिए उसने होरेस को बाध्य किया कि वह उसके लिए तिजोरी खोले वरना वह पुलिस को उसके बारे में सब कुछ बता देगी।)

Question 15.
What story did Horace tell to the police when he was arrested?
(जब उसे गिरफ्तार किया गया तो होरेस ने पुलिस को क्या कहानी बताई ?)
Answer:
He told the police that he had not stolen any jewels. He said that he broke open the safe for the young wife of the owner of the house. But the wife was herself an old lady of about sixty with gray-hair. So, none believed his story.
(उसने पुलिस को बताया कि उसने आभूषण नहीं चुराए थे। उसने बताया कि उसने मकान मालिक की युवा पत्नी के कहने पर तिजोरी तोड़ी थी। लेकिन मकान मालिक की पत्नी एक साठ वर्षीय, सफेद बालों वाली महिला थी। इसलिए किसी ने भी उसकी कहानी पर विश्वास नहीं किया।)

Essay Type Questions

Question 1.
Write a character-sketch of Horace Danby.
(होरेस छैन्ची का चरित्र-चित्रण कीजिए।)
Answer:
Horace Danby was a good and respectable citizen. He was about fifty years old but he was unmarried. He was a locksmith. He was very successful in his business. Despite of all these qualities, he was not completely honest. He had been to jail once. So he hated the thought of jail. He loved rare and expensive books. He broke a safe every year to have enough money to buy books. He was a careful burglar. He planned his work well. He was very careful while robbing a safe. He wore gloves and never left fingerprints on the scene of crime. Since he was a locksmith so it was very easy for him to break any safe.. Once he was duped by a young lady. That young lady, who pretended to be the owner’s wife, was also a thief. He gave all the jewels to the young lady and left his fingerprints all over the room. Thus, he was arrested and sent to prison. Now he did not like the thought of ‘honour among thieves’ any more.

(होरेस डैन्बी एक अच्छा और इज्जतदार नागरिक था। वह लगभग पचास वर्ष का था लेकिन वह अविवाहित था। वह ताले बनाने का काम करता था। वह अपने व्यवसाय में बहुत सफल था। इन सभी गुणों के बावजूद वह पूर्ण रूप से ईमानदार नहीं था। वह एक बार जेल भी जा चुका था। इसलिए वह जेल जाने के विचार से घृणा करता था। . वह दुर्लभ और कीमती पुस्तकों से प्यार करता था। वह पुस्तकें खरीदने के लिए पर्याप्त धन प्राप्त करने के लिए हर वर्ष एक तिजोरी तोड़ता था। वह बहुत सावधानी से काम करने वाला चोर था। वह अपने काम की अच्छे ढंग से योजना बनाता था। तिजोरी लूटते समय वह बहुत सावधान रहता था। वह दस्ताने पहनता था और अपराध के स्थान पर उँगलियों के निशान नहीं छोड़ता था। क्योंकि वह ताले बनाने का काम करता था इसलिए तिजोरी तोड़ना उसके लिए बहुत आसान काम था। एक बार एक युवा महिला ने उसे धोखा दिया। उस युवा महिला ने मकान मालिक की पत्नी होने का दिखावा किया जबकि वह भी एक चोर थी। उसने सारे आभूषण उस युवा महिला को दे दिए और सारे कमरे में अपनी उँगलियों के निशान छोड़ दिए। अतः वह गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया। अब वह ‘चोरों के बीच वफादारी’ के विचार को पसंद नहीं करता था।)

Question 2.
Describe Horace Danby’s encounter with the young lady.
(युवा महिला के साथ होरेस डैन्बी की मुलाकात का वर्णन कीजिए।)
or
“The lady in the red was a more professional theif than Horace Danby’. Give a reasoned answer.
(‘लाल वस्त्रों वाली औरत होरेस छैन्बी से ज्यादा पेशेवर चोर दिखाई दे रही थी।’ तर्कपूर्ण उत्तर दें।)
Answer:
Horace Danby was going to rob the safe at Shotover Grange. He had cut the wires of the burglar alarm. But the flowers on the table made a tickle in his nose and he was sneezing repeatedly. Just then a young lady dressed in red came in. She spoke friendly to Danby but her sound was firm. She said that she was the owner’s wife. She told him that she had come there to take the jewels from the safe. She had to wear them that night in a party. She made an excuse that she had forgotten the number to open the safe. She told the thief that she would let him go if he opened the safe for her. Danby was taken in. He opened the safe without gloves. He gave all the jewels to the young lady. She went away safely with the jewels but Danby was arrested for the jewels robbery and sent to prison.

(होरेस डैन्बी शोटोवर ग्रेज में तिजोरी लूटने ही वाला था। उसने चोरी की आवाज देने वाली घंटी की तारें काट दी थीं। लेकिन मेज पर रखे फूलों ने उसके नाक में कुछ गड़बड़ी पैदा की और वह बार-बार छींकें मार रहा था। तभी एक युवा महिला, जिसने लाल रंग के वस्त्र पहन रखे थे, अंदर आई। वह डैन्बी से मित्रतापूर्वक ढंग से बोली लेकिन उसकी आवाज में दृढ़ता थी। उसने कहा कि वह मालिक की पत्नी है। उसने उसे बताया कि वह तिजोरी से आभूषण लेने के लिए वहाँ आई थी। उसे ‘आभूषणों को उस रात एक पार्टी में पहनना था। उसने बहाना बनाया कि वह तिजोरी खोलने के लिए प्रयोग होने वाले नंबर भूल गई है। उसने चोर से कहा कि यदि उसने उसके लिए तिजोरी खोल दी तो वह उसे जाने देगी। डैन्बी मान गया। उसने बिना दस्तानों के तिजोरी खोल दी। उसने सारे आभूषण उस युवा महिला को दे दिए। वह आभूषण लेकर सुरक्षित ढंग से वहाँ से चली गई लेकिन डैन्बी को आभूषणों की चोरी के अपराध में गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया।)

Question 3.
What were Horace Danby’s plans for his latest robbery?
(अपनी नवीनतम लूट के लिए होरेस डैन्ची की क्या योजनाएँ थीं?).
Answer:
Horace was sure that the robbery he was planning for that year was going to be as successful as all the others so far. He had been observing and studying the house at Shotover Grange for two weeks. He had observed everything minutely. That afternoon, when he planned to rob the house, he had seen the two servants, who remained in the Grange, going to the movies. He came out from behind the garden wall. He had packed his tools carefully in a bag on his back. Horace knew that there were about fifteen thousand pounds worth of jewels in the Grange safe and if he sold them one by one, he was sure to get enough money to last him for another year.

(होरेस को इस बात का पक्का यकीन था कि इस बार जिस चोरी की उसने योजना बनाई है वह भी पहले की चोरियों की भाँति पूर्ण रूप से सफल होगी। दो सप्ताह से वह शोटोवर रेंज में मकान का निरीक्षण कर रहा था। उसने हर चीज का बारीकी से निरीक्षण कर लिया था। उस शाम जब उसने चोरी करने की योजना बनाई। उसने उन दो नौकरों को, जो ग्रेज में रहते थे, सिनेमा जाते हुए देखा। वह बगीचे की दीवार के पीछे से बाहर निकला। उसने एक थैले में अपने औजारों को सावधानीपूर्वक पैक कर रखा था जिसे उसने अपनी पीठ पर बाँधा हुआ था। होरेस जानता था कि ग्रेज तिजोरी में लगभग 15 हजार पौंड की कीमत के जेवर थे और यदि वह उन्हें एक-एक करके बेचता तो निश्चित रूप से उसे एक अच्छी रकम मिल जाती जोकि उसके पास पूरे एक साल तक और चल सकती थी।)

Multiple Choice Questions

Question 1.
Horace Danby was about …………………years old.
(A) 40
(B) 45
(C) 50
(D) 55
Answer:
(C) 50

Question 2.
Horace Danby …
(A) was unmarried
(B) was going to be married
(C) had one son
(D) had two sons and a daughter
Answer:
(A) was unmarried

Question 3.
Horace Danby did the job of:
(A) making toys
(B) making locks
(C) writing books
(D) making jewellery
Answer:
(B) making locks

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 4.
Horace Danby was fond of:
(A) watching movies
(B) listening music
(C) going to public parks
(D) reading rare and expensive books
Answer:
(D) reading rare and expensive books

Question 5.
Why did Horace rob a safe every year?
(A) to live in style
(B) to buy rare and valuable books
(C) to live comfortably
(D) to support his family
Answer:
(B) to buy rare and valuable books

Question 6.
Where did Horace decide to make a theft this time?
(A) Montex Grange
(B) Shotover Grange
(C) Westbury Grange
(D) Mintunbury Grange
Answer:
(B) Shotover Grange

Question 7.
Where had the servant at Shotover Grange gone that afternoon?
(A) to their homes
(B) to the market
(C) to the park
(D) to cinema
Answer:
(D) to cinema

Question 8.
What did the young lady threaten to do?
(A) to inform the police
(B) to let Sherry loose at him
(C) to raise alarm
(D) to call the neighbours
Answer:
(A) to inform the police

Question 9.
How many times did Horace Danby make a theft in a year?
(A) only once
(B) twice
(C) thrice
(D) every month
Answer:
(A) only once

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

Question 10.
Where was the safe in the room?
(A) behind a cheap painting
(B) behind a curtain
(C) behind a cupboard
(D) behind the bed box
Answer:
(A) behind a cheap painting.

Question 11.
When Horace was busy doing his work of theft, what thing proved a hindrance in his work?
(A) the dog Sherry
(B) flowers
(C) the lady
(D) the heat of the day
Answer:
(B) flowers

Question 12.
The young lady was in a ………………….. dress.
(A) red
(B) green
(C) yellow
(D) white
Answer:
(A) red

Question 13.
How was Horace in his business of lock making?
(A) failure
(B) very successful
(C) not took interest
(D) was in a big debt
Answer:
(B) very successful

Question 14.
Horace Danby was suffering from:
(A) cold
(B) cough
(C) hay-fever
(D) teeth ache
Answer:
(C) hay-fever

Question 15.
Why did Horace take-off his gloves?
(A) to break the safe
(B) to leave that place
(C) to light the lighter
(D) to give her the jewels
Answer:
(C) to light the lighter

A Question of Trust Summary in English

A Question of Trust Introduction in English

This is a story of two burglars who want to rob the same safe. The name of the first burglar is Horace Danby. He goes to rob a safe. There he meets a young lady who pretends herself to be the wife of the owner of the house. But in reality, she is also a burglar. Horace opens the safe for her. He leaves his fingerprints all over the room. The lady enjoys jewels and Horace Danby is arrested by the police. He gets a term in prison. Now he is the assistant librarian in prison.

A Question of Trust Summary in English

Horace Danby was a good man. He was about fifty years old but he was unmarried. He was a locksmith. He was very successful in his business. He had engaged two assistants to help him. Being good and respectable, he was not completely honest. He loved rare and expensive books. He bought them at any cost. For this purpose, he robbed a safe in one year. He bought these books secretly through an agent. Before making a theft, he planned his work well. This time he had studied the house at Shotover Grange for two weeks. He studied even the minutest thing about the house. The family was in London. The two servants who looked after the house had gone to the movies. He came out from behind the garden wall and entered the house. He took the key from the kitchen door hook. He put on a pair of gloves and opened the door.

He was always careful enough to leave any fingerprints. He spoke politely to the little dog. He cut-off the wires of the burglar alarm. He arranged his tools carefully. There was a big pot of flowers on the table. The scent of flowers tickled his nose. He sneezed repeatedly. He thought that this disease would hinder his work. He burried his face in his handkerchief. Then, he heard the voice of a young lady behind him. She spoke kindly to him. She pretended to be the wife of the owner of that house. She said that she had come there suddenly because she needed her jewels to wear them in the party that night. Danby begged the lady to let him go home. He hated going to prison. He promised her that he would never rob again in his life. The young lady asked him to do one work for her, then she would let him go. The burglar said that he would do anything gladly for her.

The young lady said that she needed the jewels but she had forgotten the number. She asked him to open the safe. Danby opened the safe without gloves. The young lady got the jewels and Horace Danby went away happily because he had escaped from a difficult situation. For two days, Horace kept his promise to the young lady. But on the third day, he decided to rob some other safe. But he never got the chance to put his plan into practice. By noon a policeman had arrested him for the jewel robbery at Shotover Grange. His fingerprints were found all over the room. He admitted that he had opened the safe for the young wife of the owner of the house. But the owner’s wife was about sixty years old. She said that the story was nonsense. No one believed Danby. He was sent to jail. Now he was the assistant librarian in the prison. He often thought of the charming, young lady who was in the same profession as he was. Now he did not like the thought of honour among thieves.

A Question of Trust Summary in Hindi

A Question of Trust Introduction in Hindi

(यह दो चोरों की एक कहानी है जो एक ही तिजोरी को लूटना चाहते हैं। पहले चोर का नाम होरेस डैन्बी है। वह एक तिजोरी लूटने जाता है। वहाँ उसे एक युवा महिला मिलती है जो स्वयं को मकान मालिक की पत्नी होने का दिखावा करती है। लेकिन वास्तव में वह भी एक चोर है। होरेस उस महिला के लिए तिजोरी खोलता है। वह सारे कमरे में अपनी उँगलियों के निशान छोड़ देता है। वह महिला आभूषणों को प्राप्त कर लेती है और होरेस डैन्बी को पुलिस के द्वारा गिरफ्तार कर लिया जाता है। वह जेल में समय बिताता है। अब वह जेल में सहायक पुस्तकालयाध्यक्ष है।)

A Question of Trust Summary in Hindi

होरेस डैन्बी एक अच्छा आदमी था। वह लगभग पचास वर्ष का लेकिन अविवाहित था। वह ताले बनाने का काम करता था। वह अपने व्यवसाय में बहुत सफल था। उसने अपनी मदद के लिए दो सहायक रखे हुए थे। अच्छा और सम्मानित व्यक्ति होते हुए भी वह पूर्णतया ईमानदार नहीं था। वह दुर्लभ और कीमती पुस्तकों से प्यार करता था। वह उन्हें किसी भी कीमत पर खरीद लेता था। इस उद्देश्य के लिए वह वर्ष में एक तिजोरी लूटता था। वह एक एजेंट के माध्यम से इन पुस्तकों को गुप्त रूप से खरीद लेता था। चोरी करने से पहले वह अपने काम की अच्छी तरह से योजना बनाता था। इस बार उसने शोटोवर रेंज में मकान का दो सप्ताह तक अध्ययन किया। उसने घर के बारे में छोटी-से-छोटी चीज तक का अध्ययन किया। वह परिवार लंदन में था। दो नौकर जो घर की देखभाल करते थे, फिल्म देखने जा चुके थे। वह बाग की दीवार के पीछे से बाहर निकला और घर में घुस गया।

उसने रसोई के दरवाजे की हुक से चाबी उतारी। उसने दस्ताने पहने और दरवाजा खोल लिया। वह हमेशा सावधान रहता था कि कहीं उँगलियों के निशान न रह जाएँ। वह छोटे कुत्ते के साथ बड़े प्यार से बोला। उसने चोर-घंटी की तारों को काट दिया। उसने अपने औजारों को सावधानीपूर्वक क्रमबद्ध किया। मेज पर फूलों का एक बड़ा गुलदस्ता रखा हुआ था। फूलों की सुगंध ने उसके नाक में थोड़ी-सी परेशानी पैदा की। वह बार-बार छींकें मार रहा था। उसने सोचा कि इस बीमारी (फूलों) के कारण उसके काम में बाधा पैदा होगी। उसने अपने चेहरे को रूमाल में छुपा लिया।
तब उसने अपने पीछे से एक युवा महिला की आवाज सुनी। वह उसके साथ दयालुतापूर्वक बोली। उसने स्वयं को उस घर के मालिक की पत्नी के रूप में प्रस्तुत (दिखावा) किया। उसने कहा कि वह वहाँ अचानक जेवरों को लेने आई थी क्योंकि उसे उस रात पार्टी में पहनने के लिए उनकी आवश्यकता थी। डैन्बी ने उस महिला से उसे घर जाने देने की याचना की। वह जेल जाने से घृणा करता था। उसने उससे वायदा किया कि वह जीवन में कभी दोबारा चोरी नहीं करेगा। युवा महिला ने उससे कहा कि पहले वह उसके लिए एक काम करेगा और तब वह उसे जाने देगी। चोर ने कहा कि वह प्रसन्नतापूर्वक उसके लिए कुछ भी करने के लिए तैयार है।

युवा महिला ने कहा कि उसे जेवरों की आवश्यकता है परंतु वह तिजोरी खोलने के नंबर भूल गई है। उसने उसे तिजोरी खोलने के लिए कहा। डैन्बी ने बिना दस्तानों के तिजोरी खोल दी। युवा महिला को जेवर प्राप्त हो गए और डैन्बी खुशी-खुशी चला गया क्योंकि वह एक कठिन परिस्थिति से बच चुका था। दो दिन तक होरेस ने उस युवा महिला के साथ किए गए अपने वायदे को निभाया। लेकिन तीसरे दिन उसने किसी और तिजोरी को लूटने का निर्णय किया। लेकिन उसे अपनी योजना को अमल में लाने का कभी भी अवसर प्राप्त नहीं हुआ। दोपहर तक एक सिपाही ने शोटोवर रेंज में आभूषणों की चोरी के आरोप में उसे गिरफ्तार कर लिया था। सारे कमरे में उसकी उँगलियों के निशान पाए गए। उसने कहा कि उसने तिजोरी मकान मालिक की युवा पत्नी के लिए खोली थी। लेकिन मकान मालिक की पत्नी साठ वर्षीय वृद्धा थी। उसने कहा कि यह कहानी बकवास है। किसी ने भी छैन्बी की बात पर विश्वास नहीं किया। उसे जेल भेज दिया गया। अब वह जेल में सहायक पुस्तकालयाध्यक्ष था। वह हमेशा उस आकर्षक, युवा महिला के बारे में सोचता रहता था जो कि उसी पेशे में थी जिसमें कि वह था। अब वह ‘चोरों के बीच वफादारी’ के विचार को पसंद नहीं करता था।

A Question of Trust Translation in Hindi

[PAGE 20] : सभी सोचते थे कि होरेस डैन्बी एक अच्छा, ईमानदार नागरिक था। वह लगभग पचास वर्ष का और अविवाहित था और वह एक चौकीदार के साथ रहता था जो उसके स्वास्थ्य के बारे में चिंतित रहता था। वास्तव में, वह गर्मी के बुखार (जुकाम) से पीड़ित होने के अतिरिक्त प्रायः स्वस्थ और प्रसन्न रहता था। वह ताले बनाता था और अपने व्यवसाय में काफी सफल था और उसने दो सहायक रखे हुए थे। हाँ, होरेस डैन्बी एक अच्छा और सम्मानित व्यक्ति था लेकिन वह पूर्ण रूप से ईमानदार नहीं था। पंद्रह वर्ष पहले वह एक कारावास पुस्तकालय में अपनी पहली और इकलौती सजा काट चुका था। होरेस को दुर्लभ और कीमती पुस्तकों से प्यार था। इसलिए वह हर वर्ष एक तिजोरी लूटता था। प्रत्येक वर्ष वह उसकी सावधानीपूर्वक योजना बनाया करता था, जो उसे करना होता था, इतना धन चुराया करता था जो पूरे एक वर्ष तक चल सकता था और एक अभिकर्ता के माध्यम से अपनी मनपसंद पुस्तकें चुपचाप खरीद लिया करता था।

जुलाई महीने की चमचमाती धूप में घूमते हुए उसे इस बात का पक्का यकीन हो गया कि इस बार की चोरी भी अन्य चोरियों की तरह उतनी ही सफल रहेगी। वह शोटोवर ग्रेज वाले घर का दो सप्ताह से अध्ययन कर रहा था, उसके कमरों, बिजली की तारों, रास्तों और बाग को देख रहा था। उस दिन दोपहर बाद दोनों नौकर, जो ग्रेज में रहते थे जबकि परिवार लंदन में रहता था, फिल्म देखने जा चुके थे। होरेस ने उन्हें जाते हुए देखा और नाक में गर्मी के ज्वर (जुकाम) का कुछ असर होने के बावजूद भी वह प्रसन्न हो रहा था। बाग की दीवार के पीछे से वह बाहर आया, उसके औजार उसकी पीठ के पीछे एक थैले में सावधानीपूर्वक बँधे हुए थे। ग्रेज की तिजोरी में लगभग पंद्रह हजार पौंड की कीमत के आभूषण थे। यदि वह उन्हें एक-एक करके बेचता तो उसे पाँच हजार पौंड प्राप्त होने की आशा थी जो उसे एक और वर्ष तक प्रसन्न रखने के लिए पर्याप्त थे।

[PAGE21]: पतझड़ के मौसम में बिक्री के लिए तीन बहुत ही रोचक पुस्तकें आ रही थीं। अब उसे धन प्राप्त हो जाएगा जिससे वह मनचाही पुस्तकें खरीद सके। उसने चौकीदार को बाहर रसोई के दरवाजे के ऊपर खूटी पर चाबी को टाँगते हुए देख लिया था। उसने दस्ताने पहने, चाबी ली और दरवाजा खोला। वह हमेशा सावधान रहता था कि कहीं उँगलियों के निशान न पड़ जाएँ।
रसोईघर में एक छोटा कुत्ता लेटा हुआ था। वह हिला, शोर किया और मैत्रीपूर्ण ढंग से अपनी पूँछ हिलाई। जब होरेस उसके पास से गुजरा तो उसने कहा, “शैरी, ठीक है।” कुत्तों को शांत रखने के लिए आपको उनके सही नामों से पुकारना होता है और उनके प्रति प्यार दिखाना होता है। तिजोरी बैठक-कक्ष में, एक घटिया सी पेंटिंग (चित्रकारी) के पीछे थी। होरेस एक पल के लिए हैरान हुआ कि क्या उसे पुस्तकों के स्थान पर चित्रों का संग्रह करना चाहिए। लेकिन वे बहुत स्थान लेती थीं। एक छोटे-से घर में तो पस्तकें ही सही थीं। मेज पर फूलों का एक बहुत बड़ा गुलदस्ता था और होरेस को अपने नाक में कुछ परेशानी सी महसूस हुई। उसने हल्की-सी छींक मारी और तब अपना थैला नीचे रख दिया। उसने सावधानीपूर्वक अपने औजारों को क्रमबद्ध किया। नौकरों के लौटने से पहले उसके पास चार घंटे का समय था।

तिजोरी खोलना कोई कठिन कार्य नहीं था क्योंकि उसने अपना सारा जीवन तालों और तिजोरियों के बीच गुजारा था। चोर घंटी बहुत घटिया बनी थी। वह उसकी तारें काटने के लिए हॉल में गया। वह वापस आया और जोर-से छींक मारी जब फूलों की सुगंध पुनः उस तक पहुँची। होरेस ने सोचा, जब लोगों के पास मूल्यवान वस्तुएँ होती हैं वे कितनी मूर्खता करते हैं। पत्रिका के एक लेख में इस मकान का वर्णन किया गया था जिसमें सभी कमरों की योजना और इस कमरे का चित्र दिया गया था। लेखक ने तो इस बात का भी उल्लेख कर दिया था कि तस्वीर के पीछे एक तिजोरी छुपी हुई है! लेकिन होरेस ने पाया कि फूल उसके काम में रुकावट पैदा कर रहे थे। उसने अपना चेहरा रूमाल से ढक लिया। तब उसने गलियारे में यह कहती हुई आवाज सुनी, “यह क्या है ? जुकाम या गर्मी का बुखार ?” इससे पहले कि वह सोच सकता, होरेस ने कहा, “गर्मी का बुखार।” और अपने आपको पुनः छींकते हुए पाया। उस आवाज ने कहा : “आप एक विशेष विधि द्वारा इसका इलाज कर सकते हो, आपको पता है, यदि आप पता लगा लें कि आपको यह बीमारी किस पौधे से होती है। मैं सोचती हूँ आपको डॉक्टर से मिलना अधिक ठीक रहेगा, यदि आप अपने काम (चोरी) के प्रति गंभीर हो। मैंने आपकी आवाज को अभी-अभी घर की छत पर सुना था।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

[PAGE 22]: यह एक शांत और दयालुता भरी आवाज थी, लेकिन इसमें एक दृढ़ता थी। गलियारे में एक महिला खड़ी थी, और शैरी उसके शरीर से अपना शरीर रगड़ रहा था। वह युवा और अत्यधिक सुंदर थी और उसने लाल रंग के वस्त्र पहन रखे थे। वह चलकर अँगीठी तक आई और वहाँ पर जेवर फैला दिए। “लेट जाओ, शैरी” वह बोली, “सभी समझ जाएँगे कि मैं एक महीने से बाहर गई हुई थी!” वह होरेस की ओर देखकर मुस्कुराई और अपनी बात जारी रखी, “फिर भी, मैं ठीक समय पर आ गई यद्यपि मैंने आते ही चोर से मिलने की आशा नहीं की थी।” होरेस को कुछ आशा थी क्योंकि वह उससे मिलकर प्रसन्न लग रही थी। यदि वह उसके साथ ठीक ढंग से व्यवहार करे तो वह संकट से बच सकता था। उसने उत्तर दिया, “मैंने भी घर के किसी सदस्य के मिलने की आशा नहीं की थी।” उसने सिर हिलाया, “मैं देख रही हूँ कि आपको मुझसे मिलकर क्या परेशानी हुई है। आप क्या करने जा रहे हो ?” होरेस ने कहा, “मेरा पहला विचार तो भाग जाने का था।” “निःसंदेह, तुम ऐसा कर सकते थे। लेकिन मैं पुलिस को टेलीफोन करके सब कुछ बता देती। वे तुम्हें तुरंत काबू कर लेते।”

[PAGE 23]: होरेस ने कहा, “मैं सबसे पहले टेलीफोन की तारें काट देता और तब……।” वह थोड़ा हिचकिचाया, उसके चेहरे पर एक मुस्कान आई, “मैं इस बात को यकीनी (निश्चित) करता कि तुम कुछ समय के लिए तो कुछ भी न कर सकती। मेरे लिए कुछ ही घंटे पर्याप्त होते।” उसने उसकी ओर गंभीरतापूर्वक देखा। “तुम मुझे चोट पहुँचाते ?” . होरेस थोड़ी देर चुप रहा और तब कहा, “मैं सोचता हूँ जब मैंने ऐसा कहा तो मैं तुम्हें डराने का प्रयास कर रहा था।” “तुमने मुझे डराया नहीं।” होरेस ने सुझाव दिया, “यह बहुत बढ़िया रहेगा यदि आप इस बात तो भूल जाएँ कि आपने मुझे कभी देखा था। मुझे जाने दो।” उसकी आवाज एकदम पैनी हो गई। “मैं क्यों जाने दूँ ? तुम मुझे लूटने जा रहे थे। यदि मैं तुम्हें जाने दूँ, तो तुम किसी और को ठग लोगे। समाज की तुम्हारे जैसे लोगों से रक्षा की जानी चाहिए।” होरेस मुस्कुराया, “मैं उस प्रकार का व्यक्ति नहीं हूँ जो समाज के लिए खतरा होता है। मैं केवल उन लोगों के यहाँ चोरी करता हूँ जिनके पास बहुत सारा पैसा होता है। मैं एक बहुत अच्छे काम के लिए चोरी करता हूँ। और मैं जेल जाने के विचार से घृणा करता हूँ।”

दा वह हँस पड़ी और उसने (होरेस ने) यह सोचते हुए याचना की कि उसने उसे मना लिया है, “देखो, मेरा आपसे कुछ भी माँगने का कोई अधिकार नहीं है, लेकिन मैं परेशान हूँ। मुझे जाने दो और मैं वचन देता हूँ कि कभी भी इस प्रकार का काम नहीं करूँगा। यह मेरा वास्तविक अभिप्राय है।” वह शांत थी, उसे निकटता से निहार रही थी। तब उसने कहा, “तुम वास्तव में जेल जाने से डर रहे हो, क्या तुम डर नहीं रहे हो?” वह अपना सिर हिलाते हुए उस तक आ गई, “मैंने हमेशा गलत प्रकार के लोगों को पसंद किया है।” उसने मेज के ऊपर से एक चाँदी का डिब्बा उठाया और उसमें से एक सिगरेट बाहर निकाली। होरेस ने, उसे प्रसन्न करने के लिए उत्सुक होते हुए और यह देखते हुए कि वह उसकी मदद करेगी, अपने दस्ताने उतारे और उसे अपना सिगरेट लाइटर दे दिया। “आप मुझे जाने दोगी ?” उसने लाइटर उसकी ओर किया। “हाँ, परंतु केवल तब जब तुम मेरे लिए कुछ करोगे।” “कुछ भी जो आप कहें।” “हमारे लंदन जाने से पहले, मैंने अपने पति को वचन दिया था कि मेरे सारे आभषणों को बैंक में डाल देना. लेकिन मैंने उन्हें यहीं तिजोरी में छोड़ दिया था। मैं आज रात उन्हें एक पार्टी में पहनना चाहती हूँ। इसलिए मैं उन्हें लेने नीचे आई थी, परंतु …” होरेस मुस्कुराया, “आप तिजोरी खोलने का नंबर (संख्या) भूल गई। यही बात है न ?” “हाँ”, युवा महिला ने उत्तर दिया। “यह काम मेरे ऊपर छोड़ दो और वे तुम्हें एक घंटे के अंदर मिल जाएँगे। लेकिन मुझे आपकी तिजोरी तोड़नी पड़ेगी।” “उसके बारे में चिंता मत करो। मेरे पति एक महीने तक यहाँ नहीं लौटेंगे और उस समय तक मैं तिजोरी की मुरम्मत करवा लूंगी।”

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

[PAGE24]: और एक घंटे के अंदर-अंदर होरेस ने तिजोरी खोल दी। उसे आभूषण दे दिए और खुशी-खुशी बाहर चला गया। दो दिन तक उसने उस दयालु युवा महिला से किया अपना वायदा निभाया। तीसरे दिन की सुबह, हालाँकि, उसने उन पुस्तकों के बारे में सोचा जो उसे चाहिए थीं और वह जानता था कि उसे दूसरी तिजोरी की तलाश करनी होगी। लेकिन उसे अपनी योजना आरंभ करने का कभी अवसर नहीं मिला। दोपहर तक एक सिपाही उसे शोटोवर ग्रॅज में चोरी करने के अपराध में गिरफ्तार कर चुका था। उसकी उँगलियों के निशान सारे कमरे में थे क्योंकि उसने बिना दस्तानों के तिजोरी खोली थी और किसी ने भी उसकी बात पर विश्वास नहीं किया जब उसने कहा कि उस घर के मालिक की पत्नी ने उसे अपने लिए तिजोरी खोलने को कहा था। मकान मालिक की पत्नी, जो सफेद बालों और पैनी जुबान वाली लगभग साठ वर्षीय महिला थी, ने कहा कि यह सब कुछ बकवास है। अब होरेस जेल में सहायक पुस्तकालयाध्यक्ष है। वह प्रायः उस आकर्षक, चतुर युवा महिला के बारे में सोचता रहता है जो उसी धंधे में थी जिसमें कि वह था और जिसने उसे धोखा दिया। उसे बहुत अधिक गुस्सा आ जाता है जब कोई भी ‘चोरों के अंदर वफादारी’ की बात करता है।

A Question of Trust Word – Misndgs in Hindi

[PAGE 20]: Citizen = inhabitant (नागरिक); usually = often (प्राय:); except = leaving aside (सिवाए); rare = uncommon (दुर्लभ); expensive = costly (कीमती); rob = to plunder (लूटना); safe = an iron almirah (तिजोरी); hay fever = a summer ailment (जुकाम, गर्मी का बुखार); secretly = without any body’s knowledge (गुप्त रूप से); agent = who works for some agency (अभिकत्ता); bright = shining (चमकदार); remained = stayed (ठहरा); movie = film (फिल्म); in spite of = in addition to (के बावजूद); tickle = light touch (हल्का-सा प्रकोप); worth = value (मूल्य)।.

[PAGE 21]: Gloves = covering for the hand (दस्ताने); fingerprints = signs of fingers (उँगलियों के निशान); stirred = moved (हिला); quiet = silent (शांत); wondered = surprised (हैरान); tools = instruments (औजार); burglar = thief (लुटेरा/चोर, सेंधमार); described = gave full account (पूर्ण विवरण दिया); mentioned = spoken about (उल्लेख किया); hindering = obstructing (रोकते हुए); treatment = cure (उपचार); disease = ailment (बीमारी)।

[PAGE 22]: Kindly = polite (दयालु); fireplace = hearth (अँगीठी); firmness = steadiness (दृढ़ता); straightened = unfold (फैलाए हुए); ornaments = jewellery (आभूषण); however = anyhow (फिर भी); expect = hope (आशा); amused = pleased (प्रसन्न हुआ); nodded = made a sign with the head (संकेत किया); inconvenience = uneasiness (असुविधा)।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 4 A Question of Trust

[PAGE 23]: Hesitated = to be doubtful (संकोच करना); seriously = gravely (गंभीरतापूर्वक); hurt = strike (चोट पहुँचाना); paused = stopped (रुकना); frighten = afraid (डरना); sharp = fast (तेज); protected = guarded (रक्षा करना); threatens = to attempt to menance (धमकी देना); prison = jail (कारागार/बंदीगृह); persuaded = convinced (मनवाना); desperate = in despair (निराशा में); promise = assurance (वचन, वायदा); watching = seeing (देखना); closely = nearly (निकटता से); picked up = lifted (उठाया); took off = removed (उतारे); replied = answered (उत्तर दिया); mended = repaired (मुरम्मत कराइ)।

[PAGE 24]: Arrested = caught (गिरफ्तार किया); nonsense = meaningless (अर्थहीन); charming = attractive (आकर्षक); profession = business (व्यवसाय); tricked = deceived (धोखा दिया); honour = respect (सम्मान)।

JAC Class 10 English Solutions

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

JAC Board Class 10th English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

JAC Class 10th English The Midnight Visitor Textbook Questions and Answers

Question 1.
How is Ausable different from other secret agents?
(ऑसबल दूसरे गुप्तचरों से कैसे भिन्न है?)
Answer:
Ausable is a secret agent. But he is different from other secret agents. Generally, a secret agent has such a personality that he is not easily recognised in a crowd. But Ausable is short and very fat. His accent is also marked.
(ऑसबल एक गुप्तचर है। लेकिन वह दूसरे गुप्तचरों से भिन्न है। प्रायः एक गुप्तचर का व्यक्तित्व इस प्रकार का होता है कि उसे भीड़ में आसानी से पहचाना नहीं जा सकता है। लेकिन ऑसबल छोटा और अत्यधिक मोटा है। उसका बोलने का लहजा भी भिन्न है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 2.
Who is Fowler and what is his first authentic thrill of the day?
(फाऊलर कौन है और उस दिन का उसका वास्तविक रूप से पहला रोमांच क्या है?)
Answer:
Fowler is a young writer. He wants to meet Ausable because he wants to write
(ऑसबल कहता है कि वह छज्जे पर स्थित आम खिड़की के माध्यम से कमरे में घुसा है। उसने कहा कि वह छज्जे के बारे में होटल के प्रबंधकों से शिकायत करेगा।)

Think about it

Question 1.
“Ausable did not fit any description of a secret agent Fowler had ever read.” What do secret agents in books and films look like, in your opinion? Discuss in groups or in class some stories or movies featuring spies, detectives and secret agents, and compare their appearance with that of Ausable in this story. (You may mention characters from fiction in languages other than English. In English fiction you may have come across Sherlock Holmes, Hercule Poirot, or Miss Marple. Have you watched any movies featuring James Bond?)
(फाऊलर ने गुप्तचरों के बारे में जितना भी पढ़ रखा था उसके अनुसार ऑसबल बिल्कुल भी एक गुप्तचर जैसा नहीं लग रहा था। आपके विचार में पुस्तकों और फिल्मों में गुप्तचर कैसे दिखते हैं टोलियाँ बनाकर या कक्षा में गुप्तचरों, भेदियों और जासूसों वाली कहानियों और फिल्मों पर चर्चा करें और उनमें वर्णित पात्रों की ऑसबल के साथ तुलना करें। (आप अंग्रेज़ी भाषा से अलग अन्य भाषाओं के उपन्यासों में से भी पात्र ले सकते हैं। अंग्रेज़ी उपन्यासों में आपने शेरलॉक होम्स, हरक्यूल पाइरॉट और मिस मार्पल के बारे में पढ़ा होगा। क्या आपने जेम्स बाँड की कोई फिल्म देखी है?)
Answer:
Ausable does not look like a secret agent. There is a particular picture of a secret agent in the mind of the public. Ausable does not fit in that picture. The secret agents in books and films look differently. A secret agent should have a personality that does not become too evident. If a secret agent is very fat or very thin, he may be recognized by others. In films, the secret agent has a hat on his head. Yes, I. have seen some movies featuring James Bond, these are : The Golden Eye, Tomorrow Never Dies. The Moonraker, etc.
(ऑसबल एक गुप्तचर की भाँति नहीं दिखता है। लोगों के मन में गुप्तचर की एक विशेष तस्वीर होती है। ऑसबल उस तस्वीर में सही नहीं बैठता है। किताबों और फिल्मों में गुप्तचर भिन्न दिखते हैं। एक गुप्तचर का व्यक्तित्व ऐसा होना चाहिए जोकि बिल्कुल अलग नजर नहीं आना चाहिए। यदि गुप्तचर बहुत मोटा या बहुत पतला है तो उसे दूसरों के द्वारा पहचाना जा सकता है। फिल्मों में, गुप्तचर के सिर पर टोप होता है। हाँ, मैंने जेम्स बाँड की कुछ फिल्में देखी हैं, ये फिल्में हैं ‘The Golden Eye’, “Tomorrow Never Dies’, ‘The Moonraker’इत्यादि।)

Question 2.
How does Ausable manage to make Max believe that there is a balcony attached to his room? Look back at his detailed description of it. What makes it a convincing story?
(ऑसबल मैक्स को कैसे यकीन दिला देता है कि उसके कमरे के बाहर एक छज्जा बना है? इसके पीछे वर्णित विस्तृत व्याख्या को देखिए। कौन-सी बात इसे एक विश्वसनीय कहानी बनाती है?)
Answer:
First of all Ausable says that max would have entered the room through a window in the balcony. Then he says there is a balcony before his room and the other adjoining it. After some time he says that he would complain to the management about the balcony. Then he tells Max this balcony goes to the next room from his room’s window. All these things convince Max that there is a balcony. When there is a knocking on the door, Ausable tells Max that there is police at the door. Max is frightened. He tries to go into the balcony from the window. But there is no balcony. He falls from the window to meet his death.

(सबसे पहले तो ऑसबल कहता है कि मैक्स ने छज्जे पर स्थित खिड़की के माध्यम से कमरे में प्रवेश किया होगा। तब वह कहता है कि उसके कमरे के सामने दूसरे कमरे के साथ मिलता हुआ एक छज्जा है। कुछ समय के पश्चात् वह कहता है कि वह छज्जे के बारे में होटल के प्रबंधकों से बात करेगा। तब वह मैक्स को बताता है कि यह छज्जा उसके कमरे की खिड़की से होकर दूसरे कमरे तक जाता है। ये सारी चीजें मैक्स को छज्जे के होने के बारे में विश्वास दिला देती हैं। जब दरवाजे पर दस्तक की आवाज आती है तो ऑसबल मैक्स से कहता है कि दरवाजे पर पुलिस है। मैक्स डर जाता है। वह खिड़की के रास्ते छज्जे पर जाने का प्रयास करता है। परन्तु वहाँ पर कोई छज्जा नहीं है। वह खिड़की से नीचे गिर जाता है और मर जाता है।).

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 3.
Looking back at the story, when do you think Ausable thought up his plan for getting rid of Max? Do you think he had worked out his plan in detail right from the beginning? Or did he make up a plan taking advantage of events as they happened?
(कहानी पर नजर मारते हुए बताइए कि ऑसबल ने मैक्स से छुटकारा पाने की योजना कब सोची थी? क्या आपके विचार में उसने शुरू से ही अपनी योजना को विस्तार से अमल में लाना शुरू कर दिया था? अथवा क्या उसने घटित परिस्थितियों का फायदा उठाकर अपनी योजना बना ली?)
Answer:
When Ausable switched on the light, he saw Max in his room. Max had a small automatic pistol in his hand. Ausable felt shocked to see him. But bis mind was very sharp. He decided there and then to get rid of Max. It appears that he had not worked out his plan in detail right from the beginning. He made the plan only when he saw Max there.

(जब ऑसबल ने बत्ती जलाई तो उसने अपने कमरे में मैक्स को देखा। मैक्स के हाथ में एक छोटी स्वचालित पिस्तौल थी। उसे देखकर ऑसबल को सदमा पहुँचा। लेकिन उसका दिमाग बहुत तेज था। उसने तभी मैक्स से छुटकारा पाने के बारे में सोच लिया। ऐसा लगता है कि उसने आरंभ से ही अपनी योजना को अमल में लाने का कार्य नहीं किया था। उसने केवल मैक्स को देखकर ही अपनी योजना बनाई।)

Talk about it

Question 1.
In this story, Ausable shows great presence of mind,’ or the ability to think quickly, and act calmly and wisely, in a situation of danger and surprise. Give examples from your own experience, or narrate a story, which shows someone’s presence of mind.
(इस कहानी में ऑसबल अत्यधिक हाजिर जवाबी अथवा खतरे और हैरानी वाली परिस्थिति में शीघ्र सोचकर, शांत मन से और बुद्धिमानी के साथ निर्णय लेने का प्रदर्शन करता है। अपने अनुभव के आधार पर कुछ उदाहरण दीजिए, या किसी की दिमागी चुस्ती से संबंधित कुछ उदाहरण दीजिए।)
Answer:
I remember one incident which was related to me by one of my friends. It concerns a young man who appeared for an interview for a high level post in a company. The chairman of the interview committee wanted to confuse the candidate. But the young man had great presence of mind. The chairman asked the candidate whether he would like to be asked one difficult question or two easy questions. The candidate said that he would like to be asked one difficult question. The interviewer asked him, “Which came first night or day?” The candidate thought for some time and then said, “Day.” At this the chairman asked him, “How have you calculated that the day came first, and not the night?” At this the candidate replied, “You had promised that you would ask only one difficult question. The chairman appreciated the candidate’s presence of mind and selected him for the job.

(मुझे एक घटना याद है जो मुझे मेरे एक मित्र के द्वारा सुनाई गई थी। यह घटना एक नवयुवक से संबंधित है जोकि एक कंपनी में एक ऊँचे दर्जे के पद के लिए साक्षात्कार देने आया था। साक्षात्कार समिति के सभापति ने उसे उलझाने का प्रयास किया। लेकिन नवयुवक अत्यधिक दिमागी चुस्ती वाला था। सभापति ने उससे पूछा कि वह क्या चाहेगा कि उससे एक कठिन प्रश्न अथवा दो आसान प्रश्न पूछे जाएँ। प्रत्याशी ने उत्तर दिया कि वह चाहेगा कि उससे एक कठिन सवाल पूछा जाए। साक्षात्कार लेने वाले ने पूछा, “पहले क्या आया था, दिन या रात?” प्रत्याशी ने थोड़ी देर सोचा और फिर कहा, “दिन” इस पर सभापति ने उससे पूछा, “आपने यह गणना कैसे कर ली कि पहले दिन आया था, रात नहीं?” इस पर प्रत्याशी ने उत्तर दिया, “आपने वचन दिया था कि आप केवल एक कठिन प्रश्न पूछेगे।” सभापति ने प्रत्याशी की दिमागी चुस्ती की तारीफ की और नौकरी के लिए उसका चयन कर लिया।)

Question 2.
Discuss what you would do in the situations described below. Remember that presence of mind comes out of a state of mental preparedness. If you have thought about possible problems or dangers, and about how to act in such situations, you have a better chance of dealing with such situations if they do arise.
A small fire starts in your kitchen.
1. A child starts to choke on a piece of food.
2. An electrical appliance starts to hiss and gives out sparks.
3. A bicycle knocks down a pedestrian.
4. It rains continuously for more than twenty-four hours.
5. A member of your family does not return home at the usual or expected time.
You may suggest other such situations.

(चर्चा करें कि निम्नलिखित स्थितियों में आप क्या करते। याद रहे कि हाजिर-जवाबी एक मानसिक तैयारी की दशा में ही आती है। यदि आपने संभव कठिनाइयों और खतरों के बारे में सोच लिया है और इन परिस्थितियों में कैसे काम करना है, तो यदि ऐसी परिस्थितियाँ पैदा होती हैं तो आपके पास इनसे निपटने के बेहतर अवसर उपलब्ध होंगे।)
1. आपकी रसोई में थोड़ी आग लग जाती है।
2. भोजन का टुकड़ा बच्चे के गले में फंस जाता है।
3. एक विजली उपकरण आवाज के साथ चिंगारियाँ बाहर निकालने लगता है।
4. साइकिल पदयात्री के साथ टकरा जाती है।
5. चौबीस घंटे से भी अधिक समय तक लगातार वर्षा होती है।
6. आपके परिवार का एक सदस्य निर्धारित अथवा संभावित समय पर घर नहीं लौटता है।
(आप ऐसी कुछ अन्य परिस्थितियाँ भी सुझा सकते हैं।)
Answer:
For discussion at class level with the help of the teacher.
(विद्यार्थी अध्यापक की सहायता से स्वयं करें।)

JAC Class 10th English The Midnight Visitor Important Questions and Answers

Very Short Answer Type Questions

Question 1.
Who was Ausable?
Answer:
Ausable was a secret agent.

Question 2.
Who was Fowler?
Answer:
Fowler was a romantic writer.

Question 3.
What did Max have in his hand?
Answer:
He had a pistol in his hand.

Question 4.
Who was in Ausable’s room?
Answer:
An intruder, named Max, was in Ausable’s room.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 5.
Who came to meet Ausable?
Answer:
Fowler came to meet Ausable.

Question 6.
From where was Ausable brought to Paris?
Answer:
Ausable was brought to Paris from Boston.

Question 7.
Where was Ausable staying?
Answer:
He was staying on the sixth floor of a French hotel.

Question 8.
How did Fowler feel to meet Ausable?
Answer:
He was disappointed to meet Ausable.

Question 9.
What was someone expected to bring to Ausable’s room?
Answer:
Someone was expected to bring a paper containing important information about new missiles.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 10.
What was the name of the waiter?
Answer:
His name was Henry.

Question 11.
Who knocked at Ausable’s room/door?
Answer:
The waiter of the hotel, Henry, Knocked at Ausable’s room/door.

Question 12.
How has Max got in?
Answer:
Max has got in with the help of a passkey by opening the main door.

Question 13.
What did Ausable tell Max, who was knocking at the door?
Answer:
Ausable told Max that police was knocking at the door.

Question 14.
Who jumped on to the balcony?
Answer:
Max jumped on to the balcony.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 15.
Was there a balcony outside the window of Ausable’s room?
Answer:
No, there was not any balcony outside the window of Ausable’s room.

Question 16.
When Ausable and Fowler entered the room what did they see?
Answer:
They saw that a man was standing in the centre of the room with a pistol in his hand.

Short Answer Type Questions

Question 1.
Why did Fowler want to meet Ausable? Why was he disappointed?
(फाऊलर ऑसबल से क्यों मिलना चाहता था? उसे निराशा क्यों हुई?)
Answer:
Fowler was a young and romantic writer. He wanted to meet Ausable because he was a secret agent. He was disappointed to meet Ausable because he was a fat sloppy fellow. He was not romantic. He lived in a small room in a gloomy hotel
(फाऊलर एक यवा और रोमांचकारी लेखक था। वह ऑसबल से मिलना चाहता था क्योंकि वह एक गुप्तचर था। वह ऑसबल से मिलकर थोड़ा निराश हुआ क्योंकि वह मोटा पिलपिला व्यक्ति था। वह रोमांचकारी नहीं था। वह एक अँधेरे वाले होटल के छोटे से कमरे में रहता था।)

Question 2.
What was someone expected to bring to Ausable’s room?
(ऑसबल के कमरे में किसी के क्या लेकर आने की संभावना वी?)
Answer:
Someone was expected to bring a paper containing an important information to Ausable’s room.
(किसी के एक महत्त्वपूर्ण सूचना का पत्र लेकर ऑसबल के कमरे में आने की संभावना थी।)

Question 3.
Who was in Ausable’s room? What was in his hand?
(ऑसबल के कमरे में कौन था? उसके हाव में क्या था?)
Answer:
A man named Max was there in Ausable’s room. He was another secret agent. He had an automatic pistol in his hand..
(मैक्स नाम का एक आदमी ऑसबल के कमरे में था। वह एक अन्य गुप्तचर था। उसके हाथ में एक स्वचालित पिस्तौल थी।)

Question 4.
What did the secret agent tell Max when he heard the knock?
(गुप्तचर ने मैक्स को क्या बताया जब उसने दरवाजे पर खटखटाहट सुनी?)
Answer:
He told Max that it would be the police. He said that he had called the police for the protection of such an important paper that he was going to receive that night. He wanted to have extra protection for the report.
(उसने मैक्स को बताया कि वह पुलिस होगी। उसने कहा कि उसने स्वयं ही पुलिस को इतने महत्त्वपूर्ण पत्र की सुरक्षा के लिए बुलाया था जिसको वह उस रात प्राप्त करने जा रहा था। वह रिपोर्ट के लिए अतिरिक्त सुरक्षा चाहता था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 5.
Did Ausable know that it was the waiter who had knocked at the door?
(क्या ऑसबल जानता था कि जिसने दरवाजे पर दस्तक दी है वह बैरा था?)
Answer:
Yes, Ausable knew that the man knocking at the door was the waiter. He had ordered him to bring a bottle of wine. And he knew that the waiter must have come with the drinks.
(हाँ, ऑसबल जानता था कि दरवाजे पर दस्तक दे रहा आदमी बैरा था। उसने उसे एक बोतल शराब लाने का आदेश दिया था। और वह जानता था कि बैरा निश्चित रूप से शराब लेकर ही आया होगा।)

Question 6.
Was there a balcony outside the window? Give instances from the text in support of your answer.
(क्या खिड़की से बाहर कोई छज्जा वा? अपने उत्तर के समर्थन में पाठ में से उदाहरण दीजिए।)
Answer:
No, actually there was not a balcony outside the window. Ausable had falsely told Max about the balcony. When Max dropped himself to the balcony, he screamed. He fell down to the ground from the sixth floor. In the end, Ausable told Fowler, “No, he won’t return.”
(नहीं, वास्तव में खिड़की के बाहर छज्जा नहीं था। ऑसबल ने मैक्स को छज्जे के बारे में झूठ बताया था। जब मैक्स ने छज्जे के ऊपर छलांग लगाई तो वह चिल्लाया। वह छठी मंजिल से जमीन पर जा गिरा। अंत में, ऑसबल ने फाऊलर को बताया, “नहीं, वह कभी नहीं लौटेगा।”)

Question 7.
What story did Ausable tell Max about the balcony ? Why did he tell him so?
(ऑसबल मैक्स को छज्जे के बारे में क्या कहानी बताई? उसने उसे ऐसा क्यों बताया?)
Answer:
Ausable told Max that there was a balcony just outside the window of the room. That balcony leads to the next compartment of the hotel. Last week another person also intruded his room through the balcony. It was all a part of his plan to trap Max.
(ऑसबल ने मैक्स को बताया कि कमरे की खिड़की के ठीक बाहर एक छज्जा था। वह छज्जा होटल के अगले कमरे की ओर जाता है। पिछले हफ्ते एक अन्य व्यक्ति ने छज्जे के माध्यम से मेरे कमरे में घुसपैठ की। यह मैक्स को फँसाने की उसकी योजना का एक हिस्सा था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 8.
How did Ausable get rid of Max?
(ऑसबल ने मैक्स से कैसे छुटकारा पाया?)
Answer:
Ausable cocked-up a story. He told Max that there was a balcony just below of his window. He told him that the balcony was a part of the next room. When the waiter knocked at the door, Ausable told Max that it would be the police. Max was nervous. He dropped himself to the balcony through the window. But outside there was no balcony. He fell down and died.
(ऑसबल ने एक मनगढ़ंत कहानी बनाई। उसने मैक्स को बताया कि उसकी खिड़की के नीचे एक छज्जा है। उसने उसे बताया कि यह छज्जा अगले कमरे का एक भाग है। जब बैरे ने दरवाजे पर दस्तक दी, ऑसबल ने मैक्स को बताया कि वह पुलिस होगी। मैक्स घबरा गया। उसने खिड़की के रास्ते छज्जे पर छलांग लगा दी। लेकिन खिड़की के बाहर कोई छज्जा नहीं था। वह नीचे गिर गया और मारा गया।)

Question 9.
How did Ausable behave to see Max in his room?
(मैक्स को अपने कमरे में देखकर ऑसबल ने कैसा व्यवहार किया?)
Answer:
To see Max in his room Ausable remained cool and silent. He was not afraid of Max. He seemed to be angry with the management of the hotel regarding the balcony below the window of his room.
(मैक्स को अपने कमरे में देखकर ऑसबल शांत और खामोश रहा। वह मैक्स से डरा हुआ नहीं लग रहा था। वह अपनी खिड़की के नीचे छज्जे को लेकर होटल के प्रबंधकों से नाराज़ दिखाई दिया।)

Question 10.
Describe Ausable.
(ऑसबल का वर्णन कीजिए।)
Answer:
Ausable was a secret agent. He was a fat and sloppy fellow. He was not a romantic figure. He had come to Paris from Boston twenty years ago. He could speak French and German passably. He had a style of his own in American language.
(ऑसबल एक गुप्तचर था। वह एक मोटा और पिलपिला व्यक्ति था। वह एक रोमांचकारी व्यक्ति नहीं था। वह बीस वर्ष पहले बोस्टन से पैरिस आया था। वह कामचलाऊ ढंग से जर्मन और फ्रैंच भाषा बोल सकता था। लेकिन अमेरिकी भाषा बोलने का उसका अपना एक विशेष ढंग था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 11.
Who came to meet Ausable? What was his profession?
(ऑसबल से मिलने कौन आया? उसका पेशा क्या था?)
Answer:
Fowler came to meet Ausable. He was professionaly writer. He wants to write about a secret agent. So he wanted to meet Ausable because he was a secret agent.
(ऑसबल से मिलने फाऊलर आया। वह एक लेखक था। वह एक गुप्तचर के बारे में लिखना चाहता था। इसलिए वह ऑसबल से मिलना चाहता था क्योंकि ऑसबल एक गुप्तचर था।).

Essay Type Questions

Question 1.
Why did Fowler want to meet Ausable? In the beginning of the story Fowler felt disappointed with Ausable. Do you think Fowler had the same feeling towards the end of the story? Give reasons for your answer.
(फाऊलर ऑसबल से क्यों मिलना चाहता था? कहानी के आरंभ में फाऊलर ऑसबल के साथ मुलाकात से उदास था। क्या आप सोचते हो कि कहानी के अंत में भी उसकी यही भावना थी? अपने उत्तर के पक्ष में तर्क दीजिए।)
Answer:
Fowler wanted to meet Ausable because he was a secret agent. In the beginning of the story Fowler felt disappointed with Ausable because he did not at all look like a secret agent of his imagination. He found him quite boring. He did not want to be with him any more. But when he found Max in his room with a gun, he was thrilled. He found that Ausable was not at all perturbed.He cocked-up a story about the balcony outside his window. When the waiter knocked at the door. Ausable told Max that it wo told him that he had called the police for the security of that important paper. Hearing this Max jumped outside the window to the balcony. But there was no balcony. He fell down from the sixth floor and died. Thus, Fowler was thrilled to see all this. So towards the end of the story he was not disappointed with Ausable.

(फाऊलर ऑसबल से इसलिए मिलना चाहता था क्योंकि वह एक गुप्तचर था। कहानी के आरंभ में फाऊलर ऑसबल को देखकर बहुत निराश हुआ क्योंकि वह उसकी कल्पनाओं के गुप्तचर की भाँति बिल्कुल भी नज़र नहीं आ रहा था। उसने उसे बिल्कुल नीरस पाया। वह उसे बिल्कुल भी और अधिक नहीं चाहता था। लेकिन जब उसने मैक्स को उसके कमरे में हाथ में बंदूक लिए खड़ा पाया तो वह रोमांचित हो गया। उसने देखा कि ऑसबल बिल्कुल भी परेशान नहीं था। उसने अपने कमरे की खिड़की के बाहर छज्जे के बारे में एक मनगढ़ंत कहानी बनाई। जब बैरे ने दरवाजे पर दस्तक दी तो ऑसबल ने मैक्स को बताया कि यह पुलिस होगी। उसने उसे बताया कि उसने ही पुलिस को इतने महत्त्वपूर्ण पत्र की सुरक्षा के लिए बुलाया था। यह सुनकर मैक्स खिड़की में से बाहर छज्जे पर कूदा। लेकिन वहाँ छज्जा नहीं था। वह छठी मंजिल से नीचे गिरा और मारा गया। इस प्रकार फाऊलर यह सब देखकर बहुत रोमांचित हुआ। इसलिए कहानी के अंत में वह ऑसबल के प्रति निराश नहीं था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 2.
Describe the incident leading to the death of Max.
(मैक्स की मृत्यु की घटना का वर्णन कीजिए।)
Answer:
Ausable was a secret agent. He was living in a French hotel. His room was at the sixth and top floor of the hotel. One evening a young writer named Fowler came to ineet him. When they entered the room and switched on the light, they found a man standing in the centre of the room. He had a pistol in his hand. His name was Max. He came there to grab the important report from Ausable. Seeing Max, Ausable remained cool and silent. But he seemed to be angry with the management of the hotel. He said below his window anyone could enter the room. When there was a sudden knock at the door, Ausable said that it might be the police. He said that he himself had called the police. Max jumped through the window to the balcony. But in reality there was no balcony. So, Max fell down to the ground from the sixth floor and was killed.

(ऑसबल एक गुप्तचर था। वह एक फ्रैंच होटल में रह रहा था। उसका कमरा होटल की छठी और सबसे ऊपरी मंजिल पर स्थित था। एक शाम फाऊलर नामक युवा लेखक उससे मिलने आया। जब उन्होंने कमरे में प्रवेश किया और बिजली जलाई, उन्होंने कमरे के मध्य में एक आदमी को खड़ा पाया। उसके हाथ में एक पिस्तौल थी। उसका नाम मैक्स था। वह वहाँ ऑसबल से महत्त्वपूर्ण रिपोर्ट छीनने आया था। मैक्स को देखकर ऑसबल शांत और खामोश रहा। लेकिन वह होटल के प्रबंधकों के प्रति नाराज नजर आया। उसने कहा कि उसकी खिड़की के नीचे छज्जे से कोई भी व्यक्ति उसके कमरे में प्रवेश कर सकता था। जब दरवाजे पर अचानक दस्तक हुई, ऑसबल ने कहा कि यह पुलिस होगी। उसने कहा कि उसने स्वयं पुलिस को बुलाया था। मैक्स खिड़की में से बाहर छज्जे के ऊपर कूदा। लेकिन वास्तव में वहाँ कोई छज्जा नहीं था। इसलिए मैक्स छठी मंजिल से नीचे जमीन पर जा गिरा और मारा गया।)

Question 3.
Write a character-sketch of the secret Agent Ausable.
(गुप्तचर ऑसबल का चरित्र-चित्रण कीजिए।)
Answer:
Ausable was a secret agent. He was a fat and sloppy fellow. In his appearance, he did not seem to be a romantic figure. He came to Paris from Boston twenty years ago. He could speak French and German passably. He had not lost the American accent.
Ausable was a very intelligent person. He had a great presence of mind. He did not loose heart in difficult situation, when he faced a man with a pistol in his hand. He remained cool. He cocked-up a story about the balcony. He made Max nervous by telling him about the police. He got Max killed without any fighting and shooting. Fowler who was disappointed to meet him in the beginning of the story, was very much impressed with his intelligence and presence of mind at the end of the story.

(ऑसबल एक गुप्तचर था। वह एक मोटा और पिलपिला व्यक्ति था। देखने में वह एक रोमांचकारी व्यक्ति नजर नहीं आता था। वह बीस वर्ष पहले बोस्टन से पैरिस आया था। वह कामचलाऊ ढंग से जर्मन और फ्रैंच भाषा बोल सकता था। उसने अमरीकी लहजे को नहीं खोया था। . ऑसबल एक बहुत ही प्रतिभाशाली व्यक्ति था। वह बहुत ही चालाक था। कठिन स्थिति में जब उसका सामना एक पिस्तौल वाले व्यक्ति से हुआ तो उसने हिम्मत नहीं हारी। वह शांत रहा। उसने छज्जे के बारे में एक मनगढ़ंत कहानी बनाई। उसने मैक्स को पुलिस के बारे में बताकर घबराहट में डाल दिया। उसने बिना किसी लड़ाई या गोलाबारी के मैक्स को मार दिया। फाऊलर, जो कहानी के आरंभ में उससे मिलकर निराश हुआ था, कहानी के अंत में उसकी बुद्धिमानी और चतुराई से बहुत अधिक प्रभावित हुआ।)

Question 4.
What makes you think Max was a careless and foolish fellow?
(आप ऐसा क्यों सोचते हो कि मैक्स एक लापरवाह और मूर्ख व्यक्ति था?)
Or
Though Max was very cunning, still he was but a little spy’ before Ausable. Explain.
(यद्यपि मैक्स बहुत चालाक था, लेकिन फिर भी वह ऑसबल के सामने “बौना गुप्तचर” सिद्ध हुआ। वर्णन कीजिए।)
Or
How did Ausable befool Max ? Describe.
(ऑसबल ने मैक्स को कैसे मूर्ख बनाया? वर्णन कीजिए।)
Answer:
Though Max was very cunning, he was indeed no match to Ausable. He was easily misled by Ausable into believing that there was a balcony attached to the room. He also made him fool by cocking up a false story about the police knocking at the door though he knew that it was the waiter. Ausable’s facial expressions were so normal that Max could not believe he was telling lies to him. Ausable was able to get rid of Max with very little efforts. So we can say that Max was “alittle spy” before Ausable. .

(यद्यपि मैक्स बहुत चालाक था, लेकिन ऑसबल के मुकाबले में वह बिल्कुल तुच्छ था। ऑसबल ने उसको अपने कमरे के बाहर एक छज्जा होने के बारे में आसानी से मूर्ख बना दिया। उसने दरवाजे पर दस्तक के बारे में पुलिस के होने की झूठी कहानी बनाकर उसे जल्दी से मूर्ख बना दिया यधपि वह जानता था कि दस्तक बैरा दे रहा था। ऑसबल के चेहरे के भाव इतने सामान्य थे कि मैक्स इस बात पर बिल्कुल भी विश्वास नहीं कर सका कि ऑसबल उसे झूठी कहानियाँ सुना रहा है। ऑसबल ने बहुत कम प्रयासों से ही मैक्स से मुक्ति पा ली। अतः हम कह सकते हैं कि मैक्स ऑसबल के सामने “एक बौना गुप्तचर” था।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 5.
How did Ausable use the knock’ at the door in his favour? What light does it throw on his character?
(ऑसबल दरवाजे पर हुई ‘दस्तक’ को अपने पक्ष में कैसे करता है? यह घटना उसके चरित्र पर क्या प्रकाश डालती है?)
Answer:
Ausable was a secret agent. He was staying in a hotel. A guest named Fowler comes to meet him. Ausable gives an order to the waiter for a bottle of wine and two glasses. When they entered the room, they were surprised to see an intruder named Max in the room. That man had a pistol in his hand. After sometime there was a knock at the door. Ausable knew that it was the waiter but he told Max that it would be the police. He said that he himself had called the police for the protection of the important report. Hearing this Max jumped out of the window on to the balcony. There was no balcony. He fell down and died. This episode shows that Ausable had great presence of mind. He was a clever spy indeed.

(ऑसबल एक गुप्तचर था। वह एक होटल में ठहरा हुआ था। फाऊलर नामक एक मेहमान उससे मिलने के लिए आता है। ऑसबल बैरे को एक बोतल शराब और दो गिलास लाने का आदेश देता है। जब वे कमरे में प्रवेश करते हैं तो वे अपने कमरे में मैक्स नामक एक घुसपैठिए को देखकर बड़े हैरान हुए। उस व्यक्ति के हाथ में एक पिस्तौल थी। थोड़ी देर बाद दरवाजे पर दस्तक होती है। ऑसबल जानता था कि वह बैरा था, लेकिन वह मैक्स को बताता है कि यह पुलिस होगी। उसने कहा कि उसने उस महत्त्वपूर्ण रिपोर्ट की सुरक्षा के लिए स्वयं पुलिस को बुलाया था। यह सुनकर मैक्स खिड़की से छज्जे पर कूद गया। वहाँ कोई भी छज्जा नहीं था। वह नीचे गिर गया और मर गया। यह घटना दिखाती हैं कि ऑसबल बहुत हाजिर जवाब था। वह वास्तव में एक चालाक गुप्तचर था।)

Multiple Choice Questions

Question 1.
What was Ausable’s profession?
(A) a tourist
(B) secret agent
(C) diplomat
(D) soldier
Answer:
(B) secret agent

Question 2.
Where was Ausable staying?
(A) Inn
(B) French hotel
(C) Fowler’s home
(D) American hotel
Answer:
(B) French hotel

Question 3.
Ausable was brought to Paris twenty years ago from:
(A) London
(B) Moscow
(C) Bonn
(D) Boston
Answer:
(D) Boston

Question 4.
Who came to meet Ausable?
(A) Ausable’s father
(B) Policeman
(C) Fowler
(D) Max
Answer:
(C) Fowler

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 5.
What was Fowler’s profession?
(A) writer
(B) actor
(C) secret agent
(D) policeman
Answer:
(A) writer

Question 6.
Fowler was .. ……. to meet Ausable.
(A) happy
(B) excited
(C) disappointed
(D) unaffected
Answer:
(C) disappointed

Question 7.
Who is the guest in the story “The Midnight Visitor’?
(A) Ausable
(B) Max
(C) Henry
(D) Fowler
Answer:
(D) Fowler.

Question 8.
Who was Max?
(A) the manager of the hotel
(B) another secret agent
(C) Ausable’s friend
(D) Fowler’s friend
Answer:
(B) another secret agent

Question 9.
Where was Ausable’s room situated in the hotel?
(A) on ground floor
(B) on first floor
(C) on the sixth and top floor
(D) on second floor
Answer:
(C) on the sixth and top floor

Question 10.
Who knocked at Ausable’s door?
(A) a policeman
(B) Max
(C) the waiter
(D) Fowler
Answer:
(C) the waiter

Question 11.
Max entered Ausable’s room through the …….
(A) balcony
(B) main door
(C) back door
(D) roof
Answer:
(B) main door

Question 12.
With whom was Ausable going to raise the issue of balcony?
(A) the French Government
(B) the management of the hotel
(C) Max
(D) none of these
Answer:
(B) the management of the hotel

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

Question 13.
Why did Max enter Ausable’s room?
(A) to meet Ausable
(B) to snatch an important report
(C) to give an information to Ausable
(D) to spend the night
Answer:
(B) to snatch an important report

Question 14.
What was Max holding in his hand?
(A) a pistol
(B) a knife
(C) a stick
(D) a piece of paper
Answer:
(A) a pistol

Question 15.
What story Ausable cocked-up to Max?
(A) about the report
(B) about a balcony
(C) about his fatness
(D) about Fowler
Answer:
(B) about a balcony

Question 16.
Where was the balcony?
(A) outside the window of the room
(B) on the roof of the room
(C) outside the back door of the room
(D) none of these
Answer:
(A) outside the window of the room.

Question 17.
Where did Max jump through the window?
(A) roof of the other room
(B) balcony
(C) inside the other room
(D) office of the hotel
Answer:
(B) balcony

Question 18.
How did Fowler feel in the end of the story?
(A) disappointed
(B) thrilled
(C) sad
(D) unhappy
Answer:
(B) thrilled

The Midnight Visitor Summary in English

The Midnight Visitor Introduction in English

Atusable is a secret agent. He is expecting to get an important paper. Max, an intruder, enters his room. He wants to get that paper from Ausable. He has a pistol in his hand. Ausable, being quite normal, plays upon a trick on Max and gets him killed without any fighting and shooting.

The Midnight Visitor Summary in English

Ausable was a secret agent. He was staying in a French hotel. A young and romantic writer named Fowler came to meet him. Fowler was disappointed to see Ausable. He was a sloppy fat fellow. His room was at the top and sixth floor of that musty and gloomy hotel. When they both entered the room and Ausable switched on, they found that a man was standing in the centre of the room. He had a pistol in his hand. It was the first thrill of the day for Fowler. The name of the man with a gun was Max.

He said that he had come there to snatch the report from Ausable which he was expecting to receive. Ausable about the balcony. He told him that there was a balcony just below the window of his room and last month too an unknown person had entered the room through that balcony. Max told Ausable that he had used a master key to enter the door. He wished that he should have entered through the balcony way. It would have been much easier. There was still half an hour for the report to arrive. There was a sudden knocking at the door. Ausable smiled.

He said it must be the police because he himself had called them for the protection of such an important report. Max was nervous. He jumped through the window to the balcony. But there was no balcony as Ausable had told. He fell down to the ground from the sixth floor and was killed. Then the door opened. The waiter entered the room with a tray, a bottle of wine and two glasses. Ausable had ordered for them. The waiter left. Fowler did not know anything about the balcony. He feared that Max would return soon. But Ausable told him the fact that he would never return. Thus, Fowler was much impressed by his cleverness and presence of mind.

The Midnight Visitor Summary in Hindi

The Midnight Visitor Introduction in Hindi

(ऑसबल एक गुप्तचर है। वह एक महत्त्वपूर्ण पत्र प्राप्त करने की प्रतीक्षा कर रहा है। मैक्स नाम का एक घुसपैठिया उसके कमरे में घुसता है। वह ऑसबल से उस पत्र को प्राप्त करना चाहता है। उसके हाथ में एक स्वचालित पिस्तौल है। ऑसबल बिल्कुल सामान्य रहते हुए उस पर एक चाल चलता है तथा बिना किसी लड़ाई और गोलाबारी के उसे मार देता है।)

The Midnight Visitor Summary in Hindi

ऑसबल एक गुप्तचर था। वह एक पँच होटल में ठहरा हुआ था। एक युवा और रोमांचकारी लेखक, जिसका नाम फाऊलर था, उससे मिलने आया। फाऊलर ऑसबल को देखकर निराश हुआ। वह पिलपिला मोटा व्यक्ति था। उसका कमरा उस दुर्गंध और अँधेरे वाले होटल की सबसे ऊपरी और छठी मंजिल पर था। जब उन दोनों ने कमरे में प्रवेश किया और ऑसबल ने बिजली जलाई, तो उन्होंने पाया कि कमरे के बीच में एक आदमी खड़ा था। उसके हाथ में एक पिस्तौल थी। फाऊलर के लिए यह उस दिन का पहला रोमांच था। बंदूक वाले उस व्यक्ति का नाम मैक्स था। उसने कहा कि वह वहाँ ऑसबल से वह गुप्त सूचना छीनने आया है जिसको प्राप्त करने की वह प्रतीक्षा कर रहा था। ऑसबल शांत और ठंडा रहा। वह होटल के प्रबंधकों के प्रति गुस्सा करता प्रतीत हुआ। उसने छज्जे के बारे में एक मनगढ़त कहानी बनाई।

उसने उसे बताया कि उसके कमरे की खिड़की के नीचे एक छज्जा है और पिछले महीने भी एक अनजान व्यक्ति छज्जे के रास्ते से उसके कमरे में घुस गया था। मैक्स ने ऑसबल को बताया कि उसने कमरे में प्रवेश करने के लिए गुप्त चाबी का प्रयोग किया। उसने इच्छा व्यक्त की कि उसने भी छज्जे के रास्ते से प्रवेश किया होता। यह कुछ ज्यादा आसान होता। रिपोर्ट (सूचना) आने में अभी आधा घंटा शेष था। दरवाजे पर अचानक जोर की दस्तक हुई। ऑसबल मुस्कुराया। उसने कहा कि यह अवश्य ही पुलिस होगी क्योंकि उसने ही उन्हें इतनी महत्त्वपूर्ण सूचना की सुरक्षा के लिए बुलाया था।

मैक्स घबरा गया। वह खिड़की से छज्जे के ऊपर कूदा। लेकिन जैसा ऑसबल ने बताया था, वहाँ कोई छज्जा नहीं था। वह छठी मंजिल से नीचे जमीन पर जा गिरा और मारा गया। तब दरवाजा खुला। बैरे ने ट्रे, शराब की बोतल और दो गिलास लेकर कमरे में प्रवेश किया। ऑसबल ने इन चीजों के लिए आदेश दिया था। बैरा चला गया। फाऊलर को छज्जे के बारे में कुछ मालूम नहीं था। उसे डर था कि मैक्स जल्दी ही छज्जे से वापस प्रवेश कर जाएगा। लेकिन ऑसबल ने उसे सच्चाई बताई कि वह कभी वापस नहीं आएगा। इस प्रकार फाऊलर उसकी चतुराई और सूझ-बूझ से बहुत अधिक प्रभावित हुआ।

The Midnight Visitor Translation in Hindi

[PAGE 14]: फाऊलर ने कभी जी कुछ भी पढ़ रखा था उसके अनुसार ऑसबल किसी भी प्रकार से उस विवरण के अनुसार ठीक नहीं बैठता था। अँधेरे वाले फ्रांसीसी होटल के दुर्गंध वाले गलियारे में से, जिसमें ऑसबल का कमरा था, फाऊलर उसका पीछा करते हुए निराशा महसूस कर रहा था। यह छठी और आखिरी मंजिल पर एक छोटा-सा कमरा था और जिसका , वातावरण एक रोमांचकारी व्यक्ति के अनुकूल नहीं था। ऑसबल, एक बात है, मोटा, बहुत ही मोटा था। और फिर उसका बोलने का एक लहजा था। यधपि वह फ्रांसीसी और जर्मनी भाषा भी काम चलाऊ ढंग से बोल लेता था, उसने कभी भी अमेरिकन लहजे को नहीं खोया था, जो वह बीस वर्ष पहले बोस्टन से पेरिस लाया गया था।

आप निराश लगते हो।” ऑसबल ने अपनी गर्दन घुमाकर कहा, “आपको बताया गया कि मैं एक गुप्तचर हूँ, एक जासूस, जो जासूसी और खतरे के काम करता है। आप मुझसे मिलना चाहते थे क्योंकि आप लेखक, युवा और रोमांचकारी हो।” आप रात के समय रहस्यमय चीजों की कल्पना करते हो, जैसे बंदूकों की आवाज और शराब में नशीली दवाइयों की कल्पना। “इसके बजाए आपने फ्रैंच संगीत हाल में एक मोटे पिलपिले व्यक्ति के साथ नीरस शाम बिताई है, जिसके हाथों में काले नयनों वाली सुंदरियों के हाथों संदेश आने की बजाए, मुलाकात का समय प्राप्त करने के लिए केवल साधारण टेलीफोन कॉल आते हैं। आप तो उकता गए होंगे!” मोटा आदमी मन-ही-मन हँसा जब उसने अपने कमरे का दरवाजा खोला और अपने परेशान मेहमान को अंदर आने के लिए एक ओर हटकर खड़ा हो गया। “आप भ्रममुक्त हो गए हो।’ ऑसबल ने उसे बताया, “लेकिन मेरे युवा मित्र प्रसन्न रहो। अभी आप एक पत्र देखोगे, एक महत्त्वपूर्ण पत्र, जिसके लिए अनेक पुरुषों और महिलाओं ने अपना जीवन जोखिम में डाला है, मेरे पास आओ।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

[PAGE 15]: जल्दी ही किसी दिन वह पत्र इतिहास के मार्ग को बहुत अधिक प्रभावित कर सकता है। क्या वह विचार नाटक है, क्या वह नहीं है?” जब ऑसबल यह बोला, उसने अपने पीछे दरवाजा बंद कर दिया। तब उसने बत्ती जलाई। और जैसे ही बत्ती जली, फाऊलर ने उस दिन का अपना पहला वास्तविक रोमांच देखा। क्योंकि कमरे के बीच में, एक आदमी अपने हाथों में एक छोटी स्वचालित पिस्तौल लिए हुए खड़ा था। ऑसबल ने कई बार पलकें झपकाई। उसने जोर से साँस खींचकर कहा, “मैक्स, तुमने तो मुझे बिल्कुल चौंका दिया था। मैंने सोचा तुम बर्लिन में हो। तुम मेरे कमरे में क्या कर रहे हो?” . मैक्स दुबला-पतला था, लंबा नहीं, और उसके चेहरे से एक लोमड़ की शक्ल का आभास होता था। उसके हाथ में बंदूक के अतिरिक्त वह बिल्कुल भी डरावना नज़र नहीं आता था। “सूचना”, वह बुड़बुड़ाया। “वह सूचना जो आज रात नए प्रक्षेपास्त्रों के संबंध में आपके पास लाई जा रही है। मैंने सोचा कि . मैं उसे आपसे ले लूँगा। वह आपके हाथों की अपेक्षा मेरे हाथों में अधिक सुरक्षित रहेगी।”

(PAGE 16]: ऑसबल एक बाजूवाली कुर्सी के पास गया और उस पर साँस भरते हुए बैठ गया। उसने गंभीरतापूर्वक कहा, “इस बार मैं इस प्रश्न को प्रबंधकों के सामने उठाने जा रहा हूँ। मैं बहुत परेशान हूँ। एक महीने में यह दूसरा अवसर है जब कोई उस परेशान कर देने वाले छज्जे से मेरे कमरे में घुसा है!” फाऊलर की दृष्टि कमरे की अकेली खिड़की की ओर गई। यह एक साधारण खिड़की थी जिस पर अब रात्रि का दबाव पड़ रहा था। “छज्जा?” मैक्स ने उत्सुकतापूर्वक पूछा। “नहीं, मेरे पास एक गुप्त चाबी है। मुझे छज्जे के बारे में नहीं पता था। यदि मुझे । इसके बारे में पता होता तो शायद इससे मेरी कुछ परेशानी कम हो जाती।”

“यह मेरा छज्जा नहीं है।” ऑसबल गुस्से से चिल्लाया। “इसका संबंध अगले कमरे से है।” उसने व्याख्यात्मक दृष्टि से फाऊलर की ओर देखा। “आप जानते हो”, उसने कहा, “यह कमरा एक बड़ी इकाई का हिस्सा हुआ करता था और अगला कमराउस दरवाजे में से रहने का कमरा हुआ करता था। इसका छज्जा, जो अब मेरी खिड़की के नीचे तक आता है। आप इसमें अगले दरवाजे से खाली कमरे में से प्रवेश कर सकते हो और पिछले महीने किसी ने ऐसा ही किया था। प्रबंधकों ने इसे बंद करने का वायदा किया था। लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। मैक्स ने फाऊलर की ओर देखा, जो ऑसबल से कुछ फुट दूर अकड़ा हुआ-सा खड़ा था और आदेशात्मक संकेत से बंदूक हिलाते हुए कहा, “कृपया बैठ जाइए।” उसने कहा। मुझे लगता है, “हमें आधा घंटा प्रतीक्षा करनी होगी।” “इकतीस मिनट।” ऑसबल ने चिड़चिड़ेपन से कहा, “मुलाकात का समय 12 बजकर 30 मिनट था। मैक्स, काश मुझे मालूम होता कि तुम्हें सूचना के बारे में कैसे पता चला।” छोटा जासूस दुष्ट हँसी हँसा। “और काश हमें मालूम होता कि तुम्हारे आदमियों ने उस सूचना को कैसे प्राप्त किया। लेकिन कोई क्षति नहीं की गई है। मैं उसे आज रात वापस प्राप्त कर लूँगा। वह क्या है? दरवाजे पर कौन है?”

दरवाजे पर अचानक दस्तक की आवाज सुनकर फाऊलर उछला। ऑसबल जरा-सा मुस्कुराया। “वह पुलिस होगी,” उसने कहा! “मेरा मानना है कि इतना महत्त्वपूर्ण पत्र, जिसके लिए हम प्रतीक्षा कर रहे हैं, उसकी अतिरिक्त सुरक्षा होनी चाहिए। मैंने उन्हें बताया था कि मेरे पास आकर सुनिश्चित कर लें कि सब कुछ ठीक-ठाक है।” मैक्स ने घबराहट में अपना होंठ काटा। पूनः दस्तक की आवाज हई। . ऑसबल ने पूछा, “मैक्स, अब तुम क्या करोगे? यदि मैं दरवाजा नहीं खोलता हूँ तो वे किसी भी तरीके से अंदर आ जाएँगे। दरवाजे पर ताला नहीं लगा हुआ है और वे गोली चलाने से भी नहीं हिचकिचाएँगे।” मैक्स का चेहरा गुस्से के कारण एकदम काला पड़ गया जैसे ही वह तेजी के साथ खिड़की की ओर गया। उसने अपनी टाँग बाहर अंधेरे में निकाल ली। उसने चेतावनी दी “उन्हें दूर भेज दो! मैं छज्जे पर प्रतीक्षा करूँगा। उन्हें दूर भेज दो वरना मैं गोली चला दूंगा और मैं अपना भाग्य आजमाता हूँ।” दरवाजे पर दस्तक की आवाज ऊँची हो गई और एक आवाज आई, “मि. ऑसबल! मि. ऑसबल।”

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

[PAGE 17]: अपने शरीर को अकड़ा हुआ रखते हुए ताकि बंदूक मोटे आदमी और उसके अतिथि की ओर रहे, और उस आदमी ने अपने आपको सहारा देने के लिए अपने खाली हाथ से खिड़की की चौखट को कसकर पकड़ लिया। तब उसने अपनी दूरी टाँग ऊपर करके खिड़की की सिल के ऊपर घुमाई। दरवाजे की दस्ती (मूठ) घूमी। अपने आपको मुक्त करवाने और छज्जे के ऊपर गिरने के लिए मैक्स ने अपने बाएँ हाथ से फुर्ती के साथ धक्का दिया। और तब जब वह गिरा तो उसने जोर से चीख मारी। दरवाजा खुला और एक बैरा एक ट्रे, एक बोतल और दो गिलास लिए खड़ा था। “श्रीमान जी, यह रही शराब, जिसके लिए आपने आदेश दिया था।” उसने ट्रे मेज पर रखी दी, निपुणता के साथ बोतल का ढक्कन खोला, और कमरे से चला गया।
सफेद चेहरा लिए हुए और काँपते हुए फाऊलर उसके पीछे चल दिया। वह हकलाकर बोला, “लेकिन….. लेकिन……..पुलिस की क्या खबर है?” “कभी कोई पुलिस नहीं थी।” ऑसबल ने गहरी साँस लेते हुए कहा, “केवल बैरा, हैनरी था।” फाऊलर ने बात शुरू की, “लेकिन जो आदमी छज्जे पर है उसकी क्या खबर है…..?” ऑसबल ने कहा, “नहीं, वह वापस नहीं आएगा।” ‘मेरा युवा मित्र, आपको पता होना चाहिए, बाहर छज्जा ही नहीं है।

The Midnight Visitor Word – Misndgs in Hindi

[PAGE 14]: Description = written account (लिखित विवरण); secret = mysterious (गुप्त); agent = who works for some agency (अभिकत्ता); following = succeeding (अनुसरण करते हुए); musty = foul smelling (दुर्गध वाला); corridor = an open gallery (गलियारा); gloomy = dark(अंधकारमय); accent = tone of voice (बोलने का लहजा); disappointed = frustrated (निराश); romantic =imaginative (रोमांचकारी); passably = just adequately (काम चलाऊ रूप से); imagined = thought in mind (कल्पना करना); mysterious = curiously (रहस्यपूण); sloppy = unsystematic (अव्यवस्थित ढंग से); ordinary = simple (साधारण); appointment = settlement (नियुक्ति); chuckled $=$ grinned (खिसियांया); frustrated = disappointed (निराश); disillusioned = set free from false belief (भ्रममुक्त)।

[PAGE 15]: Switched on = joined electric current (बिजली चालू कर देना); thrill = sensation (रोमांच); automatic = moving of itself (स्वचालित); blinked = closed and opened the eyes (आँखों का झपकना); wheezed = spoke breathing, noisily and heavily (हाँफते हुए बोलना); slender = lean and thin (दुबला-पतला); except = in addition to (के अतिरिक्त); murmured = complained in low sound (बुड़बुड़ाया)।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 3 The Midnight Visitor

[PAGE 16]: Heavily = sorrowfully (दुखी मन से); management = governing body (प्रबंधक समिति); grimly = seriously (गंभीर रूप से); nuisance = troublesome (कष्टकारी); curiously = with anxiety (उत्सुकतापूर्वक ढंग से); passkey = private key (गुप्त चाबी); explained = to clear the meaning of (व्याख्या करना); apartment = chamber (कमरा); glanced = viewed (देखा); explanatory = containing explanations (व्याख्यात्मक); promised = gave assurance (वायदा किया); stiffly = straight (तना हुआ); gesture = bodily movement (हाव-भाव); evilly = wicked (दुष्टतापूर्वक ढंग से); protection = safety (बचाव); nervously = uneasily (बेचैनी); repeated = to do again (पुनः); hesitate = to be doubtful (हिचकिचाना); swiftly = quickly (तेजी के साथ); balcony = front side of a house on the roof (छज्जा)।

[PAGE 17]: Twisted = distorted (ऐंठना); grasped = hold tightly (जोर-से पक़ड़ना); swung = to move to and fro (झूलना); doorknob = door handle (दरवाजे की हत्थी); screamed = cried (चिल्लाया); shrilly = with a sharp sound (तीव्र ध्वनि के साथ); deftly = quickly and cleverly (तेज़ी और चतुराई से); uncorked = opened (खोला); stammered = spoke with halts (हकलाकर बोला)।

JAC Class 10 English Solutions

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

JAC Board Class 10th English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

JAC Class 10th English The Thief’s Story Textbook Questions and Answers

Read and Find Out (Pages 8 & 10)

Question 1.
Who does Trefer to in this story?
(इस कहानी में (मैं) शब्द किसके लिए प्रयोग किया गया है?)
Answer:
In this story ‘I’ refers to the thief boy, Hari Singh.
(इस कहानी में ‘I’ मैं शब्द चोर लड़के, हरि सिंह के लिए प्रयोग किया गया है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 2.
What is he “a fairly successful hand” at?
(किस काम को करने में उसका ‘हाथ बहुत साफ’ था?)
Answer:
The narrator of this story is a thief boy. That is why, he is ‘a fairly successful hand’ at stealing things.
(इस कहानी का वर्णनकर्ता एक चोर बालक है। यही कारण है कि चीजें चुराने में उसका हाथ बहुत साफ’ है।)

Question 3.
What does he get from Anil in return for his work?
(काम के बदले में उसे अनिल से क्या प्राप्त होता है?)
Answer:
In return for his work he does not get any salary from Anil. He gets only a place to sleep or live at and food to eat.
(काम करने के बदले में उसे अनिल से किसी प्रकार के वेतन की प्राप्ति नहीं होती। उसे केवल सोने अथवा रहने के लिए स्थान और खाने के लिए भोजन मिलता है।)

Question 4.
How does the thief think Anil will react to the theft ? (चोर क्या सोचता है कि जब अनिल को चोरी के बारे में पता चलेगा तो उसकी क्या प्रतिक्रिया होगी?)
Answer:
The narrator is a thief. Anil gives him shelter and food. But he steals Anil’s money. After that the thief thinks that Anil will be sad when he discovers the theft.
(वर्णनकर्ता एक चोर है। अनिल उसे आश्रय और भोजन प्रदान करता है। लेकिन वह अनिल का पैसा चुरा लेता है। इसके बाद चोर सोचता है कि जब अनिल को चोरी के बारे में पता चलेगा तो वह उदास होगा।)

Question 5.
What does he say about the different reactions of people when they are robbed ? (वह विभिन्न लोगों की प्रतिक्रियाओं के बारे में क्या कहता है.जब वे लूट लिए जाते हैं?)
Answer:
He says that different people react differently when they are robbed. A greedy man shows fear. A rich man shows anger. A poor man shows acceptance.
(वह कहता है कि भिन्न-भिन्न लोग लूटे जाने पर भिन्न-भिन्न प्रकार की प्रतिक्रियाएँ व्यक्त करते हैं। एक लालची व्यक्ति भय व्यक्त करता है। एक अमीर व्यक्ति क्रोध व्यक्त करता है। एक गरीब व्यक्ति परित्याग की भावना का प्रदर्शन करता है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 6.
Does Anil realise that he has been robbed?
(क्या अनिल को अहसास होता है कि वह लुट चुका है?)
Answer:
It is possible that Anil does realise that he has been robbed. The next morning he gives a fifty rupee note to Hari Singh. The note is still wet. This might have made him realise the truth. But he is a large-hearted person. He behaves as if nothing has happened.
(यह संभव है कि अनिल को अहसास हो गया हो कि वह लुट चुका है। अगली सुबह वह हरि सिंह को पचास रुपए का एक नोट देता है। नोट अभी भी गीला है। इससे उसे सच्चाई का अहसास हो सकता है। लेकिन वह एक विशाल हृदय वाला व्यक्ति है। वह ऐसे व्यवहार करता है जैसे कुछ भी न हुआ हो।)

Think about it (Page 13)

Question 1.
What are Hari Singh’s reactions to the prospect of receiving an education? Do they change over time? (Hint: Compare, for example, the thought: “I knew that once I could write like an educated man there would be no limit to what I could achieve” with these later thoughts: “Whole sentences, I knew, could one day bring me more than a few hundred rupees. It was a simple matter to steal – and sometimes just as simple to be caught. But to be a really big man, a clever and respected man, was something else.”) What makes him return to Anil?
(शिक्षा ग्रहण करने की प्रत्याशा में हरि सिंह की क्या प्रतिक्रियाएँ हैं? क्या वे समय के साथ बदल जाती हैं? (संकेतः उदाहरण के लिए इस विचार की तुलना कीजिए “मैं जानता था कि एक बार में पढ़े-लिखे इंसान की तरह लिखने लग गया तो उसकी प्राप्तियों की कोई सीमा नहीं रहेगी” कि बाद के इस विचार “पूर्ण वाक्य, मैं जानता था मुझे एक दिन कुछ सौ रुपर्यों से अधिक उपलब्ध करा सकते थे। चोरी करना एक आसान काम था और कई बार पकड़ा जाना भी आसान काम था। लेकिन वास्तव में एक बड़ा आदमी, एक चालाक और सम्मानित आदमी बनना कुछ अलग था”) के साथ तुलना कीजिए। वह अनिल के पास वापिस क्यों लौटता है?)
Answer:
Hari Singh comes to Anil’s house as a servant. Anil offers to educate him. He is overjoyed. But his reactions to the prospect of receiving an education undergo a change with the passage of time. In the beginning he thinks that if he wrote like an educated man he could achieve limitless success (or money). Later, there is some change in this perception. He feels that if he wrote whole sentences, they could bring him more than a few hundred rupees. Then money loses attraction for him with reference to education. What he wants from education is to become a big man, a clever and respected man. This makes him return to Anil because only Anil could teach him as he wants.

(हरि सिंह अनिल के घर एक नौकर के रूप में आता है। अनिल उसे पढ़ाने की पेशकश करता है। वह अत्यधिक प्रसन्न है। लेकिन शिक्षा प्राप्ति से उसकी प्रत्याशाएँ समय बीतने के साथ बदलती रहती हैं। आरंभ में वह सोचता है कि यदि वह एक शिक्षित व्यक्ति की भाँति लिखता तो वह अत्यधिक सफलता प्राप्त कर सकता था अथवा पैसे। लेकिन बाद में इस विचार में परिवर्तन आता है। वह महसूस करता है कि यदि वह पूरे वाक्य लिखता, तो इससे उसे कुछ सौ रुपयों से अधिक प्राप्त हो सकता था। इस प्रकार से शिक्षा के संदर्भ में धन अपना आकर्षण खोता जा रहा है। वह शिक्षा के द्वारा एक बड़ा व्यक्ति, एक चतुर और सम्मानित व्यक्ति बनना चाहता है। इससे वह अनिल के पास लौट आता है क्योंकि अनिल ही उसे ऐसी शिक्षा दे सकता था जैसी उसे चाहिए थी।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 2.
Why does not Anil hand the thief over to the police? Do you think most people would have done so? In what ways is Anil different from such employers?
(अनिल चोर को पुलिस को क्यों नहीं सौंपता है? क्या आप सोचते हो कि अधिकतर लोग ऐसा ही करते हैं? अनिल कैसे इस प्रकार के नियोक्ताओं से भिन्न है?)
Answer:
The next morning, Anil does not find the money missing. But he might have noticed that the notes were damp. It would have been clear to him that Hari Singh had tried to steal the money. But he does not show any emotion. Hari Singh studies his face. There is no sign of his having detected the theft. However, it is possible that he detected the truth. But he does not hand over Hari Singh to the police. He is a large-hearted person. Perhaps Hari Singh’s.coming back changed his mind. .
But most people do not behave like Anil. In Anil’s position, they could have ha to the police after beating them themselves. Anil is different because he decides to reform the thief through kindness and sympathy.

(अगली सुबह अनिल को पैसा गायब नहीं मिलता है। लेकिन हो सकता है उसने देख लिया हो कि नोट गीले थे। उसे यह स्पष्ट हो गया होगा कि हरि सिंह ने पैसों को चुराने की कोशिश की थी। लेकिन वह किसी भावना को प्रदर्शित नहीं करता है। हरि सिंह उसके चेहरे का अध्ययन करता है। उसके चेहरे पर ऐसा कोई संकेत नहीं था कि उसे चोरी के बारे में पता चल चुका था। हालाँकि यह संभव हो सकता है कि उसे सच्चाई पता चल चुकी थी। लेकिन वह हरि सिंह को पुलिस के हवाले नहीं करता है। वह एक बड़े दिल वाला व्यक्ति है। शायद हरि सिंह की वापसी ने इसके मन को परिवर्तित कर दिया था। लेकिन अधिकतर लोग अनिल की तरह व्यवहार नहीं करते हैं। अनिल की स्थिति में अधिकतर लोग ऐसे लोगों को स्वयं पीटने के बाद पुलिस के हवाले कर देंगे। अनिल भिन्न है क्योंकि वह दयालुता और सहानुभूति के माध्यम से चोर को सुधारना चाहता है।)

Talk about it (Page 13)

Question 1.
Do you think people like Anil and Hari Singh are found only in fiction, or are there such people in real life?
क्या आपके विचार में अनिल और हरि सिंह जैसे लोग केवल उपन्यासों में ही मिलते हैं. या क्या ऐसे लोग वास्तविक जीवन में भी पाए जाते हैं?)
Answer:
It is true that people are becoming materialistic and hard-hearted. But it is also true that people like Anil and Hari Singh are still found in real life also. But their number is very small.
(यह बात सच है कि लोग भौतिकवादी और कठोर हृदय वाले होते जा रहे हैं। लेकिन यह बात भी सच है कि वर्तमान समय में भी अनिल और हरि सिंह जैसे लोग पाए जाते हैं। लेकिन ऐसे लोगों की संख्या बहुत कम है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 2.
Do you think it a significant detail in the story that Anil is a struggling writer? Does this explain his behaviour in any way?
(क्या आपके विचार में अनिल का एक संघर्षशील लेखक होना एक महत्त्वपूर्ण घटना है? क्या यह किसी प्रकार से उसके व्यवहार को प्रदर्शित करता है?)
Answer:
It is a significant detail in the story that Anil is a struggling writer. He leads a hand to mouth existence. He earns money by fits and starts. So he knows what it means to be without money. He can under stand Hari Singh’s position. That is why, he takes him as a servant although he has no money to pay him salary. He has a large heart. So, although he may have detected the theft of his money, he does not report to the police.

(यह एक महत्त्वपूर्ण व्याख्या है कि अनिल एक संघर्षशील लेखक है। वह एक तंगी भरा जीवन व्यतीत करता है। वह अनियमित रूप से पैसा कमाता है। इसलिए वह जानता है कि बिना पैसे के होना कैसा होता है। वह हरि सिंह की स्थिति को समझ सकता है। यही कारण है कि वेतन के लिए भुगतान करने के पैसे न होने के बावजूद भी वह उसे नौकर के रूप में काम दे देता है। वह एक विशाल हृदल वाला है। इसलिए, यद्यपि हो सकता है उसे धन की चोरी के बारे में पता लग गया हो लेकिन वह इसकी सूचना पुलिस को नहीं देता है।)

Question 3.
Have you met anyone like Hari Singh? Can you think and imagine the circumstances that can turn a fifteen-year-old boy into a thief? (क्या आप हरि सिंह जैसे किसी आदमी से मिले हैं? क्या आप उन परिस्थितियों के बारे में सोच सकते हो अथवा कल्पना कर सकते हो जो एक पंद्रह वर्ष के बालक को चोर बना देती हैं?)
Answer:
Yes, I have met a boy like Hari Singh. He used to commit petty crimes. I studied his life. I came to the conclusion that the circumstances make one a thief. Poverty is the biggest factor. One is prepared to do anything to douse the fire burning in his belly. This can turn a young man into a thief.

(हाँ, मैं हरि सिंह जैसे लड़के से मिला हूँ। वह छोटे-छोटे अपराध किया करता था। मैंने उसके जीवन का अध्ययन किया। मैं इस निष्कर्ष पर पहुँचा कि परिस्थितियाँ आदमी को चोर बना देती हैं। गरीबी सबसे बड़ा पहलू है। आदमी अपने पेट की आग को बुझाने के लिए कोई भी काम करने को तैयार हो जाता है। यह एक युवक को चोर बना देती है।)

Question 4.
Where is the story set? (You can get clues from the names of the persons and places mentioned in it.) Which language or languages are spoken in these places? Do you think the characters in the story spoke to each other in English?
(यह कहानी कहाँ रची गई है (आप इस कहानी में वर्णित व्यक्तियों और स्थानों के नामों से संकेत ले सकते हैं) इन स्थानों पर कौन-सी भाषा या भाषाएँ बोली जाती हैं? क्या आपके विचार में कहानी के पात्र अंग्रेज़ी भाषा में बात करते हैं?)
Answer:
It appears that the story is set in Delhi. A number of clues point to this fact. These are : “The Jumna Sweet Shop’, ‘railway station’, ‘The Lucknow Express was just moving out’. Hindi, English and other Indian languages are spoken in it. I do not think the characters in the story spoke to each other in English. However, they might have used some English words like time’, ‘train’, ‘clock tower’.

(ऐसा प्रतीत होता है कि कहानी दिल्ली में रची गई है। बहुत सारे सुराग इस ओर संकेत कर रहे हैं। ये संकेत हैं ‘जमना स्वीट शॉप’ ‘रेलवे स्टेशन’ ‘लखनऊ एक्सप्रेस अभी-अभी छूट ही रही थी। इस कहानी में हिंदी, अंग्रेज़ी और अन्य भाषाएँ बोली गई हैं। मेरे विचार में इस कहानी के पात्र आपस में अंग्रेज़ी भाषा में बातचीत नहीं करते हैं। हालाँकि उन्होंने अंग्रेज़ी भाषा के कुछ शब्दों जैसे ‘time’, ‘train’ और ‘clock tower’ का प्रयोग अवश्य ही किया है।)

JAC Class 10th English The Thief’s Story Important Questions and Answers

Very Short Answer Type Questions

Question 1.
Who does ‘I’ refer to in the story ‘The Thief’s Story
Answer:
In this story ‘I’ refers to the thief boy, Hari Singh.

Question 2.
What is the thief boy “a fairly successful hand”at?
Answer:
He is a fairly successful hand at stealing.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 3.
How old is Anil?
Answer:
He is twenty five years old.

Question 4.
What was Anil doing when the thief boy met him?
Answer:
He was watching a wrestling match.

Question 5.
Where did Anil live?
Answer:
Anil lived on a shop named Jumna Sweet Shop.

Question 6.
How old is the thief boy?
Answer:
He is fifteen years old.

Question 7.
Who is the narrator of the story “The Thief’s Story”?
Answer:
The thief boy named Hari Singh is the narrator of the story.

Question 8.
What did Anil do for living?
Answer:
He wrote articles for magazines to earn money.

Question 9.
Why was the thief boy grateful to Anil?
Answer:
The thief boy was grateful to Anil because he was teaching him how to read and write.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 10.
Which train the thief boy wanted to catch?
Answer:
He wanted to catch Lucknow Express.

Question 11.
What did Anil give to the boy in the morning?
Answer:
Anil gave a fifty rupee note to the boy in the morning.

Question 12.
Did the thief boy buy any ticket?
Answer:
No, the thief boy did not buy any ticket.

Question 13.
Which month of the year was it when the thief boy was sitting in the rain in the park?
Answer:
It was the month of November.

Question 14.
What was Hari Singh’s opinion about friends?
Answer:
He thought that friends were more trouble some than a help.

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 15.
Where did the thief boy ultimately decide to returned?
Answer:
He ultimately decided to return to Anil

Question 16.
What type of a person was Anil?
Answer:
Anil was a carefree and gentle person.

Short Answer Type Questions

Question 1.
Who is ‘T’ in this story? Why did he change his name every month?
(इस कहानी में ‘मैं’ कौन है? वह हर महीने अपना नाम क्यों बदल लेता था?)
Or
Why did Hari Singh hide his real name?
(हरि सिंह ने अपना असली नाम क्यों छिपाया?)
Answer:
In this story ‘I’ is a boy thief of 15 years. He often changed his name every month to avoid being caught by the police and his former employers. This time he tells that his name is Hari Singh.
(इस कहानी में ‘मैं’ एक 15 वर्षीय चोर बालक है। वह पुलिस के द्वारा पकड़े जाने और अपने पहले वाले नियोक्ताओं से बचने के लिए हर महीने अपना नाम बदल लेता था। इस बार वह अपना नाम हरि सिंह बताता है।)

Question 2.
Why did Hari Singh smile in his most appealing way?
(हरि सिंह अपनी सबसे आकर्षक मुद्रा में क्यों मुस्कुराया?).
Answer:
Hari Singh cooked food for Anil. He did not know anything about cooking. Anil could not eat it. He threw it to a stray dog. He asked the boy to go away from his house. But the boy did not want to leave him. So, he smiled in his most appealing way.
(हरि सिंह ने अनिल के लिए भोजन पकाया। वह भोजन पकाने के बारे में कुछ भी नहीं जानता था। अनिल इस भोजन को खा न सका। उसने उसे एक आवारा कुत्ते के पास फेंक दिया। उसने लड़के को अपने घर से चले जाने को कहा। लेकिन वह उसे नहीं छोड़ना चाहता था। इसलिए वह अपने सबसे आकर्षक ढंग से हँसा।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 3.
Why was the thief grateful to Anil?
(चोर अनिल का आभारी क्यों था?)
Answer:
The thief was grateful to Anil because he gave him a job. Secondly, he promised to teach him to read and write.
(चोर अनिल का आभारी था क्योंकि उसने उसे नौकरी दी थी। दूसरे, उसने उसे पढ़ना और लिखना सिखाने का वचन दिया था।)

Question 4.
Why did he want to become an educated man?
(वह पढ़ा-लिखा व्यक्ति क्यों बनना चाहता था?)
Answer:
He was an uneducated person. He made his living by stealing and cheating others. He thought if he were educated there would be no limit to what he would achieve.
(वह एक अनपढ़ व्यक्ति था। वह चोरी करने या दूसरों को ठगकर अपनी आजीविका कमाता था। उसने सोचा कि यदि वह पढ़-लिख गया तो उसकी उपलब्धियों की कोई सीमा नहीं रहेगी।)

Question 5.
What was Anil’s job? What did he usually do with the money he earned ? (अनिल का क्या काम था? जो धन वह कमाता था उसका वह प्रायः क्या करता था?)
Answer:
Anil was a writer. He wrote articles for magazines. He had no regular source of income. He earned by fits and starts. When he earned some money, he would go out to celebrate.
(अनिल एक लेखक था। वह पत्रिकाओं के लिए लेख लिखा करता था। उसकी आय का कोई नियमित साधन नहीं था। वह अनियमित ढंग से धन कमाता था। जब वह कुछ धन कमा लेता था तो वह मौज-मस्ती करने बाहर चला जाता था।)

Question 6.
How can you say that Anil was easy going and extravagant?
(आप कैसे कह सकते है कि अनिल आरामपसंद और फिजुलखर्च करने वाला व्यक्ति है?).
Answer:
Anil was an easy going man. It was simple for the thief boy to make him a victim. Anil was extravagant. He spent the money he earned on his friends.
(अनिल आरामपसंद व्यक्ति है। चोर बालक के लिए उसे शिकार बनाना आसान था। अनिल फिजूलखर्ची है। वह अपने द्वारा कमाया गया धन अपने मित्रों पर खर्च करता है।)

Question 7.
How did he think Anil would react when he discovered the theft? Why did he think so?
(उसने क्या सोचा कि जब अनिल को चोरी का पता चलेगा तो वह कैसे प्रतिक्रिया करेगा? उसने ऐसा क्यों सोचा?)
Answer:
Hari Singh thought that when Anil would come to know of the theft, his face would show a touch of sadness. It would not be for the loss of money but for the loss of trust.
(हरि सिंह ने सोचा कि जब अनिल को चोरी के बारे में पता चलेगा तो उसके चेहरे पर उदासी के भाव प्रकट होंगे। यह धन के खोने के कारण नहीं बल्कि विश्वास के खोने के कारण होगा।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 8.
What made him come back to Anil?
(वह अनिल के पास क्यों लौट आया?) .
Answer:
Anil had been teaching Hari Singh to read and write. He thought that without education, he would remain only a thief. But with education, he would become a big, clever and respected man: This made him come back to Anil.
(अनिल हरि सिंह को पढ़ना और लिखना सिखा रहा था। उसने सोचा कि बिना शिक्षा के वह केवल एक चोर ही रहेगा, लेकिन पढ़ने-लिखने के पश्चात् वह एक बड़ा, चतुर और सम्मानित व्यक्ति बन जाएगा। यही सोचकर वह अनिल के पास वापस लौट आया।)

Question 9.
What did Anil give him in the morning? In what condition was it?
(अनिल ने उसे प्रातःकाल क्या दिया? यह किस स्थिति में था?)
Answer:
Anil gave him a fifty-rupee note in the morning. It was still wet from the night’s rain.
(अनिल ने प्रातःकाल उसे एक पचास रुपए का नोट दिया। यह अभी भी रात की हुई वर्षा के कारण गीला था।)

Question 10.
How did the thief realise that Anil knew that it had been stolen?
(चोर ने कैसे जाना कि अनिल को मालूम हो गया है कि नोट चोरी किए गए थे?) .
Answer:
Anil gave a fifty rupee note to the thief. It was still wet from the night’s rain. So, the thief realised that Anil knew that it had been stolen.
(अनिल ने चोर को पचास रुपए का नोट दिया। यह अभी भी रात को हुई वर्षा के कारण गीला था। इसलिए चोर ने महसूस किया कि अनिल को मालूम हो गया है कि नोट चोरी किए गए थे।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 11.
How did the thief know that Anil had forgiven him ?
(चोर ने कैसे जाना कि अनिल ने उसे क्षमा कर दिया है?)
Answer:
Anil did not express in any way that he knew about the stealing. Moreover, he promised to pay him regularly. He also promised to continue with his teaching him full sentences.
(अनिल ने किसी भी तरह यह प्रदर्शित नहीं होने दिया कि उसे चोरी के बारे में पता है। उसने कहा कि वह उसे नियमित रूप से वेतन देगा। उसने यह भी वायदा किया कि वह उसे पूरे वाक्य सिखाना जारी रखेगा।)

Question 12.
Why did the thief smile without any effort towards the end of the story?
(कहानी के अंत में चोर के चेहरे पर बिना किसी प्रयास के मुस्कान क्यों आ गई?)
Answer:
The thief was under tension that his master would be angry with him for stealing the money. But Anil did not express any anger. He said that he would pay him regularly and would remain continue teaching him full sentences. This made him tension free and he smiled without any effort.
(चोर इस बात से तनाव में था कि उसका मालिक उससे पैसों की चोरी करने के कारण नाराज होगा। लेकिन अनिल ने किसी प्रकार का कोई गुस्सा प्रदर्शित नहीं किया। उसने कहा कि अब वह उसे नियमित रूप से वेतन देगा और उसे पूरे वाक्य सिखाना जारी रखेगा। इसने उसे तनाव मुक्त कर दिया और वह बिना किसी प्रयास के हँस पड़ा।)

Question 13.
Why, according to Hari, is it difficult to rob a careless man?
(हरि के अनुसार, एक लापरवाह व्यक्ति को लूटना मुश्किल क्यों है?)
Answer:
Hari thinks that it is difficult to rob a careless man. Sometimes he does not even notice that he has been robbed. This takes out the joy of robbing him.
(हरि का विचार है कि एक लापरवाह व्यक्ति को लूटना कठिन है। कई बार तो उसे पता भी नहीं चलता कि वह लुट गया है। इससे उसे लूटने का मजा समाप्त हो जाता है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 14.
Why did Hari Singh think of doing some real work?
(हरि सिंह कुछ वास्तविक कार्य करने की बात क्यों सोचता है?)
Answer:
By ‘real work’ Hari Singh means stealing. He wants to steal Anil’s money because he has not stolen anything for a long time. Secondly, Anil is a careless man. If Hari Singh did not steal his money, he would waste it on useless things.
(‘वास्तविक कार्य से हरि सिंह का अभिप्राय चोरी करने से है। वह अनिल के पैसे चुराना चाहता है क्योंकि बहुत समय से उसने कुछ नहीं चुराया है। दूसरे, अनिल एक लापरवाह व्यक्ति है। अगर हरि सिंह उसके पैसे नहीं चुराएगा तो वह इसे बेकार के कामों पर नष्ट कर देगा।)

Question 15.
What made him think that he could live like an oil-rich Arab for sometime?
(उसने ऐसा क्यों सोचा कि कुछ समय तक वह एक तेल से हुए अमीर अरब की तरह रह सकता है?)
Answer:
Hart Singh was a poor boy. He stole Anil’s bundle of notes. It was a sum of 600 rupees. Hari Singh thought that he could live in luxury like an oil-rich Arab for sometime on this stolen money.
(हरि सिंह एक गरीब लड़का था। उसने अनिल का नोटों का बंडल चुरा लिया। यह राशि 600 रुपए थी। हरि सिंह ने सोचा कि चोरी के इन पैसों से वह कुछ समय तक तेल से हुए अमीर अरब की तरह रह सकता है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 16.
Why should he find friends to be more trouble than help?
(उसे मित्र सहायता की अपेक्षा तकलीफ देते क्यों महसूस होते हैं?)
Answer:
Hari Singh was a very poor boy. Those whom he knew were also poor like him. So, he thought that friends would be troublesome.
(हरि सिंह एक बहुत गरीब लड़का था। वे सभी जिन्हें वह जानता था उसकी तरह ही गरीब थे। इसलिए उसने सोचा कि मित्र कष्टकारी सिद्ध होंगे।)

Question 17.
Why did he feel nervous about going back to Anil’s room?
(वह अनिल के कमरे में वापस जाने से घबरा क्यों रहा था?)
Answer:
Hari Singh decided to go back to Anil and replace the stolen money under the mattress. But he felt nervous about going there. He thought that it was much easier to steal something than to return it undetected.
(हरि सिंह ने निर्णय किया कि वह अनिल के पास जाकर चुराया हुआ पैसा गद्दे के नीचे रख देगा। मगर वह वहाँ जाने के बारे में घबरा रहा था। उसने सोचा कि किसी चीज को चुराना अधिक आसान है, बजाए इसके कि उसे चुपचाप लौटा दिया जाए।)

Question 18.
How was Hari Singh’s ‘appealing smile’ in the end different from similar smiles of his on earlier occasions?
(आखिर में हरि सिंह की ‘आग्रह बाली’ मुस्कुराहट पहले के अवसरों से भिन्न किस प्रकार थी?)
Answer:
On earlier occasions, Hari Singh’s appealing smile’ had been artificial. It was full of flattery. But in the end, his smile was real. It was natural and appealing.
(पहले के अवसरों पर हरि सिंह की ‘आग्रह वाली मुस्कुराहट’ बनावटी होती थी। यह चापलूसी से भरपूर होती थी। लेकिन अंत में उसकी मुस्कान असली थी। यह स्वाभाविक और सुखद (आकर्षक) थी।)

Essay Type Questions

Question 1.
Write a character sketch of the thief boy.
(चोर लड़के का चरित्र चित्रण कीजिए।)
Answer:
The thief was a fifteen years old boy. But in this story he has been presented as a well experienced and skilful thief. He had a great knowledge of human behaviour. He knew that simple looking persons could be robbed easily. He had an understanding that a little flattery could help in making friends. He was clever enough to change his name to keep himself away from the police and his former employers. He was perfect in telling lies. He had a desire to become a big man in life. He robbed Anil of his six hundred rupees. But in one corner of his heart there was a sense of trust and goodness. He thought that he should not betray Anil. He had an ambition of becoming a big man and he knew that he could realise his ambition only when he is educated. Thus, he was an interesting character.

(चोर एक 15 वर्ष का लड़का था। लेकिन इस कहानी में उसे बहुत अधिक अनुभवी और कार्यकुशल चोर के रूप में प्रस्तुत किया गया है। उसे मानव व्यवहार का काफी ज्ञान था। वह जानता था कि सीधे-सादे दिखने वाले लोगों को आसानी से ठगा जा सकता है। उसकी एक सोच थी कि थोड़ी-सी चापलूसी मित्र बनाने में बहुत अधिक सहायक सिद्ध हो सकती है। वह इतना चालाक था कि पुलिस और अपने पूर्व नियोक्ताओं से बचने के लिए हर महीने अपना नाम बदल लिया करता था। वह झूठ बोलने में निपुण था। उसके मन में बड़ा आदमी बनने की इच्छा थी। उसने अनिल के 600 रुपए चुरा लिए लेकिन उसके दिल के एक कोने में विश्वास और अच्छाई की भावना थी। उसने सोचा कि उसे अनिल को धोखा नहीं देना चाहिए। उसका जीवन में एक बड़ा आदमी बनने का लक्ष्य था और वह जानता था कि वह अपने लक्ष्य को तभी प्राप्त कर सकता है यदि वह पढ़ा-लिखा होगा। इस प्रकार से वह एक दिलचस्प व्यक्ति है।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 2.
Draw a character sketch of Anil.
(अनिल का चरित्र चित्रण कीजिए।)
Or
Who was Anil?
How did he treat Hari Singh and how did it influence Hari’s life?
(अनिल कौन था? उसने हरि सिंह के साथ कैसे व्यवहार किया और इसने हरि सिंह के जीवन को कैसे प्रभावित किया ?)
Answer:
Anil was a young man of 25 years. He was a tall and lean fellow. He looked easygoing and kind. A small boy met him. The boy wanted to rob him. He found him fit for his purpose. The boy told him that he wanted to do a job for him. He said that he could cook the food. Anil gave him a job. The food cooked by the boy was very terrible. He told the boy to run away but later he taught him to cook the food and to learn reading and writing. Anil earned money by fits and starts. He wrote articles for magazines. One day he earned 600 rupees. In the night the thief boy stole the money and ran out in the rain. Later his heart changed and he decided to put the money back under the mattress. Anil discovered all this. But he was so large-hearted that he said nothing to the boy. Instead he promised to pay him regularly.

(अनिल 25 वर्ष का एक नवयुवक था। वह एक लंबा और दुबला-पतला व्यक्ति था। वह सीधा-सादा और दयालु-सा दिखाई देता था। उसे एक छोटा लड़का मिला। लड़का उसे ठगना चाहता था। उसने उसे अपने उद्देश्य के लिए उपयुक्त पाया। लड़के ने बताया कि वह उसके लिए काम करना चाहता है। उसने कहा कि वह भोजन पका सकता है। अनिल ने उसे नौकरी दे दी। लड़के द्वारा पकाया गया भोजन बहुत भयानक था। उसने लड़के को वहाँ से भाग जाने के लिए कहा लेकिन बाद में उसने उसे भोजन पकाना और पढ़ना और लिखना सिखाया। अनिल नियमित रूप से धन नहीं कमाता था । वह पत्रिकाओं के लिए लेख लिखा करता था। एक दिन उसने 600 रुपए कमाए। रात्रि के समय चोर बालक ने वह धन चुरा लिया और बाहर वर्षा में भाग गया। बाद में उसके हृदय में परिवर्तन हुआ और उसने धन को गद्दे को नीचे रखने का निर्णय कर लिया। अनिल को इस पूरे प्रकरण का पता चल गया। लेकिन वह इतने बड़े दिल वाला था कि उसने लड़के को कुछ भी नहीं कहा। इसके बावजूद उसने लड़के को नियमित रूप से वेतन देने का भी वचन दिया।) ।

Question 3.
How did Hari Singh rob Anil of his six-hundred rupees? What stopped him to run away?
(हरि सिंह ने अनिल से उसके 600 रुपए कैसे चोरी किए? उसे भागने से किसने रोका?)
Or
What made the narrator steal Anil’s six hundred rupees? What did he do after that? Why did he put the money back under the mattress?
(वर्णनकर्ता ने अनिल के छः सौ रुपए क्यों चुराए? उसके बाद उसने क्या किया? उसने धन को वापस गद्दे के नीचे क्यों रख दिया?)
Answer:
The thief boy metAnil. He found him an easygoing person. In his mind, he decided to rob him. He said that he would cook food for him. He told Anil that his name was Hari Singh. Anil engaged him on work. He taught him to cook the food and to read and write. Anil had no regular income. One day he brought a small bundle of 600 rupees. He put the bundle under his mattress. When he was fast asleep, the boy drew out the bundle under the mattress and ran to the station to catch the Lucknow Mail at 10:30 p.m. The train had just steamed off. But something stopped his feet to jump into the train compartment. It was Anil’s goodness and carelessness. He realised his folly and decided to go back to Anil. So he went back and placed the money under the mattress.

(चोर बालक अनिल से मिला। उसने उसे एक सीधे-सादे व्यक्ति के रूप में पाया। उसने अपने मन में उसे ठगने की सोची। उसने कहा कि वह उसके लिए भोजन पकाएगा। उसने अनिल को अपना नाम हरि सिंह बताया। अनिल ने उसे काम पर रख लिया। उसने उसे भोजन पकाना, पढ़ना-लिखना सिखाया। अनिल को कोई नियमित आमदनी नहीं थी। एक दिन वह 600 रुपए का एक छोटा बंडल लेकर आया। उसने बंडल को अपने गद्दे के नीचे रख दिया। जब वह गहरी नींद में सोया हुआ था, लड़के ने गद्दे के नीचे से बंडल को निकाल लिया और 10 : 30 बजे वाली लखनऊ मेल को पकड़ने के लिए स्टेशन की ओर भागा। गाड़ी अभी चली ही थी। लेकिन किसी चीज ने उसके कदमों को रेलगाड़ी में चढ़ने से रोक दिया। यह अनिल की अच्छाई और उसकी लापरवाही थी। उसे अपनी गलती का अहसास हुआ और अनिल के पास वापस जाने का फैसला किया। इसलिए वह वापस गया और धन को गद्दे के नीचे रख दिया।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 4.
Why did Hari Singh decide to return the stolen money? What light does it throw on his character?
(हरि सिंह चोरी किए हुए धन को लौटाने का निर्णय क्यों लेता है? यह बात उसके चरित्र पर क्या प्रकाश डालती है?)
Or
Love can transform even a thief. How is it true in the case of Hari Singh?
(प्रेम चोर को भी बदल सकता है। हरि सिंह के मामले में यह कैसे सच है?)
Answer:
After stealing the money when Hari Singh reached the station, he could not board the Lucknow Express though he could easily get on it. He stood alone on the deserted platform and thought about Anil who he knew would feel only sadness for the loss of trust when he discovered the theft. He felt that he should go back to Anil if only to read and write. So he decided to return to Anil feeling very nervous. The thief was very grateful to Anil and quite liked working for him. Since Anil was the most trusting man he had met. Anil’s confidence had awaken his conscience. He wanted to become a good man. Anil could only make him a good man. So he decided to come back to Anil and return the money that he had stolen.

(धन चुराने के पश्चात् जब हरि सिंह स्टेशन पर पहुंचा, तो वह लखनऊ मेल पर सवार नहीं हो सका, यद्यपि वह आसानीपूर्वक उस पर सवार हो सकता था। वह सुनसान प्लेटफार्म पर अकेला खड़ा था और अनिल के बारे में सोच रहा था जिसे कि वह जानता था कि जब उसे चोरी का पता चलेगा तो वह विश्वास के टूटने के कारण उदास होगा। उसने महसूस किया कि यदि वह पढ़ना और लिखना सीखना चाहता है तो उसे अनिल के पास वापस चला जाना चाहिए। इसलिए उसने घबराहट की दशा में अनिल के पास वापस जाने का निर्णय ले लिया। चोर अनिल का बहुत आभारी था और उसके लिए काम करने को बहुत पसंद करता था, क्योंकि आज तक उसे जितने भी आदमी मिले थे अनिल उनमें सबसे अधिक विश्वास करने वाला व्यक्ति था। अनिल के विश्वास ने उसके जमीर को जगा दिया था। वह एक अच्छा व्यक्ति बनना चाहता था। केवल अनिल ही उसे एक अच्छा व्यक्ति बना सकता था। इसलिए उसने अनिल के पास वापस आने और चोरी किए हुए धन को लौटाने का निर्णय लिया।)

Question 5.
What kind of a life was Hari Singh leading with Anil?
(हरि सिंह अनिल के साथ किस प्रकार का जीवन व्यतीत कर रहा था?)
Answer:
Anil engaged Hari Singh as a house-servant. His duty was to cook food and prepare tea for Anil. He was not expert in cooking. But Anil taught him how to cook food. He went to market to buy vegetables and other things of daily necessity. For the thief it was quite pleasant working for Anil. Anil had told him that he would teach him reading and writing. The thief was grateful to Anil for giving him a job and for his promise to make him an educated man. He knew that once he could write like an educated man then there would be no limit to what he could achieve.

(अनिल ने हरि सिंह को एक घरेलू नौकर के रूप में नौकरी पर लगा लिया। उसका काम अनिल के लिए भोजन पकाना और चाय बनाना था। वह भोजन पकाने की कला में निपुण नहीं था। लेकिन अनिल ने उसे भोजन पकाना सिखाया। वह सब्जियाँ तथा दैनिक आवश्यकता की अन्य वस्तुओं को खरीदने के लिए बाजार जाता था। चोर के लिए अनिल जैसे व्यक्ति के लिए काम करना एक सुखद अनुभव था। अनिल ने उसे बता दिया था कि वह उसे पढ़ना और लिखना सिखा देगा। चोर अनिल के प्रति उसे नौकरी देने और उसे शिक्षित व्यक्ति बनाने के आश्वासन के लिए बहुत आभारी था। वह जानता था कि एक बार वह एक शिक्षित व्यक्ति की तरह लिखना सीख गया तो तब उसकी प्राप्तियों की कोई सीमा नहीं रहेगी।)

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 6.
‘The Thief’s Story’ is an in-depth study of human mind. Discuss.
(‘The Thier’s Story मानव मन के अंतःकरण के अध्ययन की कहानी है। वर्णन कीजिए।).
Answer:
The human mind is a very complex thing. It is a mixture of opposite opinions. Sometimes a man fails to understand his own mind. In this story the same thing has been presented by Ruskin Bond through the character of a thief boy Hari Singh. The boy starts working for Anil. His primary aim was to rob him. Anil’s carelessness wins his heart. But the boy’s bad mind provokes him to rob Anil of his money. One day he robs his six hundred rupees and runs away to the station. But his good mind stops him boarding the train. He decides to come back to Anil and return his money. So this story is an in-depth study of human mind.

(मानव मन एक बहुत ही जटिल चीज है। यह विपरीत अवधारणाओं का मिश्रण है। कई बार तो व्यक्ति अपने मन को भी नहीं समझ पाता है। इस कहानी में भी चोर बालक हरि सिंह के चरित्र के माध्यम से Ruskin Bond के द्वारा इसी चीज को प्रस्तुत किया गया है। लड़का अनिल के लिए काम करना शुरू कर देता है। उसका प्राथमिक उद्देश्य उसे लूटना था। अनिल की लापरवाही ने उसके दिल को जीत लिया। लेकिन लडके का बरा मन उसे अनिल के पैसे लटने के लिए उकसाता है। एक दिन वह उसके 600 रुपए चुरा कर स्टेशन पर भाग जाता है। लेकिन उसका अच्छा मन उसे गाड़ी पर सवार होने से रोक देता है। वह अनिल के पास वापस आने और धन लौटाने का निर्णय लेता है। अतः यह कहानी मानव मन के अन्तःकरण का अध्ययन है।)

Multiple Choice Questions

Question 1.
What was the name of the thief boy?
(A) Anil
(B) Ajit Singh
(C) Hari Singh
(D) Chander
Answer:
(C) Hari Singh

Question 2.
How old was the thief boy?
(A) 10 years
(B) 15 years
(C) 16 years
(D) 14 years
Answer:
(B) 15 years

Question 3.
How old was Anil?
(A) 20 years
(B) 21 years
(C) 22 years
(D) 25 years
Answer:
(D) 25 years

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 4.
Who is the narrator of the story “The Thief’s Story’?
(A) Hari Singh
(B) Anil
(C) Ruskin Bond
(D) none of these
Answer:
(A) Hari Singh

Question 5.
What did Anil do for a living?
(A) wrote articles for magazines
(B) wrestling
(C) acting
(D) business
Answer:
(A) wrote articles for magazines

Question 6.
What was Anil doing when the thief boy met him?
(A) writing an article
(B) watching a match
(C) playing cricket
(D) going on the road
Answer:
(B) watching a match

Question 7.
Anil lived in a room on a shop named:
(A) Jumna Sweet Shop
(B) Ganesh Sweet Shop
(C) Ganga Sweet Shop
(D) Shah Sweet Shop
Answer:
(A) Jumna Sweet Shop

Question 8.
What did the boy ask Anil?
(A) to give him some money
(B) to employ him
(C) to give him a lift
(D) to tell him the way
Answer:
(B) to employ him

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 9.
What did Anil do to the food cooked by the boy the first day?
(A) ate it with enjoy
(B) put it in the cupboard
(C) threw it to a stray dog
(D) asked the boy to eat it all
Answer:
(C) threw it to a stray dog

Question 10.
What did Hari Singh want from Anil?
(A) help
(B) shelter
(C) money
(D) work
Answer:
(D) work

Question 11.
What was the boy’s real profession?
(A) a household servant
(B) theft
(C) cheating
(D) working honestly
Answer:
(B) theft

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

Question 12.
What did Anil do with the money when he received a cheque?
(A) deposited it in his account
(B) bought household things
(C) went out to celebrate
(D) paid salary to the boy
Answer:
(C) went out to celebrate

Question 13.
Which of the following traits describes
Anil?
(A) easy-going
(B) careful
(C) greedy
(D) extravagant
Answer:
(A) easy-going

Question 14.
The thief boy was grateful to Anil for:
(A) giving him a job
(B) giving him money
(C) watching wrestling match
(D) talking with him with him
Answer:
(A) giving him a job

Question 15.
What promise did Anil make to the thief boy?
(A) giving him a good job
(B) giving him good clothes
(C) teaching him reading and writing
(D) playing with him
Answer:
(C) teaching him reading and writing

The Thief’s Story Summary in English

The Thief’s Story Introduction in English

Ruskin Bond is a famous Indian writer. ‘The Thief’s Story’ is one of his well known stories. In this story, the writer shows how the reformation of a criminal is best achieved through love and understanding rather than punishment. Hari Singh is a thief and a cheat. He comes into contact with Anil. Anil gives him work in his house. One day Hari Singh steals Anil’s money and runs away. But the kindness and love of Anil make him come back and return the money.

The Thief’s Story Summary in English

Tari Singh was a young boy of fifteen. But he was a thief and a cheat. At a wrestling match, he came across Anil. He won Anil’s confidence and came to his house as a servant. Anil was a writer and did not earn much. So, Hari Singh agreed to work for him only for food. Hari Singh did not know how to cook. The first meal which he cooked for Anil was so bad that Anil threw it to the dogs. But Hari’s appealing smile made Anil give up his decision to turn him out.

Hari Singh did odd jobs for Anil. In the morning he made tea and then brought the day’s supplies from the market. Often he made a profit of a rupee a day out of these purchases. Anil had no regular income. He earned something by writing articles and stories for magazines. But one home with a bundle of notes. He told Hari that he had earned six hundred rupees by selling one of his books. Hari’s mouth watered at the sight of money. He decided to steal that money. Anil kept the bundle under his mattress and went to sleep.

Now Hari Singh went into the room and silently took the money under the mattress. He went to the railway station to catch the train to Lucknow. But he missed the train and walked in the bazaars. Soon it started raining and Hari was drenched completely.Then Hari Singh remembered Anil. He imagined how sad Anil would be on finding the money stolen. Hari remembered that Anil used to teach him. He thought that without education he would remain a thief.

But education might make him a big man. So, he decided to return and replace the money. He reached home and silently put the money back under the mattress. The next morning, Anil gave Hari a 50 rupee note. The note was still wet. Hari thought that his crime had been discovered. But Anil told him that he had earned something. Now he would pay Hari Singh regularly.

The Thief’s Story Summary in Hindi

The Thief’s Story Introduction in Hindi

(Ruskin Bond एक प्रसिद्ध भारतीय लेखक है। ‘The Thief’s Story’ उसकी प्रसिद्ध कहानियों में से एक है। इस कहानी में लेखक यह दर्शाता है कि किस प्रकार एक अपराधी का सुधार सजा की अपेक्षा प्यार एवं समझ से हो जाता है। हरि सिंह एक चोर और धोखेबाज है। उसकी मुलाकात अनिल से होती है। अनिल उसे अपने घर में नौकरी दे देता है। एक दिन हरि सिंह अनिल का पैसा चुराकर भाग जाता है। मगर अनिल की दया एवं प्यार उसे वापिस आने और पैसा लौटाने को मजबूर कर देते हैं।)

The Thief’s Story Summary in Hindi

हरि सिंह पंद्रह साल का एक नौजवान लड़का था। मगर वह चोर एवं धोखेबाज था। एक कुश्ती के मैच में उसकी मुलाकात अनिल से हुई। उसने अनिल का विश्वास जीत लिया और उसके घर में नौकर के तौर पर आ गया। अनिल एक लेखक था और अधिक पैसा नहीं कमाता था। इसलिए हरि सिंह ने केवल भोजन के बदले में वहाँ काम करना स्वीकार कर लिया। हरि सिंह को भोजन बनाना नहीं आता था। अनिल के लिए जो पहला भोजन उसने बनाया वह इतना बुरा था कि अनिल ने उसे कुत्तों के सामने डाल दिया। मगर हरि सिंह की आग्रह भरी मुस्कुराहटों ने अनिल को मजबूर कर दिया कि वह हरि को निकालने का निर्णय त्याग दे।

हरि सिंह अनिल के छोटे-मोटे काम करने लगा। सुबह वह चाय बनाता था और तब बाजार से दिनभर के लिए सामान लाता था। कई बार इन सामान की खरीददारी में से वह एक रुपया रोज कमा लेता था।अनिल की कोई नियमित आय नहीं थी। वह पत्रिकाओं के लिए लेख और कहानियाँ लिखकर कुछ कमा लेता था। मगर एक दिन अनिल नोटों का बंडल लेकर घर आया। उसने हरि सिंह को बताया कि उसने अपनी एक पुस्तक बेचकर 600 रुपए कमाए हैं। पैसा देखकर हरि सिंह के मुँह में पानी आ गया। उसने वह पैसा चुराने का फैसला किया। अनिल ने पैसे गद्दे के नीचे रखे और सो गया। अब हरि सिंह कमरे में गया और चुपके से गद्दे के नीचे से पैसे निकाल लिए। वह लखनऊ की गाड़ी पकड़ने के लिए स्टेशन पर गया। मगर उसकी गाड़ी छूट गई और यह बाजारों में घूमता रहा। शीघ्र ही बरसात आरंभ हो गई और हरि सिंह पूरी तरह भीग गया।

तब हरि सिंह को अनिल की याद आई। उसने कल्पना की कि पैसे को चोरी हुआ पाकर अनिल कितना उदास होगा। हरि सिंह को याद आया कि अनिल उसे पढ़ाया करता था। उसने सोचा कि बिना शिक्षा के वह केवल एक चोर रहेगा। मगर शिक्षा उसे इंसान बना सकती है। इसलिए उसने वापस लौटने तथा पैसा वापस रखने का फैसला किया। वह घर पहुंचा और उसने चुपके से पैसे गद्दे के नीचे रख दिए। अगली सुबह अनिल ने हरि सिंह को 50 रुपए का नोट दिया। नोट अभी भी गीला था। हरि सिंह ने सोचा कि उसका अपराध उजागर हो गया है। मगर अनिल ने उससे कहा कि उसने कुछ पैसा कमाया है। अब वह उसे नियमित रूप से वेतन दिया करेगा।

The Thief’s Story Translation in Hindi

IPAGE 8] : जब मैं अनिल से मिला उस समय भी मैं चोर था। और यद्यपि मैं केवल 15 वर्ष का था. मैं बहत अनुभवी और सफल था। अनिल एक कुश्ती मैच देख रहा था जब मैं उसके पास गया। वह लगभग 25 वर्ष का एक लंबा और दुबला व्यक्ति थाऔर वह आरामपरस्त, दयालु और मेरे उद्देश्य के लिए साधारण व्यक्ति लगता था। काफी दिनों से मेरा भाग्य अच्छा नहीं था और मैंने सोचा कि मुझे इस नवयुवक का विश्वास जीतना चाहिए।

“आप स्वयं भी कुछ पहलवान से लगते हो”, मैंने कहा। थोड़ी-सी चापलूसी मित्र बनाने में सहायता करती है।
“तुम भी वैसे ही लगते हो”, उसने उत्तर दिया, इससे मैं थोड़ा-सा डर-सा गया क्योंकि उस समय मैं दुबला-पतला था।
“अच्छा”, मैंने विनीत भाव से उत्तर दिया,“मैं भी थोड़ी-बहुत कुश्ती लड़ लेता हूँ।”
“तुम्हारा नाम क्या है?”
“हरि सिंह” मैंने झूठ बोल दिया। मैं हर महीने एक नया नाम रख लेता था। जो मुझे पुलिस और पहले नियोक्ताओं की पकड़ से दूर रखता था।
इस परिचय के पश्चात्, अनिल ने तेल लगाए हुए पहलवानों के बारे में बातें की जो कि चिंघाड़ रहे थे और एक-दूसरे को उठा-उठाकर पटक रहे थे। मेरे पास कहने के लिए अधिक कुछ नहीं था। अनिल चला गया और मैं भी बिना उद्देश्य के उसके पीछे चल दिया।
उसने पुनः कहा, “हैलो।” मैंने उसे बड़ी सुखद मुस्कान भेंट की। “मैं आपके लिए काम करना चाहता हूँ।” मैंने कहा। “लेकिन मैं तुम्हें वेतन नहीं दे सकता।”

[PAGE 9]: मैंने एक पल के लिए इस बात पर विचार किया। शायद मैंने उस व्यक्ति को गलत समझ लिया हो। मैंने पूछा, “क्या आप मुझे भोजन दे सकते हो?”
“क्या तुम भोजन पका सकते हो?” मैंने पुनः झूठ बोल दिया, “मैं भोजन पका सकता हूँ।” “यदि तुम भोजन पका सकते हो तो संभव है कि मैं तुम्हें भोजन खिला पाऊँ।”
वह जमुना स्वीट शॉप के ऊपर अपने कमरे में मुझे ले गया और मुझे बताया कि मैं छज्जे पर सो सकता हूँ। लेकिन उस रात मैंने जो भोजन पकाया वह बहुत-ही घटिया रहा होगा क्योंकि अनिल ने उसे एक आवारा कुत्ते के पास फेंक दिया और मुझे वहाँ से चले जाने को कहा। लेकिन मैं अपनी सर्वाधिक सुखद हँसी के साथ उससे चिपका रहा और वह हँसे बिना नहीं रह सका। बाद में उसने मेरा सिर थपथपाया और कहा चिंता मत करो, वह मुझे खाना पकाना सिखाएगा। उसने मुझे मेरा नाम भी लिखना सिखाया और कहा कि वह मुझे जल्दी ही पूरे वाक्य लिखना और संख्याओं को जोड़ना सिखा देगा। मैं बहुत आभारी था। मैं जानता था कि यदि मैंने एक बार पढ़े-लिखे व्यक्ति की तरह लिखना सीख लिया तो मेरी उपलब्धि की कोई सीमा नहीं रहेगी। अनिल के लिए काम करना बहुत सुखद था। मैं प्रातःकाल चाय बनाता था और तब मैं अपना समय दैनिक जरूरत की चीजों को खरीदने में लगाता था और सामान्य रूप से प्रतिदिन एक रुपए का लाभ कमा लेता था। मैं सोचता हूँ कि वह जानता था कि मैं इस तरह थोड़ा बहुत धन बचा लेता था लेकिन उसने कभी इस बात की परवाह नहीं की।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

[PAGE 10] : अनिल की आमदनी नियमित नहीं थी। वह एक सप्ताह उधार लेता और अगले सप्ताह उधार चुका देता था। वह अपने अगले चैक के बारे में चिंतित रहता था लेकिन जैसे ही चैक आता वह जश्न मनाने के लिए बाहर चला जाता। ऐसा लगता है कि वह पत्रिकाओं के लिए लेख लिखा करता था आजीविका कमाने का एक विचित्र ढंग!
एक शाम वह नोटों की एक छोटी-सी गड्डी लेकर घर आया, वह कह रहा था कि उसने एक प्रकाशक को अपनी एक पुस्तक बेच दी है। रात को मैंने उसे गद्दे के नीचे पैसे को रखते हुए देखा। मैं लगभग एक महीने से अनिल के पास काम कर रहा था, खरीददारी करते समय उसे ठगने के अतिरिक्त मैंने अपने पेशे के अनुसार और कोई काम नहीं किया था। ऐसा करने का मेरे पास प्रत्येक अवसर उपलब्ध था। अनिल ने मुझे दरवाजे की चाबी दी हुई थी और मैं अपनी इच्छा के अनुसार कमरे में आ-जा सकता था।

वह सर्वाधिक विश्वसनीय व्यक्ति था जो मुझे कभी मिला था। . और इसी कारण से उसे ठगना बहुत कठिन था। एक लालची आदमी को ठगना बहुत आसान होता है क्योंकि उसे लूटा जाना वह सहन कर सकता है। लेकिन एक लापरवाह व्यक्ति को ठगा जाना बहुत कठिन होता है कई बार तो उसे पता भी नहीं चलता कि वह ठगा जा चुका है और इस बात से पँधे का पूरा मजा किरकिरा हो जाता है। ठीक है, यही समय है कि जब मैं कुछ वास्तविक कार्य करूँ। मैंने अपने आपको बताया! अब तो मुझे चोरी करने का अभ्यास भी नहीं रहा है। और यदि मैं यह धन नहीं चुराता हूँ, वह इसे अपने मित्रों पर व्यर्थ में खर्च कर देगा। आखिर वह मुझे भी तो वेतन नहीं देता है। अनिल सोया हुआ था। चंद्रमा के प्रकाश की किरण छज्जे के ऊपर से छिटककर बिस्तर पर पड़ रही थी। स्थिति का जायजा लेते हुए मैं फर्श पर बैठ गया।

यदि मैं पैसे ले लेता तो मैं 10:30 पर लखनऊ जाने वाली मेल गाड़ी पकड़ सकता था। कंबल में से बाहर निकलते हुए मैं रेंगता हुआ बिस्तर तक गया। अनिल शांतिपूर्वक सो रहा था। उसका चेहरा स्वच्छ और बिना झुर्रियों के था, हालांकि मेरे चेहरे पर अधिक निशान थे यद्यपि इनमें से अधिकतर निशान घावों के थे। मेरा हाथ नोटों की तलाश में गद्दे के नीचे चला गया। जब मुझे नोट मिल गए, मैंने बिना आवाज किए उन्हें बाहर निकाल लिया। अनिल ने अपनी नींद में आह भरी और अपनी करवट मेरी ओर ले ली। मैं हैरान हो गया और जल्दी से पेट के बल रेंगते हुए कमरे से बाहर निकल गया। …जब मैं सड़क पर आ गया, मैंने दौड़ना आरंभ कर दिया। नोट मेरी कमर पर मेरे पायजामे के नाड़े के साथ बँधे हुए थे। मैंने अपनी गति धीमी की और सामान्य चाल से चलने लगा और नोटों को गिना : पचास वाले नोटों में 600 रुपए थे! मैं एक या दो सप्ताह तक एक धनी, तेल के अरब व्यापारी की तरह रह सकता था।

[PAGE 11]: जब मैं स्टेशन पर पहुँचा तो मैं टिकटघर के पास नहीं रुका (मैंने अपने जीवन में कभी भी टिकट नहीं खरीदा था) परंतु एकदम सीधे प्लेटफार्म पर पहुँच गया। लखनऊ एक्सप्रैस उसी समय बाहर निकल रही थी। गाड़ी को अभी गति पकड़नी थी और मैं किसी भी डिब्बे में छलांग लगाकर चढ़ सकता था। परंतु मैं हिचक गया-किसी अज्ञात कारण से जिसे मैं स्पष्ट नहीं कर सकता और वहाँ से दूर चले जाने का अवसर मैंने खो दिया।जब गाड़ी चली गई तो मैंने स्वयं को सुनसान प्लेटफार्म पर अकेला खड़ा पाया। मुझे मालूम नहीं था कि रात कहाँ बिताई जाए। मेरा कोई मित्र नहीं था, क्योंकि मेरा विश्वास था कि मित्र सहायता की अपेक्षा तकलीफ अधिक देते हैं। और मैं स्टेशन के नजदीक किसी छोटे-से होटल में ठहरकर किसी में जिज्ञासा पैदा नहीं करना चाहता था। जिस एकमात्र व्यक्ति को मैं अच्छी प्रकार जानता था वह तो वही व्यक्ति था जिसको मैंने लूटा था। स्टेशन से निकलकर मैं धीरे-धीरे बाजार में घूमने लगा।

लोगों की वस्तुएँ लूटने के व्यवसाय के अपने छोटे-से काल में मैंने चीजों के लूटने के बाद लोगों के चेहरों का अध्ययन किया था। लालची व्यक्ति के चेहरे पर भय नजर आता है। अमीर व्यक्ति को गुस्सा आता है; गरीब व्यक्ति के चेहरे पर बिना शिकायत सहनशीलता का भाव आता है। मगर मैं जानता था कि जब अनिल को चोरी का पता चलेगा तो उसके चेहरे पर केवल उदासी का भाव आएगा। पैसे के नुकसान के कारण नहीं बल्कि विश्वास के नुकसान के कारण। मैंने स्वयं को मैदान के बीच पाया और एक बैंच के ऊपर बैठ गया। रात ठंडी थी-लगभग नवंबर मास का शुरू का समय था और हल्की-सी बूंदाबांदी ने मेरी परेशानी को बढ़ा दिया। शीघ्र ही जोर से वर्षा होनी शुरू हो गई। मेरा कमीज और पायजामा मेरी त्वचा के साथ चिपक गए और एक ठंडी पवन वर्षा की बूंदों को मेरे चेहरे के ऊपर फेंक रही थी।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

[PAGE 12]: मैं वापस बाजार में चला गया और घंटा घर के नीचे (आश्रय) बैठ गया। घड़ी में मध्यरात्रि का समय हो चुका था। मैंने नोटों को छुआ। वे वर्षा के कारण गीले हो गए थे। अनिल का धन। शायद सुबह होने पर वह मुझे सिनेमा जाने के लिए दो या तीन रुपए दे देता लेकिन अब मेरे पास यह सारा धन है। मैं उसका भोजन नहीं पका सका, भागकर बाजार न जा सका और न ही परे वाक्य लिखना सीख सका। चोरी की उत्तेजना में मैं इन चीजों के बारे में सब कुछ भूल चुका था। मैं जानता था कि पूरे वाक्य मुझे किसी दिन कुछ सौ रुपयों से अधिक धन ला सकते थे। चोरी करना बहुत ही आसान काम था-और कई बार पकड़ा जाना भी इतना ही आसान होता था। परंतु वास्तव में एक बड़ा आदमी बनने, एक चतुर और इज्जतदार आदमी बनने के लिए कुछ और चाहिए था। मैंने अपने आपको बताया कि यदि मैं पढ़ना और लिखना सीखना चाहता हूँ तो मुझे अनिल के पास वापस लौट जाना चाहिए।

मैं बहुत घबराया हुआ कमरे में वापस गया, क्योंकि पैसा चुराना बहुत आसान है मगर उसे चुपचाप वापस रखना और भी मुश्किल है। मैंने चुपके से दरवाजा खोला और दरवाजे के रास्ते में चाँद की रोशनी में खड़ा हो गया। अनिल अभी सोया हुआ था। मैं बिस्तर के सिरहाने की तरफ चुपके से गया और हाथ में नोट पकड़े। मैंने अपने हाथ पर उसकी साँस को महसूस किया। मैं एक क्षण के लिए शांत रहा। तब मेरे हाथों ने गद्दे के कोने को ढूँढा और उसके नीचे नोट खिसका दिए। मैं अगली प्रातः देर से उठा और देखा कि अनिल पहले ही चाय बना चुका था। उसने अपना हाथ मेरी ओर बढ़ाया। उसकी उंगलियों में पचास रुपए का एक नोट था। मेरा दिल बैठ गया। मैंने सोचा कि मेरी चोरी पकड़ी गई थी। “मैंने कल कुछ पैसा कमाया था,” उसने समझाया, “अब तुम्हें नियमित रूप से वेतन मिलेगा।” मेरा उत्साह बढ़ गया। लेकिन जब मैंने नोट लिया, मैंने देखा कि रात की वर्षा के कारण वह अभी भी गीला था। उसने कहा, “आज हम वाक्य लिखना आरंभ करेंगे।” वह जानता था। लेकिन न तो उसके होंठों ने और न ही उसकी आँखों ने कुछ प्रकट होने दिया। मैं अपनी सबसे अधिक आकर्षक हँसी के साथ अनिल के ऊपर हँसा। और बिना किसी प्रयास के, मुस्कुराहट प्रकट हो गई।

The Thief’s Story Wold-Mianings in Hindi

[PAGE 8] Trusts = relies on (विश्वास करना); betray = deceive, dupe (धोखा देना); fairly = enough (काफी); lean = weak and thin (कमजोर); purpose = objective (उद्देश्य); of late = for some days (कुछ दिनों से); confidence = good books (विश्वास); wrestler = to strive by grappling (कुश्ती लड़ना); flattery = false praise (चापलूसी); modestly = humbly (भद्रतापूर्वक); lied = to tell a lie (झूठ बोलना); ahead = forward (आगे); introduction = formal presentation(परिचय); grunting = roaring (गुर्राना); casually = purposelessly (बिना किसी उद्देश्य के); appealing = attractive (आकर्षक)।

[PAGE 9] Perhaps = probably (शायद); meal = cooked food (पका हुआ भोजन); stray = wandering (आवारा); be off = run away (भाग जाना); patted = stroked (थपथपाया); never mind = don’t worry (घबराओ मत); grateful = obliged (आभारी); achieve = obtain (प्राप्त करना); pleasant = full of happiness (मधुर/सुखद); profit = gain (लाभ)।

[PAGE 10] Fits and starts = seldom (कभी-कभी); queer = strange (विचित्र); publisher = one who gets books printed (प्रकाशक); tuck = to press in (छुपाकर रखना); mattress = quilts (गद्दे); opportunity = chance (अवसर); trusting = reliable (विश्वसनीय); rob = to plunder (ठगना); afford = to bear (सहृन करना); beam = ray (किरण); considering = thinking over (विचार करना); situation = condition (स्थिति); crept up = to move slowly (पेट के बल रेंगना); unlined = plain (बिना झुर्रियों के); marks = spots (निशान); scars = spots of wound (घाव के निशान); slid = glided (सरक गया); startled = surprised (हैरान); crawled = moved slowly (धीरे-से सरकना); waist = back side of stomach (कमर)।

JAC Class 10 English Solutions Footprints without Feet Chapter 2 The Thief’s Story

[PAGE 11] Dashed = pushed (अंधाधुंध दौड़ना); straight = direct (सीधे); carriages = train compartments रिल के डिब्बे); hesitated = held back (हिचकिचाना); deserted = lonely (सुनसान); curious = anxious (उत्सुक); career = profession (व्यवसाय); acceptance = approval (स्वीकृति); chilly = cold (ठंडी); drizzle = mild rain (बूँदा-बाँदी); discomfort = uneasiness (बेचैनी)।

[PAGE 12] Shelter = refuge (शरण/आश्रय); damp = wet (गीला); probably = perhaps (शायद); excitement = stimulation (उत्तेजना); matter = affair (मामला); hurried = to hasten (जल्दी-से); nervous = uneasy (घबराना); undetected = undiscovered (बिना पता चल); quietly = calmly (शाति-स); remained = to continue (रहना); still = even now (अभी-भी); edge = outer limit (सिरा या किनारा); stretched = extended (फैलाया); sank = to decline (डूबा); spirits = courage ((साहस); effort = attempt (प्रयास)।

JAC Class 10 English Solutions

JAC Class 10 English Grammar Factual Passages

JAC Board Class 10th English Grammar Factual Passages

JAC Class 10th English Grammar Factual Passages Textbook Questions and Answers

Factual Passages

1. Read the passage carefully.

Write-downs to surge for cos as Covid hits demand
Will Squeeze Profits, Or Even Push Them Into The Red

An increasing number of Indian companies are staring at write-downs in their business this fiscal as they will be forced to record the demand-collapse for their products on profit and loss accounts due to the pandemic.
JAC Class 10 English Grammar Factual Passages 1
They will have to provide for impairments starting June quarter, which could either pull their profits lower or push them into losses. Early signs of Covid-19 related impairment charges were visible in some entities when they announced their fourth quarter numbers for fiscal 2020. Industry watchers expect impairments to accelerate going forward.

Vedanta, for instance, took an exceptional charge of Rs- 17,132-crore in the three months through March of fiscal 2020, mainly due to the Rs-16,576-crore impairment of assets in its oil and gas business, triggered by the fall in crude oil prices following the coronavirus outbreak.

“Impairments are triggered due to falling demand/revenue/profitability, rising losses, increased competition intensity, among other factors. The cumulative effect of which is to reduce the economic viability of the subject business,” said RBSA Advisors MD Rajeev Shah. “Where the subject business is into commodities, it suffers a double whammy, wherein falling demand immediately triggers fall in prices, putting the company in a miserable position.”

Since Covid-19 manifested in the fourth quarter, companies have been making judgments and estimates on the impact of the pandemic on their business and have been reflecting the same in their impairment assessments while finalising their annual accounts.

“We don’t expect this (write-downs) to be a one time impact as most companies will need to continuously monitor the situation and reassess the economic scenarios that could play out in the future,” said KPMG partner Sai Venkateshwaran. “Where the assessment continues to show a decline or a prolonged impact on business, companies may need to record further losses in the coming quarters and we can expect to see more of these reflected on a quarter-by-quarter basis rather then only in the last quarter of fiscal 2021.”

Generally, firms carry out asset impairment assessments as and when there is an indication of a . possible impact from either external or internal indicators. However, for goodwill and intangible assets, companies typically carry out assessments in the fourth quarter as this coincides with the annual audit process. Companies in the non-essential businesses – such as automobiles, hospitality, aviation and shadow banking – are expected to take impairments on inventories and recoverability of loans/receivables this fiscal.

RBSA Advisors MD Ravishu Shah pointed out that certain businesses had been weak even before the onset of Covid-19 and the pandemic has only made matters worse for them. These companies have taken impairments in the fourth quarter.

Globally, capital-intensive sectors like energy, airlines and steel have been hit the hardest with impairments. (Courtesy: The Times of India)

Word-Meaning: Staring – gazing, Accelerate – speed up, Cumulative – growing, Triggers – activate, Whammy – an evil influence

JAC Class 10 English Grammar Discursive Passages

On the basis of your understanding of the above passage, answer any ten of the questions given below by choosing the most appropriate option: [10 x 1 = 10]

a. Impairment of Vedanta’s assets in oil and gas business accounted for
(i) Rs. 17,132 crore
(ii) Rs. 16,570 crore
(iii) Rs. 16,575 crore
(iv) Rs. 16,576 crore
Answer:
(iv) Rs. 16,576 crore

b. What factors are triggering impairments?
(i) Falling demand, revenue, profitability, rising losses, increase in competition
(ii) Falling demand, profitability and rising losses
(iii) Profitability, rising losses and increase in competition
(iv) Profitability, rising losses and economic crisis
Answer:
(i) Falling demand, revenue, profitability, rising losses, increase in competition

c. What triggered impairment in oil and gas business?
(i) Rising prices
(ii) Fall in crude oil prices
(iii) Increasing competition
(iv) Falling demand
Answer:
(ii) Fall in crude oil prices

d. Which business is likely to suffer a double whammy?
(i) Commodity
(ii) Crude oil
(iii) Steel
(iv) Motors
Answer:
(i) Commodity

e. “Write downs are not a one-time impact on companies.” Who said this?
(i) Rajeev Shah
(ii) Ravishu Shah
(iii) Sai Venkatcshwaran
(iv) None of the above
Answer:
(iii) Sai Venkatcshwaran

f. Losses in business will be reflected
(i) in a quarter-by-quarter basis
(ii) in the last quarter of fiscal 2021
(iii) in the third quarter of fiscal 2021
(iv) in the coming quarters
Answer:
(i) in a quarter-by-quarter basis

g. Firms generally carry out asset impairment assessment when
(i) cumulative etlect reduces the economic viability
(ii) demand is more than supply
(iii) supply is more than demand
(iv) there is a possible impact from either external or internal indicators.
Answer:
(iv) there is a possible impact from either external or internal indicators.

h. In which business impairments on inventories and recoverability of loans are available?
(i) Essential businesses
(ii) Non-essential businesses
(iii) Both (i) and (ii)
(iv) None of these
Answer:
(ii) Non-essential businesses

JAC Class 10 English Grammar Discursive Passages

i. Which sectors are worst affected with the impairmenh?
(i) Energy, airlines, and steel
(ii) Automobiles, hospitality. axd aviation
(iii) Automobile, energy, and airlines
(iv) Essential and non-essential businesses
Answer:
(i) Energy, airlines, and steel

j. Which company has lest impairments, according to the graph?
(i) Grasim
(ii) MSM
(iii) Tata Steel
(iv) IHH Health
Answer:
(iv) IHH Health

k. What has made the matter from bad to worst?
(i) Covid-19
(ii) Rising prices
(iii) Decrease in production
(iv) None of these
Answer:
(i) Covid-19

l. Who pointed out that certain businesses had been weak even before the onset of Covid-19?
(i) sai venkateswaram
(ii) rajeev Shah
(iii) Ravish Shsh
(iv) None of these
Answer:
(iii) Ravish Shsh

JAC Class 10 English Grammar Discursive Passages

2. Read the passage carefully.

Retail gold prices go past ₹ 50k/10gm mark

Surge 57% in 2 Years | Seen At ₹ 80K by End 21
JAC Class 10 English Grammar Factual Passages 2
A strong global demand for gold, along with a depreciating rupee, helped the yellow metal to breach the Rs-50,000-per-10gm mark in Mumbai’s retail market on Wednesday. This is the first time the price of the precious metal, with which Indians associate sentimentally, crossed the psychologically important level.

At the same time, on leading commodities bourse MCX, the price was hovering just below Rs-49,000 mark for contracts that will expire in August’s first week.

According to data analysed by TOI, gold started moving up only after mid-2018, till when its price was range-bound at Rs-30,000-32,000 for several years. In the last two years, the return from the precious metal has been a staggering 57%. In the process, it has outperformed all other asset classes. The 10-year gilts — with nearly 17% returns — are the next best asset class.

On Tuesday night on the Nymex in New York, gold prices neared an eight-year high at just above the $ 1,800-per ounce mark. This helped domestic prices shoot up during the day, market players said. According to Motilal Oswal Financial Services VP (commodities research) Navneet Damani, gold surged to its highest in nearly eight years as mounting fears of a resurgence of new coronavirus cases kept safe-haven demand for the yellow metal alive. This set the precious metal on the path to its biggest quarterly gain since March 2016.

With stocks and bonds as investments not showing much hope for good returns in the next few years, gold stands out as the asset class that could give strong returns, a recent research report by Bank of America Securities said. The report had predicted that by end-2021, the price of gold could rally up to $ 3,000 per ounce which when translated into Indian rates could be upwards of Rs-82,000/1 Ogm at current exchange rates.

The factors that are aiding the gold-price rally are the uncertainties regarding the Hong Kong issue, fears about a second wave of Covid-19 infections slowing global economic growth further and the promise of central banks to infuse money into the financial system to fight the virus infection with a “whatever-it-takes” approach, industry players said.

“US treasury secretary Steven Mnuchin and Fed governor Jerome Powell pledged to do more for the US economy as it battles the enormous fallout from the virus outbreak,” Damani wrote in a note. (Courtesy: The Times of India)

Word-Meaning: Beach – violation, Surge – flow, outpouring, Asset – property

JAC Class 10 English Grammar Discursive Passages

On the basis of your understanding of the above passage, answer any ten of the questions given below by choosing the most appropriate option: [10 x 1 = 10]

a. Which of the following metals is sentimentally associated with Indians?
(i) Copper
(ii) Gold
(iii) Diamond
(iv) Silver
Answer:
(ii) Gold

b. What happened for the first time, according to the passage?
(i) Demand of goal decreased.
(ii) The price of gold crossed the psychologically important level.
(iii) Global demand for gold increased.
(iv) None of these
Answer:
(ii) The price of gold crossed the psychologically important level.

c. Who is the treasury secretary of US?
(i) Jerome Powell
(ii) Damani
(iii) Steven Mnuchin
(iv) None of these
Answer:
(iii) Steven Mnuchin

d. What are the factors that are aiding the uncertainties regarding gold price rally?
(i) Hong Kong issues
(ii) Fears of Covid-19
(iii) Central banks promise to infuse money into financial system to fight the virus.
(iv) All of the above
Answer:
(iv) All of the above

e. Who pledged to do more for the US economy?
(i) US treasury secretary
(ii) Steven Mnuchin and Jerome Powell
(iii) American citizens
(iv) None of these
Answer:
(ii) Steven Mnuchin and Jerome Powell

JAC Class 10 English Grammar Discursive Passages

f. According to the report, what can provide the strong returns in next few years?
(i) Stocks and investments
(ii) Gold
(iii) Stocks and gold
(iv) All of the above
Answer:
(ii) Gold

g. According to the data analysed by TOI, from which year gold started moving?
(i) January 2020
(ii) March 2016
(iii) mid-2018
(iv) December 2019
Answer:
(iii) mid-2018

h. What could be the price of gold at the end of 2021, when translated into Indian rates?
(i) Rs.80,000 per 10 gm
(ii) Rs.3,000 per ounce
(iii) Rs. 50,000 per 10 gm
(iv) Rs.82,000 per 10 gm
Answer:
(iv) Rs.82,000 per 10 gm

i. What helped gold to breach the Rs.50k per lOgm mark?
(i) Indian sentiments
(ii) Strong global demand for gold
(iii) Depreciating rupee
(iv) Both (ii) and (iii)
Answer:
(iv) Both (ii) and (iii)

j. In the last two years, the return from gold has been staggering %
(i) 16.6%
(ii) 17%
(iii) 57%
(iv) 74%
Answer:
(iv) 74%

k. Where is Nymex?
(i) Mumbai
(ii) New York
(iii) Sweden
(iv) Paris
Answer:
(ii) New York

l. Which investments are not showing much hope returns in the next few years?
(i) Stocks
(ii) Bonds
(iii) Gold
(iv) Both (i) and (ii)
Answer:
(iv) Both (i) and (ii)

JAC Class 10 English Grammar Discursive Passages

3. Read the passage carefully.

Govt prods PSUs to step up capex to revive eco growth

FM Looks at Infra Push to Create Demand, Employment
JAC Class 10 English Grammar Factual Passages 3
Finance minister Nirmala Sitharaman on Tuesday sought to push capital expenditure by the country’s top public sector companies, as part of the government’s drive to boost investment in the economy and revive growth.

Separately, the government is looking at ways to fast-track some of the investment as part of the over Rs-100-lakh-crore National Infrastructure Pipeline as higher spending in creating assets is expected to spur the demand for cement, steel and other crucial inputs, in addition to creating employment.

Sitharaman discussed the capex plan of 23 public sector companies with their CMDs and secretaries of ministries of petroleum, power, coal, mines and atomic energy. These state-run companies, including Indian Oil, NTPC, Coal India, NMDC and SAIL, have been the Centre’s go-to entities to not just step up investment but also to milch them at the end of the year by seeking hefty dividends for the government to meet its revenue targets.

“This meeting was held as part of the series of meetings that the finance minister is having with various stakeholders to accelerate economic growth,” an official statement said.

While PSUs had over-achieved the capex target during the last financial year, they are seen to be lagging in the first quarter of the current fiscal due to the lockdown, which forced companies to put projects on hold. In fact, several companies have complained of a manpower crunch holding full-scale resumption. The manpower issue is, however, expected to be sorted out in the coming weeks as migrant workers are slowly returning.

“The ministries/CPSEs discussed constraints being faced by them due to Covid-19 like problems of availability of manpower, delay in imports, delay in payments by discoms on the dues of CPSEs like NPCIL and NLC (Neyveli Lignite). Sitharaman states that the extraordinary situation requires extraordinary efforts and, with collective effort, “we will not only perform better but also help the Indian economy to achieve better results”, the statement added.

Ministries have been instructed to ensure that the PSUs step up their capex significantly during the current quarter itself to ensure that half the spending for the current financial year is completed by September, with all concerns and pending issues to be flagged immediately so that a solution can be found. (Courtesy: The Times of India)

Word-Meaning: Fiscal – relating to government revenue, Resumption – restart, Extraordinary – exceptional, Flagged – marked

JAC Class 10 English Grammar Discursive Passages

On the basis of your understanding of the above passage, answer any ten of the questions given below by choosing the most appropriate option: [10 x 1 = 10]

a. Nirmala Sitharaman discussed the capex plan with public sector companies.
(i) 11
(ii) 12
(iii) 22
(iv) 23
Answer:
(iv) 23

b. What is the full form of PSUs?
(i) Public Sector Units
(ii) Public Sector Undertakings
(iii) Power Supply Units
(iv) Public Sector Union
Answer:
(iii) Power Supply Units

c. What was the capex target of 23 PSUs in 2019-20?
(i) 1,84,822 lakh
(ii) Rs. 1,65,822 lakh
(iii) Rs. 1,64,822 crore
(iv) Rs. 1,64,822 lakh
Answer:
(ii) Rs. 1,65,822 lakh

d. Finance Minister Nirmala Sitharaman sought to push capital expenditure to
(i) boost investment in the economy and revive growth
(ii) increase performance of public sector companies
(iii) create employment opportunities
(iv) none of the above
Answer:
(i) boost investment in the economy and revive growth

e. The sanctioned amount for National Infrastructure Pipeline is
(i) Rs. 110 lakh crore
(ii) Rs. 100 lakh crore
(ii) Rs. 120 lakh crore
(iv) Rs. 115 lakh crore
Answer:
(ii) Rs. 100 lakh crore

f. Which state-run companies are relying on the centre to meet its revenue targets?
(i) Indian Oil, NTPC, Coal India, NLC
(ii) Indian Oil, NTPC, Coal India, NMDC
(iii) Indian Oil, NTPC, Coal India, NMDC and SAIL
(iv) None of these
Answer:
(iii) Indian Oil, NTPC, Coal India, NMDC and SAIL

g. What is the capex target of 23 PSUs in 2020-21?
(i) Rs 6,500 crore
(ii) Rs 1,65,510 crore
(iii) Rs 6,000 crore
(iv) Rs 1,00,410 crore
Answer:
(ii) Rs 1,65,510 crore

JAC Class 10 English Grammar Discursive Passages

h. In the first quarter of FY 2020 …………….. of the target could be achieved for 2020-21.
(i) 12%
(ii) 16%
(iii) 11%
(iv) 15%
Answer:
(ii) 16%

i. The st